Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

कौन है क्रिश्चियन मिशेल, जिसे अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले में दुबई से भारत लाया गया है

5
शेयर्स

अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले में भारत को एक बड़ी कामयाबी मिली है. भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के नेतृत्व में हुए एक ऑपरेशन में भारत की जांच एजेंसियों ने इस घोटाले के बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल को दुबई से गिरफ्तार कर लिया है. कोर्ट ने इस बिचौलिए को पांच दिनों की सीबीआई हिरासत में भेज दिया है. ऐसा पहली बार हुआ है, जब भारत किसी ब्रिटिश नागरिक को गिरफ्तार करने में सफल हो पाया है.

क्यों हुई गिरफ्तारी?

क्रिश्चियन मिशेल को सीबीआई कोर्ट ने पांच दिन के लिए जेल भेज दिया है.

बड़े लोग हेलीकॉप्टर को चॉपर कहते हैं. जो लोग और बड़े होते हैं, वो चॉपर के नाम पर घोटाले कर लेते हैं. ऐसा ही एक घोटाला है, ‘अगस्ता वेस्टलैंड चॉपर घोटाला. अगस्ता एक एंग्लो-इटैलियन कंपनी है. इसकी मालिक कंपनी फिनमेकानिका हेलीकॉप्टर है. इस कंपनी का काम हेलीकॉप्टर डिजाइन करना और हेलीकॉप्टर बनाना था. भारत को भी अच्छी क्वॉलिटी के हेलिकॉप्टर की ज़रूरत थी. वीवीआईपी लोगों जैसे भारत के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और सेना प्रमुखों की सवारी के लिए भारत में Mi-8 हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल हो रहा था. साल 2000 में एयरफ़ोर्स ने रक्षा मंत्रालय और पीएमओ को ये सलाह दी कि अगले 10 सालों में इन हेलीकॉप्टर्स को बदलना होगा. हमें ऐसे हेलीकॉप्टर्स की ज़रुरत थी जो 6000 मीटर की ऊंचाई पर भी उड़ सकें. इसके लिए तय किया गया कि 12 हेलीकॉप्टर खरीदे जाएंगे.

2007 में फाइनल हुई कंपनी

2007 में तय हुआ कि इसी कंपनी के हेलीकॉप्टर खरीदे जाएंगे.

अब देश को 12 हेलीकॉप्टर की ज़रूरत थी. भारत के रक्षा मंत्रालय ने तय किया कि हेलीकॉप्टर वाली कंपनियों को ये लिखकर देना होगा कि 1 अरब रुपये से ज्यादा के सौदों में किसी किस्म की घूस या बिचौलिए की मदद नहीं ली जाएगी. इस नियम के लागू होने के बाद भारत को हेलीकॉप्टर बेचने के लिए दो कंपनियां सामने आईं. पहली थी सिकोर्स्की और दूसरी थी अगस्ता वेस्टलैंड. ये पूरा सौदा लगभग 3600 करोड़ रुपये का था. 2010 में सौदा हुआ अगस्ता वेस्टलैंड के साथ. भारत सरकार ने 8 फरवरी 2010 को रक्षा मंत्रालय के जरिए ब्रिटेन की अगुस्टा वेस्टलैंड इंटरनैशनल लिमिटेड को पैसे दिए गए और अगस्ता वेस्टलैंड के AW 101 को सौदे के लिए चुना गया. इसकी तीन वजहें बताई गईं-

1 -इसका एयरफ्रेम यानी मैकेनिकल स्ट्रक्चर मजबूत था, इंजन भी 3 लगे थे.

2- इस हेलीकॉप्टर में 10 वीवीआईपी पैसेंजर को बिठाने की जगह थी.

3- इसमें 360 डिग्री का सर्विलांस रडार लगा था, हेलीकॉप्टर के पिछले एक्जिट तक गाड़ियां लगाई जा सकती थीं

2012 में पहला हेलीकॉप्टर आ गया, उसके बाद दो और हेलीकॉप्टर आए, बाकी 9 भी आते लेकिन उससे पहले ही 2013 में घोटाला सामने आ गया.

कैसे खुला घोटाला?

एसपी त्यागी उस वक्त वायुसेना के प्रमुख थे. उनकी गिरफ्तारी भी हुई थी. बाद में कोर्ट ने जमानत दे दी थी.

घोटाले से जुड़ी ख़बरें 2013 में सामने आने लगीं थी. कहा जा रहा था कि 3600 करोड़ रुपये में से 10% यानी 360 करोड़ रुपये घूस दिए गए हैं और तब ये कंपनी तय हुई है. हेलीकॉप्टर की कीमत जिस बैठक के दौरान तय हुई थी, उसमें यूपीए के कुछ मंत्री भी मौजूद बताए गए और यही वजह थी कि कांग्रेस के नेताओं के नाम भी उछले. आरोप एके एंटनी, मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी भी लगे. सबसे ज़्यादा नाम अहमद पटेल का उछाला गया. इसके अलावा आरोप वायुसेना अध्यक्ष एसपी त्यागी पर भी लगे जो 2004 से 2007 तक वायु सेना अध्यक्ष थे. ये बात सामने आई कि एसपी त्यागी और उनके तीन रिश्तेदारों को कैश और वायर ट्रांसफर के जरिये घूस दी गई थी. इस दौरान एसपी त्यागी ने हेलीकॉप्टर के उड़ान भरने की ऊंचाई 6000 मीर से घटाकर 4500 मीटर तक कर दी थी.

घोटाले में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के साथ ही सोनिया गांधी का भी नाम आने लगा. इसके बाद कॉन्ट्रैक्ट रद कर दिया गया और सीबीआई जांच के आदेश दे दिए गए.
घोटाले में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के साथ ही सोनिया गांधी का भी नाम आने लगा. इसके बाद कॉन्ट्रैक्ट रद कर दिया गया और सीबीआई जांच के आदेश दे दिए गए.

यूपीए सरकार सत्ता में थी, उसने इस कॉन्ट्रैक्ट पर रोक लगा दी. तब तक 30% पैसे दिए भी जा चुके थे. फिर इटली की एक कोर्ट का फैसला आ गया. कोर्ट ने फिनमेकानिका के पूर्व प्रमुख गुसेप ओर्सी पर फ़र्ज़ी बिल बनाने, गलत अकाउंटिंग और करप्शन करने के लिए साढ़े चार साल कैद की सजा दी. अगस्ता वेस्टलैंड के पूर्व सीईओ बुर्नो स्पागनोलीनी को भी अदालत ने चार साल की जेल की सज़ा दी. आरोप ये थे कि इन दोनों ने फ़र्ज़ी बिल तैयार किये ताकि पैसे का हेरफेर कर वो पैसे घूस में दे सकें. इटली की कोर्ट के फैसले में भारत के तत्कालीन वायुसेना प्रमुख एसपी त्यागी का भी नाम था. इसके बाद 2014 में इस सौदे को रद कर दिया गया.

क्रिश्चियन मिशेल का इस घोटाले में क्या रोल था?

भारतीय जांच एजेंसियों का आरोप है कि अगस्ता कंपनी ने क्रिश्चियन को घूस दी और क्रिश्चियन ने भारत में घूस देकर अगस्पता कंपनी का काम आसान करवाया.

2014 में भारत से करार रद होने के बाद इस कंपनी का नाम बदल गया. अब इस कंपनी का नाम था लियोनार्डो हेलीकॉप्टर्स. भारत की जांच एजेंसी ईडी का आरोप है कि अगस्टा वेस्टलैंड कंपनी की ओर से मिशेल को रिश्वत के रूप में 225 करोड़ रुपये दिए गए थे. ये पैसे इसलिए दिए गए थे, ताकि मिशेल भारत के साथ इस सौदे को अंतिम रूप दे सके. यानी कि भारत अगस्ता कंपनी से ही हेलीकॉप्टर खरीदे, इसके लिए मिशेल ने भारतीय लोगों को राजी किया. मिशेल ने दुबई की अपनी कंपनी ग्लोबल सर्विसेज के जरिए ये पैसे लिए थे. मिशेल फ्रांस के मिराज जेट की खरीदारी में भी बिचौलिया रहा था. उसकी कंपनी कीजर इंक को 1996 में भारत को मिराज 2000 बेचने के लिए 2.5 फीसदी का कमीशन मिला था. जांच एजेसियों का दावा है कि अगस्ता वेस्टलैंड के लिए भी मिशेल 2005 से 2013 के बीच कुल 180 बार भारत आया था. Fतना ही नहीं, मिशेल के पिता भी 1970-80 के दशक में हथियारों के बाजार में बिचौलिए की भूमिका निभा रहे थे.

2015 में इंटरपोल ने जारी किया था रेड कॉर्नर नोटिस

अगस्ता की खरीद में घोटाले की बात 2013 में ही शुरू हो गई थी.
अगस्ता की खरीद में घोटाले की बात 2013 में ही शुरू हो गई थी.

इस वीवीआईपी चॉपर की खरीद में घोटाले की बात 2013 में ही सामने आने लगी थी. 2014 में कॉन्ट्रैक्ट रद होने के बाद सीबीआई और ईडी ने जांच की और तीन बिचौलिओं के नाम सामने आए. गुइदो हाश्के, कार्लो गेरोसा और मिशेल. मिशेल के खिलाफ इंटरपोल की ओर से 25 नवंबर 2015 को रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर दिया गया. आसान भाषा में इसका मतलब है कि क्रिश्चियन मिशेल को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपराधी घोषित कर दिया गया. इसके बाद वो दुबई चला गया और वहीं रहने लगा. भारतीय एजेंसियों ने उससे पूछताछ की कोशिश की, लेकिन उसने मदद नहीं की. इसके बाद फरवरी 2017 में इंटरपोल ने मिशेल को दुबई में ही गिरफ्तार कर लिया. दुबई में गिरफ्तारी के बाद 19 मार्च 2017 को भारत ने उसके प्रत्यर्पण करने की मांग की थी. भारत की जांच एजेंसियां मिशेल को भारत लाने की कोशिश कर रही थीं.

कैसे भारत आ पाया मिशेल?

पीएम मोदी और सऊदी प्रिंस के रिश्ते दोस्ती के हैं. इसी वजह से मिशेल भारत आ पाया.
पीएम मोदी और सऊदी प्रिंस के रिश्ते दोस्ती के हैं. इसी वजह से मिशेल भारत आ पाया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूएई के प्रिंस मोहम्मद बिन जायद के रिश्ते दोस्ती वाले हैं. मोदीजी ने मदद मांगी और प्रिंस तैयार हो गए. यूएई ने मिशेल की उन याचिकाओं को खारिज कर दिया, जिसमें मिशेल ने कहा था कि उसे भारत नहीं भेजा जा सकता, क्योंकि वो ब्रिटेन का रहने वाला है. इसके बाद भारतीय एजेंसियों ने योजना बनाई. सीबीआई प्रवक्ता के मुताबिक इस ऑपरेशन का नाम रखा गया ‘यूनिकॉर्न’. पूरे ऑपरेशन की कमान एनएसए अजीत डोभाल के हाथ में थी और इसे अंजाम देने वाले थे सीबीआई के अंतरिम डायरेक्टर एम नागेश्वर राव. एक प्लेन के जरिए भारत की सुरक्षा एजेंसियां मिशेल को लेकर 4 दिसंबर की रात को 10 बजकर 35 मिनट पर इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर आईं और फिर 5 दिसंबर को उसे कोर्ट में पेश किया गया.

मिशेल ने कहा था, कांग्रेस की भूमिका नहीं

मिशेल ने कहा था कि इस डील में कांग्रेस के नेता का हाथ नहीं है.
मिशेल ने कहा था कि इस डील में कांग्रेस के नेता का हाथ नहीं है.

मिशेल की गिरफ्तारी के बाद इंडिया टुडे की एक टीम ने दुबई की जेल से ही मिशेल का इंटरव्यू किया था. इसमें मिशेल ने कहा था कि उसे भारतीय जांच एजेंसियां एक डील साइन करने के लिए कह रही हैं, जिसमें लिखा है कि वो अगर डील साइन कर लेगा, तो उसकी गिरफ्तारी नहीं होगी. इस डील में कांग्रेस के नेताओं की भूमिका को स्वीकार करने की बात की गई है, लेकिन मिशेल ने डील साइन करने से इन्कार कर दिया था.

मिशेल के वकील और बहन ने भी लगाए गंभीर आरोप

मिशेल के वकील और उनकी बहन ने भारतीय जांच एजेंसियों पर गंभीर आरोप लगाए थे.
मिशेल के वकील और उनकी बहन ने भारतीय जांच एजेंसियों पर गंभीर आरोप लगाए थे.

क्रिश्चन मिशेल की वकील रोसमैरी पैट्रिजी और बहन साशा ओजेमैन ने भी दावा किया है कि भारतीय जांच अधिकारी मिशेल से झूठे कबूलनामे पर दस्तखत लेने की कोशिश कर रहे हैं. मिशेल की वकील और बहन का आरोप है कि ये झूठा कबूलनामा लेने की कोशिश की जा रही है कि जिस वक्त हेलिकॉप्टर डील हुई थी, तब मिशेल की यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी से निजी तौर पर पहचान थी. मिशेल से भारतीय अधिकारियों ने ये भी कहा कि अगर वो कबूलनामे के दस्तावेज पर दस्तखत कर देता है, तो उसे कैद से आजादी मिल जाएगी. मिशेल की वकील पैट्रिजी ने मिलान से और उसकी बहन ओजेमैन ने इंग्लैंड से अलग-अलग इंटरव्यू में ये दावे किए.

पीएम मोदी ने राजस्थान में चुनाव प्रचार के अंतिम दौर में सोनिया गांधी पर खुलकर हमला बोला और कहा कि मिशेल की गिरफ्तारी से कई राज खुलेंगे.
पीएम मोदी ने राजस्थान में चुनाव प्रचार के अंतिम दौर में सोनिया गांधी पर खुलकर हमला बोला और कहा कि मिशेल की गिरफ्तारी से कई राज खुलेंगे.

और अब आखिर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बात. उन्होंने कहा है कि अब मिशेल कई राज खोलेगा. पीएम मोदी ने कहा कि मैंने 2014 में हेलीकॉप्टर कांड के हजारों करोड़ के घोटाले के बारे में बताया था. देश में वीवीआईपी हेलीकॉप्टर और वह चिट्ठी तो मालूम होगी ही, मैडम सोनिया जी की चिट्ठी है. वीवीआईपी हेलीकॉप्टर’. अब उस कांड का बिचौलिया गिरफ्तार हो गया है. वो कई राज खोलेगा. और इस राज के सहारे ही शायद 2019 का लोकसभा चुनाव भी लड़ा जाए. बीजेपी अगस्ता वेस्टलैंड को हथियार बनाएगी और कांग्रेस रफाएल को. जीत किसकी होगी, ये 2019 में जनता तय करेगी.

 

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Agustawestland Scam : All about the scam and middleman Christian Michel who has been extradited from UAE to India in a joint operation by NSA Ajit Doval and CBI

कौन हो तुम

फवाद पर ये क्विज खेलना राष्ट्रद्रोह नहीं है

फवाद खान के बर्थडे पर सपेसल.

दुनिया की सबसे खूबसूरत महिला के बारे में 9 सवाल

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.

कोहिनूर वापस चाहते हो, लेकिन इसके बारे में जानते कितना हो?

आओ, ज्ञान चेक करने वाला खेल खेलते हैं.

कितनी 'प्यास' है, ये गुरु दत्त पर क्विज़ खेलकर बताओ

भारतीय सिनेमा के दिग्गज फिल्ममेकर्स में गिने जाते हैं गुरु दत्त.

इंडियन एयरफोर्स को कितना जानते हैं आप, चेक कीजिए

जो अपने आप को ज्यादा देशभक्त समझते हैं, वो तो जरूर ही खेलें.

इन्हीं सवालों के जवाब देकर बिनिता बनी थीं इस साल केबीसी की पहली करोड़पति

क्विज़ खेलकर चेक करिए आप कित्ते कमा पाते!

सच्चे क्रिकेट प्रेमी देखते ही ये क्विज़ खेलने लगें

पहले मैच में रिकॉर्ड बनाने वालों के बारे में बूझो तो जानें.

कंट्रोवर्शियल पेंटर एम एफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एम.एफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद तो गूगल कर आपने खूब समझ लिया. अब जरा यहां कलाकारी दिखाइए

KBC क्विज़: इन 15 सवालों का जवाब देकर बना था पहला करोड़पति, तुम भी खेलकर देखो

अगर सारे जवाब सही दिए तो खुद को करोड़पति मान सकते हो बिंदास!

राजेश खन्ना ने किस हीरो के खिलाफ चुनाव लड़ा और जीता था?

राजेश खन्ना के कितने बड़े फैन हो, ये क्विज खेलो तो पता चलेगा.