Submit your post

Follow Us

प्रियंका चोपड़ा ने भोजपुरी फिल्म बनाई तो 'अश्लील', अब वे पंजाबी फिल्म ला रही हैं

ये लगातार दूसरा बरस है जब प्रियंका चोपड़ा ने अपने विस्तार की प्रक्रिया जारी रखी है. उनके जितनी महत्वाकांक्षा और ऊर्जा किसी और एक्ट्रेस में नहीं दिखाई देती. 2015 में उन्होंने अपनी प्रोडक्शन कंपनी पर्पल पेबल पिक्चर्स शुरू की जिसका मतलब होता है ‘जामुनी रंग वाले कंकरों जैसी फिल्में’ यानी छोटे बजट की और ज्यादातर लोगों को पसंद आने वाली कमर्शियल फिल्में. इसी तले उन्होंने तीन फिल्में प्रोड्यूस करने की घोषणा की. निर्माण में उतर गईं. फिर उसी साल उन्होंने एक नहीं तीन बड़ी हिंदी फिल्मों ‘दिल धड़कने दो’, ‘जय गंगाजल’, ‘बाजीराव मस्तानी’ में प्रमुख रोल किए. उसी साल अमेरिका के प्रमुख नेटवर्क एबीसी की टीवी सीरीज ‘क्वांटिको’ भी प्रसारित हुई जिसमें प्रियंका लीड रोल में थीं और ऐसा कोई भारतीय एक्टर या सुपरस्टार इससे पहले नहीं कर पाया है. वे अकेली हैं.

इतने भरे पूरे वर्ष के बाद इस साल 2016 में उनकी पहली हॉलीवुड फिल्म ‘बेवॉच’ बन गई है. ट्रेलर आ गया है. रिलीज अगले साल है. फिल्म में वे प्रमुख विलेन के रोल में हैं. इतनी तेजी से किसी भारतीय एक्टर का उभार मुख्यधारा के अमेरिकी सिनेमा में होता याद नहीं आता. इधर भारत में उनके प्रोडक्शन की फिल्में एक के बाद एक रिलीज हो रही हैं. जून में उनकी भोजपुरी फिल्म ‘बम बम बोल रहा है काशी’ लगी. नवंबर में उनके बैनर की दूसरी फिल्म ‘वेंटीलेटर’ रिलीज हुई जो मराठी भाषा में थी. अब जनवरी 2017 में तीसरी फिल्म ‘सरवन’ लगेगी जो पंजाबी में है.

‘वेंटीलेटर’ का ट्रेलर:

पिछली दोनों फिल्में मिली-जुली रही हैं. ‘वेंटीलेटर’ को डायरेक्ट किया था राजेश मापुस्कर ने जो ‘फरारी की सवारी’ जैसी उम्दा फिल्म बना चुके हैं. उन्होंने राजकुमार हीरानी को काफी समय तक असिस्ट किया है. इस वजह से और मराठी सिनेमा में चलने वाली बढ़िया सेंसेबिलिटी की वजह से ये एक स्वस्थ और प्यारी कॉमेडी फिल्म के रूप में सामने आई और पसंद की गई. वहीं ‘बम बम बोल रहा है काशी’ अपने नाम के और भोजपुरी सिनेमा के कमर्शियल ढर्रे के अनुरूप चटखारे लेकर देखी गई क्योंकि उसमें वो सब माल था लेकिन इसी की बहुत आलोचना भी हुई.

फिल्म में भोजपुरी इंडस्ट्री के सुपरस्टार निरहुआ और आम्रपाली दुबे हीरो-हीरोइन थे. इसकी आलोचना में कहा गया कि ये अश्लील, छिछोरी और आपत्तिजनक थी. इस साल मई में आयोजित 63वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में बेस्ट मैथिली फिल्म का अवॉर्ड जीतने वाली ‘मैथिली मखान’ के डायरेक्टर नितिन चंद्रा ने प्रियंका द्वारा निर्मित फिल्म पर हैरत जताई और कहा, “ऐसे समय में जब मेरी मां-बोली भोजपुरी अपने अस्तित्व के लिए लड़ रही है, प्रियंका ने न सिर्फ ख़ुद को बदनाम किया है बल्कि इस तरह की फिल्म बनाकर अपने पद्मश्री तक को मैला किया है.”

चंद्रा ने ये भी कहा कि वे इससे बहुत आहत हुए हैं और प्रियंका ने इस किस्म की फिल्म बनाकर भोजपुरी बोलने वाले 15 करोड़ लोगों का अपमान किया है. उनका और कुछ अन्य आलोचकों का कहना है कि फिल्म में भद्दे लिरिक्स वाले गाने हैं, डबल मीनिंग डायलॉग हैं और अश्लील डांस है. जैसे कि फिल्म में एक गाना है ‘बोलाह खटिया से खटिया सटाइबा कि ना.’ वैसे ये गाना गोविंदा की फिल्म ‘राजा बाबू’ के गाने ‘सरकाय लो खटिया जाड़ा लगे’ जैसे ही शब्दों और कोरियोग्राफी वाला लगता है. चंद्रा ने कहा कि जब प्रियंका भोजपुरी सिनेमा में फिल्में प्रोड्यूस करने उतरीं तो उन्हें लगा था कि वे अच्छा सिनेमा बनाने में इंडस्ट्री की मदद करेंगी लेकिन ऐसा हुआ नहीं.

‘बम बम बोल रहा है काशी’ का ट्रेलर:

प्रियंका ने हालांकि अपनी फिल्म का बचाव करते हुए कहा था कि इसमें जो भी कंटेंट है वो वही है जो क्षेत्रीय फिल्मों में डालना जरूरी होता है. उन्होंने कहा कि क्या हिंदी फिल्मों में अश्लीलता नहीं होती? प्रियंका ने कहा कि फिल्मों में उन्हें खुद ऐसे लटके-झटके देखने पसंद हैं.

ख़ैर ये तो स्पष्ट है कि उनका पूरा ध्यान कम बजट में ऐसी फिल्में बनाने पर हैं जो संबंधित भाषा में हिट हो रही फिल्मों की लीक पर चले. इसी कड़ी में पंजाबी फिल्म ‘सरवन’ आने वाली है. इसमें पंजाब के सिंगर और एक्टर अमरिंदर गिल हैं. अमरिंदर, दिलजीत दोसांझ और गिप्पी ग्रेवाल तीनों ही पंजाब के सबसे पॉपुलर युवा गायक और सबसे पॉपुलर फिल्म स्टार हैं. तीनों में एक समानता बॉलीवुड भी है. जैसे अमरिंदर स्टारर इस फिल्म को प्रियंका ने प्रोड्यूस किया है. वैसे ही दिलजीत ‘उड़ता पंजाब’ में दिखे और अब अनुष्का शर्मा के प्रोडक्शन हाउस की दूसरी फिल्म ‘फिल्लौरी’ में एक लीड रोल में हैं. वहीं गिप्पी को गोविंदा की बेटी टीना आहूजा की डेब्यू बॉलीवुड फिल्म ‘सेकेंड हैंड हस्बैंड’ में बतौर हीरो लिया गया था. ये गिप्पी की भी पहली बॉलीवुड फिल्म थी.

‘सरवन’ के ट्रेलर से इसकी कहानी एक ऐसे युवक की लगती है जो कैनेडा में रहता है. वहां पैसे कमाने के लिए उल्टे-सीधे काम करने से ऐतराज नहीं. शायद इसी दौरान उससे किसी की हत्या हो जाती है. फिर उसे महसूस होता है कि अपने किए का हिसाब इसी जन्म में देना पड़ता है. तो वो उस लड़के के बूढ़े मां-बाप और परिवार की देखभाल करने के लिए पंजाब लौटता है. प्रायश्चित की ये आग उसके लिए बहुत कष्टकारी साबित होती है. लेकिन वो उससे गुजरता है. वह नए जमाने का श्रवण कुमार बनकर उनकी सेवा करता है.

जैसे कि पहले कहा, ‘वेंटीलेटर मराठी सिनेमा की तासीर की फिल्म थी. ‘बम बम..’ भोजपुरी कॉमर्स को ध्यान में रखकर बनाई गई और अब ‘सरवन’ है तो वो भी पंजाबी सिनेमा के फॉर्मेट वाली. इसमें एनआरआई वाला संदर्भ तो रखना मस्ट होता है तो यहां है. अच्छाई और बुराई भी परिभाषित की गई है. प्रमुख लव एंगल भी है. और सबसे जरूरी इसमें मीठे-भावप्रवण गाने भी हैं जो पंजाबी फिल्मों की खासियत है. जैसे कि ‘सरवन’ का गाना ‘नी मैनूं प्यार तां जता लैण दे.’

‘सरवन’ का गाना:

ये फिल्म 13 जनवरी को रिलीज हो रही है.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?