Submit your post

Follow Us

मूवी रिव्यू: डिब्बुक

इमरान हाशमी और घोस्ट स्टोरीज़. अ नेवर एंडिंग सागा. उसी अमर प्रेम को कंटिन्यू रखते हुए उनकी नई फिल्म आई है, ‘डिब्बुक’. ये शब्द ज्यू यानी यहूदी मायथोलॉजी से आया है. एक ऐसी दुष्ट आत्मा, जिसका कोई मकसद अधूरा रह गया हो, उसे डिब्बुक कहा जाता है. इमरान हाशमी की ये फिल्म 2017 में आई मलयालम फिल्म ‘एज़रा’ का ऑफिशियल हिंदी रीमेक है. वहां लीड में पृथ्वीराज सुकुमारन थे. ओरिजिनल फिल्म के डायरेक्टर जयकृष्णन ने ही हिंदी रीमेक भी डायरेक्ट किया है.

सैम और उसकी पत्नी माही इंडिया छोड़कर मॉरीशस शिफ्ट होते हैं. बड़े से घर में अकेले रहने लगते हैं. कुछ दिनों के बाद ही अजीब-सी घटनाएं घटने लगती हैं. जिसका जवाब साइंस के पास नहीं. ऐसी घटनाओं से निजात पाने के लिए एक रैबाइ को बुलाया जाता है. रैबाइ यानी ज्यू स्पिरिचुअल लीडर. उस आत्मा ने सैम और उसकी पत्नी को ही क्यों टारगेट किया, इस सवाल का जवाब ही फिल्म का सबसे बड़ा प्लॉट पॉइंट है. फिल्म में इमरान हाशमी ने सैम का रोल निभाया. वहीं, उनकी पत्नी माही बनी हैं निकिता दत्ता. रैबाइ मार्कस के रोल में हैं मानव कौल. लेकिन भूत की कहानी में सब सेकंडरी है. क्योंकि ऑडियंस अपना टाइम और पैसा खर्च करती है भूत के पीछे. फिल्म का भूत या उसका हॉरर एलीमेंट कैसा था, अब उस पर बात करेंगे.


# भूत हो या कांच के दुश्मन

लिटरेचर में एक वर्ड होता है, ट्रोप. यानी वो थीम जो बार-बार रिपीट होती है. जैसे माइंडलेस एक्शन फिल्मों में बिना बात दुनिया खत्म करने वाला विलन एक ट्रोप है. वैसे ही हॉरर फिल्मों के भी ट्रोप होते हैं. जैसे भूत आने पर तेज़ हवा का चलना. दीवार पर टंगे फोटो फ्रेम्स का खड़खड़ाना. किसी कैरेक्टर के पीछे मुड़ते ही दीवार पर चिपके दिखना या दीवार से लटकना. या कोई ऐसा किरदार, जो बिना बात अजीब ढंग से पेश आए. ‘डिब्बुक’ में ये सभी ट्रोप मौजूद हैं. जो हम पहले भी अनगिनत बार देख चुके हैं. इसलिए भूत या हॉरर एलीमेंट के लिहाज़ से यहां कुछ भी नया नहीं.

Dybbuk Movie Review
अगर आपको 300 साल पुरानी पेटी में कटे हुए बाल मिलते हैं और तब भी आप उस पेटी को नहीं फेंकते, तब आप भूत बुलाने लायक ही हैं.

साइलेंट से सीन में अचानक से वॉल्यूम तेज़ होने पर भूत का जम्प स्केर, वो भी आपको यहां कई मौकों पर देखने को मिलेगा. फिल्म के कुछ जम्प स्केर ठीक हैं. लेकिन अगर आप पहले से काफी हॉरर फिल्में देख चुके हैं, तो आपको आइडिया लग जाता है कि अब क्या होने वाला है.


# भूत को रैबाइ ने नहीं, बुरी एडिटिंग ने मारा

‘डिब्बुक’ का सैलिंग पॉइंट उसका भूत नहीं, बल्कि ज्यू मायथोलॉजी के इर्द-गिर्द रची गई कहानी थी. क्लाइमैक्स में आने वाला वो प्लॉट ट्विस्ट था, जिसके लिए पूरी फिल्म ने बिल्ड अप का काम किया. लेकिन दुर्भाग्यवश डायरेक्टर वो एंटीसिपेशन बिल्ड नहीं कर पाए. फिल्म के भूत की निर्मम हत्या की है उसकी खराब एडिटिंग ने. फिल्म में दो ऐसे पॉइंट्स हैं, जहां कहानी घूमती है. लेकिन उन्हें ऐसे फिल्माया और एडिट किया गया है कि ‘ओह भाई, ये क्या हो गया’ आपके मुंह से कभी नहीं निकलता. उनका असर फ्लैट लगता है. जो शायद मेकर्स की मंशा न हो, लेकिन हुआ ऐसा ही है.

Dybbuk Ghost
एवरेज फिल्म से ज्यादा कुछ और नहीं कहा जा सकता.

बाकी फिल्म में कैमरा का इस्तेमाल भी काफी गैर ज़रूरी तरीके से हुआ है. जैसे नॉर्मल लगने वाले शॉट्स में भी कैमरा का घूम जाना. ऐसा कहानी में किरदारों की मनोदशा रिफ्लेक्ट करने के मकसद से नहीं किया गया. ये बस एक स्टाइलिश चॉइस लगती है, जो फायदे से ज्यादा नुकसान करती दिखती है.


# दी लल्लनटॉप टेक

एक हॉरर फिल्म के लिहाज़ से ‘डिब्बुक’ कोई महान फिल्म नहीं. देखना चाहें तो देख सकते हैं. अगर स्किप करेंगे, तो भी कोई कयामत नहीं आने वाली. फिल्म अमेज़न प्राइम वीडियो पर स्ट्रीम हो रही है. बाकी योर टाइम इज़ योर टाइम, नन ऑफ माइ टाइम.


वीडियो: ‘स्कैम 1992’ वाले प्रतीक गांधी की नई फिल्म ‘भवाई’ में विवाद के अलावा और क्या खास है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

सलमान के पड़ोसी का आरोप, उनके फार्महाउस में गड़ी हैं स्टार्स की लाशें

सलमान के पड़ोसी का आरोप, उनके फार्महाउस में गड़ी हैं स्टार्स की लाशें

सलमान खान ने उन्हीं के खिलाफ डिफेमेशन केस किया था, अब जवाब दिया है.

सुशांत सिंह राजपूत की फिल्मों के 16 बेहतरीन डायलॉग्स, जो ज़िंदगी जीने का तरीका समझाते हैं

सुशांत सिंह राजपूत की फिल्मों के 16 बेहतरीन डायलॉग्स, जो ज़िंदगी जीने का तरीका समझाते हैं

कुछ ऐसे हैं, जिन्हें सुनकर आपको लगेगा जैसे ये आपके लिए ही लिखे गए हों.

22 बातों में जानिए 'पुष्पा' वाले सुपरस्टार अल्लू अर्जुन की पूरी कहानी

22 बातों में जानिए 'पुष्पा' वाले सुपरस्टार अल्लू अर्जुन की पूरी कहानी

वो सुपरस्टार, जिसकी फैमिली में पहले ही 12 स्टार्स हैं.

'सर' वाली एक्ट्रेस ने अंडर आर्म के बाल वाली फोटो डाली, लोग हल्ला करने लगे

'सर' वाली एक्ट्रेस ने अंडर आर्म के बाल वाली फोटो डाली, लोग हल्ला करने लगे

कुछ लोग उनका मैसेज समझ रहे हैं, तो कुछ 'महिला के बदन पर बाल कैसे' वाले थॉट से ग्रसित कमेंट्स कर रहे हैं.

परवीन बाबी के किस्से, जिन्हें डर था कि अमिताभ बच्चन उन्हें मरवा देंगे

परवीन बाबी के किस्से, जिन्हें डर था कि अमिताभ बच्चन उन्हें मरवा देंगे

जिन्होंने हिंदुस्तान को बताया कि एक औरत किसी के साथ रह भी सकती है. खुलेआम. बिना शादी के.

CID के ACP प्रद्युम्न ने बताया, काम नहीं मिल रहा, घर बैठकर थक गए

CID के ACP प्रद्युम्न ने बताया, काम नहीं मिल रहा, घर बैठकर थक गए

'मैं ये नहीं कहूंगा कि मुझे बहुत ऑफर्स मिल रहे हैं. नहीं है, तो नहीं है.'

सलमान से भिड़ने के बाद अब उन्हें बड़ा भाई क्यों बता रहे KRK?

सलमान से भिड़ने के बाद अब उन्हें बड़ा भाई क्यों बता रहे KRK?

KRK के इस ह्रदय परिवर्तन का राज़ क्या है?

2022 में आने वाली 14 एक्शन फिल्में, जिन्हें देखकर आपका माइंडइच ब्लो हो जाएगा

2022 में आने वाली 14 एक्शन फिल्में, जिन्हें देखकर आपका माइंडइच ब्लो हो जाएगा

इस तरह का एक्शन आपने इससे पहले इंडियन सिनेमा में नहीं देखा होगा.

कौन है केतन, जिसके खिलाफ सलमान खान ने डिफेमेशन केस कर दिया है?

कौन है केतन, जिसके खिलाफ सलमान खान ने डिफेमेशन केस कर दिया है?

पड़ोसी केतन ने सलमान के पनवेल वाले फार्महाउस के बारे में कुछ ऐसा बोल दिया, जो उन्हें ठीक नहीं लगा.

अल्लू अर्जुन की 'अला वैकुंठपुरमुलो' को टीवी पर आने से रोकने के लिए किसने खर्चे 8 करोड़?

अल्लू अर्जुन की 'अला वैकुंठपुरमुलो' को टीवी पर आने से रोकने के लिए किसने खर्चे 8 करोड़?

'अला वैकुंठपुरमुलो' के हिंदी रीमेक 'शहज़ादा' में कार्तिक आर्यन और कृति सैनन लीड रोल्स कर रहे हैं.