The Lallantop
Logo
लल्लनटॉप का चैनलJOINकरें

Nepal Plane Crash: विमान में 5 भारतीय भी सवार थे, किस वजह से हुआ हादसा?

एयरपोर्ट से महज 10 सेकंड की दूरी पर था विमान.

post-main-image
विमान हादसे के बाद की तस्वीर (फोटो- Reuters)

नेपाल के पोखरा में हुए विमान हादसे (Nepal plane crash) में अब तक 68 लोगों की मौत हुई है. इस विमान में कुल 68 यात्री और चार क्रू मेंबर सवार थे. पिछले कई सालों में इसे सबसे खतरनाक प्लेन क्रैश बताया जा रहा है. शुरुआत में ये जानकारी सामने आई थी कि खराब मौसम की वजह से हादसा हुआ. लेकिन नेपाल के एविएशन अथॉरिटी ने बताया कि हादसा मौसम के कारण नहीं, बल्कि "तकनीकी खराबी" की वजह से हुआ. मौसम बिल्कुल साफ था. हालांकि तकनीकी खराबी क्या थी ये भी साफ नहीं है.

अब तक मिली जानकारी के मुताबिक, यती एयरलाइन का विमान ANC ATR 72 काठमांडू से पोखरा जा रहा था. लैंडिंग से थोड़ी देर पहले प्लेन क्रैश हो गया. विमान में पांच भारतीय समेत 10 विदेशी नागरिक भी सवार थे. ये हादसा पोखरा एयरपोर्ट पर लैंडिंग से ठीक पहले हुआ था. विमान के पायलट ने एयर ट्रैफिक कंट्रोल (ATC) से लैंडिंग की इजाजत मांगी थी. एटीसी से अनुमति मिलने के बाद ये हादसा हुआ.

रनवे से कुछ ही दूरी पर था विमान

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, पोखरा एयरपोर्ट एटीसी के सूत्रों ने बताया कि यती एयरलाइंस का विमान रनवे से महज 10 सेकेंड की दूरी पर था. हादसे के बाद नेपाली सेना, नेपाल पुलिस और स्थानीय लोगों की मदद से लगातार राहत और बचाव कार्य जारी है.

नेपाल एविएशन अथॉरिटी ने बताया कि विमान में 53 नेपाली, 5 भारतीय, 4 रूसी, दो कोरियन, एक आयरिश, 1 अर्जेंटीना के और एक फ्रांस के नागरिक मौजूद थे. नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल ‘प्रचंड’ भी हादसे की जानकारी लेने के लिए पोखरा पहुंचने वाले हैं. हादसे के बाद प्रधानमंत्री ने कैबिनेट की एक इमरजेंसी मीटिंग भी बुलाई थी. हादसे की जांच के लिए नेपाल सरकार के पूर्व सचिव नागेन्द्र घिमिरे की अध्यक्षता में 5 सदस्यीय कमेटी बनाई गई है.

भारतीय दूतावास ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया

भारतीय दूतावास ने कहा है कि वो स्थानीय अधिकारियों के साथ संपर्क में है और स्थिति को मॉनीटर कर रहा है. दूतावास ने काठमांडू और पोखरा में लोगों की मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया है.

काठमांडू (श्री दिवाकर शर्मा): +977-9851107021

पोखरा (लेफ्टिनेंट कर्नल शशांक त्रिपाठी): +977-9856037699

कोझिकोड प्लेन क्रैश का 'लो-ब्लड शुगर' से कनेक्शन क्या है, को-पायलट की चूक पड़ गई भारी?