The Lallantop
Logo
लल्लनटॉप का चैनलJOINकरें

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या का आरोपी रोहित गोदारा कौन है? लॉरेंस बिश्नोई से क्या कनेक्शन है?

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड के आरोपी रोहित गोदारा के खिलाफ बीकानेर सहित चूरू, जयपुर और फलौदी में करीब 20 मुकदमे दर्ज हैं. बीकानेर में वो व्यापारियों को फिरौती के लिए धमकाता रहा है.

post-main-image
रोहित गोदारा लारेंस विश्नोई और गोल्डी बराड़ गैंग के लिए काम करता है. (फोटो- ट्विटर)

राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना (RRKS) के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या (Sukhdev Singh Gogamedi Murder) के बाद एक नाम की चर्चा हो रही है. रोहित गोदारा. राजस्थान का कुख्यात गैंगस्टर. रिपोर्ट्स के मुताबिक उसने खुद फेसबुक पर एक पोस्ट लिखकर सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड की जिम्मेदारी ली है और कई बड़े दावे किए हैं. उसने आरोप लगाया है कि सुखदेव गोगामेड़ी उसके दुश्मनों के साथ मिलकर उनका सहयोग और उनको मजबूत करने का काम करता था. रोहित गोदारा ने अपने दुश्मनों को चेतावनी भी दी है.

कौन है रोहित गोदारा?

बताया जाता है कि गैंगस्टर रोहित गोदारा का नाम लॉरेंस बिश्नोई गैंग से जुड़ा है. आजतक के अरविंद ओझा की रिपोर्ट के मुताबिक कुछ महीने पहले गोदारा ने अपने दुबई के नंबर से गोगामेड़ी को धमकी भी दी थी. फिलहाल गोदारा भारत से फरार है. उसके खिलाफ NIA की जांच भी चल रही है.

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के मर्डर की जिम्मेदारी लेते हुए गोदारा ने फेसबुक पर लिखा,

"सभी भाइयों को राम राम. मैं रोहित गोदारा. गोल्डी बराड़ भाइयो, आज ये जो सुखदेव गोगामेड़ी की हत्या हुई है, इसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी हम लेते हैं. ये हत्या हमने करवाई है. मैं आपको बताना चाहता हूं कि ये हमारे दुश्मनों से मिलकर उनका सहयोग करता था, उनको पूर्ण रूप से मजबूत करने का काम करता था. हमारे दुश्मन अपने घर की चौखट पर अपनी अरथी तैयार रखें."

13 साल पुराना आपराधिक इतिहास

रोहित गोदारा राजस्थान के बीकानेर स्थित लूणकरण का रहने वाला है. उसके ऊपर गंभीर अपराध के 32 से ज्यादा मामले दर्ज हैं. गोदारा ने साल 2010 में अपराध की दुनिया में कदम रखा था. आजतक के मुताबिक गोदारा राजस्थान में कारोबारियों से 5 करोड़ रुपए से लेकर 17 करोड़ तक की रंगदारी मांग चुका है. उसके खिलाफ बीकानेर सहित चूरू, जयपुर और फलौदी में करीब 20 मुकदमे दर्ज हैं. बीकानेर में रोहित व्यापारियों को फिरौती के लिए धमकाता रहा है. उसने जुगल राठी को धमकाकर फिरौती मांगी थी.

अक्टूबर, 2020 में उसने राठी की कार पर फायरिंग करवाई. कार में राठी की बजाय उनका रिश्तेदार सवार था. इस मामले में बीकानेर पुलिस उसे चूरू जेल से प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार कर बीकानेर लाई थी. चूरू में गोदारा एक हत्या के मामले में साल 2019 से जेल में कैद था. साल 2022 में उसकी जमानत हुई थी. मई में वो बीकानेर के जयपुर-जोधपुर बाईपास से फरार हो गया था.

गैंगस्टर राजू ठेहट की हत्या का आरोपी

राजस्थान के सीकर में 2022 में गैंगस्टर राजू ठेहट की हत्या कर दी गई थी. रोहित गोदारा ने ही राजू की हत्या की जिम्मेदारी ली थी. वैसे ही जैसे अभी ली है. एक फेसबुक पोस्ट कर. तब रोहित गोदारा ने कहा था कि राजू को मारकर आनंदपाल सिंह और बलबीर बानूड़ा की मौत का बदला लिया गया है.

गोदारा ने हरियाणा में भिवाणी के नवीन बॉक्सर गैंग से संपर्क किया था. गैंग के शार्प शूटर सीकर में छात्र बनकर आए और एक माह तक राजू ठेहट की रेकी की. इसके बाद वारदात को अंजाम दिया गया.

मूसेवाला हत्याकांड में नाम

गोदारा का नाम सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में भी आया था. उसे सवाई डेलाना के महेंद्र सहारण का करीबी बताया जाता है. पंजाब में मूसेवाला की हत्या में गाड़ी उपलब्ध करवाने के आरोप में महेंद्र सहारण का नाम सामने आया था.

रोहित गोदारा, लारेंस विश्नोई और गोल्डी बराड़ गैंग के लिए काम करता है. 13 जून 2022 को गोदारा दिल्ली से फरार हो गया था. वो फर्जी पासपोर्ट पर दिल्ली से दुबई भाग गया था. फर्जी पासपोर्ट में उसने अपना नाम ‘पवन कुमार’ लिखवाया था. गोदारा के खिलाफ इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस वक्त गोदारा कनाडा में मौजूद हो सकता है.

वीडियो: राजस्थान चुनाव के बाद के दो दिन बाद करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या