Submit your post

Follow Us

ज़ाकिर खान के 'सख्त लौंडा' के अलावा भी मस्त वन-लाइनर्स हैं बॉस, इधर देखिए तो सही

ज़ाकिर खान. इंदौर का लड़का. भुजिया और किस्सों का शौक़ीन. अब चूंकि मरहूम शायर राहत इंदौरी के शहर से ताल्लुक रखते हैं, लिहाज़ा साब ने भी मिज़ाज शायराना पाया है. थोड़े किस्से, थोड़ी शायरी और बहुत सारी ‘सख्ती’ लेकर इंदौर से ज़ाकिर कुछ सालों पहले दिल्ली आए. उनके अंदाज़ में कहें तो शहर एक्सप्लोर करने नहीं, एक्सप्लॉइट करने. लेकिन जिंदगी भी इतनी हलुआ कहां! भयंकर तंगी और दिक्कतों के साथ दिल्ली ने इनका स्वागत किया. लेकिन भाई हमारा वॉरियर था. संघर्ष जारी रखा. साल बीते. वक़्त लगा लेकिन दिन बदले. दिल्ली से मुंबई शहर बदला. और एक दिन इन्हें ‘AIB’ का कॉमेडी मंच मिला. यहां से दुनिया के सामने ज़ाकिर का हुनर आया. उनकी किस्सागोई मशहूर हो गई. और देखते-देखते कुछ ही सालों में इंदौर से रेडियो में छोटी सी नौकरी पाने निकला लड़का इंडियाज़ मोस्ट लव्ड कॉमेडियन ‘हक से सिंगल’ ज़ाकिर खान बन गया.

आज ज़ाकिर खान का बर्थडे है. इस स्पेशल मौके पर हमने ज़ाकिर की जिंदगी से उनकी कही 16 बातें, जो अपने आप में किसी डायलॉग से कम नहीं हैं, एक जगह इक्कठा की हैं. इसमें उनकी संघर्ष के दिनों की कविताओं के टुकड़े हैं, जिंदगी की ठोकरों से उपजा गुस्सा है, अधूरा इश्क है, मां-बाप की सीख है और हैं दिल को टच करने वाले किस्से. पढ़ें. आनंद लें.


#1

Kavita 1


#2

Kavita 2


#3

Kavita 5


#4

Kavita 6

 


#5

Kavita 3


#6

Kavita 4


#7

Quote 3


#8

Quote 4


#9

Quote 2


#10

Quote 5


#11

Quote 6


#12

Quote 7


#13

Quote 8


#14

Quote 9


#15

Quote 10


#16

Quote 1

 


वीडियो : ‘द एम्पायर’ से लेकर RRR तक, जल्द आने वाली हैं ये धांसू पीरियड वेब सीरीज और फिल्में

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

मूवी रिव्यू: 200 हल्ला हो

मूवी रिव्यू: 200 हल्ला हो

उस सच्ची घटना पर आधारित फिल्म, जहां 200 औरतों ने एक आदमी को कोर्ट में घुस कर मार डाला.

नेटफ्लिक्स की नई सीरीज़ का ट्रेलर कैसा है, जिसमें हथौड़ा त्यागी पुतले से प्यार कर रहे हैं

नेटफ्लिक्स की नई सीरीज़ का ट्रेलर कैसा है, जिसमें हथौड़ा त्यागी पुतले से प्यार कर रहे हैं

तीन दिग्गज डायरेक्टर अपनी-अपनी कहानियां एक सीरीज़ में लेकर आ रहे हैं.

शॉर्ट फ़िल्म रिव्यू: नियति चक्र

शॉर्ट फ़िल्म रिव्यू: नियति चक्र

टाइम ट्रेवल पर बनी ये शॉर्ट फ़िल्म कैसी है?

फिल्म रिव्यू- बेल बॉटम

फिल्म रिव्यू- बेल बॉटम

'बेल बॉटम' की सबसे अच्छी बात ये लगती है कि ये अक्षय कुमार ब्रांड ऑफ लाउड देशभक्ति सिनेमा नहीं बनती.

कंडोम खरीदने की हिचकिचाहट पर बनी अपारशक्ति खुराना की नई फ़िल्म 'हेलमेट' का ट्रेलर कैसा है?

कंडोम खरीदने की हिचकिचाहट पर बनी अपारशक्ति खुराना की नई फ़िल्म 'हेलमेट' का ट्रेलर कैसा है?

मेडिकल स्टोर पर कंडोम मांगने से डरते हो, तो ये फ़िल्म आपके लिए है.

फिल्म रिव्यू- भुज: द प्राइड ऑफ इंडिया

फिल्म रिव्यू- भुज: द प्राइड ऑफ इंडिया

ये फिल्म ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को देखनी चाहिए.

फ़िल्म रिव्यू: नेत्रिकन

फ़िल्म रिव्यू: नेत्रिकन

कोरियाई थ्रिलर फिल्म का रीमेक है 'नेत्रिकन'.

मूवी रिव्यू: शेरशाह

मूवी रिव्यू: शेरशाह

क्या कैप्टन विक्रम बत्रा की कमाल कहानी के साथ करन जौहर एंड कंपनी ने न्याय किया है?

फ़िल्म रिव्यू : कुरुति

फ़िल्म रिव्यू : कुरुति

कैसी है ये सस्पेंस थ्रिलर फिल्म?

वेब सीरीज़ रिव्यू- नवरस

वेब सीरीज़ रिव्यू- नवरस

'नवरस' पैंडेमिक के दौरान फिल्म इंडस्ट्री में काम कर रहे तमाम लोगों की मदद करने की मक़सद से बनाई गई है.