The Lallantop
Logo
लल्लनटॉप का चैनलJOINकरें

जयदेव उनादकट ने इरफान पठान वाला कारनामा कर इतिहास रच दिया

रणजी मैच में दिल्ली की खटिया खड़ी कर दी

post-main-image
कमाल का स्पेल डाला (PTI)

रणजी ट्रॉफी 2022-23 के एक मुकाबले में सौराष्ट्र और दिल्ली की टीम आमने-सामने है. सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन के मैदान पर खेले जा रहे इस मुकाबले में तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट (Jaydev Unadkat) ने कहर ढा दिया है. सौराष्ट्र की कप्तानी कर रहे उनादकट ने पहले ही ओवर में हैट्रिक लेकर दिल्ली के टॉप ऑर्डर को झकझोर कर रख दिया है.

मैच में दिल्ली के कप्तान यश धुल ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने का फैसला किया. लेकिन उनका ये फैसला अच्छा नहीं रहा. उनादकट ने मैच के पहले ही ओवर में कप्तान धुल समेत तीन खिलाड़ी को पवेलियन भेज अपनी हैट्रिक पूरी की. उनादकट यहीं नहीं रुके. उन्होंने आयुष बदोनी, ललित यादव और लक्ष्य को आउट कर दिल्ली का स्कोर 10 रन पर 7 विकेट कर दिया.

बांग्लादेश सीरीज के जरिए 12 साल बाद टीम इंडिया में वापसी करने उनादकट ने ध्रुव शौरी को तीसरी गेंद पर ही क्लीन बोल्ड किया. वहीं अगली गेंद पर उन्होंने वैभव रावल को हार्दिक देसाई के हाथ कैच आउट कराया. जबकि इसकी अगली गेंद पर ही उन्होंने कप्तान यश ढुल LBW आउट कर अपनी हैट्रिक कंप्लीट की. तीनों ही बल्लेबाजी जीरो पर आउट हुए.

# Unadkat ने बनाया रिकॉर्ड

पहले ओवर में हैट्रिक लेने के साथ ही उनादकट ने इतिहास रच दिया है. उनसे पहले रणजी ट्रॉफी में ये कारनामा किसी और बोलर ने नहीं किया था. जबकि इंटरनेशनल क्रिकेट की बात की जाए तो इरफान पठान टेस्ट क्रिकेट में पहले ही ओवर में हैट्रिक लेने वाले पहले गेंदबाज बने थे.

# 12 साल बाद टेस्ट क्रिकेट की थी वापसी

जयदेव उनादकट ने बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे टेस्ट के दौरान 12 साल बाद इंडियन टेस्ट टीम में वापसी की थी. इससे पहले उन्होंने साल 2010 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ अपना इकलौता टेस्ट मैच खेला था. बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे मैच के लिए मैदान पर उतरने के साथ ही उनादकट ने एक अनोखा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया था. दो टेस्ट मैचों के बीच में उनादकट ने भारत के लिए 118 टेस्ट मिस किए, जो भारत के लिए किसी खिलाड़ी का दो टेस्ट मैचों के बीच सबसे लंबा अंतराल है. इससे पहले ये रिकॉर्ड दिनेश कार्तिक के नाम था, जिन्होंने 87 टेस्ट मैचों से बाहर रहने के बाद वापसी की थी.

वहीं सबसे ज्यादा टेस्ट मैच मिस करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड इंग्लैंड के पूर्व ऑफ स्पिनर गैरेथ बैटी के नाम है. जिन्होंने 2005 से 2016 के बीच कुल 142 टेस्ट मैच मिस किए थे. इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर इंग्लैंड के मार्टिन बिकनेल हैं. जिन्होंने 114 टेस्ट मैच मिस किए थे.

# डोमेस्टिक क्रिकेट में धमाल मचा रहे 

हाल ही में समाप्त हुई विजय हजारे ट्रॉफी में वो सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज थे. उनादकट ने 10 मैच में 19 विकेट लिए थे. उन्होंने अपनी कप्तानी में सौराष्ट्र को खिताब दिलाने में अहम भूमिका भी निभाई थी. इससे पहले साल 2019-20 में उनादकट की कप्तानी में सौराष्ट्र ने रणजी ट्रॉफी का खिताब हासिल किया था. इस दौरान उन्होंने सबसे ज्यादा 10 मैच की 16 पारियों में 67 विकेट हासिल किया था. 

वीडियो: Ind vs Ban मैच में जयदेव उनादकट ने आते ही अनचाहा रिकॉर्ड बना दिया!