Submit your post

Follow Us

NCB के समीर वानखेड़े ने लिखी मुंबई पुलिस को चिट्ठी, "मेरे खिलाफ़ कार्रवाई नहीं करिएगा"

मुंबई ड्रग्स केस (Mumbai Drug Case) में एक नया मोड़ आया है. नया मोड़ ये कि NCB के अधिकारी समीर वानखेड़े ने मुंबई पुलिस कमिश्नर को चिट्ठी लिखी है. कहा है कि कुछ लोगों के ‘ग़लत इरादों’ के कारण समीर वानखेड़े के खिलाफ़ क़ानूनी कार्रवाई नहीं होनी चाहिए.

क्या लिखा है चिट्ठी में?

24 अक्टूबर को लिखी इस चिट्ठी में NCB के ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने स्पष्ट कहा है कि कई लोग उन्हें गिरफ्तार करवाने और जेल भेजने की बात कर रहे हैं.

अंग्रेज़ी में लिखे गए इस ख़त का हिंदी में मोटामोटी अनुवाद करें तो,

“मैं समीर वानखेड़े, 2008 बैच का इंडियन रेवेन्यू सर्विस का अधिकारी हूं. वर्तमान में NCB में ज़ोनल डायरेक्टर के रूप में 31 अगस्त 2020 से अपनी सेवाएं दे रहा हूं. मेरे ध्यान में आया है कि गलत तथ्यों के जरिए मुझे झूठा फंसाने का प्रयास हो रहा है. कुछ अज्ञात व्यक्तियों द्वारा कोशिश हो रही है कि मेरे खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए. मीडिया में कुछ सम्मानित लोगों द्वारा मुझे जेल भेजने और ड्यूटी से हटाने से धमकियां भी दी जा रही हैं. मेरी आपसे अपील है कि गलत तथ्यों और गलत इरादों के साथ लगाए गए आरोपों के दम पर आप कोई कानूनी कार्रवाई ना करें.”


माना जा रहा है कि अपनी इस चिट्ठी में समीर वानखेड़े ने NCP नेता और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक पर नाम न लेते हुए निशाना साधा है. नवाब मलिक ने हाल ही में समीर वानखेड़े पर गंभीर आरोप लगाए हैं. गुरुवार 21 अक्टूबर को नवाब मलिक ने समीर वानखेड़े पर वसूली करने के आरोप लगाए थे. नवाब मालिक ने ट्वीट करके दावा किया था कि कोविड-19 महामारी के दौरान NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े मालदीव्स में फिल्मी हस्तियों से वसूली कर रहे थे. समीर वानखेड़े ने इन आरोपों पर अपनी सफ़ाई भी दी थी. उन्होंने कहा कि वो अपने परिवार के साथ मालदीव्स गए हुए थे.

NCB के गवाह ने ही NCB पर लगाए आरोप

शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की ड्रग्स केस की गिरफ्तारी के बात किरण गोसावी का नाम कई बार आया. किरण गोसावी वही शख्स हैं, जो प्राइवेट डिटेक्टिव बताए जा रहे थे और NCB की तरफ से क्रूज़ पर पड़े छापे के वक्त मौजूद थे. दूसरी ओर ख़बरें ये भी हैं कि गोसावी  पहले से पुलिस केस में वांटेड है. अब इन गोसावी का ही बॉडीगार्ड है प्रभाकर सैल. प्रभाकर सैल भी क्रूज़ ड्रग्स केस में NCB का गवाह है. इस प्रभाकर सैल ने ही एक हलफनामे में कई चौंकाने वाले दावे किए हैं.

प्रभाकर ने आजतक से बातचीत में बताया है कि गोसावी ने आर्यन खान को छोड़ने के लिए 25 करोड़ रुपये की मांग की थी. सैल ने ये बात बाकयदा हलफनामा लिखकर कही है. हलफनामे के मुताबिक, ये मांग गोसावी ने समीर वानखेड़े की ओर से की थी. प्रभाकर सैल ने अपने नोटरीकृत हलफनामे में बताया है कि वो क्रूज रेड के बाद हुए ड्रामे के समय मौजूद थे. उन्होंने किरण गोसावी और सैम नाम के एक शख्स को NCB के दफ्तर के पास मिलते देखा था. वहां से गोसावी और सैम लोअर परेल गए थे, जहां एक ब्लू कलर की गाड़ी वहां आई. प्रभाकर सैल का दावा है कि उन्होंने शाहरुख खान की मैनेजर पूजा डडलानी को उस ब्लू गाड़ी में बैठे देखा था.

प्रभाकर सैल के मुताबिक, गोसावी और सैम ने अपनी बातचीत में 25 करोड़ रुपये की मांग की थी, लेकिन 18 करोड़ में मामला सेटल करने को राजी हो गए थे. गोसावी ने कथित रूप से कहा था कि इस 18 करोड़ में से 8 करोड़ समीर वानखेड़े को जाएंगे और बाकी बचे पैसे दूसरों में बंटेंगे. इसकी अगली सुबह प्रभाकर सैल को टोरेडो भेजा गया था, जहां उन्होंने एक सफेद गाड़ी से 50 लाख रुपए लिए थे.

NCB ने क्या कहा है?

वैसे प्रभाकर सैल ने जो आरोप लगाए हैं, उस पर NCB ने भी सफाई पेश की है. उनकी तरफ से कहा गया है कि जिसने आरोप लगाया है वो खुद इस केस में एक गवाह है. और जब ये मामला कोर्ट में चल रहा हो, ऐसे में कोई बयान भी कोर्ट में जाकर ही देना चाहिए. किसी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का सहारा लेना गलत है. NCB ने ये भी कहा है कि समीर वानखेड़े ने सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है.

बता दें कि 2 अक्टूबर को मुंबई से गोवा से जा रहे कॉर्डेलिया नाम के क्रूज़ शिप पर नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की एक टीम ने रेड की थी. जहां NCB ने शाहरुख़ खान के बेटे आर्यन खान, अरबाज़ मर्चेंट और मुनमुन धमेचा समेत आठ लोगों को हिरासत में ले लिया. NCB के अधिकारियों के मुताबिक इन लोगों को ड्रग्स लेने, खरीदने-बेचने के आरोपों के तहत हिरासत में लिया गया था. और ये पूरा बवाल इसी घटना के पीछे-पीछे चला आ रहा है.

 


वीडियो – नवाब मलिक के आरोपों पर समीर वानखेड़े के बचाव में NCB क्या बोली?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?