Submit your post

Follow Us

2019 चुनाव नतीजे: BJP के वो दो विजेता जिनके नाम रिकॉर्डबुक में जुड़ गए हैं

270
शेयर्स

लोकसभा चुनावों के नतीजे आ चुके हैं. यूं तो ये चुनाव एक बार फिर बीजेपी और नरेंद्र मोदी के लिए बंपर जीत लेकर आए हैं. मगर इसी बीच कई मजेदार चीजें भी सामने आई हैं. ऐसा ही एक मजेदार फैक्ट है इन चुनावों में सबसे बड़े और सबसे कम मार्जिन से मिली जीतों का. इस बार सबसे बड़े अंतर से जो जीत दर्ज हुई है उसमें वोटों का अंतर लाख दो लाख का नहीं है. पूरा 6.89 लाख वोटों का अंतर. ये इस लोकसभा चुनाव का सबसे बड़ा अंतर है. जीतने वाले नेता का नाम है सीआर पाटिल. पार्टी का नाम बीजेपी. सीट है गुजरात की नवसारी जहां से सीआर पाटिल दूसरी बार जीते हैं.

अगर बात इंडिया में लोकसभा इतिहास की सबसे बड़ी जीत की हो तो ये मार्जिन 6.96 लाख का है. 2014 में महाराष्ट्र की बीड़ सीट पर हुए उपचुनावों में प्रीतम मुंडे चुनाव जीती थी. गोपीनाथ मुंडे की आकस्मिक मौत के बाद इस सीट पर उपचुनाव हुए और उनकी छोटी बेटी प्रीतम ने रिकॉर्ड मार्जिन से चुनाव जीता था. 2019 के चुनावों में बीजेपी की तरफ से ही एक और बड़ी जीत दर्ज हुई है. ये हैं हरियाणा के करनाल से बीजेपी उम्मीदवार संजय भाटिया. इन्होंने भी 6.56 लाख वोटों से जीत दर्ज की है. फरीदाबाद से भाजपा उम्मीदवार कृष्ण पाल गुर्जर ने भी 6.38 लाख वोटों से जीत दर्ज की है.

बात अगर सबसे कम मार्जिन से जीत की हो तो भी बीजेपी के ही उम्मीदवार को सबसे कम वोटों के अंतर से जीत मिली है. ये हैं बीजेपी के भोलानाथ जो उत्तर प्रदेश की मच्छलीशहर सीट सिर्फ और सिर्फ 181 वोटों से जीते हैं. भोलानाथ ने बहुजन समाज पार्टी के त्रिभुवन राम को हराया है. इस सीट पर हैरानी की बात ये है कि इस सीट पर 10830 लोगों ने नोटा (NOTA) दबाया है.

अगर लोकसभा चुनावों के इतिहास में सबसे कम मार्जिन की बात करें तो ये आंकड़ा और भी नीचे जाता है. आंध्र प्रदेश की अनाकापल्ली सीट पर कांग्रेस के कोनाथला रामकृष्ण ने सिर्फ 9 वोटों से जीत हासिल की थी. बात 1989 की है. वहीं एक और बार साल 1998 में बिहार की राजमहल सीट पर बीजेपी के सोम मरांडी को भी 9 वोटों से जीत मिली थी. 1996 में कांग्रेस के सत्यजीतसिंह गायकवाड़ को गुजरात की बडोदा सीट पर 17 मतों से जीत मिली थी.


लल्लनटॉप वीडियो भी देखें-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

BJP ने बड़बोली प्रज्ञा ठाकुर को चुप कराने का आईडिया निकाल लिया है

और प्रज्ञा ठाकुर बहुते परेशान हो गयी हैं

इमरान खान की भयानक बेज्ज़ती बिजली विभाग के क्लर्क ने कर दी है

सोचा होगा, 'हमरा एक्के मकसद है, बदला!'

जज साहब ने भ्रष्टाचार पर जजों का धागा खोला, मगर फिर जो हुआ वो बहुत बुरा है

कहानी पटना हाईकोर्ट के जज राकेश कुमार की, जो चारा घोटाले के हीरो हैं.

अयोध्या में बाबरी मस्जिद को बाबर ने बनवाया ही नहीं?

ये बात सुनकर मुग़लों की बीच मार हो गयी होती.

पेरू में लगभग 250 बच्चों की बलि चढ़ा दी गयी और लाशें अब जाकर मिली हैं

खुदाई करने वालों ने जो कहा वो तो बहुत भयानक है

देश के आधे पुलिसवाले मानकर बैठे हैं कि मुसलमान अपराधी होते ही हैं

पुलिसवाले और क्या सोचते हैं, ये सर्वे पढ़ लो

वो आदमी, जिसने पद्म श्री, पद्म भूषण और पद्म विभूषण ठुकरा दिया था

उस्ताद विलायत ख़ान का सितार और उनकी बातें.

विधानसभा में पॉर्न देखते पकड़ाए थे, BJP ने उपमुख्यमंत्री बना दिया

और BJP ने देश में पॉर्न पर प्रतिबंध लगाया हुआ है.

आईफोन होने से इतनी बड़ी दिक्कत आएगी, ब्रिटेन में रहने वालों ने नहीं सोचा होगा

मामला ब्रेग्जिट से जुड़ा है. लोग फॉर्म नहीं भर पा रहे.

पूर्व CBI जज ने कहा, ज़मानत के लिए भाजपा नेता ने की थी 40 करोड़ की पेशकश

और अब भाजपा के "कुबेर" गहरा फंस चुके हैं.