Submit your post

Follow Us

गांगुली, द्रविड़ और तेंडुलकर ने इस दिन बता दिया था कि वो कभी भी मैच पलट सकते हैं

4.26 K
शेयर्स

तारीख 12 अगस्त 2018. इंडिया वर्सेज इंग्लैंड. मैदान लॉर्ड्स. मैच का चौथा दिन. 289 की लीड दी इंग्लैंड ने. पर सेकंड इनिंग में टीम इंडिया एकदम लोट गई. टीम ने गजब की एकता दिखाई. एक भी प्लेयर ने भारतीयों को ये उम्मीद नहीं जगने दी कि वो लड़ाई में हैं. मैच बच सकता है. सारे एक-एक करके आउट होते चले गए और इंग्लैंड पारी और 159 रनों से मैच जीत गया. अब तारीख को यही रहने देते हैं और सालों को 16 साल रिवाइंड करते हैं. माने अगस्त 2002. तब भी टीम इंडिया इंग्लैंड में थी. मैदान दूसरा था मगर सामने टीम इंग्लैंड की थी. हालत भी कुछ ऐसी ही हो गई थी, पर तब हमारे पास त्रिदेव थे. द्रविड़, तेंडुलकर और गांगुली. तीनों ने क्या गजब का मैच बचाया था. दिखा दिया था कि लड़ाई किसे कहते हैं.

मैच था नौटिंघम में. इंडिया ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग ली. पहली पारी में 357 रन बनाए. इस इनिंग में सहवाग का बल्ला बोला था. 106 रन बनाए थे. फिर आई इंग्लैंड की फर्स्ट इनिंग. 617 रन ठोक डाले. लीड दी 260 रनों की. टीम इंडिया के सामने सबसे बड़ा संकट ये कि उसे पांचवे दिन की पिच पर खेलना था. मैच बचाने के लिए कैसे भी टिकना था वरना पारी से हार का डर. खैर टीम इंडिया उतरी. ओपनिंग आए फर्स्ट इनिंग के शतकवीर वीरेंद्र सहवाग और वसीम जाफर. मगर सहवाग मैच के पहले ही ओवर में मैथ्यू होगार्ड की बॉल पर एलबीडब्लू आउट हो गए. 0 रन पर. वसीम जाफर ने भी देरी नहीं की. दूसरे ही ओवर में वो भी 5 रन बनाके निकल लिए. लगा मैच गया.

इंडिया की फर्स्ट इनिंग का स्कोरकार्ड.(सोर्स- ईएसपीएन क्रिक इंफो)
इंडिया की फर्स्ट इनिंग का स्कोरकार्ड.(सोर्स- ईएसपीएन क्रिक इंफो)
इंग्लैंड की फर्स्ट इनिंग का स्कोरकार्ड.(सोर्स- ईएसपीएन क्रिक इंफो)
इंग्लैंड की फर्स्ट इनिंग का स्कोरकार्ड.(सोर्स- ईएसपीएन क्रिक इंफो)

द्रविड़-तेंडुलकर ने फिर संभाली पारी

मगर फिर आए टीम इंडिया के दीवार राहुल द्रविड़ और मैदान पर खटिया डालकर पसर गए. साथ दिया स्वयं मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंडुलकर ने. दोनों ने ठान लिया कि ऐसे नहीं मैच जाने देंगे. हार नहीं माननी. दोनों ने टुक-टुक शुरू किया. 163 रनों की पार्टनरशिप हुई. मगर 174 रन के स्कोर पर सचिन आउट हो गए. 92 रन बनाकर. टीम अब भी 86 रन पीछे थी. फिर मैदान पर आए दादा. कप्तान सौरव गांगुली. ये आदमी तो वैसे भी कसम खाके विदेश जाता था कि हारना नहीं है. सो इस कसम को निभाने का काम शुरू कर दिया. द्रविड़ का साथ देना शुरू किया. दोनों को पता था कि पांचवा दिन है. बस हमें टिककर खेलना है और इंग्लैंड की सेकंड इनिंग नहीं आने देनी है. हुआ भी कुछ यही. देखते-देखते इन दोनों के बीच भी 100 रनों की पार्टनरशिप पूरी हो गई. लगा काम 35.

राहुल द्रविड़ ने मारी थी सेंचुरी.
राहुल द्रविड़ ने मारी थी सेंचुरी.

इस बीच द्रविड़ का शतक भी पूरा हो गया था. मगर फिर वो 115 रन बनाकर आउट हो गए. स्कोर हो गया 309 पर 4 विकेट. पर इंग्लैंड पर 49 रनों की लीड चढ़ चुकी थी. टीम इंडिया लगभग वो कर चुकी थी जो उसे करना था. अब बस मैदान पर टिके रहकर लीड बढ़ानी थी. इतनी कि इंग्लैंड की पारी आ भी जाए तो वो रन बना न पाएं. पर टीम इंडिया ने इंग्लैंड को मौका ही नहीं दिया लीड उतारने का. द्रविड़ के आउट होने के बाद आए लक्ष्मण के साथ दादा ने 30 रन की पार्टनरशिप की. फिर अगरकर के साथ दादा ने 39 रनों की पार्टनरशिप की. हालांकि गांगुली अपना शतक बनाने से चूक गए. 99 पर आउट हो गए. मगर वो मेन काम कर चुके थे. मैच बचा चुके थे. हार टाल चुके थे. क्योंकि तब तक 118 रनों की लीड चढ़ चुकी थी. गांगुली के आउट होने के बाद टेल एंडर्स ने भी इंग्लैंड को नाको चने चबवाए और 115 ओवर तक जमे रहे. 424 रन पर 8 विकेट के स्कोर और 164 रन की लीड चढ़ाने के बाद पारी घोषित की. अब इंग्लैंड हो सकता है कि 164 रन बना लेती, मगर उसके लिए छठे दिन का खेल कराना पड़ता. इसलिए मैच ड्रॉ हुआ.

द्रविड़, तेंडुलकर और गांगुली ने बता दिया कि मैच कैसे बचाया जाता है. ये ड्रॉ कायदे से किसी जीत से बड़ा था. टीम इंडिया को इस मैच से जरूर मोटिवेशन लेना चाहिए. अब कुछ लोग कहेंगे कि इस मैच में बारिश हो गई थी. इंग्लैंड के बॉलर्स को फायदा हुआ. तो बता दें तब भी बारिश हुई थी. मगर तब टीम ने सरेंडर नहीं किया था. लड़े थे. डटकर खड़े हो गए थे. हार नहीं मानी. पांचवे दिन भी टिककर दिखाया. आज की टीम इंडिया को भी ऐसे ही टेंपरामेंट की जरूरत है. तभी कुछ हो सकता है बचे हुए तीन टेस्ट मैचों में.


ये भी पढ़ें –

अचानक राहुल द्रविड़ को कोच बनाने की मांग क्यों उठने लगी है?

टीम इंडिया अब एक ही गाना गा रही है- बरसो रे मेघा, बरसो

36 साल के इस बॉलर का तोड़ नहीं मिला तो 5-0 से हारेगी टीम इंडिया

लॉर्ड्स के मैदान पर कोहली की टीम इंडिया ने खराब खेल की नई इबारत लिखी है

पुजारा को कोहली ने जिस तरह रन आउट करवाया, उससे बढ़िया तो उसे टीम में ही न लेते

लल्लनटॉप वीडियो देखें –

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.

अमिताभ बच्चन तो ठीक हैं, दादा साहेब फाल्के के बारे में कितना जानते हो?

खुद पर है विश्वास तो आ जाओ मैदान में.

‘ताई तो कहती है, ऐसी लंबी-लंबी अंगुलियां चुडै़ल की होती हैं’

एक कहानी रोज़ में आज पढ़िए शिवानी की चन्नी.

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो कितना जानते हो उनको

मितरों! अच्छे नंबर चइये कि नइ चइये?

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

इस क्विज़ में परफेक्ट हो गए, तो कभी चालान नहीं कटेगा

बस 15 सवाल हैं मित्रों!

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

इंग्लैंड के सबसे बड़े पादरी ने कहा वो शर्मिंदा हैं. जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

KBC क्विज़: इन 15 सवालों का जवाब देकर बना था पहला करोड़पति, तुम भी खेलकर देखो

आज से KBC ग्यारहवां सीज़न शुरू हो रहा है. अगर इन सारे सवालों के जवाब सही दिए तो खुद को करोड़पति मान सकते हो बिंदास!

क्विज: अरविंद केजरीवाल के बारे में कितना जानते हैं आप?

अरविंद केजरीवाल के बारे में जानते हो, तो ये क्विज खेलो.

क्विज: कौन था वह इकलौता पाकिस्तानी जिसे भारत रत्न मिला?

प्रणब मुखर्जी को मिला भारत रत्न, ये क्विज जीत गए तो आपके क्विज रत्न बन जाने की गारंटी है.