Submit your post

Follow Us

'मैं तंबाकू नहीं बेचता' कहने वाले अजय देवगन या तो खुद 'भोले' हैं या पब्लिक को समझ रहे हैं

1.39 K
शेयर्स

पिछले हफ्ते एक खबर आई थी कि अजय देवगन के एक फैन को कैंसर हो गया है. नानकराम नाम का ये शख्स वही पान मसाला (गुटखा) खाता था, जिसका प्रचार अजय देवगन करते थे. कैंसर की वजह से अपने परिवार को तहस-नहस होते देख, उसने अजय देवगन से तंबाकू प्रोडक्ट्स का प्रचार बंद करने की गुज़ारिश करने वाले हज़ार पर्चे अपने गली-मोहल्ले में बंटवाए. जब इस मामले में अजय देवगन से सवाल किया गया, तो उन्होंने कहा कि वो ऐसे किसी प्रोडक्ट को प्रमोट नहीं करते, जिसका समाज पर गलत प्रभाव पड़े.

अजय देवगन ने इस बारे में बात करते हुए पीटीआई से कहा-

”मैं अपने कॉन्ट्रैक्ट्स में एक चीज़ हमेशा बनाकर रखता हूं कि मैं तंबाकू को प्रमोट नहीं करूंगा. जो भी एड आ रहे हैं, वो इलायची वगैरह के हैं, मेरे कॉन्ट्रैक्ट में इसे बिना तंबाकू वाला प्रोडक्ट बताया गया है. अगर कंपनी कुछ और बेच रही है, तो मुझे नहीं पता.”

हालांकि अजय की ये बात सुनने में थोड़ी अजीब लगती है. वो इतने बेवकूफ तो नहीं लगते कि कंपनी उनसे इलायची बोलकर गुटखे और पान मसाले का एड करवा ले. वो ये कह रहे हैं कि उन्होंने आज तक किसी भी एड में तंबाकू का प्रमोशन ही नहीं किया है. लेकिन एक टर्म होता है ‘सरोगेट एडवर्टाइज़िंग’. इसमें होता है ये है कि जिन चीज़ों के प्रचार करने पर बैन है, उसे किसी और नाम से प्रचारित करना. जैसे टीवी पर एक ऐड हमने खूब देखा है सीग्रम्स रॉयल स्टैग मेगा म्यूज़िक. इसकी टैगलाइन है बहुत कैची है, जो कहती है- इट्स योर लाइफ मेक इट लार्ज. तब वो ज़िंदगी नहीं बड़ा पेग बनाने की बात कर रही होती है. रणवीर सिंह से लेकर अर्जुन कपूर और साउथ में महेश बाबू जैसे एक्टर्स इसके एड में नज़र आते हैं. लेकिन सबको पता है कि ये एक शराब बनाने वाली कंपनी है. ‘कार्ल्बर्ग ग्लास’ का प्रचार करने वाली कंपनी ग्लास नहीं बल्कि  बीयर बनाती है. इसके अलावा स्पार्कलिंग वॉटर से लेकर म्यूज़िक सीडी के नाम पर कई शराब कंपनियां अपना प्रचार टीवी पर करवाती हैं.

अजय देवगन जिस विमल ब्रांड को प्रमोट करते हैं, वो पान मसाला से लेकर गुटखा और इलायची सब बनाती है.
अजय देवगन जिस विमल ब्रांड को प्रमोट करते हैं, वो पान मसाला से लेकर गुटखा और इलायची सब बनाती है.

उसी तरह अजय देवगन जिन पान मसाले और इलायची बनाने वाली कंपनियों का ऐड करते हैं, वो गुटखा भी बनाती हैं. इसलिए जब अजय देवगन विमल पान मसाले का प्रचार करते है, तब वो पूरा ब्रांड प्रमोट होता है. अब या तो अजय खुद इतने भोले हैं और उन्हें ये सब बातें नहीं पता हैं, या फिर वो जनता को कुछ ज़्यादा ही भोला समझ रहे हैं.

अजय जिस ब्रांड के एम्बैसेडर हैं, उसी ब्रांड का ये गुटखा भी है.
अजय जिस ब्रांड के एम्बैसेडर हैं, उसी ब्रांड का ये गुटखा भी है, जिसे खाने से उनके एक फैन को कैंसर हो गया है.

अजय देवगन ने कहा कि जो काम वो कर सकते हैं, वो करेंगे. वो स्क्रीन पर सिगरेट नहीं पीने की हरसंभव कोशिश करेंगे. जब तक किसी किरदार के लिए ये बहुत ज़रूरी नहीं होगा, वो पर्दे पर स्मोकिंग नहीं करेंगे. उन्होंने बताया-

”मैं अपनी आने वाली फिल्म ‘दे दे प्यार दे’ में एक नॉर्मल आदमी का रोल कर रहा हूं, जो स्मोक नहीं करता. लेकिन अगर मैं ‘कंपनी’ के मलिक भाई जैसा किरदार करूंगा, तो वो बिना स्मोकिंग कैसे होगा? अगर हम किसी ऐसे आदमी का किरदार निभाने जा रहे हैं, जो सिगरेट पीता है. उसे स्क्रीन पर ऐसा करते नहीं दिखा रहे, तो वो रोल सच्चा नहीं लगेगा.”

राम गोपाल वरमा के डायरेक्शन में बनी फिल्म 'कंपनी' का पोस्टर और दूसरी तस्वीर में मलिक भाई के कैरेक्टर में अजय देवगन और उनके को-स्टार विवेक ओबेरॉय.
राम गोपाल वर्मा के डायरेक्शन में बनी फिल्म ‘कंपनी’ का पोस्टर. दूसरी तस्वीर में मलिक भाई के कैरेक्टर में अजय देवगन और उनके को-स्टार विवेक ओबेरॉय.

इस शुक्रवार को अजय देवगन, तबू और रकुल प्रीत सिंह स्टारर फिल्म ‘दे दे प्यार दे’ थिएटर्स में लग रही है. लेकिन फिल्म रिलीज़ से पहले फिल्म सर्टिफिकेशन को लेकर दिक्कत में फंस गई है. सेंसर बोर्ड ने रिलीज़ से एक दिन फिल्म में तीन कट्स लगाने के आदेश दिए हैं. इनमें से एक वो सीन है, जिसमें रकुल प्रीत सिंह का किरदार हाथ में शराब की बोतल लेकर डांस कर रहा है. सेंसर बोर्ड ने उस सीन से बोतल हटाकर वहां फूलों का गुलदस्ता वगैरह कुछ लगाने को कहा है. इसके फिल्म के ट्रेलर में आलोक नाथ के नज़र आने के बाद भी फिल्म विवादों में आ गई थी. इस मामले में अजय देवगन ने एक असंतोषजनक सा बयान दे दिया और लोग भूल गए.

सेंसर बोर्ड ने ऐसे ही कुछ सीन्स से शराब की बोतल हटाकर गुलदस्ता लगाने को कहा है.
सेंसर बोर्ड ने ऐसे ही कुछ सीन्स से शराब की बोतल हटाकर गुलदस्ता लगाने को कहा है.

वीडियो देखें: आलोक नाथ और MeToo मामले में अजय देवगन इस बार खूब फंसे हैं 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Ajay Devgn reacts on his cancer patient fan’s request to stop promoting tobacco products

टॉप खबर

मनमोहन सिंह को राज्य सभा में भेजने के लिए कांग्रेस ये तिगड़म भिड़ा रही है

अपना एक मात्र चुनाव हारने वाले मनमोहन सिंह पिछले 28 साल में पहली बार संसद के सदस्य नहीं होंगे.

राजीव गांधी के हत्यारे ने संजय दत्त की मुश्किलें बढ़ा दी हैं

जेल में बंद पेरारिवलन ने संजय दत्त से जुड़ी बहुत सी जानकारी इकट्ठी की है.

कठुआ केस के छह दोषियों को क्या सज़ा मिली?

अदालत ने सात में से छह आरोपियों को दोषी माना था. मास्टरमाइंड सांजी राम का बेटा विशाल बरी हो गया.

कठुआ केस में फैसला आ गया है, एक बरी, छह दोषी करार

दोषियों में तीन पुलिसवाले भी शामिल हैं.

पांच साल की बच्ची से रेप किया और फिर ईंटों से कूंचकर मार डाला

उज्जैन में अलीगढ़ जैसा कांड, पड़ोसी ही निकला हत्यारा...

अफगानिस्तान किन गलतियों से श्रीलंका से जीता-जिताया मैच हार गया?

मलिंगा का तो जोड़ नहीं.

क्या चुनावी नतीजे आने के 10 दिनों के अंदर यूपी में 28 यादवों की हत्या हुई है?

28 नामों की एक लिस्ट वायरल हो रही है. लेकिन सच क्या है?

मायावती ने ऐसा क्या कह दिया कि फिलहाल गठबंधन को टूटा मान लेना चाहिए

प्रेस कांफ्रेंस में मायावती ने गठबंधन तोड़ने का सीधा ऐलान तो नहीं किया, लेकिन बहुत कुछ कह गयीं.

चुनाव नतीजे आए दस दिन हुए नहीं, मायावती ने गठबंधन पर सवाल उठा दिए

वो भी तब जब मायावती के पास जीरो से बढ़कर दस सांसद हो गए हैं

अरविंद केजरीवाल ने चुनाव में बंपर वोट खींचने वाला ऐलान कर दिया है

वो ऐसी स्कीम लेकर आए हैं कि दिल्ली-NCR की महिलाएं खुश हो गईं.