Submit your post

Follow Us

आगरा: क्वारंटीन में रह रहे लोगों को फेंक कर दिया खाना-पानी, वीडियो वायरल

आगरा. पिछले दिनों केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस से लड़ाई के लिए आगरा मॉडल की काफी तारीफ की थी. लेकिन अब आगरा गलत वजह से खबर में है. आगरा के एक क्वारंटीन सेंटर का एक वीडियो वायरल हो रहा है.

वीडियो में दिख रहा है कि क्वारंटीन में रह रहे लोगों को खाने-पीने का सामान फेंक कर दिया जा रहा है. सेंटर का गेट बंद है और गेट के बाहर सामान रख दिया गया है. लोग गेट के अंदर से हाथ डाल कर सामान उठा रहे हैं. पीपीई किट पहने एक शख्स आता है. वह गेट के सामने वह बिस्किट के पैकेट फेंक देता है. इसी तरह से चाय के कप भी गेट के बाहर ही रखे गए हैं. वीडियो में पुलिस और प्रशासन के लोग भी नज़र आ रहे हैं.

वीडियो हिंदुस्तान कॉलेज में बनाए गए क्वारंटीन सेंटर का है. इसे एक महिला ने शूट किया है. वह अपना नाम ज्योति वर्मा बताती हैं. वह कहती हैं कि यहां पर लोगों को मेडिकल जांच के लिए लाया गया. लेकिन जांच नहीं की गई. उन्होंने बताया कि लोगों को प्रॉपर खाना-पीना भी नहीं दिया जा रहा है.

NDTV के पत्रकार सौरभ शुक्ला का ट्वीट देखिये,

न्यूज़ 18 के पत्रकार क़ाज़ी फ़राज़ अहमद का ट्वीट देखिए,

प्रशासन ने क्या कहा?

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, आगरा के डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट (डीएम) प्रभु नारायण सिंह ने गेट के बाहर से खाना देने की घटना की पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि यह कुछ दिन पुराना मामला है. उन्होंने कहा,

खाना बांटने में चार घंटे की देरी हो गई थी. इसी दौरान उन्होंने यह सब किया. हालांकि यह इक्का-दुक्का मामला है. दोबारा ऐसा न हो यह तय किया गया है. सबका ध्यान रखा जा रहा है. अब सब ठीक है.

डीएम ने बताया कि इस क्वारंटीन सेंटर में करीब 500 लोग हैं. उन्होंने कहा कि शिकायत के बाद जांच की गई और सिस्टम की खामियों को ठीक किया गया है. चीफ डवलपमेंट ऑफिसर को जिम्मेदारी तय करने को कहा गया है. उनसे रिपोर्ट देने को कहा गया है. कोरोना वायरस मैनेजमेंट टीम को भी काम ठीक से करने को बोला गया है.

वहीं उत्तर प्रदेश के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी (गृह) अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा,

हालात ठीक किए जा रहे हैं. डीएम ने जांच के आदेश दे दिए हैं. खाना बांटने में थोड़ी सी देरी हो गई थी. इसलिए क्वारंटीन में रह रहे लोग बेसब्र हो गए थे.

 

आगरा में 27 अप्रैल की सुबह तक कोरोना के 381 मामले सामने आए हैं. शहर में 10 लोगों की अब तक कोरोना से मौत हुई है.

भारत में कोरोना वायरस के मामलों का स्टेटस


Video: बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा को फरीदाबाद पुलिस ने जवाब देने के बाद ट्वीट क्यों डिलीट किया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

आधी रात को क्यों जलाई थी हाथरस विक्टिम की बॉडी, यूपी सरकार ने अब बताया है

आधी रात को क्यों जलाई थी हाथरस विक्टिम की बॉडी, यूपी सरकार ने अब बताया है

साथ ही ये भी बताया कि 14 सितंबर से अब तक क्या-क्या किया.

कंफर्म हो गया, अकेले चुनाव लड़ेगी चिराग पासवान की पार्टी

कंफर्म हो गया, अकेले चुनाव लड़ेगी चिराग पासवान की पार्टी

क्या ये चिराग पासवान के लिए ज़मीन तैयार करने की रणनीति है?

शिक्षा मंत्रालय की गाइडलाइंस, बताया 15 अक्‍टूबर से किन शर्तों पर खुलेंगे स्कूल-कॉलेज

शिक्षा मंत्रालय की गाइडलाइंस, बताया 15 अक्‍टूबर से किन शर्तों पर खुलेंगे स्कूल-कॉलेज

स्टूडेंट्स, अभिभावकों की लिखित सहमति से ही स्कूल जा सकते हैं.

इस शर्त पर यूपी प्रशासन ने राहुल-प्रियंका को हाथरस जाने की अनुमति दी

इस शर्त पर यूपी प्रशासन ने राहुल-प्रियंका को हाथरस जाने की अनुमति दी

कथित गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मिलने जा रहे हैं राहुल-प्रियंका.

हाथरस केस: एसपी और सीओ सस्पेंड, जानिए डीएम का क्या हुआ?

हाथरस केस: एसपी और सीओ सस्पेंड, जानिए डीएम का क्या हुआ?

सभी पक्ष-विपक्ष वालों का पॉलीग्राफी टेस्ट भी होगा.

हाथरस केस: यूपी पुलिस को किसी को भी गांव में जाने से रोकने का बहाना मिल गया है!

हाथरस केस: यूपी पुलिस को किसी को भी गांव में जाने से रोकने का बहाना मिल गया है!

खबर है कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पीड़ित परिवार से मिलने जाने वाले हैं.

सभी आरोपियों को बरी करते हुए कोर्ट ने कहा - इन्होंने बाबरी मस्जिद को बचाने की कोशिश की थी

सभी आरोपियों को बरी करते हुए कोर्ट ने कहा - इन्होंने बाबरी मस्जिद को बचाने की कोशिश की थी

आ गया है 28 साल पुराने मामले में फ़ैसला

हाथरस के कथित गैंगरेप मामले पर विराट कोहली ने क्या कहा?

हाथरस के कथित गैंगरेप मामले पर विराट कोहली ने क्या कहा?

अक्षय कुमार ने भी ट्वीट किया है.

सिर्फ़ 6 लोगों की इस मीटिंग के टलने को पी चिदंबरम ने 'अभूतपूर्व' क्यूं कह डाला?

सिर्फ़ 6 लोगों की इस मीटिंग के टलने को पी चिदंबरम ने 'अभूतपूर्व' क्यूं कह डाला?

तो क्या इस वक़्त देश के पास अर्थव्यवस्था सही करने का सिर्फ़ एक बटन बचा है?

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह नहीं रहे, पीएम मोदी ने कहा-

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह नहीं रहे, पीएम मोदी ने कहा- "बातें याद रहेंगी"

जसवंत सिंह अटल सरकार के कद्दावर मंत्रियों में से थे.