Submit your post

Follow Us

2021 में लॉन्च हुए इन 'दमदार' स्मार्टफोन का भारत में अब भी है इंतजार!

भारत का स्मार्टफोन मार्केट कितना बड़ा है, इसका अंदाजा आप ऐसे लगाइए कि Xiaomi ने एक वक्त पर भारत में अपने फ्लैगशिप हैंडसेट बेचना बंद कर दिया था. लेकिन कंपनी को अंदाजा हुआ कि उससे गलती हो रही है और एक बार फिर शाओमी के महंगे डिवाइस मार्केट में आने लगे. आज की तारीख में स्थिति ये है कि कई हैंडसेट सबसे पहले भारत में ही लॉन्च होते हैं. फिर अन्य मार्केट तक पहुंचते हैं. इसका मतलब ये बिल्कुल नहीं है कि स्मार्टफोन निर्माता कंपनियां अपने हर हैंडसेट को भारत में पेश करती हैं. कई ऐसे स्मार्टफोन भी हैं जो ग्लोबल मार्केट में लॉन्च होते हैं, लेकिन भारतीय बाजार में नहीं आते. इसकी वजहें अलग -अलग होती हैं. ऐसा नहीं है कि इन स्मार्टफोन का भारतीय बाजार में कोई खरीददार नहीं है, बल्कि यहां तो कई लोग पलक-पाँवड़े बिछा कर इन स्मार्टफोन का इंतजार करते हैं लेकिन वो आते नहीं.

वो दिन याद है आपको. iPhone पहले अमेरिका में लॉन्च होता था और फिर कई महीनों बाद भारत में मिलता था. लेकिन अब स्थिति बहुत बदल गई है. दोनों मार्केट में फोन उपलब्ध होने की तारीख में बहुत अंतर नहीं होता. मतलब बाजार और खरीददार दोनों हैं, लेकिन कुछ अच्छे स्मार्टफोन अभी भी हमारे यहां नहीं आते हैं. आप कहोगे कि बाजार में फोन की कोई कमी है क्या…जो उन स्मार्टफोन का रोना रो रहे हो जो यहां लॉन्च ही नहीं हुए. हम कहेंगे कि ऐसा नहीं है. बाजार में अच्छे स्मार्टफोन की कोई कमी नहीं है, लेकिन कुछ फोन ऐसे हैं जो कई नामी ब्रांड्स के फ्लैगशिप डिवाइस हैं और हमें उनका मज़ा नहीं मिल पाता. आइए एक नज़र डालते हैं उन दमदार Smartphones पर जो 2021 में ग्लोबल मार्केट में तो आए लेकिन भारत में नहीं.

Asus Zenphone 8

आसूस का ये फोन एक मिस्ट्री हो गया है. सबसे पहले कंपनी ने 7 सीरीज को भारत में नहीं उतारा. मतलब Asus 6Z के बाद पूरी Asus 7 सीरीज नहीं आई और अब Zenphone 8 का भी कोई अता पता नहीं है. सबसे कमाल बात ये है कि कंपनी ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर एक पूरा पेज ‘Coming Soon’ के साथ पिछले कई महीनों से लगा रखा है, लेकिन इस सवाल का जवाब का नहीं मिला. Asus ROG सीरीज के गेमिंग फोन दमदार प्रोसेसर, कूलिंग तकनीक और लंबी चलने वाली बैटरी की वजह से भारतीय बाजार में काफी लोकप्रिय हैं. इस वजह से उनके नॉर्मल फोन का भी इंतजार हमेशा रहता है. Zenphone 8 के स्पेसिफिकेशन भी काफी दमदार हैं. स्मार्टफोन में आपको स्नैपड्रैगन 888, आगे और पीछे की तरफ सोनी ब्रांड के कैमरे, 120 हर्ट्ज रिफ्रेश रेट के साथ 5.9 इंच की सैमसंग डिस्प्ले मिल जाएगी. IP68 रेटिंग वाले इस स्मार्टफोन को मई महीने में ग्लोबल मार्केट में उतारा गया था. भारत में लॉन्च की तारीख पर चुप्पी है.

Asus Zenphone 8 (photo Credit Asus India)
Asus Zenphone 8 (photo Credit Asus India)

Google Pixel 6 और Google 6 Pro

Google की पिक्सल सीरीज के फोन भारत में नहीं आते हैं. पहले तो गूगल अपनी नेक्सस सीरीज़ के फोन भारतीय बाजार में उतारता था. इनके दाम भी बहुत ज़्यादा नहीं होते. साथ में स्टॉक एंड्रॉयड का मजा. शुरुआत में गूगल पिक्सल हैंडसेट भी आए. पिक्सल सीरीज के साथ फोटोग्राफी का चस्का अलग लगा दिया. अब गूगल का फोन है तो एंड्रॉयड के सबसे ताजातरीन वर्जन को आजमाने की गारंटी और कम से कम तीन साल तक अपडेट का वादा. इन कारणों से अब जब हमें और आपको गूगल के फोन का इंतजार रहता है, तब गूगल ने नाता-रिश्ता तोड़ लिया. गूगल कभी प्रोजेक्ट सोली के नाम पर तो कभी चिप की कमी का हवाला देकर अपने फ्लैगशिप स्मार्टफोन को भारत में नहीं उतारता है. पिछले साल तक तो कम से कम Pixel 4A को गूगल ने भारतीयों के लिए उपलब्ध कराया था, लेकिन उसके बाद Pixel 5A 5G का हर कोई इंतजार ही करता रह गया. अभी कुछ महीने पहले Pixel 6 और Pixel 6 Pro लॉन्च किए, लेकिन भारत लिस्ट से गायब था और ये भी कनफर्म है कि ये फोन भारतीय बाजार में नहीं आने वाले.

Pixel 6 और Pixel 6 Pro एंड्रॉयड के सबसे लेटेस्ट वर्जन एंड्रॉयड 12 के साथ आते हैं. आपको पिक्सल 6 प्रो में अंडर डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर के साथ 6.71 इंच की स्क्रीन मिलती है. ट्रिपल कैमरा सेटअप जिसमें होता है 50 मेगापिक्सल का मेन कैमरा OIS के साथ, 48 मेगापिक्सल का टेलीफोटो लेंस और 12 मेगापिक्सल का अल्ट्रावाइड सेंसर. आप 4K वीडियो 30 fps पर रिकॉर्ड कर सकते हैं. वहीं सेल्फ़ी के लिए 11.1 मेगापिक्सल का शूटर लगा होता है. ऐसा नहीं है कि भारतीय बाजार प्रीमियम एंड्रॉयड फोन से भरा पड़ा है और गूगल के लिए जगह नहीं है. सैमसंग के प्रीमियम फोन के अलावा कुछेक चीनी ब्रांड्स के कुछ फोन ही इस सेगमेंट में मिलते हैं तो इतने बड़े बाजार में गूगल का न होना वाकई निराश करने वाला है.

Whatsapp Image 2021 12 14 At 6.24.34 Pm
Google pixel 6 and 6 Pro (Photo credit – Google Instagram )

Xiaomi Mi Mix Fold

शाओमी के स्मार्टफोन का भारतीय बाजार में क्या जलवा है, उसको बताने की जरूरत नहीं है. कंपनी अपने तमाम फोन भारतीय बाजार में लॉन्च करती है और वो भी जल्दी जल्दी. बजट स्मार्टफोन हो (रेडमी सीरीज ) या फिर प्रीमियम जैसे Mi 11 Ultra, सब भारतीय बाजार की शोभा बढ़ा रहे हैं. शाओमी के लिए भारत बहुत बड़ा बाजार है, लेकिन ऐसे में एक डिमांड वाले फोन का नहीं आना थोड़ा अजीब लगा. हम बात कर रहे हैं Mi Mix Fold की जो इसी साल मार्च में ग्लोबली लॉन्च हुआ था. सैमसंग ने फोल्ड सीरीज स्मार्टफोन के साथ एक नया मार्केट बनाया है लेकिन फोल्डेबल फोन अभी सभी के लिए नहीं हैं और सबसे बड़ा कारण है उनका दाम. Mi Mix Fold ऐसे में एक अच्छा ऑप्शन हो सकता था.

Mi Mix Fold के स्पेसिफिकेशन पर नजर डालें तो इसमें 8.01 इंच की प्राइमरी टचस्क्रीन और 6.50 इंच की सेकेंडरी स्क्रीन लगी हुई है. एंड्रॉयड 10 पर चलने वाले इस फोल्डेबल फोन में ट्रिपल कैमरा सेटअप है 108 मेगापिक्सल मेन कैमरे के साथ. सेल्फ़ी के लिए 20 मेगापिक्सल शूटर इस फोन में लगा होता है और फोन फास्ट चार्जिंग को भी सपोर्ट करता है.

Mix Fold 23 1024x768
Mi Mix Fold (Photo Credit- mi .com)

Oppo Find X3

एक और चीनी स्मार्टफोन कंपनी जिसके लिए भारतीय बाजार से दूर रहना असंभव है. उसका पिछले दो साल से कोई फ्लैगशिप फोन भारत में ना आना अखरता है. ऐसा लगता है कि कंपनी सिर्फ बजट स्मार्टफोन ही भारतीय बाजार में बेचना चाहती है. इस साल ग्लोबल लेवल पर कंपनी ने Oppo Find X3 सीरीज के अपने तीन फोन उतारे थे- Oppo Find X3 lite, Oppo Find X3 Neo और Oppo Find X3. लेकिन भारत में इनको लॉन्च नहीं किया गया. अभी भारत में कंपनी की A सीरीज , F सीरीज और रेनो सीरीज के फोन ही उपलब्ध हैं, जबकि प्रीमियम के नाम पर सिर्फ Find X2 ही मिलता है. कंपनी ने Find X2 Pro भी भारत में लॉन्च नहीं किया था. Oppo Find X3 में माइक्रोस्कोप जैसा कैमरा है जिसके लिए इसमें 3 मेगापिक्सल का एक लेंस लगा हुआ है जो किसी भी ऑब्जेक्ट को 60 गुना तक करीब से देखने और डिटेल फोटो लेने में सक्षम है.

Oppo Find X3
Oppo Find X3 (Photo Credit -oppo.com)

Motorola Moto G Stylus

मोबाइल फोन का नाम लिया जाए और Motorola का नाम न हो ऐसा हो नहीं सकता. बात चाहे पुराने मोटो रेजर फोन की हो या आज आने वाले बजट फोन, कंपनी भारतीय बाजार में बनी हुई है. Motorola फोन की एक पहचान स्टॉक एंड्रॉयड और समय पर अपडेट देने की भी रही है. रेज़र सीरीज, एज सीरीज और अन्य बाकी सीरीज़ हैंडसेट उपलब्ध हैं, लेकिन एक फोन भारत में नहीं मिलता वो है Moto G Stylus. सैमसंग नोट सीरीज की लोकप्रियता किसी से छिपी नहीं है और उसमें सबसे बड़ा योगदान Stylus का है. सैमसंग नोट सीरीज फ्लैगशिप डिवाइस है तो सबके पॉकेट को सूट नहीं करता ऐसे में Moto G Stylus एक बढ़िया ऑप्शन होता. चार कैमरे वाला Moto G Stylus 6.8 इंच स्क्रीन के साथ आता है. कंपनी का दावा है कि ये फोन दो दिन का बैटरी बॅकअप देता है. स्नैपड्रैगन 678 प्रोसेसर और 4 जीबी रैम वाला Moto G Stylus उनके लिए बढ़िया ऑप्शन हो सकता था जो बजट में Stylus चाहते थे.

Motorola Moto G Stylus
Motorola Moto G Stylus (Photo Credit- motorola.com)

Lenovo Legion Phone Duel 2

गेम खेलने वालों के लिए lenovo Legion Phone नया नाम नहीं है, लेकिन Lenovo Legion Phone Duel 2 भारत में नहीं मिलता है. कंपनी के इस फोन की खास बात है इसका सेल्फ़ी कैमरा जो गेम खेलने वाले को ध्यान में रखकर बनाया गया है. लैंडस्केप मोड में जब कोई गेमर गेम खेलता है तो एक कैमरा पॉप अप होता है जिससे लाइव स्ट्रीमिंग में कोई दिक्कत नहीं होती. फोन के बैक पर एक फैन लगा हुआ है जिसमें RGB लाइट भी लगी होती हैं. यह फोन दो चार्जर से एक साथ चार्ज हो सकता है और इसमें गेमिंग के लिए फोन के बाजू में और पीछे ट्रिगर्स भी लगे होते हैं. Lenovo का यह फोन ग्लोबली इसी साल अप्रैल में आया था लेकिन भारत में नहीं. गेम के शौकीनों के लिए ये खबर निराश करने वाली रही.

स्मार्टफोन तो वैसे Sony Xperia Pro I और Microsoft Surface Duo 2 भी हैं, जो भारतीय मार्केट में नहीं आएंगे. Nokia X10 और Huawei P50 Pro को लेकर भी सिर्फ उम्मीदें रह गईं.


वीडियो: कमला हैरिस हैकिंग के डर से वायरलैस डिवाइस यूज़ नहीं करतीं, पर क्या ब्लूटूथ से हैकिंग संभव है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

धान खरीद के मुद्दे पर बीजेपी की नाक में दम करने वाले KCR की कहानी

धान खरीद के मुद्दे पर बीजेपी की नाक में दम करने वाले KCR की कहानी

KCR की बीजेपी से खुन्नस की वजह क्या है?

कौन हैं सीवान के खान ब्रदर्स, जिनसे शहाबुद्दीन की पत्नी को डर लगता है?

कौन हैं सीवान के खान ब्रदर्स, जिनसे शहाबुद्दीन की पत्नी को डर लगता है?

सीवान के खान बंधुओं की कहानी, जिन्हें शहाबुद्दीन जैसा दबदबा चाहिए था.

'द्रविड़ ने बहुत नाजुक शब्दों से मुझे धराशायी कर दिया था'

'द्रविड़ ने बहुत नाजुक शब्दों से मुझे धराशायी कर दिया था'

रामचंद्र गुहा की किताब 'क्रिकेट का कॉमनवेल्थ' के कुछ अंश.

पहले स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर की कहानी, जिनका सबसे हिट रोल उनके लिए शाप बन गया

पहले स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर की कहानी, जिनका सबसे हिट रोल उनके लिए शाप बन गया

शुद्ध और असली स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर करियर ग्राफ़ बाद में गिरता ही चला गया.

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

जगह थी मुंबई एयरपोर्ट. अब दस साल बाद फिर से दोनों का नाम एक साथ सुर्ख़ियों में है.

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.