Submit your post

Follow Us

क़िस्सागोई 20: जब साहिर लुधियानवी को केबिन के बाहर घंटों प्यासा बिठाए रखा !

गर्मियां शुरू हो गयी हैं. बल्कि भीषण गर्मी पड़ने लगी है। इस मौसम से मुझे याद आया एक किस्सा. किस्सा मजाज़ लखनवी, साहिर लुधियानवी और ख़ुमार साहब का. मजाज़ जिन दिनों बम्बई में थे उन्हे पता चला कि प्रोड्यूसर-डायरेक्टर पी.एन.अरोरा एक फिल्म बना रहे हैं- हूर-ए-अरब. जिसके लिए उन्हे गीतकार की तलाश है. मजाज़ साहिर लुधियानवी के साथ उनसे उनके दफ्तर मिलने पहुंचे.

Whatsapp Image 2020 05 06 At 2.06.23 Pm

गार्ड ने उन्हे केबिन के बाहर इंतज़ार करने को कहा कि जब उनका नंबर आएगा उन्हे अंदर अरोरा साहब के पास भेज दिया जाएगा. साहिर और मजाज़ बैठ गए. गरमी बहुत थी लेकिन किसी ने उनसे पानी तक न पूछा. इतने में एक खूबसूरत अदाकारा आई और बिना नंबर के सीधे अरोरा साहब के केबिन में दाखिल हो गई. मजाज़ और साहिर काफी देर इंतज़ार करते रहे. नंबर नहीं आया. प्यास और गरमी से जान निकली जा रही थी. इतने में वहां खुमार बाराबंकवी भी आ गए. साहिर और मजाज़ को देखते ही उन्होने आदाब अर्ज़ किया और पूछा- हूर-ए-अरब के गानों की कुछ बात हुई ?

साहिर ने कहा- ‘अभी तक तो नहीं.’

खुमार ने पूछा- ‘क्यों ?’

मजाज़ ने भवें तिरछी करके जवाब दिया: ‘क्योंकि हूर तो कब से अंदर है और हम बाहर अरब में बैठे हुए हैं.’

साहिर लुधियानवी ने बाद को एक से बढ़कर एक गाने लिखे.
साहिर लुधियानवी ने बाद को एक से बढ़कर एक गाने लिखे.

अपने दिल को दोनों आलम से उठा सकता हूँ मैं

क्या समझती हो कि तुमको भी भुला सकता हूँ मैं

 

दिल मैं तुम पैदा करो पहले मेरी सी जुर्रतें

और फिर देखो कि तुमको क्या बना सकता हूँ मैं

 

दफ़न कर सकता हूँ सीने मैं तुम्हारे राज़ को

और तुम चाहो तो अफसाना बना सकता हूँ मैं

 

तुम समझती हो कि हैं परदे बोहत से दरमियाँ

मैं यह कहता हूँ कि हर पर्दा उठा सकता हूँ मैं

 

तुम कि बन सकती हो हर महफ़िल मैं फिरदौस-ए-नज़र

मुझ को यह दावा कि हर महफ़िल पे छा सकता हूँ

हिमांशु बाजपेयी
हिमांशु बाजपेयी

हिमांशु बाजपेयी. क़िस्सागोई का अगर कहीं जिस्म हो, तो हिमांशु उसकी शक्ल होंगे. बेसबब भटकन की सुतवां नाक, कहन का चौड़ा माथा, चौक यूनिवर्सिटी के पके-पक्के कान और कहानियों से इश्क़ की दो डोरदार आंखें.‘क़िस्सा क़िस्सा लखनउवा’ नाम की मशहूर क़िताब के लेखक हैं. और अब The Lallantop के लिए एक ख़ास सीरीज़ लेकर आए हैं. नाम है ‘क़िस्सागोई With Himanshu Bajpai’. इसमें दुनिया जहान के वो क़िस्से होंगे जो सबके हिस्से नहीं आए. हिमांशु की इस ख़ास सीरीज़ का ये था क़िस्सा नंबर बीस.


ये क़िस्सा भी सुनते जाइए-

क़िस्सागोई: गीतकार नौशाद का सुनाया वो क़िस्सा जहां उस्ताद अपने शागिर्द को लाख रुपए की सीख देता है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

कभी सोचा नहीं होगा कि लल्लन साड़ियों पर भी क्विज बना सकता है. खेलो औऱ स्कोर करो.

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़. अपना ज्ञान यहां चेक कल्लो!

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 33 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.