Submit your post

Follow Us

वीडियो

ज़रीन खान ने अपनी फोटो पर भद्दे कमेंट्स करने वाले ट्रोल्स को सॉलिड जवाब दिया

बॉलीवुड एक्ट्रेस ज़रीन खान को लोग उनके वजन और लुक की वजह हमेशा टोकते-टाकते रहते हैं. लेकिन उन्हें इन चीज़ों कोई फर्क नहीं पड़ता. बल्कि उनकी इस तरह की आलोचना करने वाले लोगों को वो सीधे मुंह सुना भी देती हैं. लेकिन लोगों की एक गंदी आदत है. बाज नहीं आने की. उन्हें जहां मौका मिलता है, अपना कार्यक्रम चालू कर देते हैं. इस बार भी कुछ वैसा ही हुआ. ज़रीन ने अपनी एक फोटो इंस्टाग्रैम पर शेयर की. और ट्रोल आर्मी एक्टिव हो गई. लेकिन अपने पांव पीछे खींचने की बजाय ज़रीन ने उनकी बॉडी शेमिंग करने वालों को ढंग से समझा दिया.

ज़रीन खान ने अपनी फोटो पर भद्दे कमेंट्स करने वाले ट्रोल्स को सॉलिड जवाब दिया

बॉलीवुड एक्ट्रेस ज़रीन खान को लोग उनके वजन और लुक की वजह हमेशा टोकते-टाकते रहते हैं. लेकिन उन्हें इन चीज़ों कोई फर्क नहीं पड़ता. बल्कि उनकी इस तरह की आलोचना करने वाले लोगों को वो सीधे मुंह सुना भी देती हैं. लेकिन लोगों की एक गंदी आदत है. बाज नहीं आने की. उन्हें जहां मौका मिलता है, अपना कार्यक्रम चालू कर देते हैं. इस बार भी कुछ वैसा ही हुआ. ज़रीन ने अपनी एक फोटो इंस्टाग्रैम पर शेयर की. और ट्रोल आर्मी एक्टिव हो गई. लेकिन अपने पांव पीछे खींचने की बजाय ज़रीन ने उनकी बॉडी शेमिंग करने वालों को ढंग से समझा दिया.

तहखाना

'इस्मत आपा वाला हफ्ता' शुरू हो गया, पहली कहानी पढ़िए लिहाफ

'इस्मत आपा वाला हफ्ता' शुरू हो गया, पहली कहानी पढ़िए लिहाफ

101 साल पहले, इस्मत आपा का जन्म हुआ था. बदायूं में. उत्तरप्रदेश में पड़ती है ये जगह. अभी जन्मदिन आने को है. मुल्क आजाद हुआ था उससे ठीक 32 साल पहले पैदा हुईं थीं. तारीख वही 15 अगस्त. उर्दू की सबसे कंट्रोवर्शिअल और सबसे फेमस राइटर हुई हैं, हमने तय किया कि जन्मदिन के मौके … और पढ़ें ‘इस्मत आपा वाला हफ्ता’ शुरू हो गया, पहली कहानी पढ़िए लिहाफ

तहखाना

वो साइंटिस्ट, जिसे नपुंसक बनाकर देश से निकाल दिया गया

वो साइंटिस्ट, जिसे नपुंसक बनाकर देश से निकाल दिया गया

पहले विश्व युद्ध में ब्रिटेन और फ़्रांस ने मिलकर जर्मनी को तगड़ा वाला गिराया था. ये वो दौर था जब जर्मनी में हिटलर जवान हुआ था. और पूरे जर्मनी में उसका बोलबाला होने वाला था. दूसरे वर्ल्ड-वॉर की तैयारी चल रही थी. जर्मनी ने तय किया था, इस बार किसी भी कीमत पर हारेंगे नहीं. … और पढ़ें वो साइंटिस्ट, जिसे नपुंसक बनाकर देश से निकाल दिया गया

झमाझम

पूरी दुनिया में ये सेल्फी भयानक वायरल हो गई है, इन दो लड़कियों से ज़्यादा आगे खड़े बंदे के चलते

पूरी दुनिया में ये सेल्फी भयानक वायरल हो गई है, इन दो लड़कियों से ज़्यादा आगे खड़े बंदे के चलते

इटली के डेप्युटी प्राइम मिनिस्टर हैं मातेयो साल्विनि. उनके साथ बड़ी चोट हुई है. हुआ वही है जो आप भी अक्सर औरों के साथ करते रहते हैं. मामला इटली के सिसिली में हुआ. जहां साल्विनि एक रैली में गए हुए थे. और वहीँ उनके साथ हो गई फोटोबॉम्बिंग. नहीं नहीं बम वम सुनकर ज़्यादा परेशान न हों. … और पढ़ें पूरी दुनिया में ये सेल्फी भयानक वायरल हो गई है, इन दो लड़कियों से ज़्यादा आगे खड़े बंदे के चलते

तहखाना

बच्चे के ट्रांसजेंडर होने का पता चलने पर मां ने खुशी क्यों मनाई?

बच्चे के ट्रांसजेंडर होने का पता चलने पर मां ने खुशी क्यों मनाई?

एक मां है. उसे पता लगा कि उसका बेटा ट्रांसजेंडर है. मां ने क्या किया? नहीं, वो छाती पीट-पीटकर नहीं मरी. न उसने बेटे को गालियां दी. न उससे वास्ता तोड़ा. बल्कि वो अपने बच्चे के लिए खुश हुई. सेलिब्रेट किया. पार्टी दी. फोटोशूट करवाया. और फिर पूरी दुनिया के सामने खुशी से इसका ऐलान … और पढ़ें बच्चे के ट्रांसजेंडर होने का पता चलने पर मां ने खुशी क्यों मनाई?

तहखाना

कोर्ट के फैसले को हमें ऑपरा सुनते एंड्र्यू के कमरे तक ले जाना है

कोर्ट के फैसले को हमें ऑपरा सुनते एंड्र्यू के कमरे तक ले जाना है

Judge – In this courtroom, Mr Miller, justice is blind. To matters of race, creed, colour, religion. And sexual orientation. JOE – With all due respect, Your Honor… We don’t live in this courtroom, do we? जब सब लोग होमोसेक्शुअलिटी की बात कर रहे हैं, मैं जाकर फ़िलाडेल्फ़िया के एक सीन पर अटक जाता हूं, … और पढ़ें कोर्ट के फैसले को हमें ऑपरा सुनते एंड्र्यू के कमरे तक ले जाना है

न्यूज़

'मैं लेस्बियन हूं'

'मैं लेस्बियन हूं'

‘मैं लेस्बियन हूं.’ टेकनीकली ये वाक्य निरापद है. एक इंसान कह रहा है कि वो दूसरे से प्यार करता है. लेस्बियन शब्द से बस इतना पता चलता है कि ये दोनों इंसान लड़कियां हैं. ये कोई अपराध नहीं है. बावजूद इसके, लोगों की नज़रें ये शब्द सुनके तिरछी हो जाती हैं. लोग इसे शर्म से … और पढ़ें ‘मैं लेस्बियन हूं’

तहखाना

आर्टिकल 377 के दौर में, कामसूत्र क्या कहता है गे सेक्स पर

आर्टिकल 377 के दौर में, कामसूत्र क्या कहता है गे सेक्स पर

समलैंगिकता पर लोगों की राय दो भागों में बंटी हुई है. एक ग्रुप है जो गे राइट्स के लिए लड़ता है, और दूसरा जो इसके अगेंस्ट है. इस दूसरे ग्रुप के लोग, जिनकी संख्या बहुत बड़ी है, ये मानते हैं कि समलैंगिकता नेचुरल नहीं है क्योंकि सेक्स तो केवल बच्चे पैदा करने के लिए होता … और पढ़ें आर्टिकल 377 के दौर में, कामसूत्र क्या कहता है गे सेक्स पर

तहखाना

LGBTQ 1: अब दोस्त को 'गां*' नहीं कहता

LGBTQ 1: अब दोस्त को 'गां*' नहीं कहता

पहली बार होमोसेक्शुऐलिटी के बारे में कुछ सुना था वो ये कि मुखिया जी किसी 12 साल के लड़के को लेकर मंदिर में घुसे रहते हैं. क्या करते हैं ये उन शब्दों में कहा गया. जो कहते हुए स्वत: हमारा वॉल्यूम नीचे चला जाता है. बाद में समझ आया कि इसमें होमोसेक्शुऐलिटी जैसा कुछ न … और पढ़ें LGBTQ 1: अब दोस्त को ‘गां*’ नहीं कहता

तहखाना

क्या करेंगे, अगर एक दिन आपका बच्चा कहे कि वो 'हिजड़ा' है?

क्या करेंगे, अगर एक दिन आपका बच्चा कहे कि वो 'हिजड़ा' है?

‘मुझे अपनी बच्चे के लिए डर लग रहा था. वो कैसे पलों से गुजरी होगी (गुजरा होगा). मुझे उस पर गर्व है कि वो सच्चाई के साथ जी रही थी. मुझे खुशी थी कि उसने अपना एहसास बांटने के लिए मुझे चुना. वो मेरे सवालों के साथ बेहद सहज थी. हमारे बीच जो नहीं बदला … और पढ़ें क्या करेंगे, अगर एक दिन आपका बच्चा कहे कि वो ‘हिजड़ा’ है?