Submit your post

Follow Us

7वां डायरेक्टर भी बन गया एक्टर, पहचानो तो जानें

सूत्रों के मुताबिक, फिल्में तो आप देखते ही होंगे. पसंदीदा एक्टर भी बसा ही लिए होंगे मन में कहीं. फेवरेट डायरेक्टर वाला लिस्टिकल भी ख्यालों में तैयार ही होगा. लेकिन बीते दिनों से कुछ डायरेक्टर्स और एक्टर्स का गड्डमड्ड हो गया है. बोले तो डायरेक्टर ही एक्टिंग करने उतर आए हैं. कुछ अच्छी एक्टिंग भी कर रहे हैं.

बस हमने सोची सबको समेट कर एक जगह इकट्ठा कर दें. ताकि पब्लिक का ‘फिल्मिया सामान्य ज्ञान’ हो जाए मजबूत. और हां, फरहान अख्तर के बारे में न सोचना. वो लौंडा पुराना चावल हो गया है अब इस स्टोरी के लिए. खैर पॉइंट पर आते हैं. डायरेक्टर जो बन गए एक्टर.

1. निशिकांत कामत

इनसे मिलो. जॉन अब्राहम की ‘फोर्स’ पिच्चर याद है. बड़ी सी मोटर साइकिल जॉन उठाकर पटक देता था फिल्म में. उस पिच्चर के डायरेक्टर थे निशिकांत कामत. मारधाड़ भाई को इत्ती पसंद है कि अब जॉन अब्राहम के साथ ‘रॉकी हैंडसम’ फिल्म लेकर आ रहे हैं. डायरेक्टर हैं इस फिल्म के. पर इत्ते में ही चुलबुलाहट शांत नहीं हुई, तो बन गए फिल्म में विलेन. यानी फिल्म में अपने हीरो जॉन की लंका लगाने का काम निशिकांत कामत खुद करने वाले हैं.

और हां, विलेन से याद आया विमल पान मसाला, तो बताते चलें कि अजय देवगन की फिल्म ‘दृश्यम’ भी इन्ही साहेब ने ही बनाई थी.

2. प्रकाश झा

‘सब पवित्र कर देंगे’ वाली ‘गंगाजल’ फिल्म याद है. उसी के डायरेक्टर थे प्रकाश झा. 29 साल पहले ‘दामुल’ फिल्म बनाई. नेशनल फिल्म अवॉर्ड मिला.  गगाजल, अपहरण, राजनीति, ये स्याली जिंदगी जैसी फिल्में भी बनाईं. बढ़िया डायरेक्टर माने जाते हैं.

तारीफ मिले तो किसे बुरा लगता है. हौसला ही बढ़ता है. हां तो उसी बढ़े हौसले के साथ प्रकाश झा बन गए हैं एक्टर.

अपनी नई फिल्म ‘जय गंगाजल’ एक्टिंग भी की है प्रकाश ने. भ्रष्ट पुलिसवाले बने हैं. ट्रेलर देखकर लगा कि आने वाले वक्त में एक्टर्स की रोजी रोटी खाएंगे. खुद का ही कैमरा और खुद ही एक्टिंग.

3. करण जौहर

जज. डायरेक्टर. होस्ट. एंकर. प्रेजेंटर. डांस. फैशन डिजाइनर. और अब एक्टर. यानी ऐसा कोई सगा नहीं, जहां करण का जौहर घुसा नहीं.

प्यारी सी शक्ल. रोमेंटिक फिल्मों को बनाने की कूट-कूट कर भरी काबिलियत. शाहरुख के साथ ‘कुछ-कुछ होता है, माई नेम इज खान, कभी अलविदा न कहना’ फिल्म बनाई. दबाकर हिट हुईं ये फिल्में. यूं तो डीडीएलजे में शाहरुख के दोस्त की तरह बाली उमरिया लिए कूदते फांदते नजर आए थे. पर जी भरकर दिखे अनुराग कश्यप की ‘बॉम्बे वेलवेट’ में.

आदमी को बुरा दिखने की कित्ती चुल होती है. ये पता चला इस पिच्चर में, क्योंकि अपनी पहली ही फिल्म में विलेन बने करण. फिल्म बॉक्स ऑफिस पर तो ज्यादा न कमा पाई. पर बाबाओं एंड बाबीओं ने खूब तारीफ की, फिल्म की भी. और पहली बार एक्टिंग कर रहे करण जौहर की भी. मां का लाडला, एक्टर बन गया.

4. तिग्मांशु धुलिया

‘हासिल’ फिल्म देखी है या नहीं? नहीं देखे हो तो समझ लो, मनुष्य योनि में जन्म लेना बेकार है तुम्हारा. ‘हासिल’ तिग्मांशु धुलिया की पहली फिल्म थी, एज ए डायरेक्टर. फिर लाइन से ‘साहेब, बीवी और गैंगस्टर’ , ‘पान सिंह तोमर’  बना डाली.

डाकू होते हैं पार्लियामेंट में और बागी होते हैं जंगल में. तिग्मांशु भी बागी निकले. जंगल के नहीं, बॉलीवुड के. अइसी फिल्म बनाने लगे कि लौंडे सनिमा हॉल में बिना हीरोइन देखे सीटी बजाने लगे.

फिर आया ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ का रमाधीर सिंह. बोला- तुमसे नहीं हो पाएगा. पर खुद उससे हो गया. एक्टिंग भी और डायरेक्शन भी. तिग्मांशु ने कई फिल्मों में एक्टिंग की. अभी कुछ दिन पहले सुनील शेट्टी की बिटिया की फिल्म ‘हीरो’ में बाप बने. ‘मांझी’ और ‘शाहिद’ में भी दिख चुके हैं अपने तिग्मांशु.

लो लगे हाथ ‘हासिल’ हासिल कर लो, विद लव ‘दी लल्लनटॉप’

5. सुधीर मिश्रा

जवान आदमी, जो बूढ़ा सा दिखता है. सफेद बाल हैं बड़े से. बोलता है तो लगता है मुंह से लोहे के पांच किलो के बाट रखे जा रहा है.

फिल्म भी तो वैसी ही बनाते हैं सुधीर मिश्रा. 1987 में फिल्म बनाई ‘ये वो मंजिल तो नहीं.’

‘मैं जिंदा हूं’ फिल्म के लिए नेशनल अवॉर्ड भी मिला. ‘कलकत्ता मेल, चमेली और हजारों ख्वाहिशें ऐसी’ फिल्मों से अलग तरह का सिनेमा लोगों को दिखाया. पर इत्ती गुणी थे तो लगा एक्टिंग में भी हाथ आजमा लेते हैं. बस फिर क्या था. भंडारकर से मधुर संबंध काम आए. फिल्म ‘ट्रैफिक सिग्नल’ में बन गए हाजी भाईजान. भिखारियों का आका.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

मधुबाला को खटका लगा हुआ था इस हीरोइन को दिलीप कुमार के साथ देखकर

एक्ट्रेस निम्मी के गुज़र जाने पर उनको याद करते हुए उनकी ज़िंदगी के कुछ किस्से

90000 डॉलर का कर्ज़ा उतारकर प्राइवेट जेट खरीद लिया था इस 'गैंबलर' ने

उस अमेरिकी सिंगर की अजीब दास्तां, जो बात करने के बजाए गाने में ज़्यादा कंफर्टेबल महसूस करता था

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.