Submit your post

Follow Us

मोदी के भाषण के दौरान मंच पर एक पुलिसवाले के मरने की सच्चाई क्या है?

एक वीडियो चल रहा है सोशल मीडिया पर. असल में उस एक वीडियो में 2 वीडियो हैं. यहीं निदा फाजली याद आते हैं जिन्होंने कहा था – “हर आदमी में होते हैं दस-बीस आदमी, जिसको भी देखना हो कई बार देखना…” उन्होंने ये कहा और चले गए. बड़े लोगों का यही होता है – कहते हैं और चले जाते हैं. खैर, बात उस वीडियो की जो इंटरनेट पर घूम रहा है. वीडियो के पहले हिस्से में पोप साहब कहीं जा रहे थे. पोप साहब यानी ईसाइयों के राम मंदिर के मुख्य पुजारी. वो लोगों को दर्शन टाइप दे रहे थे. उनकी गाड़ी पर कई सारे लोग सवार थे. साथ ही आस पास भी बहुत सारे लोग मौजूद थे. उनकी गाड़ी, जो कि चले जा रही थी, से एक घोडा बिदक गया. उस घोड़े पर बैठे सिक्योरिटी वाले भाईसाब गिर पड़े. उन्हें कुछ चोट वगैरह आई. (वगैरह क्या, चोट ही आई होगी.) पोप साहब ने तुरंत अपनी गाड़ी रुकवाई. लोग उस सिपाही की सहायता के लिए दौड़े. पोप जी भी तुरंत वहां पहुंचे. उनसे पूरा हाल-चाल लिया. जब आश्वस्त हो गए कि सब कुछ ठीक है तो अपनी आगे की यात्रा शुरू की.

अब इसके बाद एक और वीडियो आता है. उसी वीडियो में. मोदी जी दिखाई पड़ते हैं. वही कर रहे थे जिसमें माहिर हैं. (नोटबंडी नहीं बांगड़ू. वो तो वन-टाइम-वंडर था.) वो भाषण दे रहे थे. कब का भाषण ये नहीं बताया गया. लेकिन हां, ये ज़रूर दिखाया गया कि जब वो भाषण दे रहे थे, तो पीछे उनकी सुरक्षा के लिए खड़े किसी पुलिसवाले को हार्टअटैक आ गया और उसकी मौत हो गई. लेकिन इस पूरे दौरान, जब वो व्यक्ति गिरा और लोग उसकी मदद के लिए पहुंचे, मोदी जी भाषण देते जा रहे थे. उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ा कि कोई व्यक्ति मुसीबत में था. वो बस बोले जा रहे थे. वीडियो देखिये:

तो बात ये है कि जो बात आपको बताई जा रही है, गल्त है जी. एकदम गल्त है. ये भाषण तब का है, जब मोदी जी भारतवर्ष के प्रधानमंत्री नहीं बल्कि गुजरात के मुख्यमंत्री थे. उन्होंने 15 अगस्त, सन 2013 को भुज के लालन कॉलेज में झंडारोहण किया और फिर कहा कि प्रधानमंत्री ने जो बातें कहीं उसमें उन्हें मज़ा नहीं आया. उनके भाषण के दौरान ही गुजरात के डायरेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस अमिताभ पाठक बेहोश होकर गिर पड़े थे. मोदी जी का भाषण शुरू हुए 40 मिनट हुए थे कि काफ़ी थके हुए अमिताभ जी गिर पड़े. आस पास मौजूद सभी लोगों ने उनकी मदद करने की कोशिश की. ये सच है की मोदी जी इस पूरे दौरान अपने भाषण को रोक नहीं पाए, लेकिन हां, ये भी कहना कि अगले को हार्ट अटैक आ गया था, गलत है.

पीटीआई से बात करते हुए पाठक जी ने बताया था, “मुझे नहीं मालूम है कि ऐसा क्यूं हुआ था. मुझे थोड़ी थकान महसूस हुई और मैं गिर पड़ा. मौके पर मौजूद डॉक्टर्स ने मेरी जांच की और मैं कुछ ही देर में बेहतर महसूस करने लगा.” ये साफ़ था कि अमिताभ पाठक थकान के चलते बेहोश हो गए थे. वो 2 दिनों से लगातार मुख्यमंत्री मोदी की सुरक्षा में लगे हुए थे और सारे बंदोबस्त देख रहे थे.


ये भी पढ़ें:

कर्नाटक में अमित शाह की फिर बेइज्जती, लेकिन इस बार विलेन कोई और है

शशि थरूर ने गलत फोटो शेयर कर दी और लोगों ने कठिन अंग्रेजी का सारा बदला ले लिया

इस उंगली को यूं उठा क्यों नहीं पाते, जबकि बाकी उंगलियां उठ जाती हैं


वीडियो देखें:  क्या है कैंम्ब्रिज अनालिटिका का इंडिया कनेक्शन जिस पर भाजपा-कांग्रेस झगड़ रहे हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

पहली बार धरती पर किसी ने कमाए 200 बिलियन डॉलर, इसमें कितने बोरी आलू आएंगे, हम बताते हैं

जेफ बेजोस पहले इंसान बने, जिन्होंने 15 लाख करोड़ रुपये जितनी दौलत कमा ली है.

शोले के 'रहीम चाचा' जो बुढ़ापे में फिल्मों में आए और 50 साल काम करते रहे

ताउम्र मामूली रोल करके भी महान हो गए हंगल सा'ब को 8 साल हुए गुज़रे हुए.

'इतना सन्नाटा क्यों है भाई' कहने वाले 'शोले' के रहीम चाचा अपनी जवानी में दिखते कैसे थे?

जिस आदमी को सिनेमा के परदे पर हमेशा बूढा देखा वो अपनी जवानी के दौर में राज कपूर से ज्यादा खूबसूरत हुआ करता था.

एक ऐसा हवाई जहाज़, जो उड़ने के 35 साल बाद क्रैश-लैंड हुआ और सनसनी फ़ैल गई

अभय देओल की वेब सीरीज़ का ट्रेलर आया है.

इस धांसू साइंस-फिक्शन फिल्म को देखकर पता चलेगा कि लोग मरने के बाद कहां जाते हैं

'कार्गो' टीज़र- एक स्पेसशिप है, जो मर चुके लोगों को रोज सुबह लेने आता है. लेकिन लेकर कहां जाता है?

ईशान-अनन्या की नई फिल्म, जो डिसलाइक्स के मामले में 'सड़क 2' का भी रिकॉर्ड तोड़ सकती है

'खाली-पीली' का टीज़र आपको कोरोना काल में बहुत राहत देने वाला है.

वो राज्य, जहां राज्यपाल और मुख्यमंत्री एकदूसरे से खार खाए बैठे हैं

साथ में, राज्यपाल की 'दादागिरी' का एक किस्सा भी.

'मैं मरूं तो मेरी नाक पर सौ का नोट रखकर देखना, शायद उठ जाऊं'

आज हरिशंकर परसाई का जन्मदिन है. पढ़ो उनके सबसे तीखे, कांटेदार कोट्स.

वो एक्टर, जिनकी फिल्मों की टिकट लेते 4-5 लोग तो भीड़ में दबकर मर जाते हैं

आज इन मेगास्टार का बड्‌डे है.

ऐपल एयरपॉड्स छोड़िए, 5000 रुपए के अंदर ट्राई कीजिए ये बिना तार वाले इयरफ़ोन

बेहतरीन आवाज, घंटों बैटरी बैकअप और वॉइस असिस्टेंट जैसे फीचर अब इस रेंज में भी मिलते हैं.