Submit your post

Follow Us

चंद्रिका राय के लिए वोट मांगने गए नीतीश कुमार किस बात पर भड़क गए?

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार. बुधवार, 21 अक्टूबर को लालू यादव के समधी चंद्रिका राय के समर्थन में जनसभा करने पहुंचे. जेडीयू ने परसा विधानसभा सीट से चंद्रिका राय को उम्मीदवार बनाया है. लेकिन नीतीश की रैली में कथित तौर पर ‘लालू यादव जिंदाबाद’ के नारे लगने लगे. इस पर नीतीश कुमार भड़क गए.

सामने आए वीडियो में नीतीश कुमार कह रहे हैं-

हमारे मित्र हैं चंद्रिका राय. हम भी विधायक थे. 1985 में. और आप भी विधायक होकर गए थे. (भीड़ का शोर) हमको पता नहीं, बीच में क्या बोल रहे हो जी? क्या बोल रहे हो. (भीड़ का शोर) क्या बोल रहे हो? जरा हथवा उठाओ, जो अनाप-शनाप बोल रहे हो. हाथ उठाओ. (भीड़ से आवाज आती है) यहां पर ये सब हल्ला मत करो. तुमको अगर वोट नहीं देना है, मत दो. लेकिन बताइए भाई, हल्ला कर रहा है. सही है कि गलत है. जरा बोलिए जोर से. सुन लिया ना, जिसके लिए आए हो, यहां पर उसका वोट और बर्बाद करोगे.

नीतीश कुमार आगे कहते हैं-

चंद्रिका राय जी के बारे में कुछ बोलो. कुछ मालूम है? बच्चे हो. जब ये 1985 में आए विधानसभा के सदस्य के रूप में, हम भी थे. और जब हमने इनका पहला भाषण सुना, हम थे विपक्ष में, ये थे कांग्रेस पार्टी में. सत्ता पक्ष में. जब हमने पूरी बात सुनी, हम अपनी सीट पर से उठकर इनके पास गए, बधाई देने के लिए कि आपने कितनी अच्छी बात कही.

नीतीश ने लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव और ऐश्वर्या की शादी का जिक्र किया. उन्होंने कहा-

आज इनके (ऐश्वर्या) साथ जो दुर्व्यवहार हुआ है, हमको तो लगता है कि जरूर प्रकृति को इसके बारे में दिमाग में कुछ ना कुछ बात आएगी. ये कैसे हुआ? आप जरा बता दीजिए. इतनी पढ़ी-लिखी महिला हैं और क्या व्यवहार हुआ भाई. ये कहीं से किसी को अच्छा लगा? शादी में तो हमलोग भी गए हुए थे. लेकिन उसके बाद जो दृश्य आया, कितना बुरा लगा है हम लोगों को. ये दृश्य नहीं होना चाहिए. लड़कियों के साथ, महिलाओं के साथ इस तरह का व्यवहार करना वैसे लोगों को कुछ दिनों के लिए तो दिखाई नहीं पड़ेगा, लेकिन भविष्य में दिखाई पड़ेगा कि लड़कियों के साथ, महिलाओं के साथ पाप करना कितना खतरनाक होता है.

नीतीश कुमार एक बार फिर गुस्सा हो जाते हैं. कहते हैं-

देख लो, कितना आदमी मना किया, कितना आदमी मना किया है, कितना आदमी मना किया है और तुम बीच में ऐसे ही हल्ला कर रहे हो. ऐसे हल्ला करोगे?

भीड़ से आवाज आती है- सर आप अपना काम कीजिए.

नीतीश कुमार कहते हैं-

ऊ त आप बता ही रहे हैं कौन हैं. इस तरह का काम किया करोगे, जिसके लिए ये कर रहे हो, उसी को नुकसान होने वाला है. जान लो. अच्छी तरह जान लो. और यहां पर जिनको काम करने का मौक मिला, क्या किया? अभी बता रहे थे चंद्रिका राय जी भी.


बिहार चुनाव: लालू यादव और नीतीश कुमार के शासन में शिक्षा व्यवस्था की स्थिति जानिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.