Submit your post

Follow Us

ऑस्कर्स की वो 7 स्पीच, जिनको पढ़कर कहोगे,'काश अपनी फिल्म इंडस्ट्री भी इतनी बेबाक होती'

92वें अकैडमी अवॉर्ड्स दिए जा चुके हैं. जो लोग हॉलीवुड और वर्ल्ड सिनेमा फॉलो करते हैं, उन्हें अब तक पता चल चुका होगा कि कौन ये अवॉर्ड्स जीता और किसकी गाड़ी नॉमिनेशन पर ही रुक गई. अगर आपको अवॉर्ड्स जीतने वालों की पूरी लिस्ट जाननी है, तो पढ़िए: वो सभी धांसू फिल्में और लोग, जिन्होंने दुनिया का सबसे बड़ा फिल्म अवॉर्ड ऑस्कर जीता.

चलिए अब बात करते हैं उन 7 स्पीचेज़ की, जो अलग-अलग सेलिब्रिटीज़ ने दीं. ये वो 7 धन्यवाद भाषण हैं, जो बाकी के भाषणों से इस मामले में अलग हैं, कि इनमें अपने साथियों, दोस्तों और परिवार वालों को धन्यवाद कहने के अलावा भी बहुत कुछ है. किसी में दर्शन, तो किसी में व्यंग्य तो किसी में सामाजिक संदेश.

# 1) वाकिंग फिनिक्स | ‘जोकर’ के लिए बेस्ट एक्टर इन लीडिंग रोल का अवॉर्ड पाने के बाद-

लंबी और प्यारी स्पीच है. बिना किसी लाग लपेट के आसान भाषा में और न समझ आ सकने वाले रेफरेंसेज़ के बिना. इसलिए पूरा पढ़ जाइए. मज़ा आएगा-

जो बोल पाने में सक्षम नहीं हैं, हमें उनकी आवाज़ बने रहना है. मैं उन परेशान करने वाले मुद्दों के बारे में सोचता रहता हूं, जो हमें सामूहिक रूप से प्रभावित करते हैं. मुझे लगता है कि कई बार हम ऐसा महसूस करते हैं, या हमें महसूस करवाया जाता है, कि हम अलग-अलग नेक कार्यों के चैंपियन हैं. लेकिन अगर मेरी बात की जाए, तो मैं समानता देखता हूं.

हम एनिमल राइट्स की बात करें, नस्लवाद की बात करें, स्थानीय अधिकारों की बात करें, लैंगिक असमानता की बात करें या एलजीबीटीक्यू (क्विर) अधिकारों की बात करें. मुझे लगता है, चाहे हम इनमें से किसी की भी बात करें, हम दरअसल एक आस्था के खिलाफ लड़ाई के बारे में बात कर रहे हैं. आस्था, कि किसी एक राष्ट्र, किसी एक नस्ल, किसी एक लिंग या किसी एक प्रजाति को बाकी सब पर पर हावी होने, उनको नियंत्रित करने और उनका शोषण करने का अधिकार है.

मुझे लगता है कि हम प्राकृतिक दुनिया से बहुत अलग-थलग पड़ गए हैं. हम में से कई लोग इस बात के दोषी हैं कि हमें ये लगता है कि हम ही सारे ब्रह्मांड का केंद्र हैं. हमारा वैश्विक दृष्टिकोण स्वकेंद्रित है. हम प्राकृतिक दुनिया में जाते हैं और उसे अपने संसाधनों के लिए लूटते हैं.

हमें लगता है कि एक गाय को कृत्रिम रूप से गर्भवती करना हमारा अधिकार है. और जब वो बच्चा जनती है, हम उसके बछड़े को चुरा लेते हैं. भले ही उसकी पीड़ा किसी से नहीं छुपी.

फिर हम उसका दूध ले लेते हैं, जिसपर उसके बछड़े का हक़ था. और फिर उसे अपनी कॉफ़ी में डालते हैं. मुझे लगता है कि हम निजी बदलावों से डरते हैं, क्यूंकि हमारे लिए किसी चीज़ को छोड़ना उसका बलिदान देने सरीखा है.

लेकिन इंसान बहुत इन्वेंटिव, क्रिएटिव और प्रतिभा संपन्न है. मुझे लगता है कि हमें बस प्रेम और करुणा को अपने मार्गदर्शक सिद्धांतों के रूप में उपयोग में लाने की ज़रूरत है. तब जाकर हम अपनी से प्रतिभा एक ऐसे बदलाव वाले सिस्टम को निर्मित कर पाएंगे, विकसित कर पाएंगे और लागू कर पाएंगे, जो सभी संवेदनशील प्राणियों और पर्यावरण के लिए फायदेमंद साबित होगा.

अब, अगर मैं अपनी बात करूं तो, मैं जीवन भर एक बदमाश इंसान रहा हूं. मैं मतलबी रहा हूं. मैं कई बार क्रूर हो जाता हूं. ऐसा आदमी हो जाता हूं जिसके साथ काम करना बहुत मुश्किल है और जो बहुत नाशुक्रा है. लेकिन यहां मौज़ूद लोगों में से कईयों ने मुझे दूसरा मौका दिया है.

...जिसको भी देखना, कई बार देखना. (वाकीन फीनिक्स, इन एंड एज़ 'जोकर')
…जिसको भी देखना, कई बार देखना. (वाकीन फीनिक्स, इन एंड एज़ ‘जोकर’)

और मुझे लगता है कि वो हमारा सबसे अच्छा रूप है, जब हम एक-दूसरे का समर्थन करते हैं. वो नहीं, जब हम एक-दूसरे को उनकी पिछली गलतियों के चलते आज नकार देते हैं.

वो हमारा सबसे अच्छा रूप है जब हम एक-दूसरे को बढ़ने में मदद करते हैं, जब हम एक-दूसरे को शिक्षित करते हैं, जब हम एक-दूसरे का मार्गदर्शन करते हैं. ये एक बेहतरीन समाज है.

मेरे भाई ने 17 साल की उम्र में एक गीत लिखा था. वो कुछ ऐसा था कि, ‘सारी जद्दोजहद प्रेम को बचाए रखने के लिए होनी चाहिए, शांति पीछे-पीछे खुद ही आ जाएगी.’ (Run to the rescue with love, and peace will follow.)

उनके भाई का नाम रिवर फिनिक्स था. 23 साल की उम्र में उसकी मृत्यु हो गई थी. एक्टर, गायक और एनिमल एक्टिविस्ट. यानी कवि ह्रदय.

# 2) कैरन रुपर्ट टॉलिवर और मैथ्यू चेरी | ‘हेयर लव’ के लिए बेस्ट एनिमेटेड शॉर्ट फिल्म का अवॉर्ड पाने के बाद- 

‘हेयर लव’ (बालों से प्यार) एक एनिमेटेड शॉर्ट मूवी है. 6 मिनट की. यू ट्यूब पर उपलब्ध है. इसमें दिखाया गया है कि कैसे एक पिता पहली बार अपनी बेटी के बाल संवारता है. इस मूवी को बेस्ट एनिमेटेड शॉर्ट फिल्म का अवॉर्ड मिलने के बाद मूवी की प्रड्यूसर कैरेन रुपर्ट टॉलिवर ने कहा-

ये (मूवी) प्यार का परिश्रम थी. और ये इसलिए बनी क्योंकि हमारा दृढ़ विश्वास है कि प्रतिनिधित्व बहुत ज़्यादा मायने रखता है. विशेष रूप से कार्टून में. क्योंकि हम पहली बार कार्टून मूवीज़ ही देखते हैं. और ये देखते हैं कि हम अपने जीवन को कैसे आकार देते हैं. और सोचते हैं कि हम दुनिया को कैसे देखते हैं.

अवॉर्ड मिलने के बाद मूवी के डायरेक्टर मैथ्यू चेरी ने कहा-

हमने ‘हेयर लव’ बनाई क्योंकि हम एनीमेशन में अधिक प्रतिनिधित्व देखना चाहते थे. हम काले बालों को नॉर्मलाइज़ (सामान्य) करना चाहते थे. एक बहुत ही महत्वपूर्ण मुद्दा है- क्राउन एक्ट. और अगर हम सभी 50 राज्यों में इसे पारित करने में मदद कर सकें तो यह ‘डे एंड्रे आर्नोल्ड’  सरीखी कहानियां बनने से रोक सकेगा. डे एंड्रे आर्नोल्ड आज रात हमारे विशेष अतिथि हैं.

यह पुरस्कार कोबी ब्रायंट को समर्पित है. हम सभी को उनके जैसी दूसरी पारी खेलने का सौभाग्य मिले.

इस स्पीच में काफी सारे रेफरेंसेज़ हैं. आइए सबको एक-एक कर जानते हैं, और उसके बाद ऊपर वाली स्पीच को दोबारा पढ़ने पर ज़्यादा समझ आएगा.

तो अमेरिका में 50 राज्य हैं. उनमें से सिर्फ एक राज्य, कैलिफोर्निया, में क्राउन एक्ट लागू किया गया है. वो भी अभी पिछले साल जनवरी में ही लागू किया गया है. CROWN का फुल फॉर्म है- Creating a Respectful and Open World for Natural Hair. यानी प्राकृतिक बालों के लिए एक सम्मानजनक और खुली दुनिया का निर्माण करना. ये कानून हेयर स्टाइल और बालों की प्राकृतिक बनावट के आधार पर भेदभाव पर रोक लगाता है. मैथ्यू चेरी इसी या ऐसे ही किसी कानून को देश के सभी 50 राज्यों में लागू करने के बारे में बोल रहे थे.

साथ ही उन्होंने जिन ‘डे एंड्रे आर्नोल्ड’ का ज़िक्र किया था उनकी कहानी कुछ यूं है कि पिछले महीने उनको उनके स्कूल से सस्पेंड कर दिया गया था. क्यूंकि उन्होंने बालों की जटाएं (dreadlocks) बना रखी थीं. आर्नोल्ड ने बताया कि उससे कहा गया था,’अगर वो अपनी जटाएं नहीं कटवाएगा तो उसे हाई स्कूल ग्रेजुएशन सेरेमनी में भाग लेने का मौका नहीं दिया जाएगा.’

उन्हीं एंड्रे आर्नोल्ड को ‘हेयर लव’ के निर्माता अपने साथ स्पेशल गेस्ट के रूप में लेकर आए थे.

मैथ्यू चेरी की स्पीच में जिन कोबी बीन ब्रायंट का ज़िक्र है, वो इसी साल 26 जनवरी को हेलिकॉप्टर क्रेश में मारे गए थे. बहुत फेमस बास्केटबॉल प्लेयर.

LA Lakers के लिए स्कोर करते Kobe (AP फोटो)
LA Lakers के लिए स्कोर करते Kobe (AP फोटो)

डियर बास्केटबॉल नाम की एक कविता में कोबी ने अपनी रिटायरमेंट का खुलासा किया था. रिटायरमेंट के बाद उन्होंने 2017 में अपनी उस कविता को एक शॉर्टफिल्म में ढाला. इस एनिमेटेड शॉर्टफिल्म का डायरेक्शन और एनिमेशन ग्लेन कीन ने किया था. इस फिल्म ने साल 2018 में हुए 90वें अकैडमी अवॉर्ड्स (ऑस्कर अवॉर्ड्स) में बेस्ट एनिमेटेड शॉर्टफिल्म का ऑस्कर जीता. यह इतिहास में पहली बार था जब किसी प्रफेशनल एथलीट ने ऑस्कर जीता हो. यही एनिमेटेड शॉर्टफिल्म थी, जिसे मैथ्यू चेरी ने कोबी ब्रायंट की दूसरी पारी कहा था.

‘हेयर लव’ के डायरेक्टर मैथ्यू चेरी भी अमेरिका के एक फुटबॉल प्लेयर रह चुके हैं. इसलिए ही मैथ्यू चेरी कोबी ब्रायंट की दूसरी पारी से इंस्पायर्ड होना चाह रहे हैं.

# 3) हिल्डुर गुदनादोतिर |  ‘जोकर’ के लिए बेस्ट ऑरिजनल स्कोर का अवॉर्ड पाने के बाद- 

हिल्डुर गुदनादोतिर ने इस अनुभव को दिल को छू लेने वाला बताया. फिल्म क्रू को धन्यवाद दिया, फैमिली को धन्यवाद दिया. अपने पति को थैंक्स कहा. फिर कहा-

लड़कियों के लिए, माताओं के लिए, बेटियों के लिए… जिन्हें अपने भीतर का संगीत सुनाई देता है. मैं उन सब औरतों से कहना चाहती हूं,’प्लीज़ अपना मौन तोड़ो. प्लीज़ बोलो- हमें तुम्हारी आवाज़ सुननी है.’

उनकी ये छोटी सी बात इसलिए ज़्यादा महत्वपूर्ण हो जाती है क्यूंकि ऑस्कर के 92 साल के इतिहास में हिल्डुर पहली महिला बनीं जिनको बेस्ट ऑरिजनल स्कोर का अवॉर्ड मिला.

# 4) ब्रैड पिट | ‘वंस अपॉन अ टाइम इन हॉलीवुड’ के लिए बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का अवॉर्ड पाने के बाद- 

क्या आप विश्वास करेंगे, ये ब्रैड पिट को एक्टिंग के लिए मिला पहला एकेडमी अवॉर्ड है. हालांकि एक प्रड्यूसर के तौर पर वो ऑस्कर पा चुके हैं. ’12 इयर्स अ स्लेव’ के लिए. उन्होंने भी काफी लंबी स्पीच दी. जिसकी शुरुआत उन्होंने एक व्यंग्य से की-

धन्यवाद. ये अविश्वसनीय है. ये वाकई अविश्वसनीय है. ‘सम्मानों के इस सम्मान’ के लिए मैं अकैडमी को धन्यवाद करता हूं. उन्होंने मुझे बताया कि मेरे पास सिर्फ 45 सेकंड का समय है. लेकिन ये समय उस समय से 45 सेकंड ज़्यादा है, जो इस हफ्ते सेनेट ने जॉन बोल्टन को दिया था. मैं सोच रहा था कि शायद क्वेंटिन टैरेंटीनो इस पर एक मूवी बनाएंगे. और बड़े-बुज़ुर्ग अंत में सही काम ही करते हैं.

दरअसल डॉनल्ड ट्रम्प का एमपिचमेन्ट ट्रायल हुआ अभी सेनेट में. ट्रम्प पर अपने पद के बेजा इस्तेमाल और राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता करने जैसे गंभीर आरोप थे. आरोप तय किए ‘हाउस ऑफ रेप्रेजेंटेटिव्स’ ने. उसके बाद की ट्रायल से जुड़ी प्रक्रिया सेनेट में होनी थी, जहां ट्रम्प की रिपब्लिकन पार्टी बहुमत में है. इसी वजह से शुरू से ही कहा जा रहा था कि शायद ट्रायल निष्पक्ष न हो. जॉन बोल्टन पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रहे हैं ट्रम्प के. उन्होंने इस मामले में टेस्टिफाई करने का प्रस्ताव दिया. मगर सेनेट ने उन्हें टेस्टिफाई करने के लिए बुलाया ही नहीं. ट्रम्प निर्दोष घोषित कर दिए गए सेनेट द्वारा. इस पूरे ट्रायल पर उंगलियां उठ रही हैं.

इसके बाद ब्रैड पिट ने क्वेंटिन टैरेंटीनो को धन्यवाद कहा. ‘वंस अपॉन अ टाइम इन हॉलीवुड’ के अपने साथी एक्टर लिओनार्डो डी कैप्रियो की चुटकी ली. स्टंटमैंस की तारीफें कीं. (दरअसल वो ‘वंस अपॉन अ टाइम इन हॉलीवुड’ में एक स्टंटमैन, एक बॉडी डबल बने थे.)  और अंत में ये कहते हुए अपनी बात खत्म की कि-

‘वंस अपॉन अ टाइम इन हॉलीवुड’… क्या ये सच नहीं है. ये मेरे उन बच्चों के लिए है, जो मेरी की हुई हर चीज़ में रंग भर देते हैं. मैं तुम्हें बहुत प्रेम करता हूं मेरे बच्चों.

# 5) रेने ज़ेलवेगर | ‘जूडी’ के लिए बेस्ट एक्ट्रेस इन लीडिंग रोल का अवॉर्ड पाने के बाद- 

रेने ज़ेलवेगर का नाम इस लिस्ट में और उनका भाषण इस स्टोरी में सिर्फ इसलिए नहीं है क्यूंकि उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस का अवॉर्ड मिला. बल्कि इसलिए है कि उन्होंने सभी लोगों को धन्यवाद कहने की औपचारिकता पूरी करने के बाद इमिग्रेंट्स (प्रवासियों) का भी धन्यवाद कहा. उसके बाद बायोपिक ‘जूडी’, जिसमें जूडी का किरदार निभाने के लिए उन्हें ये अवॉर्ड मिला, के लीड किरदार के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा-

‘जूडी गारलैंड’ इस बात का एक बढ़िया उदाहरण है कि हमारे नायक हमें एकजुट करते हैं. नहीं, हमारे बीच जो सर्वश्रेष्ठ हैं वो हमें अपने आप में सर्वश्रेष्ठ खोजने के लिए प्रेरित करते हैं. वे हमें एकजुट करते हैं. जब हम अपने नायकों को देखते हैं, तो हम उनसे इत्तफ़ाक रखते हैं, और ये मायने रखता है.

नील आर्मस्ट्रांग, सैली राइड, डोलोरस हुएर्टा, वीनस और सेरेना और सेलेना, बॉब डेलन, स्कॉरसेसी, फ्रेड रोजर्स, हैरिएट ट्यूबमैन. हम अपने इन शिक्षकों से इत्तफ़ाक रखते हैं. और हम अपने उन वर्दीधारी साहसी पुरुषों और महिलाओं से इत्तफ़ाक रखते हैं, जो हमारी सेवा करते हैं. जब हम अपने नायकों को सेलिब्रेट करते हैं, तो हमें याद रहता है कि हम एक एकजुट जनसमूह के रूप में कौन हैं.

नहीं, जूडी गारलैंड को अपने समय में ये सम्मान नहीं मिला. (जो उनके इस कैरेक्टर और उनकी इस बायोपिक को मिला है.)

मुझे यकीन है कि ये क्षण उस उत्सव का एक विस्तार है जो हमारी फिल्म के सेट पर शुरू हुआ था. उत्सव, जूडी गारलैंड की लेगेसी का. जूडी की अद्वितीय विलक्षणता, आत्मा की विशिष्टता और उदारता की उनकी लेगेसी, उनकी कलात्मक उपलब्धि के पार चली जाती है. मिस गारलैंड, आप निश्चित रूप से उन नायकों में से हैं, जो हमें एकजुट और परिभाषित करते हैं. और ये अवॉर्ड निश्चित रूप से आपके लिए है. मैं बहुत आभारी हूं. सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद. शुभ रात्रि.

# 6) बॉन्ग जून हो | ‘पैरासाइट’ के लिए बेस्ट डायरेक्टर का अवॉर्ड पाने के बाद- 

इस साल अकैडमी अवॉर्ड सेरेमनी में एक छोटा सा बदलाव देखने को मिला. ‘बेस्ट फॉरन लैंग्वेज फिल्म’ कैटेगरी का नाम बदलकर ‘बेस्ट इंटरनेशनल फीचर फिल्म’ कर दिया गया. यूं बेस्ट इंटरनेशनल फीचर फिल्म का ऑस्कर पाने वाली की पहली मूवी ‘पैरासाइट’ बनी. इस बात का ज़िक्र बॉन्ग जून हो ने अपनी स्पीच में भी किया-

अब इस कैटेगरी का नया नाम है. ये अब ‘बेस्ट फॉरन लैंग्वेज फिल्म’ से बदलकर ‘बेस्ट इंटरनेशनल फीचर फिल्म’ हो गई है.  मैं बहुत खुश हूं. क्यूंकि इस कैटेगरी में सबसे पहला ऑस्कर अवॉर्ड हमें मिला है.  

उन्होंने ये पूरी स्पीच कोरियन भाषा में दी, सिर्फ लास्ट के एक वाक्य को छोड़कर. वो अंग्रेज़ी में बोले-

शुक्रिया. और हां… मैं आज पीने के लिए तैयार हूं… अगली सुबह तक. शुक्रिया.

लेकिन उन्हें दोबारा स्टेज में आना पड़ा जब ‘पैरासाइट’ को ओरिजनल स्क्रीनप्ले कैटेगरी में अवॉर्ड मिला-

स्क्रिप्ट लिखना एक बहुत ही एकाकी प्रक्रिया है. हम हम कभी भी अपने देशों का प्रतिनिधित्व करने के लिए नहीं लिखते हैं. लेकिन यह दक्षिण कोरिया के लिए पहला ऑस्कर है. धन्यवाद.

फिर तीसरी बार, जब बेस्ट डायरेक्टर का अवॉर्ड मिला-

‘बेस्ट इंटरनेशनल फीचर फिल्म’ कैटेगरी में  अवॉर्ड जीतने के बाद मुझे लगा कि आज के लिए बहुत हुआ. और मैं आराम करने के लिए तैयार था. 

जब मैं अपनी युवावस्था में सिनेमा का अध्ययन कर रहा था तो एक कहावत मैंने अपने दिल में गुदवा ली थी- ‘सबसे निजी, सबसे रचनात्मक होता है’. ये मार्टिन स्कॉरसेसी का कोट था. जब मैं स्कूल में था, मैंने मार्टिन स्कॉरसेसी की फिल्मों का अध्ययन किया. (उनके साथ) नॉमिनेटेड हो जाना ही कम बड़ा सम्मान नहीं है. मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं जीत जाऊंगा.

मार्टिन स्कॉरसेसी भी अपनी मूवी ‘दी आयरिश मैन’ के लिए बॉन्ग जून हो के साथ नॉमिनेटेड थे. इसके अलावा क्वेंटिन टैरेंटीनो भी बेस्ट डायरेक्टर कैटेगरी में नॉमिनेटेड थे. ‘वंस अपॉन अ टाइम इन हॉलीवुड’ के लिए. उनके बारे में बॉन्ग जून हो बोले-

 जब अमेरिका में लोग मेरी फिल्म से परिचित नहीं थे, तो क्वेंटिन ने हमेशा मेरी फिल्मों को अपनी सूची में रखा. वो यहां उपस्थित हैं. बहुत बहुत धन्यवाद क्वेंटिन. आई लव यू.

इसके अलावा उन्होंने टॉड फिलिप्स (‘जोकर’) और सैम मेंडेस (‘1917’) की भी तारीफ़ करते हुए कहा कि अगर एकेडमी मुझे अनुमति दे तो मैं इस ट्रॉफी को आरी से पांच भागों में बांटकर सभी नॉमिनेटेड डायरेक्टर्स के साथ इसे साझा करूंगा. और अंत में फिर बोले-

धन्यवाद. मैं अगली सुबह तक पीता रहूंगा.

चौथी बार बेस्ट मूवी का अवॉर्ड मिलने पर भी वो  ‘पैरासाइट’ की कास्ट क्रू के साथ स्टेज पर आए लेकिन अबकी उन्होंने कुछ न बोला.

# 7) मार्शल करी | ‘दी नेबर्स विंडो’ के लिए बेस्ट लाइव एक्शन शॉर्ट फिल्म का अवॉर्ड पाने के बाद- 

सभी को थैंक्स करने की औपचारिकता पूरी करने के बाद मार्शल करी अपना अवॉर्ड मां को समर्पित करते हुए बोले

जितने भी कहानीकारों को मैं जानता हूं, उनमें से वो सबसे बेहतरीन कहानीकार थीं. उनके पास हमेशा एक कहानी होती थी. अजीब-अजीब सी चीज़ों को लेकर. जैसे- जब अपने भाई बहनों के साथ वो बड़ी हो रहीं थीं, तो एक अजीब सा कुत्ता जो उन्होंने देखा था, एक टैक्सी ड्राईवर की दास्तान जिसे सुनकर आपका दिल ही टूट जाएगा.

उन्हें देखते हुए मैंने सीखा कि एक अच्छी तरह से बुनी और कही कहानी एक बहुत ताकतवर चीज़ है. और ये दुनिया के देखने के हमारे नज़रिए को बदल सकती है. और ये हमारा ध्यान दूसरे लोगों की ओर आकर्षित कर सकती है. और हमें दूसरे लोगों की परवाह करना सिखा सकती है. हम एक दूसरे से थोड़ा और प्रेम करें. ये अवॉर्ड मेरी मां और और बाकी सभी कहानीकारों के लिए है. धन्यवाद.

और ये रही वो शॉर्ट मूवी, ‘दी नेबर्स विंडो’ जिसको ऑस्कर मिला है-

तो ये थी 7 स्पीचेज़ जो खूब वायरल हो रही हैं. आपको कौनसी पसंद आईं, या कौन-कौन सी पसंद आईं? बताइएगा कमेंट बॉक्स में.


वीडियो देखें:

‘वर्ल्ड फेमस लवर’ ट्रेलर देखकर विजय देवरकोंडा की अर्जुन रेड्डी वाले फैन्स निराश होने वाले हैं!-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

शिकारा: मूवी रिव्यू

एक साहसी मूवी, जो कभी-कभी टिकट खिड़की से डरने लगती है.

फिल्म रिव्यू: मलंग

तमाम बातों के बीच में ये चीज़ भी स्वीकार करनी होगी कि बहुत अच्छी फिल्म बनने के चक्कर में 'मलंग' पूरी तरह खराब भी नहीं हुई है.

भगवान दादा की 34 बातें: जिन्हें देख अमिताभ, गोविंदा, ऋषि कपूर नाचना सीखे!

हिंदी सिनेमा के इन बड़े विरले एक्टर को याद कर रहे हैं.

फिल्म रिव्यू- जवानी जानेमन

जब 50 का आदमी फिल्म में 40 का दिखे. और उसी उम्र में पहले बाप और फिर नाना बने, बात तो इंट्रेस्टिंग है.

नसीरुद्दीन शाह और अनुपम खेर की रगों में क्या है?

एक लघु टिप्पणी दोनों के बीच विवाद पर. जिसमें नसीर ने अनुपम को क्लाउन यानी विदूषक कहा था.

पंगा: मूवी रिव्यू

मूवी देखकर कंगना रनौत को इस दौर की सबसे अच्छी एक्ट्रेस कहने का मन करता है.

फिल्म रिव्यू- स्ट्रीट डांसर 3डी

अगर 'स्ट्रीट डांसर' से डांस निकाल दिया जाए, तो फिल्म स्ट्रीट पर आ जाएगी.

कोड एम: वेब सीरीज़ रिव्यू

सच्ची घटनाओं से प्रेरित ये सीरीज़ इंडियन आर्मी के किस अंदरूनी राज़ को खोलती है?

जामताड़ा: वेब सीरीज़ रिव्यू

फोन करके आपके अकाउंट से पैसे उड़ाने वालों के ऊपर बनी ये सीरीज़ इस फ्रॉड के कितने डीप में घुसने का साहस करती है?

तान्हाजी: मूवी रिव्यू

क्या अपने ट्रेलर की तरह ही ग्रैंड है अजय देवगन और काजोल की ये मूवी?