Submit your post

Follow Us

पहले मर्डर करके तिहाड़ गया, वहां बहन के रेप के आरोपी तक पहुंचा और उसे मार दिया

तिहाड़ जेल. कैदियों के लिए देश की सबसे ज़्यादा सुरक्षित जेल मानी जाती है. जेल के भीतर हत्या जैसे मामले कम ही सुनने को मिलते हैं. 30 जून मंगलवार को तिहाड़ जेल में एक कैदी ने दूसरे कैदी की हत्या कर दी. वजह बताई गई बदला. पुलिस के मुताबिक आरोपी कैदी ने साजिश के तहत पहले अपने वॉर्ड को चेंज करवा कर मृतक कैदी के वॉर्ड में कराया और फिर मौका देख कर उसपर हमला कर दिया. वारदात जेल नंबर 8 की है. रोज की तरह कैदियों को उनके बैरक से बाहर निकला गया था. तभी जेल नंबर 8 में बंद मोहम्मद मेहताब नाम के कैदी पर जाकिर नाम के दूसरे कैदी ने किसी धारदार चीज़ से हमला कर दिया. इस हमले में घायल हुए मेहताब को पहले जेल में प्राथमिक उपचार दिया गया. फिर उसे डीडीयू अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई.

# क्या रही क़त्ल की वजह

तिहाड़ जेल के डीजी संदीप गोयल के मुताबिक, मेहताब 2014 से रेप के मामले में जेल में बंद था. उस पर ज़ाकिर की नाबालिग बहन के रेप का आरोप था. रेप के बाद पीड़िता ने कथित रूप से आत्महत्या कर ली थी. वहीं, ज़ाकिर हत्या के एक मामले में 2018 से तिहाड़ जेल में ही बंद था. पुलिस के मुताबिक वो काफी समय से मेहताब से बदला लेने की फ़िराक़ में था.

मृतक मेहताब आरोपी ज़ाकिर का जानकार था. लिहाज़ा दोनों का एक दूसरे के घर पर आना जाना था. लेकिन मेहताब ने ज़ाकिर की नाबालिग बहन के साथ रेप किया जिसकी वजह से उसने खुदकुशी कर ली. जाकिर मेहताब से बदला लेना चाहता था. पूछताछ में पुलिस को पता चला है कि साल 2018 में ज़ाकिर ने जिस कत्ल की वारदात को अंजाम दिया उसके पीछे भी मकसद जेल जाना ही था, ताकि वो अपनी बहन का बदला ले सके. लेकिन जब वो जेल गया तब उसकी उम्र 20 साल से कम थी. लिहाज़ा उसे उस वार्ड में रखा गया जंहा 20 साल से कम उम्र के अपराधी को रखा जाता था. लेकिन जैसे ही उसकी उम्र 20 साल से ज्यादा हुई उसे तिहाड़ के दूसरे जेल में शिफ्ट किया गया.

तिहाड़ जेल में कैदियों के लिए अलग-अलग वॉर्ड हैं.
तिहाड़ जेल में कैदियों के लिए अलग-अलग वॉर्ड हैं.

जब जाकिर तिहाड़ पहुंचा तो मेहताब तिहाड़ की दूसरी जेल में बंद था. पुलिस के मुताबिक़, मेहताब तक पहुंचने के लिए जाकिर अपने साथियों के साथ बिना वजह झगड़ा करने लगा. रोज-रोज के झगड़े को देखते हुए तिहाड़ प्रशासन ने कुछ दिन पहले जाकिर को जेल नंबर 8 के उसी वॉर्ड में शिफ्ट किया, जिस वार्ड के पहले फ़्लोर पर मेहताब था.

29 जून की सुबह जाकिर ने जेल में धातु की किसी चीज़ से खुद एक चाकूनुमा हथियार बनाया. मौका मिलते ही उसने  मेहताब पर हमला कर उसे बुरी तरह घायल कर दिया. डीडीयू अस्पताल में मेहताब को भर्ती  कराया गया लेकिन मेहताब को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया.


ये वीडियो भी देखें:

अनलॉक 2.0 के लिए सरकार ने क्या गाइडलाइंस जारी की है, जान लीजिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

'कोरोनिल' पर पतंजलि के आचार्य बालकृष्ण पूरी तरह यू-टर्न मार गए!

पतंजलि का दावा था कि 'कोरोनिल' दवा कोरोना वायरस ठीक करने में कारगर होगी.

चीन के ऐप तो बैन हो गए, पर उन भारतीयों का क्या जो इनमें काम करते हैं

चीनी ऐप के कर्मचारियों में घबराहट है.

चीनी ऐप पर बैन के बाद चीन ने भारत के बारे में क्या बयान दिया है?

भारत को कैसी जिम्मेदारी याद दिलाई चीन ने?

लगभग 16 मिनट के राष्ट्र के नाम संदेश में नरेंद्र मोदी ने क्या काम की बात की?

संदेश का सार यहां पढ़िए.

भारत सरकार के चाइनीज़ ऐप बंद करने के स्टेप पर TikTok ने चिट्ठी में क्या लिखा?

अपने यूज़र्स के बारे में भी कुछ कहा है.

PM CARES के तहत बने देसी वेंटिलेटर इस हाल में मिले कि लौटाने की नौबत आ गई

और ख़राब वेंटिलेटर बनाने वालों ने क्या सफ़ाई दी?

भारत में चीन के 59 मोबाइल ऐप बैन, टिकटॉक, यूसी, वीचैट भी लपेटे में

कहा कि देश की सुरक्षा की ख़ातिर इन्हें बैन किया जा रहा है.

गैंगस्टर आनंदपाल एनकाउंटर के बाद हुई हिंसा के लिए CBI ने चार्जशीट में किस-किस का नाम जोड़ा है?

एनकाउंटर की सीबीआई जांच की मांग को लेकर हिंसा हुई थी.

क्या अरुणाचल में चीन भारतीय सीमा में 50 किलोमीटर तक घुस गया है?

बीजेपी सांसद ने यह दावा किया है.

पतंजलि का कोरोनिल लॉन्च करने वाले डॉक्टर ने दवा की सबसे बड़ी गड़बड़ी बता दी!

मरीज़ों को केवल कोरोनिल नहीं दी गई थी.