Submit your post

Follow Us

क्या है NIDAHAS ट्रॉफी जिसे दिनेश कार्तिक उठा लाए?

भारत, श्रीलंका और बांग्ला देश के बीच 6 मार्च से ट्वेंटी-ट्वेंटी टूर्नामेंट खेला गया. श्रीलंका में. ट्रॉफी का नाम था NIDAHAS. फाइनल में इंडिया ने बांग्लादेश को हराकर ट्रॉफी उठा ली. या यूं कहिए दिनेश कार्तिक ने बांग्लादेश को हराया. बहरहाल इस बारे में सब लोग पढ़ ही चुके हैं.

इस ट्रॉफी का नाम NIDAHAS क्यों था इसकी भी एक कहानी है. पहले तो इस नाम को यूं हल्के में लिया गया कि होगा किसी मोबाइल कंपनी का नाम! आजकल चलन भी तो चला है न! बैंकों का, मोबाइल कंपनी का, रियल इस्टेट कंपनी का नाम देकर सीरीज चलाई जाती है. सबको लगा ऐसा ही कोई मामला होगा. लेकिन अब पता चल रहा है कि इसका तो एक बेहद ख़ास मतलब है.

ये श्रीलंका की लोकल लैंग्वेज सिंहली का शब्द है. सिंहली भाषा में निदाहस का मतलब होता है आज़ादी. ये समय भी श्रीलंका के लिए ख़ास है. श्रीलंका अपनी आज़ादी के 70 सालों का जश्न मना रहा है. इसी वजह से ट्रॉफी का नाम निदाहस था.

maxresdefault-678x381

20 साल पहले 1998 में भी इसी नाम का एक टूर्नामेंट हुआ था. तब श्रीलंका अपनी आज़ादी की गोल्डन जुबली मना रहा था. वो टूर्नामेंट इंडिया, श्रीलंका और न्यूज़ीलैण्ड के बीच खेला गया था. हालांकि उस वन डे टूर्नामेंट को इतना कामयाब नहीं कहा जा सकता. उसमें ज़्यादातर मैच बारिश की भेंट चढ़ गए थे. 10 में से 6 मैच का नतीजा ही नहीं निकला था. एक मैच में ओवर कम कर दिए गए. सिर्फ तीन मैच ऐसे थे जो पूरे हुए. शुक्र है उनमें से एक फाइनल मैच था, जो इंडिया-श्रीलंका के बीच खेला गया था.

सचिन-गांगुली का कहर

7 जुलाई 1998 को हुए उस मैच को सचिन और गांगुली की रिकॉर्डतोड़ पारियों के लिए याद किया जाता है. उन दोनों ने पहले विकेट के लिए 252 रन जोड़े थे उस दिन. उस वक़्त ये एक वर्ल्ड रिकॉर्ड था. दोनों ने शतक मारे. गांगुली ने 109 रन बनाए तो सचिन ने 128. भारत ने 50 ओवर में 307 रन बनाए, जो कि उस समय के लिहाज़ से बड़ा स्कोर था. बड़ा था लेकिन नामुमकिन नहीं.

श्रीलंका ने लगभग इसे पार कर लिया था. ऑल आउट होने से पहले 301 रन बना लिए थे. अभी तीन गेंदें बाकी थी और मैच सिर्फ 6 रन से हारा गया था. यानी श्रीलंका जीत के मुहाने तक पहुंच गया था. अरविंद डिसिल्वा ने उस दिन शानदार शतक मारा था. 94 गेंदों में 105 रन मारे थे. मर्वन अट्टापट्टू ने उनका अच्छा साथ दिया था. एक वक़्त ऐसा आया था जब श्रीलंका को 39 गेंदों में सिर्फ 36 रन बनाने थे और 6 विकेट हाथ में थे. लेकिन इस पॉइंट पर अगरकर ने डिसिल्वा को आउट कर दिया और श्रीलंका के बाकी के बल्लेबाज़ लटपटा गए. रोशन महानामा को छोड़कर. सिर्फ महानामा ने संघर्ष किया. पर जब 13 गेंदों में 13 रन चाहिए थे, वो रन आउट हो गए. बैटिंग में फेल हुए अजय जडेजा ने उनको आउट करवा दिया. उसके बाद तो भारत के लिए काम आसान था.

देखिए उस मैच के आखिरी लम्हे:

20 साल बाद फिर से निदाहस ट्रॉफी फिर हुई, नतीजा भी वैसा ही रहा. फर्क बस इतना था कि फाइनल में सामने मेजबान टीम नहीं थी. और जो टीम थी उसके खिलाफ मेजबान दर्शक भारत का सपोर्ट कर रहे थे.


ये भी पढ़ें:

जिसकी बाउंसर से फिल ह्यूज की मौत हुई थी, उसकी गेंद एक और बल्लेबाज़ के सर में जा लगी

डिविलियर्स को रन आउट करने के बाद बॉलर ने जो किया, उससे ऑस्ट्रेलियन भी खुश नहीं हैं

CCTV फुटेज: अगर टीम न रोकती तो डेविड वॉर्नर अफ्रीकी विकेटकीपर को पीट देते!

बॉलर ने तीन ओवर में तीन विकेट लिए, फिर भी हैट्रिक मानी गई

वीडियो: कौन था वो जो कराची के मैदान पर आया और खिलाड़ियों पर टूट पड़ा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

जगह थी मुंबई एयरपोर्ट. अब दस साल बाद फिर से दोनों का नाम एक साथ सुर्ख़ियों में है.

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.