The Lallantop

ED ने सत्येंद्र जैन को गिरफ्तार किया, AAP बोली, 'हिमाचल प्रदेश हार रही है BJP'

सत्येंद्र जैन की गिरफ्तारी के बाद आम आदमी पार्टी ने बीजेपी पर निशाना साधा. मनीष सिसोदिया ने कहा कि जैन को आज गिरफ्तार किया गया है ताकि वो हिमाचल न जा सकें.

post-main-image
दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (फाइल फोटो- पीटीआई)

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendar Jain) को कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार कर लिया है. सत्येंद्र जैन पर हवाला के जरिए लेन-देन का आरोप है. इंडिया टुडे से जुड़े मुनीष पांडे की रिपोर्ट के मुताबिक सूत्रों ने बताया कि सोमवार 30 मई को ED मुख्यालय में 6 घंटे की पूछताछ के बाद सत्येंद्र जैन को गिरफ्तार किया गया. उनके खिलाफ ये मामला पिछले 5 सालों से चल रहा है.

सत्येंद्र जैन के खिलाफ मामला

पिछले महीने ED ने कहा था कि उसने सत्येंद्र जैन से जुड़ी कंपनियों की 4.81 करोड़ की संपत्तियों को कुर्क किया था. ईडी के मुताबिक, 2015-16 के दौरान सत्येंद्र जैन से जुड़ी कंपनियों ने शेल कंपनियों के जरिये 4.81 करोड़ रुपये हासिल किए थे. उस वक्त जैन एक सरकारी अधिकारी थे. जिन कंपनियों का नाम सामने आया, उनमें अकिंचन डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड, इंडो मेटल इंपेक्स प्राइवेट लिमिटेड, प्रयास इंफोसॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड, मंगलायतन प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड और जेजे आइडियल इस्टेट प्राइवेट लिमिटेड शामिल हैं.

सीबीआई ने अगस्त 2017 में भ्रष्टाचार रोकथाम कानून के तहत जैन के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी. इसके बाद ईडी ने जैन के खिलाफ केस दर्ज किया था. उसने बताया था कि सत्येंद्र जैन अपनी कंपनियों में निवेश हुए पैसे का स्रोत नहीं बता पाए. अब इसी सिलसिले में पीएमएलए के तहत उन्हें गिरफ्तार किया गया. ईडी ने संदेह जताया कि पैसे का उपयोग राजनीतिक उद्देश्यों के लिए भी किया गया. जांच एजेंसी के मुताबिक 4.81 करोड़ रुपये का इस्तेमाल दिल्ली और आसपास के इलाकों में जमीन खरीदने या जमीन खरीद के लोन को चुकाने के लिए किया गया था.

आम आदमी पार्टी का बीजेपी पर निशाना

जैन की गिरफ्तारी के बाद आम आदमी पार्टी ने बीजेपी पर निशाना साधा और इसे हिमाचल प्रदेश चुनाव से जोड़ा. दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ट्विटर पर लिखा, 

“सत्येंद्र जैन के खिलाफ 8 साल से एक फर्जी केस चलाया जा रहा है. अभी तक कई बार ED बुला चुकी है. बीच में कई साल ED ने बुलाना भी बंद कर दिया था क्योंकि उन्हें कुछ मिला ही नहीं. अब फिर शुरू कर दिया क्योंकि सत्येंद्र जैन हिमाचल के इलेक्शन इंचार्ज हैं. हिमाचल में बीजेपी बुरी तरह हार रही है. इसलिए सत्येंद्र जैन को आज गिरफ्तार किया गया है ताकि वो हिमाचल न जा सकें. वे कुछ दिनों में छूट जाएंगे क्योंकि केस पूरी तरह फर्जी है.”

वहीं AAP सांसद संजय सिंह ने कहा कि बीजेपी जांच एजेंसी का दुरुपयोग कर रही है. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने 34 AAP विधायकों को फर्जी मामलों में गिरफ्तार करवाया था, जिन्हें बाद में कोर्ट ने बरी कर दिया. संजय सिंह कहा, 

"ईडी ने 8 साल पुराने फर्जी मामले में सत्येंद्र जैन को गिरफ्तार किया है. आय से अधिक मामले में सीबीआई उन्हें पहले ही क्लीन चिट दे चुकी है. बीजेपी हिमाचल प्रदेश में चुनाव हार रही है, इसलिए उन्हें फर्जी केस में गिरफ्तार किया गया है. ये सत्येंद्र जैन का उत्पीड़न है."

सत्येंद्र जैन को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का करीबी माना जाता है. उनके पास स्वास्थ्य विभाग के अलावा गृह, ऊर्जा, लोक निर्माण, शहरी विकास जैसे विभाग भी हैं. जैन आम आदमी पार्टी के संस्थापक सदस्यों में भी एक हैं.

वीडियो: सत्येंद्र जैन का वजन भूख हड़ताल के बावजूद बढ़ने के पीछे साइंस है

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स