Submit your post

Follow Us

आदमी बन गए डिब्बे और कोलकाता की गलियों में दौड़ पड़ी ट्रेन!

69
शेयर्स

रेल बजट की बात चली तो एक ऐड याद आ गया, इंडिया अभी दोबारा क्रिकेट वर्ल्डकप नहीं जीता था. 2010 था शायद. एक ऐड आया करता था टीवी पर. कोलकाता की गलियां, कोलकाता के घर और उनके बीच छुक-छुक कर दौड़ती ट्रेन. ट्रेन भी वो वाली नहीं. आदमियों की ट्रेन. एक-दूसरे का कंधा पकड़ छुक-छुक बढ़े जाते. और पीछे गाना बजता.

रेलगाड़ी रेलगाड़ी
छुक-छुक छुक-छुक
धड़क धड़क, लोहे की सड़क

बाद में पता लगा इसके पीछे पीयूष पांडेय का दिमाग था. अब क्योंकि ऐड में दादामुनि की आवाज सुनाई गई. और हमने पहले भी सुना था तो पता था गाना पहले का है. कब का है कहां का है? 1964 में आशीर्वाद फिल्म आई थी, उसी का गाना है.

रेल गाड़ी रेल गाड़ी
छुक-छुक छुक-छुक
छुक-छुक छुक-छुक
बीच वाले स्टेशन बोलें
रुक रुक रुक रुक
रुक रुक रुक रुक
धड़क भड़क लोहे की सड़क
धड़क भड़क लोहे की सड़क
यहां से वहां वहां से यहां
यहां से वहां वहां से यहां
छुक छुक छुक छुक
छुक छुक छुक छुक
छुक छुक छुक छुक
छुक छुक छुक छुक

फुलाये छाती पार कर जाती
बालू रेत आलू के खेत
बाजरा धान बुड्ढा किसान
हरा मैदान मन्दिर मकान
चाय की दुकान

पुल पगडण्डी टीले पे झण्डी
पानी के कुण्ड पंछी के झुण्ड
झोपड़ी झाड़ी खेती बाड़ी
बादल धुआं मोठ कुआं
कुएं के पीछे बाग़ बगीचे
धोबी का घाट मंगल की हाट
गाँव में मेला भीड़ झमेला
टूटी दिवार टट्टू सवार

रेल गाड़ी रेल गाड़ी
छुक छुक छुक छुक
छुक छुक छुक छुक
बीच वाले स्टेशन बोलें
रुक-रुक रुक-रुक रुक-रुक रुक-रुक
धरमपुर भरमपुर भरमपुर धरमपुर
मैंगलोर बैंगलोर बैंगलोर मैंगलोर
माण्डवा खंडवा खांडवा माण्डवा
रायपुर जयपुर जयपुर रायपुर
तालेगाँव मालेगाँव मालेगाँव तालेगाँव
बेल्लुर वेल्लुर वेल्लुर बेल्लुर
शोलापुर कोल्हापुर कोल्हापुर शोलापुर
हुक्कल डिण्डीगल डिण्डीगल हुक्कल
मस्लिपत्नम मस्लिपत्नम
ऊंगोल निथिगोल निथिगोल ऊंगोल
कोरेगाँव गोरेगाँव गोरेगाँव कोरेगाँव
ममदाबाद अमदाबाद अमदाबाद ममदाबाद
शोल्लुर कोन्नुर शोल्लुर कोन्नुर

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

वो 15 गाने, जिनके बिना छठ पूजा अधूरी है

पुराने गानों के बिना व्रत ही पूरा नहीं होता.

राग दरबारी : वो किताब जिसने सिखाया कि व्यंग्य कितनी खतरनाक चीज़ है

पढ़िए इस किताब से कुछ हाहाकारी वन लाइनर्स.

वो 8 कंटेस्टेंट जो 'बिग बॉस' में आए और सलमान खान से दुश्मनी मोल ले ली

लड़ाईयां जो शुरू घर से हुईं लेकिन चलीं बाहर तक.

जॉन अब्राहम की फिल्म का ट्रेलर देखकर भूतों को भी डर लगने लगेगा

'पागलपंती' ट्रेलर की शुरुआत में जो बात कही गई है, उस पर सभी को अमल करना चाहिए.

मुंबई में भी वोट पड़े, हीरो-हिरोइन की इंक वाली फोटो को देखना तो बनता है बॉस!

देखिए, कितने लाइक्स बटोर चुकी हैं ये फ़ोटोज.

जब फिल्मों में रोल पाने के लिए नाग-नागिन तो क्या चिड़िया, बाघ और मक्खी तक बन गए ये सुपरस्टार्स

अर्जुन कपूर अगली फिल्म में मगरमच्छ के रोल में दिख सकते हैं.

जब शाहरुख की इस फिल्म की रिलीज़ से पहले डॉन ने फोन कर करण जौहर को जान से मारने की धमकी दी

शाहरुख करण को कमरे से खींचकर लाए और कहा- '' मैं भी पठान हूं, देखता हूं तुम्हें कौन गोली मारता है!''

इस अजीबोगरीब साइ-फाई फिल्म को देखकर पता चलेगा कि लोग मरने के बाद कहां जाते हैं

एक स्पेसशिप है, जो मर चुके लोगों को रोज सुबह लेने आता है. लेकिन लेकर कहां जाता है?

वो इंडियन डायरेक्टर जिसने अपनी फिल्म बनाने के लिए हैरी पॉटर सीरीज़ की फिल्म ठुकरा दी

आज अपना 62 वां बड्डे मना रही हैं मीरा नायर.

अगर रावण आज के टाइम में होता, तो सबसे बड़ी दिक्कत उसे ये होती

नम्बर सात पढ़ कर तो आप भी बोलेंगे, बात तो सही है बॉस.