Submit your post

Follow Us

जन्मदिन पर मैं अपने पीएम को अपनी जान का तोहफा देना चाहता हूं

मुद्दतों बाद हमें ऐसा नेता मिला है, जिसके बारे में बोलने से डर लगता है. इनके पहले के नेताओं को लोग कुछ भी कह देते थे. लगता था पीएम पद की इज्जत ही नहीं है. मेरे पीएम ने इस पद की गरिमा बढ़ाई है.

मेरे पीएम ने संविधान की भी लाज रखी है. अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की. तभी तो कोई शाह आकर कह देता है कि GDP घटने का टेक्निकल रीज़न है और हम कुछ बोल नहीं पाते. कोई भागवत कह देता है कि फिर से संविधान हमारी संस्कृति से बनना चाहिए. कोई किताबों से नेहरू का ज़िक्र तक हटवा देता है. तभी तो कोई कह देता है कि सरकार से नाराजगी है, तो पाकिस्तान चले जाओ.

बरसों बाद कोई नेता मिला है, जिसके कार्टून नहीं बनते. वरना किसको छोड़ते थे ये जलकुकड़े? इंदिरा तक की लंबी नाक दिखा देते थे. नेहरू तो इतने लाचार और कमजोर थे कि अपने ही कार्टून पर हंसते थे. पहली बार इन लोगों को अहसास हुआ है कि पीएम क्या चीज होता है.

15 मई 1949 को जवाहरलाल नेहरू पर बनाया गया एक कार्टून
15 मई 1949 को जवाहरलाल नेहरू पर बनाया गया एक कार्टून

पहली बार खुश रहने का मतलब समझ आया है. खुश रहने के लिए किसी चीज की जरूरत नहीं होती. न नौकरी की, न ही पैसों की. अगर किसी को खुश रहना है, तो वो देश पर गर्व करके भी रह सकता है. भारत मां की चरण वंदना करके खुश रह सकता है. अपने मन की बातें कहकर खुश रह सकता है. क्या लेकर आए थे, क्या लेकर जाओगे. किस बात का शोर है?

शोर मचाकर जनता को पढ़ाने का मतलब भी समझ आया है पहली बार. पहली बार पब्लिक पढ़ाई में इतना इंटरेस्ट दिखा रही है. इतिहास अपने हिसाब से पढ़ रही है, लिख रही है. कभी हुआ था ऐसा? इस पीएम के राज में ही महाराणा प्रताप अकबर से जीत पाए. कुल प्रतिष्ठा वापस आई है.

modi

पहली बार इतना ताकतवर नेता मिला है. किसके पास इतना दम था कि नोटबंदी जैसे फैसले के फेल होने के तुरंत बाद GST ला दे? इसके लिए जिगर चाहिए होता है. ये वो पीएम हैं, जो गलतियां करने से नहीं डरते. फैसले लेने से नहीं डरते. कब तक डिग्रीधारियों से पूछकर काम चलाएंगे?

डिग्री और घिसने की जरूरत ही क्या है? पहली बार पता चला है कि बिना कुछ पढ़े, बिना समझे भी ज्ञान हो सकता है.

डिजिटल की ताकत का भी पता इसी पीएम के राज में चला है. जब यूनिवर्सिटी में देशद्रोह हो रहा है, नई बनाने में पैसे खर्च हो रहे हैं, तो Whatsapp पर खोल दी गईं यूनिवर्सिटीज. देशभक्ति से भरी हुईं. उद्द्यमशीलता और टेक्नॉल्जी का ऐसा संगम कभी हुआ था क्या?

देश का युवा अब जाग गया है. जब वो 66 साल के युवा पीएम को 18 घंटे मेहनत करते देखता है, तो बिना सोचे वो भी निकल पड़ता है सड़कों पर. स्वच्छता अभियान और आतंरिक सुरक्षा की जिम्मेदारी लेकर. दल बनाकर युवा लोगों को रोककर पूछताछ करता है. न्याय प्रक्रिया इतनी त्वरित हो गई है कि मृत्युदंड के लिए इंतजार नहीं करना पड़ता. सड़क पर ही फैसला हो जाता है.

पशु-पालक पहलू खान, जिन्हें राजस्थान के अलवर में कथित गोरक्षकों ने गो-तस्करी के शक में मार डाला
पशु-पालक पहलू खान, जिन्हें राजस्थान के अलवर में कथित गोरक्षकों ने गो-तस्करी के शक में मार डाला

पहली बार ऐसा लग रहा है कि पढ़ने, नौकरी करने, कमाने, शादी और बच्चे करने की जरूरत ही क्या है? ये चीजें न भी रहें, तो जिंदगी जी ही जा सकती है. मां भारती के चरणों में जीवन समर्पित करके.

मैं अपने पीएम के जन्मदिन पर तोहफे में अपनी जान देना चाहता हूं. उस वक़्त मेरे ललाट पर तिलक हो. सिर पर केसरिया बाना हो. एक हाथ में गीता हो, दूसरे में त्रिशूल. मैं चलते-चलते अयोध्या के विशाल राम मंदिर पर चढ़ जाऊं और उसके शिखर से गिरकर अपनी जान दे दूं. चाहूंगा कि उस वक़्त मेरी जुबां पर वंदे मातरम हो और जनता खड़े होकर 52 सेकंड तक ये तमाशा देखे.

***********
ये कौन है, जो पीएम के जन्मदिन पर ऐसा लिख रहा है? शर्म क्यों नहीं आती इसको? क्या इस बकवास से पीएम के लिए हमारा प्रेम कम हो जाएगा?
***********


ये लेख ऋषभ ने लिखा है, जिसे उनकी इजाज़त से हम आपको पढ़वा रहे हैं.


ये भी पढ़ें:

पेट्रोल-डीजल के दाम तो जनता झेल लेगी, आपके इस मंत्री को झेलना मुश्किल है मोदीजी

उस इंसान की कहानी, जिसके आगे मोदी हाथ जोड़ के नमन करते हैं

वो 9 लोग जो पिछले तीन साल से पीएम मोदी के सारे काम देख रहे हैं

कबाड़ी का काम करते हैं नरेंद्र मोदी के भाई, भाभी मांजती हैं बर्तन

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

जब ट्रेलर आया था, तबसे लगातार विरोध जारी है.