Submit your post

Follow Us

क्या कानपुर पुलिस ने मास्क न पहनने पर बकरा ही गिरफ्तार कर लिया था?

सोशल मीडिया पर एक ख़बर चल रही है कि कानपुर पुलिस ने मास्क न पहनने पर एक बकरे को गिरफ्तार कर लिया. करने को कानपुर पुलिस कानून के दायरे में कुछ भी कर सकती है. लेकिन इस कहानी पर भरोसा नहीं हुआ. हमने वीडियो देखा, पुलिस वाले एक बकरे को पुलिस की गाड़ी में चढ़ा रहे थे. पता लगा मामला बेकनगंज का है. चार पुलिस वाले एक बकरे को पुलिसिया गाड़ी में बैठा रहे थे. कहने वालों ने कहा, प्रार्थना है. इस मवेशी की गाड़ी के आगे मवेशी न आएं, गाड़ी न पलटे.

कुछ एक खबरिया वेबसाइट्स ने भी इसी लाइन पर ख़बर भी चला दी.

खैर मुद्दा ये है कि क्या सच में बिना मास्क वाला बकरा पकड़ा गया? जवाब है, ऑबवियस्ली नहीं! कानपुर पुलिस इतनी वेल्ली नहीं है. ट्विटर पर ही किसी के पूछे गए सवाल के जवाब में पुलिस ने असल बात बताई.

मोटा-मोटी मामला ये है कि समय है बकरीद का. बकरों के भाव बढ़े हैं (एक्चुअली!) तो विवाद की स्थिति न बने. इसलिए पुलिस ने पालतू पशु को फालतू पशु बने, आवारा घूमते देखा तो धर लिया और बाद में असल मालिक को दे दिया.

लेकिन सोशल मीडिया पर क्लेम चल रहे हैं कि पुलिस ने एक युवक से जबरन बकरा छुड़ा लिया था. न्यूज़ 18 की ख़बर में, एक न्यूज़ एजेंसी के हवाले से इस संदेह को स्पष्ट करती बात मिली. अनवरगंज पुलिस स्टेशन के सर्किल ऑफिसर सैफुद्दीन बेग ने बताया कि एक लड़का बिना मास्क के बकरा लेकर घूम रहा था. पुलिस को देखा तो बकरा छोड़कर भाग गया, सोशल मीडिया पर शायद इसी युवक की बात हो रही है. बकरे छुड़ाने की बात से कानपुर पुलिस इनकार कर ही चुकी है. ये कहकर कि शेष आरोप असत्य व निराधार हैं.

तो नतीज़ा क्या निकला? इतिहास से हमने सीखा है. कानपुर पुलिस की बात मान लेनी. Goat it?


बकरी और बकरे इंट्रेस्टिंग जीव होते हैं. उनसे जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बर देखिए.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

विकास दुबे एनकाउंटर मामले की जांच करने वाले पैनल के तीन सदस्य कौन हैं?

योगी सरकार में एनकाउंटर की जांच को लेकर सवाल उठते रहे हैं.

'इक कुड़ी जिदा नां मुहब्बत' वाले शिव बटालवी ने बताया कि हम सब 'स्लो सुसाइड' के प्रोसेस में हैं

इन्होंने अपनी प्रेमिका के लिए जो 'इश्तेहार' लिखा, वो आज दुनिया गाती है

इस महीने कौन-कौन से फोन लॉन्च हुए, क्या-क्या नया आने वाला है

जुलाई में फ़ोन तो बरसाती मेढक की तरह फुदक रहे हैं!

वो इंडियन फिल्म स्टार्स, जो एक्टर से पहले डॉक्टर हैं

पीएचडी वाले डॉक्टर नहीं, प्रॉपर इलाज करने वाले डॉक्टर.

नेल्सन मंडेला के वो 10 कोट्स, जो समझ आ जाएं तो ज़िंदगी बन जाएगी

'अफ्रीका के गांधी' कहे जाते हैं नेल्सन मंडेला (18 जुलाई, 1918 – 5 दिसंबर, 2013)!

कोरोना की जिन वैक्सीनों ने उम्मीद जगाई है, वो अभी किस स्टेज में हैं?

कोरोना के थानोस को मारने के लिए वैक्सीन के एवेंजर्स का आना ज़रूरी है.

एमेज़ॉन और हॉटस्टार को धकेल नेटफ्लिक्स ने 17 ताबड़तोड़ फिल्म-वेब सीरीज़ की लाइन लगा दी

यहां आपको कॉमेडी, रोमैंस, ड्रामा, एक्शन, थ्रिलर सबकुछ मिलेगा.

ऑनलाइन रिलीज़ होने वाली इन 10 फिल्मों को कितने करोड़ रुपए मिले हैं, जानकर हैरान रह जाएंगे

रिलीज़ होने से पहले ही तमाम फ़िल्में फायदे में हैं मितरों... तमाम गुणा-गणित हमसे समझिए.

'सूरमा भोपाली' के अलावा जगदीप के वो 7 किरदार, जिन्होंने हंगामा मचा दिया था

शोले ने कल्ट आइकन बना दिया, लेकिन किरदार इनके सारे गजब थे.

सौरव गांगुली के वो पांच फैसले, जिन्होंने इंडियन क्रिकेट को हमेशा के लिए बदल दिया

जाने कितने प्लेयर्स और टीम इंडिया का एटिट्यूड बदलने वाले दादा.