Submit your post

Follow Us

जब 1 गेंद पर 286 रन बन गए, 6 किलोमीटर दौड़ते रहे बल्लेबाज

क्रिकेट की दुनिया में एक तस्वीर और उसके साथ चिपका एक रोचक तथ्य बार-बार सामने आता है. तथ्य ये कि एक मैच में 1 गेंद पर 286 रन बने थे. मगर कैसे? ऐसा तो कोई नियम है नहीं कि एक गेंद पर सीधे 286 रन मार दिए जाएं.  मगर क्या ऐसा भी कोई नियम है कि बल्लेबाज लगातार भागता ही रहे, जैसा इस तस्वीर में लिखा है?  आइए जानते है इसके पीछे का किस्सा.

Cricket Pic
ये तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब घूमती है.

किस्सा ये है कि वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया में 15 जनवरी 1894 को विक्टोरिया और ‘स्क्रैच XI’ के बीच बॉनबरी के मैदान पर एक मैच चल रहा था. मैच की पहली ही गेंद पर बल्लेबाज ने लंबा शॉट मारा और गेंद जाकर किसी पेड़ पर अटक गई. इसे जराह का पेड़ बताया जाता है. क्रीज पर दोनों बल्लेबाज लगातार दौड़ते रहे. जब तक कि गेंद को ढूंढा और पेड़ से उतारा जाता, वो एक के बाद एक 286 रन भाग चुके थे. दोनों ने इस दौरान क्रीज के बीच करीब 6 किलोमीटर दूरी कवर कर ली. ये पेड़ मैदान के बीच में था और फील्डिंग टीम ने अंपायर से ये अपील भी की कि गेंद खोया घोषित कर दिया जाए ताकि बल्लेबाजों को रन लेने से रोका जाए. मगर अंपायरों ने ये कहकर अपील ठुकरा दी कि गेंद पेड़ पर फंसी हुई दिख रही थी इसलिए उसे खोया हुआ घोषित नहीं किया जा सकता.

ये भी कहा जाता है कि फील्डिंग टीम ने किसी को पेड़ काटने के लिए कुल्हाड़ी लाने के लिए भी भेजा. मगर कोई कुल्हाड़ी भी नहीं मिली. फिर किसी ने घर से राइफल मंगवाई और गेंद पर निशाना लगाकर गेंद को पेड़ से नीचे गिराया गया. जब गेंद नीचे गिरी तो फील्डिंग साइड इतनी हताश हो चुकी थी कि किसी ने गेंद को कैच करने की कोशिश भी नहीं की. तब तक क्रीज पर विक्टोरिया के बल्लेबाज 286 रन भाग चुके थे और इस टीम ने इतने ही रनों पर अपनी पहली पारी घोषित कर दी. 1 गेंद पर 286 रनों का स्कोर अपने आप में रिकॉर्ड है. आज के लिहाज से इस खबर पर भरोसा करना मुश्किल काम है. मगर ये नामूमकिन भी नहीं है क्योंकि क्रिकेट नियमों के मुताबिक सीमा रेखा पार करने से पहले और गेंद खोने के मामले में बल्लेबाज लगातार रन भाग कर सकते हैं.

Bonbury1
प्रतीकात्मक तस्वीर

क्रिकेट की भरोसमंद वेबसाइट ESPNcricinfo में छपे एक ब्लॉग में क्रिकेट राइटर माइकल जोन्स भी लिखते हैं कि इस खबर का इकलौता सोर्स उस वक्त अंग्रेजी अखबार Pall Mall Gazette को माना जाता है. उसी के स्पोर्ट्स पेज पर ये अनोखी खबर छपी बताई जाती है. उसके बाद ये इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया समेत अमेरिका के कई अखबारों और पत्रिकाओं में छपी. इस रिकॉर्ड को किसी कैमरे में कैद नहीं किया जा सका था इसलिए ये गिनिज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज नहीं हुआ. मगर एक गेंद पर सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के गैरी चैपमैन के नाम जरूर दर्ज है. ऑस्ट्रेलिया के एक क्लब मैच में चैपमैन ने 1 गेंद पर 17 रन भागे थे जो रिकॉर्ड बुक में दर्ज है (p 247, गिनिज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड 1992).


Also Read

T20 क्रिकेट का सबसे भौकाली बॉलिंग स्पेल: 4 ओवर, 3 मेडन, 1 रन और 2 विकेट

तेजिंदरपाल सिंह टूरः 16 साल के इंतज़ार के बाद आया है शॉटपुट में भारत का गोल्ड

टीम इंडिया में वो लड़का आ रहा है जिसने कोहली से भी ज्यादा एवरेज से रन बनाए हैं

कोहली के सामने अब वो मौका है जो उन्हें स्मिथ और रूट से बहुत आगे ले जाएगा

कौन हैं राही सरनोबत, जिन्होंने एशियन गेम्स में शूटिंग में गोल्ड मेडल जीता है

क्रिकेट पर लल्लनटॉप वीडियो भी देखिए:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पॉलिटिकल किस्से

सुषमा स्वराज: दो मुख्यमंत्रियों की लड़ाई की वजह से मुख्यमंत्री बनने वाली नेता

कहानी दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री सुषमा स्वराज की.

साहिब सिंह वर्मा: वो मुख्यमंत्री, जिसने इस्तीफा दिया और सामान सहित सरकारी बस से घर गया

कहानी दिल्ली के दूसरे मुख्यमंत्री साहिब सिंह वर्मा की.

मदन लाल खुराना: जब दिल्ली के CM को एक डायरी में लिखे नाम के चलते इस्तीफा देना पड़ा

जब राष्ट्रपति ने दंगों के बीच सीएम मदन से मदद मांगी.

राहुल गांधी का मोबाइल नंबर

प्राइवेट मीटिंग्स में कैसे होते हैं राहुल गांधी?

भैरो सिंह शेखावत : राजस्थान का वो मुख्यमंत्री, जिसे वहां के लोग बाबोसा कहते हैं

जो पुलिस में था, नौकरी गई तो राजनीति में आया और फिर तीन बार बना मुख्यमंत्री. आज बड्डे है.

जब बाबरी मस्जिद गिरी और एक दिन के लिए तिहाड़ भेज दिए गए कल्याण सिंह

अब सीबीआई कल्याण सिंह से पूछताछ करना चाहती है

वो नेता जिसने पी चिदंबरम से कई साल पहले जेल में अंग्रेजी टॉयलेट की मांग की थी

हिंट: नेता गुजरात से थे और नाम था मोदी.

बिहार पॉलिटिक्स : बड़े भाई को बम लगा, तो छोटा भाई बम-बम हो गया

कैसे एक हत्याकांड ने बिहार मुख्यमंत्री का करियर ख़त्म कर दिया?

राज्यसभा जा रहे मनमोहन सिंह सिर्फ एक लोकसभा चुनाव लड़े, उसमें क्या हुआ था?

पूर्व प्रधानमंत्री के पहले और आखिरी चुनाव का किस्सा.

सोनिया गांधी ने ऐसा क्या किया जो सुषमा स्वराज बोलीं- मैं अपना सिर मुंडवा लूंगी?

सुषमा का 2004 का ये बयान सोनिया को हमेशा सताएगा.