Submit your post

Follow Us

एक करोड़ कैश के साथ दो गिरफ्तार, एक का दावा, वो बंगाल भाजपा के अध्यक्ष का पीए था

1.58 K
शेयर्स

पश्चिम बंगाल के आसनसोल में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से एक करोड़ रुपए नकद बरामद हुए हैं. इनमें से एक आरोपी ने बताया कि वह बीजेपी के पश्चिम बंगाल प्रमुख दिलीप घोष का पीए यानी पर्सनल असिस्टेंट रह चुका है. पुलिस ने दोनों को आसनसोल रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किया. रेलवे पुलिस के सूत्रों ने बताया कि गौतम चटोपाध्याय और लक्ष्मीकांत सॉ नाम के दो लोगों को उस समय गिरफ्तार किया गया, जब वे एक करोड़ रुपए कैश के साथ कोलकाता जाने वाली ट्रेन में बैठने वाले थे.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक लक्ष्मीकांत सॉ ने बताया कि ये पैसे बीजेपी ने भेजे थे. जिससे छठवें चरण के चुनाव के दौरान कोलकाता में इनका इस्तेमाल किया जा सके. पुलिस का कहना है कि

आसनसोल रेलवे स्टेशन पर दोनों (लक्ष्मीकांत सॉ और गौतम चटोपाध्याय) संदिग्ध हालात में घूम रहे थे. उनके पास बहुत बड़ा बैग था. शक होने पर पुलिस ने उनसे पूछताछ की. बैग की तलाशी ली गई. इसके बाद बैग में एक करोड़ रुपए का कैश मिला. पुलिस मामले की जांच कर रही है’.

सूत्रों के मुताबिक पूछताछ के दौरान दोनों ने माना कि वे इस कैश को कोलकाता ले जा रहे थे. इससे पहले 10 मई को पश्चिम बंगाल पुलिस ने बीजेपी उम्मीदवार भारती घोष की कार से 1 लाख 13 हजार रुपए जब्त किए थे. पुलिस ने बताया था कि पूर्व आईपीएस अधिकारी भारती घोष की कार को पश्चिम मिदनापुर जिले में पिंगला इलाके में रोका गया. घोष के वाहन से 1,13,815 रुपए बरामद हुए. घोष नहीं बता पाई थीं कि नकदी क्यों ले जा रही थीं.

घटना सामने आने के बाद तृणमूल कांग्रेस के नेताओं ने आरोप लगाया था कि भारती घोष मतदाताओं को ‘प्रभावित’ करने के लिए ये पैसे लेकर जा रही थीं. घोष ने आरोपों से इनकार किया था और दावा किया था कि वे निजी खर्चे के लिए पैसा ले जा रही थीं.

छठवें चरण के तहत 12 मई को 59 सीटों पर मतदान हुआ था. इस फेज में पश्चिम बंगाल की 8 सीटों पर वोटिंग हुई थी. पश्चिम बंगाल से हिंसा की खबर भी आई थीं. बीजेपी कैंडिडेट भारती घोष पर हमला हुआ था. हिंसा के बावजूद यहां बंपर वोटिंग हुई. 80.35 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले. राज्य की बाकी बची 9 सीटों पर सातवें चरण के तहत 19 मई को वोटिंग होगी. लोकसभा चुनाव के नतीजे 23 मई को आएंगे.


Video: बस्ती: अगर काम मिले तो अवैध शराब का कारोबार बंद करने को तैयार

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.