Submit your post

Follow Us

जब खिलजी के रोल को लेकर रणवीर पर भन्ना गए थे भंसाली

पद्मावत. 2018 की सबसे विवादास्पद फिल्म. लेकिन उतनी ही बड़ी ब्लॉकबस्टर भी. इसमें पद्मावत बनीं थीं दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह निगेटिव किरदार में थे. अलाउद्दीन खिलजी बने थे. शाहिद कपूर रतन सिंह बने थे. मूवी को डायरेक्ट किया था संजय लीला भंसाली ने, जिन्होंने रणवीर सिंह के साथ इससे पहले 2 और फ़िल्में की थीं.

लगभग दो साल पहले रिलीज़ हुई इस फिल्म की बात हम आज इसलिए कर रहे हैं क्यूंकि रणवीर सिंह ने राजीव मसंद को सीएनएन न्यूज़ 18 के लिए एक इंटरव्यू दिया है. इमसें उन्होंने ‘पद्मावत’ की मेकिंग, मूवी में अपने रोल और संजय लीला भंसाली के साथ अपने रिलेशन के बारे में बड़ी इंट्रेस्टिंग बातें शेयर की हैं. उन्होंने बताया कि उनके दोस्तों ने उन्हें ‘खिलजी’ का किरदार करने से मना कर दिया था. क्यूंकि-

इंडिया में जब कोई किसी कैरेक्टर को प्रेम करता है तो वो उस एक्टर को भी प्रेम करने लग जाता है जिसने वो कैरेक्टर प्ले किया है. नफ़रत के बारे में भी ऐसा ही है.

और क्या-क्या कहा-

रणवीर ने बताया-

मुझे पता था कि ये किरदार निभाने के लिए मुझे मानसिक तौर पर घुप्प अंधेरी जगह में घुसना होगा. और वो मेरी ज़िंदगी का ऐसा दौर था कि इसके लिए मैं तैयार नहीं था. दरअसल तब मैं बहुत खुश था. क्यूंकि मेरी दीपिका से शादी होने वाली थी. भंसाली के साथ मेरी लंबी-लंबी बातें हुआ करती थीं. मैंने उनसे कहा कि ये रोल करने से मैं अपने-आप को खो दूंगा. संजय लीला भंसाली मुझे समझाते-समझाते पूरी तरह से फ्रस्टेट हो गए थे. वो मुझे हर तरह से कन्विंस कर चुके थे.

इसके बाद संजय ने रणवीर से ऐसी बात कही कि रणवीर ना नहीं कर सके. सभ्य भाषा में अनुवाद करें तो भंसाली ने रणवीर से कहा-

मेरे बच्चे! क्या तुम ऐसे किरदार को नहीं निभाना चाहोगे, जिसका 75 किलो का जिगरा है?

बस ये बात रणवीर की ईगो पर लग गई. रणवीर आगे बताते हैं-

फिर मैंने ये रोल करने के लिए हां कर दिया. शूटिंग से पहले मैंने 21 दिन तक तैयारियां कीं. मैंने खुद को उस घर में बंद कर दिया, जो कभी मैंने ‘बाजीराव मस्तानी’ की तैयारी के लिए खरीदा था. तब तो उसे यूज़ नहीं कर पाया लेकिन ‘पद्मावत’ के समय किया.

पद्मावत की शूटिंग के दौरान की बातें भी रणवीर ने इस इंटरव्यू में बताईं-

फिर शूटिंग भी उतनी ही मुश्किल रही. मेरे सारे सीन एक साथ लास्ट में शूट किए गये थे. जब मैं ‘खली-बली’ शूट कर रहा था मैं अपने पैर नहीं महसूस कर पा रहा था. मैं बहुत थक गया था. मेरी मानसिक स्थिति ऐसी हो गई थी, जैसी शायद इससे पहले कभी नहीं हुई. एक तो मैं अकेले रह रहा था और लगातार शूट कर रहा था. किसी से बात नहीं कर रहा था. मई के दिनों की शूटिंग में मैं पूरी तरह खर्च हो गया था. 45 डिग्री का टेंपरेचर. चमड़े के कवच की चार परतें. जिनका वजन 12 किलो के लगभग रहा होगा. ‘कट’ बोलते ही मैं सोफे तक जाता और बेहोश हो जाता था. मुझे उल्टियां होतीं. पसीना, आंसू, खून…

संजय लीला भंसाली के बारे में बात करते हुए रणवीर ने बताया कि-

उनके साथ तीन फ़िल्में कर चुकने के बाद मुझे लगता है कि मैंने 3 अलग-अलग डायरेक्टर्स के साथ काम किया हो.

पद्मावत को रिलीज़ हुए लगभग 2 साल होने को आए हैं, और इन दिनों रणवीर सिंह ‘जायेशभाई जोरदार’ की शूटिंग में लगे हुए हैं. दीपिका पादुकोण अपनी नेक्स्ट रिलीज़ ‘छपाक’ के प्रमोशन में व्यस्त हैं. शाहिद, ‘कबीर सिंह’ के बाद एक और तेलुगू फिल्म ‘जर्सी’ की हिंदी रीमेक में काम कर रहे हैं. और संजय लीला भंसाली आलिया भट्ट के साथ ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ के अलावा ‘बालाकोट एयरस्ट्राइक’ पर एक फिल्म अनाउंस कर चुके हैं.


वीडियो देखें:

बादशाह ने अपने लाइफ स्टोरी जैसा ही नाम नए गाने का रखा है-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्रिकेट के किस्से

उस सीरीज का किस्सा, जिसने ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया का 71 साल का सूखा खत्म किया

सीरीज के दौरान भी खूब ड्रामे हुए थे.

Vizag में जिन वेणुगोपाल का गेट बना है उन्होंने गुड़गांव में पीटरसन और इंग्लैंड को रुला दिया था

वेणुगोपाल की इस पारी के आगे द्रविड़ की ईडन की पारी भी फीकी थी.

जब तेज बुखार के बावजूद गावस्कर ने पहला वनडे शतक जड़ा और वो आखिरी साबित हुआ

मानों 107 वनडे मैचों से सुनील गावस्कर इसी एक दिन का इंतजार कर रहे थे.

चेहरे पर गेंद लगी, छह टांके लगे, लौटकर उसी बॉलर को पहली बॉल पर छक्का मार दिया

इन्होंने 1983 वर्ल्ड कप फाइनल और सेमी-फाइनल दोनों ही मैचों में 'मैन ऑफ द मैच' का अवॉर्ड जीता था.

पाकिस्तान आराम से जीत रहा था, फिर गांगुली ने गेंद थामी और गदर मचा दिया

बल्ले से बिल्कुल फेल रहे दादा, फिर भी मैन ऑफ दी मैच.

जब वाजपेयी ने क्रिकेट टीम से हंसते हुए कहा- फिर तो हम पाकिस्तान में भी चुनाव जीत जाएंगे

2004 में इंडियन टीम 19 साल बाद पाकिस्तान के दौरे पर गई थी.

शिवनारायण चंद्रपॉल की आंखों के नीचे ये काली पट्टी क्यों होती थी?

आज जन्मदिन है इस खब्बू बल्लेबाज का.

ऐशेज़: क्रिकेट के इतिहास की सबसे पुरानी और सबसे बड़ी दुश्मनी की कहानी

और 5 किस्से जो इस सीरीज़ को और मज़ेदार बनाते हैं

जब शराब के नशे में हर्शेल गिब्स ने ऑस्ट्रेलिया को धूल चटा दी

उस मैच में 8 घंटे के भीतर दुनिया के दो सबसे बड़े स्कोर बने. किस्सा 13 साल पुराना.

वो इंडियन क्रिकेटर जो इंग्लैंड में जीतने के बाद कप्तान की सारी शराब पी गया

देश के लिए खेलने वाला आख़िरी पारसी क्रिकेटर.