Submit your post

Follow Us

कोरोना, लॉकडाउन और देश की अर्थव्यवस्था को लेकर RBI ने जो स्वीकार किया है वो डराता है

7 अगस्त की RBI की प्रेस कॉन्फ्रेंस को लेकर दी लल्लनटॉप ने इंडिया टुडे हिंदी के संपादक अंशुमन तिवारी से विस्तारपूर्वक बात की. इन बातों को हम एक सीरीज़ के रूप में प्रकाशित कर रहे हैं. पहले भाग में हमने आपको बताया कि रेपो रेट क्या होता है और RBI के रेपो रेट में कोई बदलाव न करने के क्या मायने और प्रभाव हैं.

इस दूसरे भाग में हम जानेंगे कि RBI ने रीसेंट पास्ट में जो रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट में अंधाधुंध कटौती की है, उसका देश की अर्थव्यवस्था पर क्या प्रभाव पड़ा. और भारत की आर्थिक विकास दर के नेगेटिव होने के क्या मायने हैं? ये दोनों सवाल जब हमने अंशुमन तिवारी से पूछे तो उन्होंने बताया-

अंशुमन तिवारी
अंशुमन तिवारी

अतीत में जो रेपो रेट रिवर्स रेपो रेट घटाए थे उसका पॉज़िटिव प्रभाव नहीं पड़ा. यही बात RBI ने परोक्ष रूप से स्वीकार की है. और RBI हमेशा ब्याज दरों में कमी को 3 बड़े पैमानों के संदर्भ में देखता है. पहला पैमाना यह है कि क्या ब्याज दरें कम होने से कर्ज़ की मांग बढ़ी? लोग ज़्यादा कर्ज़ लेने के लिए प्रोत्साहित हुए? दूसरी ये, कि महंगाई दर किस स्थिति में खड़ी रही. और तीसरी, भारत की अर्थव्यवस्था की विकास दर में कोई फ़र्क आया कि नहीं आया. और इन तीनों मोर्चे पर रिज़र्व बैंक ने एक तरीक़े से वास्तविकता स्वीकार की है.

पहला मोर्चा, रिज़र्व बैंक ने यह कहा कि आने वाली दूसरी तिमाही में भारत में महंगाई बढ़ने का ख़तरा है. यानी अब ब्याज दरों में और कटौती का मतलब है कि महंगाई में और ज़्यादा इंधन डालना. तो पहली चीज़ तो ये है कि आने वाले पांच-छह महीने महंगाई के महीने हैं. सप्लाई साइड को लेकर कई सारी समस्याएं हैं जो रिज़र्व बैंक को दिखाई दे रही हैं.

लॉकडाउन और अर्थव्यवस्था के संबध को दर्शाती एक सांकेतिक तस्वीर. (PTI)
लॉकडाउन और अर्थव्यवस्था के संबध को दर्शाती एक सांकेतिक तस्वीर. (PTI)

दूसरी चीज़, रिज़र्व बैंक ने कहा, और ये पहली बार स्वीकार किया. ये जो तमाम तरीक़े के दावे सरकार के भीतर से मंत्री और नेता करते रहते हैं, उनके सामने रिज़र्व बैंक ने स्पष्ट रूप से ये कह दिया कि इस साल भारत की आर्थिक विकास दर नेगेटिव रहेगी. नकारात्मक रहेगी. यानी शून्य से कम रहेगी. और पहली तिमाही में यानी अप्रैल-मई-जून में और उसके बाद-जुलाई-अगस्त-सितंबर में, कॉन्ट्रैक्शन का ख़तरा है. यानी और ज़्यादा नीचे गिरने का ख़तरा है. अब आंकड़े हमारे पास ये हैं कि इन दोनों तिमाहियों में भारत की आर्थिक विकास दर 0 से – 14 पर्सेंट तक नीचे जा सकती है. लेकिन ये पहला साल होगा पिछले 25 सालों में शायद, जब हम पूरा वित्तीय वर्ष, नकारात्मक ग्रोथ में देखेंगे. जो भारत के लिए अप्रत्याशित है. शून्य से नीचे ग्रोथ जाने का मतलब इतनी बड़ी अर्थव्यवस्था के लिए, जहां ग़रीबी और बेरोज़गारी है, काफ़ी गहरा है और काफ़ी नकारात्मक हो सकता है.

तो रिज़र्व बैंक को एहसास हुआ कि जो मौद्रिक तरीक़े से या सस्ता क़र्ज़ कर देने से या बाज़ार में ज़्यादा पूंजी छोड़ देने से अर्थव्यवस्था को जो ताक़त दी जा सकती थी, वो फ़ैसले या वो कोशिशें फ़िलहाल असर नहीं कर रही हैं. और कोरोना को लेकर कोरोना के कारण जो क्षेत्रीय लॉक-डाउन है और इसके विस्तार को लेकर अनिश्चितता लगातार बढ़ती जा रही है. तो रिज़र्व बैंक ने किनारे बैठकर परिस्थितियां देखने का निर्णय लिया है. कि आगे आने वाले समय में परिस्थितियां क्या रूप लेती हैं. उसके बाद वो आगे अगली मौद्रिक नीति में इस बात पर समीक्षा करेंगे और इसलिए रिज़र्व बैंक ने अपना पॉलिसी स्टांस ‘एकोमोडेटिव’ रखा है. यानी अभी नहीं कहा है कि आगे ब्याज दरें कम नहीं की जा सकतीं. लेकिन फ़िलहाल ब्याज दर कम करने की गुंजाइश नहीं दिखाई देतीं.

अगले यानी तीसरे भाग में हम जानेंगे कि मोरेटोरियम और लोन रीस्ट्रक्चरिंग का क्या हिसाब किताब चल रहा है.


वीडियो देखें-

जानिए शेयर मार्केट में पैसा डालना फिलहाल कितना मुनाफे वाला है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

कभी सोचा नहीं होगा कि लल्लन साड़ियों पर भी क्विज बना सकता है. खेलो औऱ स्कोर करो.

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़. अपना ज्ञान यहां चेक कल्लो!

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 33 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.