Submit your post

Follow Us

'नाम बड़े और दर्शन छोटे' वाला हाल था इन स्मार्टफोन्स का!

स्मार्टफोन मार्केट में आपको हर दूसरे हफ्ते एक नए प्रोडक्ट से मुलाकात हो जाएगी. कई बार तो ऐसा लगता है कि जैसे टीवी पर 100 खबरों वाले बुलेटिन में जैसे खबरें परोसी जाती हैं, वैसे ही स्मार्टफोन भी आए दिन बाजार में उतार दिए जाते हैं. किसी भी चीज की अधिकता वैसे भी अच्छी नहीं होती, ये बात सालों से कही जा रही है और स्मार्टफोन के लिए तो एकदम सही बैठती है.

अपना प्रोडक्ट बेचने के लिए कई बार कंपनियां जल्दबाजी में उसको मार्केट में उतार देती हैं और कई बार प्रोडक्ट तो अच्छा होता है, लेकिन कंसेप्ट पुराना या बहुत पुराना ही रखा जाता है. रीपैकेजिंग कह सकते है इसको और साल 2021 भी इससे अछूता नहीं रहा. जनवरी में Samsung से लेकर दिसंबर में Motorola तक के कई फोन लॉन्च हुए जिसमें से कई से बहुत निराशा हाथ लगी. एक नज़र ऐसे ही कुछ स्मार्टफोन पर.

Apple iPhone 13 सीरीज

आप ये नाम सुन कर नाराज हो जाएं या आपके इमोशन हर्ट हो जाएं. इसके पहले हम आपको बता देते हैं कि आर्टिकल को लिखने वाले iPhone के बड़े वाले प्रशंसक हैं. प्रशंसक हैं यूज भी करते हैं लेकिन अब iPhone से थोड़ी बोरियत होने लगी है. नया फोन वो किसी भी कंपनी का हो, एक नई उम्मीद जगाता है जैसे नया हार्डवेयर आएगा. सॉफ्टवेयर अपग्रेड होगा. iPhone 13 से भी यही उम्मीद थी जो एक लेवल तक तो पूरी हुई लेकिन जिस बात से सबसे ज्यादा निराशा हुई वो है डिजाइन लैंग्वेज. उसके बाद टाइप सी चार्जिंग और टच आईडी. अरे भाई पिछले 4 जेनरेशन से वही नॉच के साथ फोन लॉन्च किया जा रहा है. माना आपके पास अपना लॉयल कस्टमर बेस है, लोग ऐप्पल ईको सिस्टम में बंधे हुए हैं लेकिन कब तक. जब बाकी मोबाइल कंपनियां नई-नई डिजाइन लैंग्वेज मार्केट में ला रही हैं, तब 4 साल तक एक डिजाइन का फोन इस्तेमाल करना निराशाजनक है.

आप में से कई लोग कह सकते हैं कि हमें डिजाइन से कोई दिक्कत नहीं लेकिन टाइप सी चार्जिंग पोर्ट का ना होना तो आपको भी अखरता होगा. ऐसा नहीं है कि ऐप्पल में टाइप सी चार्जिंग आती नहीं है. आइपैड के कई मॉडल और मैकबुक टाइप सी चार्जिंग के साथ आते हैं तो फिर आईफोन में क्यों नहीं. अब तो यूरोपियन यूनियन ने भी कह दिया है कि अगले 2 साल में सिर्फ टाइप सी चार्जिंग ही सभी मोबाइल में रहेगा तो शुभ काम में देरी क्यों?

अब बात टच आईडी की. शायद कोरोना ना होता तो इस बात पर किसी का ध्यान नहीं जाता लेकिन ये वायरस जाने का नाम ही नहीं ले रहा. वायरस चला भी गया तो मास्क अभी इतनी जल्दी प्रचलन से बाहर नहीं होने वाला. ऐसे में टच आईडी सबसे सुविधाजनक तरीका है किसी भी फोन को अनलॉक करने के लिए. आईफोन वैसे ऐप्पल वॉच से भी अनलॉक हो जाते हैं लेकिन वो उनके लिए ठीक है जो ईको सिस्टम को पूरी तरह से अपना चुके हैं. सिर्फ आईफोन यूज करने वाले भी लाखों हैं तो उनके लिए टच आईडी जरूरी था.

एक लाख रुपये खर्च करके हर साल नए iPhone में स्विच करने वालों के लिए ये थोड़ा निराश करने वाली बात होगी, लेकिन किसी ने iPhone 8 से सीधे iPhone 13 में अपग्रेड किया तो शायद उसको इतना नहीं अखरेगा. फोन की डिजाइन लैंग्वेज से हम निराश हुए लेकिन 120 हर्ट्ज रिफ्रेश रेट, ProRaw वीडियो और नई A15 Bionic चिप हमेशा की तरह रिफ्रेशिंग है. कैमरा पहले से बढ़िया थे, अब मैक्रो फोटोग्राफी के साथ और बेहतर हो गए हैं. साथ में प्राइवसी फीचर तो हैं ही.

Jio Phone Next

जियो ने फोन के बाजार में आने से पहले जैसा माहौल बनाया था, एकबारगी हम भी भावनाओं में बह गए थे. फोन जब बाजार में आया तब सोशल मीडिया पर जो भद पिटी उसी से सब साफ पता चल गया था. सबसे पहले तो फोन के दाम ने बहुत गुमराह किया. समझ ही नहीं आ रहा था कि आखिरकार फोन मिलेगा कितने में. 1,999 रुपये देकर EMI वाले प्लान में जो 501 रुपये प्रोसेसिंग फीस चार्ज की गई, उस पर भी कई लोगों नें एतराज जताया. कहा गया कि यदि 1 लाख रुपये का लोन लो तो उस पर 25000 प्रोसेसिंग फीस मतलब 25 प्रतिशत. जब बात आई सॉफ्टवेयर की तो प्रगति OS के नाम पर एंड्रॉयड वन को नए कपड़े पहनाकर जनता को दे दिया. हद तो तब हुई जब कुछ खबरों में पता चला कि जिस फोन को “भारत में बना भारत के लोगों” के लिए कहकर लाया गया उसमें बैटरी चीन से आई थी. फोन दो सिम वाला लेकिन एक सिम लॉक रहेगी और डेटा भी सिर्फ जियो सिम पर चलेगा. समझ नहीं आया कि कंपनी आखिरकार करना क्या चाहती थी. क्योंकि इसके पहले आए जियो फोन बढ़िया थे और लोकप्रिय भी. ओवरऑल एक किफायती एंड्रॉयड स्मार्टफोन की इच्छा रखने वालों को सिर्फ निराशा ही हाथ लगी.

OnePlus 9

OnePlus के पहले तक स्टॉक एंड्रॉयड शब्द का नाम बहुत कम लोगों को पता था. स्टॉक एंड्रॉयड का अनुभव और नए एंड्रॉयड वर्जन की गारंटी साथ में एक बढ़िया फोन. ये तीन शब्द OnePlus की पहचान हैं. ऐसा नहीं है कि इसमें कुछ बदल गया है लेकिन आप यदि OnePlus को यूज करते होंगे या गौर से फॉलो भी करते होंगे तो आपको OnePlus 9 नाम देखकर अजीब नहीं लगा होगा. अव्वल तो पुराने 8 सीरीज से तुलना करेंगे तो आपको समझ आएगा कि सिर्फ प्रोसेसर और कैमरा में इम्प्रूवमेंट है. बॉडी से मेटल फ्रेम हटा दिया और OIS (Optical image stabilization) भी गायब कर दिया. इतना करके मन नहीं भरा तो दाम अलग 50 हजार कर दिया. नए एंड्रॉयड अपडेट समय पर देने वाली कंपनी ने एंड्रॉयड का नया वर्जन देकर थोड़ा माहौल ठीक करने की कोशिश की थी लेकिन उसमें भी यूजर को इतनी दिक्कत आई कि बाकायदा कंपनी को बोलना पड़ा की हम अपडेट को होल्ड कर रहे हैं. ऑक्सीजन OS के फैन बेस को अब Color OS परोसा जा रहा है.
आपको इस किन फोन ने निराश किया? हमें भी बताएं.


वीडियो: असली PAN कार्ड का पता लगाने का ये आसान तरीका जान लीजिए!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

'द्रविड़ ने बहुत नाजुक शब्दों से मुझे धराशायी कर दिया था'

'द्रविड़ ने बहुत नाजुक शब्दों से मुझे धराशायी कर दिया था'

रामचंद्र गुहा की किताब 'क्रिकेट का कॉमनवेल्थ' के कुछ अंश.

पहले स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर की कहानी, जिनका सबसे हिट रोल उनके लिए शाप बन गया

पहले स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर की कहानी, जिनका सबसे हिट रोल उनके लिए शाप बन गया

शुद्ध और असली स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर करियर ग्राफ़ बाद में गिरता ही चला गया.

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

जगह थी मुंबई एयरपोर्ट. अब दस साल बाद फिर से दोनों का नाम एक साथ सुर्ख़ियों में है.

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.