Submit your post

Follow Us

क्या सिर्फ रविंद्र जडेजा से हारी विराट कोहली की टीम?

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर लौट आई है. जी हां. कम से कम सोशल मीडिया पर तो लोग यही कह रहे हैं. चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ हारते ही लोगों ने RCB को ट्रोल करना शुरू कर दिया. इससे पहले वानखेडे में हुए IPL के 19वें मैच में CSK ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग चुनी. फाफ डु प्लेसी और रुतुराज गायकवाड़ ने एक बार फिर से अच्छी शुरुआत की.

और अंत में रविंद्र जडेजा ने हर्षल पटेल के आंकड़ों की धज्जियां उड़ा दीं. आखिरी ओवर में 37 रन आए और CSK ने 20 ओवर्स में 191 रन बना डाले. CSK के लिए जडेजा ने सिर्फ 28 गेंदों पर 62 रन मारे. जबकि डु प्लेसी ने 50 रन की पारी खेली. RCB के लिए हर्षल पटेल ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए.

जवाब में देवदत्त पडिक्कल ने RCB को कमाल की शुरुआत दी. विराट कोहली के साथ मिलकर उन्होंने 3.1 ओवर्स में ही 44 रन जोड़ डाले. इसी स्कोर पर कोहली आठ रन बनाकर आउट हुए और अंत में उनकी टीम 20 ओवर्स में किसी तरह 122 तक ही पहुंच पाई. वैसे तो RCB इस मैच में कई मायनों में बैकफुट पर रही लेकिन उनकी हार के मुख्य तीन कारण कुछ इस तरह रहे.

# खराब डेथ बोलिंग

पृथ्वी के घूमने की तरह सालों से दुनिया में एक चीज और भी शाश्वत है- RCB की खराब डेथ बोलिंग. हालांकि इस सीजन हर्षल पटेल को देखकर लग रहा था कि वो समस्या सॉल्व हो गई. लेकिन सर रविंद्र जडेजा ने एक बार फिर से RCB को वहीं ला खड़ा किया. हालांकि इस बार टीम 19वें ओवर तक कंट्रोल में थी.

लेकिन 20वें ओवर में जड्डू ने इस सीजन के उनकी डेथ बोलिंग के आंकड़ों को बर्बाद कर दिया. हर्षल पटेल द्वारा फेंके गए इस ओवर में जडेजा ने पांच छक्के और एक चौका जड़ा. इस ओवर में एक नो बॉल भी रही और जड्डू ने एक डबल भी लिया. यानी कुल 37 रन. IPL इतिहास के इस सबसे महंगे ओवर से पहले CSK ने 19 ओवर्स में 154 रन बनाए थे.

# ढह गई बैटिंग

हालांकि वानखेडे में 192 भी चेज किए जा सकते हैं. परम्परागत रूप से यहां बैटिंग करना आसान माना जाता है. लेकिन बैटिंग करना आसान होने और अच्छी बैटिंग करने में अंतर होता है. अच्छी पिच पर भी रन तभी बनेंगे जब आप सही से बैटिंग करेंगे. पिछले मैच में RCB ने बिना विकेट खोए 178 रन चेज कर डाले थे.

लेकिन इस मैच में तो उनकी बैटिंग अलग ही लेवल पर थी. पहली 18 गेंदों पर 44 रन बन गए थे. चेज सही दिशा में जा रही थी और तभी विराट कोहली आउट हो गए. 44 पर उनके आउट होने के बाद 83 तक टीम छह विकेट खो चुकी थी. देवदत्त पडिक्कल, वॉशिंगटन सुंदर, ग्लेन मैक्सवेल, डैन क्रिस्चियन और एबी डी विलियर्स वापस जा चुके थे. इसके बाद बचा ही क्या. 11वें ओवर की पहली बॉल तक पूरा टॉप ऑर्डर आउट हो चुका था. ऐसे में क्या ही होता, टीम हार गई.

# रविंद्र जडेजा

जड्डू की जितनी तारीफ की जाए, कम है. थोड़ा सा भाग्य ने साथ दिया और फिर जड्डू ने RCB पर कहर ही ढा दिया. शुरुआत में ही डैन क्रिस्चियन ने उनका एक कैच गिराया. हालांकि 19वें ओवर तक यह बहुत भारी पड़ता नहीं दिख रहा था. जड्डू 21 गेंदों पर 26 रन बनाकर खेल रहे थे. सभी लोग RCB को बोलर्स की तारीफ कर रहे थे. और इस तारीफ में बड़ा हिस्सा हर्षल पटेल के खाते में जा रहा था.

लेकिन 20वें ओवर में सबकुछ बदल गया. जडेजा ने पहली तीन गेंदों पर तीन छक्के जड़ दिए. इसमें तीसरी गेंद नो बॉल भी थी. फ्री हिट के रूप में आई चौथी गेंद पर भी छक्का पड़ा. अगली गेंद पर दो रन आए और ओवर की पांचवी गेंद पर फिर छक्का पड़ा. और आखिरी गेंद पर आया चौका. इस ओवर में कुल 37 रन बने. अंत में जड्डू 28 गेंदों पर 62 रन बनाकर नाबाद लौटे.

लेकिन खेल यहीं नहीं खत्म हुआ. पावरप्ले में RCB के ओपनर्स को आउट करने के बाद धोनी सातवें ओवर में जड्डू को लेकर आए. उन्होंने अपने पहले ही ओवर में वॉशिंगटन सुंदर को निपटा दिया. अगले ओवर में उन्होंने ग्लेन मैक्सवेल को बोल्ड कर दिया. यही नहीं, अपने तीसरे ओवर में उन्होंने बिना कोई रन दिए एबी डी विलियर्स को भी बोल्ड मार दिया. जड्डू ने अपने चार ओवर्स में 13 रन देकर तीन विकेट निकाले.

साथ ही उन्होंने डैन क्रिस्चियन को रनआउट भी किया. इस मैच में जड्डू ने ताबड़तोड़ हाफ सेंचुरी मारने के साथ तीन विकेट लिए और रनआउट भी किया. यानी RCB की हार के सबसे बड़े कारण तो जड्डू ही रहे.


जीत के बाद मोरिस ने बताया, राजस्थान ने इस खिलाड़ी को रखा है सीक्रेट!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.