Submit your post

Follow Us

आयुष्मान ने ‘बाला’ मूवी में सिर पर गोबर लगाया, ऐसा काम किस एक्टर ने सच में कर रखा है?

आयुष्मान खुराना की फिल्म ‘बाला’ का ट्रेलर आ गया है. ट्रेलर में आयुष्मान बाल झड़ने की दिक्कत से दो-चार होते नजर आ रहे हैं. खुद को पूरी तरह गंजा होने से बचाने के लिए वह तरह-तरह के जतन करते हैं. मतलब जो सलाह मिल जाए, वही आजमाकर देख लेते हैं. किसी ने उपाय में तेल, किसी ने अंडा तो किसी ने सांड का वीर्य और गाय का गोबर मिलाकर लगाने को कह दिया. लेकिन बात नहीं बनी और हेयर ट्रांसप्लांट तक पहुंच गई.

बाला का ट्रेलर नीचे देख सकते हैं: 

ये तो हो गई फिल्म की बात. लेकिन बॉलीवुड के पॉपुलर एक्टर अनुपम खेर असल जिंदगी में लंबे वक्त तक इसी समस्या से परेशान थे. बात 80-85 के आसपास की है. अनुपर खेर काफी जवान थे. यही कोई 25-30 साल के. लेकिन प्रॉब्लम वही, हेयर फॉल.

जब उन्होंने अपना करियर शुरू किया तो कोई उन्हें एक्टर तक के तौर पर नहीं देखता था. बाल कम होने की वजह से हीरो वाले रोल नहीं मिलते थे. गिरते बाल बचाने के लिए उन्होंने क्या नहीं किया?

एक से एक तिब्बती जड़ी-बूटी आजमाई. पौष्टिक खाना खाने लगे. दही-अंडा मला. ये सब तो नॉर्मल है, कोई भी कर ले. लेकिन इस कदर बाल वापस लाना चाहते थे कि किसी ने बता दिया कि ऊंट का पेशाब सिर में लगाने से बाल नहीं झड़ते और नए बाल आ जाते हैं. तो अनुपम खेर ने वो भी ट्राई कर लिया. लेकिन कुछ फर्क नहीं पड़ा.

फिल्म सारांश के एक सीन में अनुपम खेर.
फिल्म सारांश के एक सीन में अनुपम खेर.

फिर क्या था, उन्होंने सोचा कि बाल झड़ने की ज्यादा टेंशन लेंगे, तो बचे हुए बाल भी गिर जाएंगे. और वो चिल हो गए. यानी गिरते हैं तो गिरें बाल. हम अपना काम करेंगे.

नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा से पढ़े अनुपम खेर ने फिल्म सारांश से बॉलीवुड में एंट्री ली थी. तब वो 27 साल के थे. पहली ही फिल्म में उन्होंने 70 साल के बुजुर्ग आदमी का किरदार निभाया. जब ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ में उन्होंने शाहरुख़ के पापा का रोल किया. तब वो खुद 40 साल के थे.

अनुपम खेर इकलौते बॉलीवुड एक्टर हैं, जो अपने गंजेपन को लेकर कॉन्फिडेंट रहे हैं.
अनुपम खेर इकलौते बॉलीवुड एक्टर हैं, जो अपने गंजेपन को लेकर कॉन्फिडेंट रहे हैं.

अनुपम खेर ने अपने सिर को छुपाने के लिए टोपी या विग का सहारा नहीं लिया. वो अपने स्टाइल को लेकर इतने कॉन्फिडेंट हो गए कि अब वो मानते हैं, ‘बॉल्ड इज सेक्सी’.


देखें वीडियो- जब अनुपम खेर के अनुशासन ने दीपिका पादुकोण को रुला दिया था!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्रिकेट के किस्से

जब पता भी नहीं था कि वनडे क्या होता है, तब मज़े-मज़े में विश्व कप में मैच जीत गया भारत!

जब पता भी नहीं था कि वनडे क्या होता है, तब मज़े-मज़े में विश्व कप में मैच जीत गया भारत!

भारत की पहली वनडे जीत की कहानी.

जब ब्रैडमैन को खेलते देखने के लिए जेल में सोए महात्मा गांधी के बेटे

जब ब्रैडमैन को खेलते देखने के लिए जेल में सोए महात्मा गांधी के बेटे

ब्रैडमैन की आखिरी सीरीज़ में नॉटिंघम में होटलों का अकाल पड़ गया था.

क़िस्से उस शराबी 'इंग्लिश' क्रिकेटर के, जिसने ऑस्ट्रेलिया को वर्ल्ड चैंपियन बना दिया

क़िस्से उस शराबी 'इंग्लिश' क्रिकेटर के, जिसने ऑस्ट्रेलिया को वर्ल्ड चैंपियन बना दिया

वो क्रिकेटर जो किसान या मछुआरा बनना चाहता था, लेकिन बन गया शराबी.

क़िस्सा बंगाल से निकले 'बेस्ट' लेफ्ट हैंडर का, जिसने हमें सौरव गांगुली दिया

क़िस्सा बंगाल से निकले 'बेस्ट' लेफ्ट हैंडर का, जिसने हमें सौरव गांगुली दिया

जिसके घरवाले बैंक को लोन देते थे.

ऑस्ट्रेलिया का वो कप्तान, जिसकी वैल्यू सबसे पहले सौरव गांगुली ने पहचानी

ऑस्ट्रेलिया का वो कप्तान, जिसकी वैल्यू सबसे पहले सौरव गांगुली ने पहचानी

एक लेग स्पिनर, जिसे अब डॉन ब्रेडमैन जैसा बताया जाता है.

नमाज़ के कारण मिस्बाह उल हक़ को टीम में नहीं आने देना चाहते थे इंज़माम?

नमाज़ के कारण मिस्बाह उल हक़ को टीम में नहीं आने देना चाहते थे इंज़माम?

क्या है मिस्बाह उल हक़ का अताउल्लाह खान कनेक्शन?

'शैम्पेन के घूंट' जैसे खेलने वाला वो भारतीय क्रिकेटर, जिसपर फिदा थे ऑस्ट्रेलिया के लोग

'शैम्पेन के घूंट' जैसे खेलने वाला वो भारतीय क्रिकेटर, जिसपर फिदा थे ऑस्ट्रेलिया के लोग

जिगरबाज़ ऑलराउंडर, जिसे लोग 'गरीबों का सोबर्स' भी कहते थे.

कहानी उस कमाल के शख्स की, जिसने सचिन तेंडुलकर को अरबपति बनाया

कहानी उस कमाल के शख्स की, जिसने सचिन तेंडुलकर को अरबपति बनाया

सचिन को 'ब्रांड सचिन' बनाने वाले दिग्गज के किस्से, जिसने कहा था- जब यूरोप के दिग्गज सो रहे थे, हमने राजाओं का गेम ही खरीद लिया.

सहवाग के उतरे कंधे की वजह से सालों साल खेल गया टीम इंडिया का ये बल्लेबाज़!

सहवाग के उतरे कंधे की वजह से सालों साल खेल गया टीम इंडिया का ये बल्लेबाज़!

जब मांजरेकर ने जॉन राइट से कहा, इसकी रेप्युटेशन 50 वाली नहीं 200-300 रन वाली है.

कहानी चेतन सकारिया की जिनके पास खेलने के लिए जूते भी नहीं थे!

कहानी चेतन सकारिया की जिनके पास खेलने के लिए जूते भी नहीं थे!

भाई ने खुदकुशी कर ली और घरवालों ने बताया भी नहीं.