Submit your post

Follow Us

LAC पर चॉपर भेजकर अपने घायल सैनिकों को एयरलिफ्ट कर रहा है चीन

भारत और चीन के सैनिकों के बीच 15 जून की रात लद्दाख की गलवान घाटी में हुई भिड़ंत के बाद से ही वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर तनाव बरकरार है. 17 जून को चीनी सेना ने LAC पर अपने चॉपर्स की संख्या बढ़ा दी है. फिलहाल इन चॉपर्स का इस्तेमाल लड़ाई में घायल हुए सैनिकों को एयरलिफ्ट करने के लिए किया जा रहा है.

वहीं, भारत की तरफ से लद्दाख ही नहीं, बल्कि पूरे LAC को अलर्ट पर रखा गया है. इंडिया टुडे टीवी के मुताबिक, भारत ने चीन को ये साफ संदेश दे दिया है कि हमारी सारी गतिविधियां LAC के भीतर ही हैं और चीन को भी अब पूरे मसले का हल बातचीत के ज़रिये निकालने पर ही ज़ोर देना चाहिए.

फिलहाल एक बड़ा पहलू ये भी है कि दोनों देशों के बीच LAC लेवल की बातों से कोई ख़ास हल निकल नहीं रहा है. स्थिति ज्यों की त्यों बनी है. 17 जून की सुबह 11 बजे से ही रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और तीनों सेनाओं के प्रमुखों के बीच मीटिंग हो रही है.

अब तक के अपडेट्स

15 जून को दोनों देशों के सैनिकों के बीच हुई लड़ाई के बाद 16 जून की सुबह ख़बर आई कि इसमें भारत के तीन सैनिक शहीद हुए. लेकिन रात तक ख़बर आ गई कि तीन नहीं, 20 जवान इस भिड़ंत में शहीद हुए हैं. ये संख्या अभी और बढ़ सकती है. वहीं चीन के 43 सैनिक हैं, जो या तो मारे गए या गंभीर रूप से घायल हैं.


लद्दाख में अचानक क्या हुआ कि चीनी सेना के साथ झड़प में जवान शहीद हो गए?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

उत्तर प्रदेश में एक IPS अधिकारी के ट्रांसफर पर क्यों तहलका मचा हुआ है?

69000 भर्ती में कार्रवाई का नतीजा ट्रांसफर बता रहे लोग. मगर बात कुछ और भी है.

गलवान घाटी: LAC पर भारत के तीन नहीं, 20 जवान शहीद हुए हैं, कई चीनी सैनिक भी मारे गए

लड़ाई में हमारे एक के मुकाबले तीन थे चीनी सैनिक.

गलवान घाटीः वो जगह जहां भारत-चीन के बीच झड़प हुई

पिछले कुछ समय से यहां पर दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं.

लद्दाख: गलवान घाटी में भारत-चीन झड़प पर विपक्ष के नेता क्या बोले?

सेना के एक अधिकारी समेत तीन जवान शहीद हुए हैं.

क्या परवीन बाबी की राह पर चल पड़े थे सुशांत?

मुकेश भट्ट ने एक इंटरव्यू में कहा.

सुशांत के पिता और उनके विधायक भाई ने डिप्रेशन को लेकर क्या कहा?

फाइनेंशियल दिक्कत की ख़बरों पर भी बोले.

मुंबई में सुशांत सिंह राजपूत को दी गई अंतिम विदाई, ये हस्तियां हुईं शामिल

मुंबई में तेज बारिश के बीच अंतिम संस्कार.

सुशांत ने किस दोस्त को आख़िरी कॉल किया था?

दोस्त फोन रिसीव न कर सका. जब तक कॉल बैक किया, देर हो चुकी थी.

सुशांत के साथ काम कर चुके मनोज बाजपेयी, राजकुमार राव और अनुष्का शर्मा ने क्या कहा?

सुशांत ने 11 फिल्मों में काम किया था.

सुशांत के सुसाइड से जुड़ी शुरुआती डिटेल्स आ गई हैं, सुबह 10 बजे तक सब ठीक था

किसे कॉल किया था? घर में कितने लोग थे? वगैरह.