The Lallantop
Logo
लल्लनटॉप का चैनलJOINकरें

झारखंड से ओडिशा तक IT के छापे, 210 करोड़ कैश, PM मोदी ने भी नोटों के बंडल की फोटो डाल दी

Jharkhand से Congress के Rajya Sabha MP Dhiraj Prasad Sahu के करीबियों और रिश्तेदारों के ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी जारी है. करोड़ों रुपए कैश बरामद हुआ है. छापेमारी में नोटों से भरी कई बड़ी अलमारियां मिली हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस पर ट्वीट कर दिया है.

post-main-image
इस रेड का धीरज प्रसाद साहू से क्या कनेक्शन निकला? | फोटो: इंडिया टुडे
author-image
सत्यजीत कुमार

झारखंड से कांग्रेस के राज्यसभा सांसद हैं धीरज प्रसाद साहू. झारखंड, ओडिशा और पश्चिम बंगाल में इनके और इनके करीबियों के ठिकानों पर आयकर की रेड पड़ी है. इस रेड में अब तक 210 करोड़ रुपए से ज्यादा कैश मिल चुका है. छापेमारी की कार्रवाई बुधवार, 6 दिसंबर को शुरू हुई थी, और अभी भी जारी है. कांग्रेस सांसद के ठिकानों इतनी बड़ी संख्या में नोट मिले हैं कि अभी तक इनकी गिनती पूरी नहीं हो पाई है. आयकर विभाग बड़ी-बड़ी मशीनों के जरिए नोटों की गिनती कर रहा है.

किस कंपनी के ठिकानों पर पड़ी रेड?

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से जुड़े सूत्रों के मुताबिक विभाग की टीमों ने ये छापे ‘बौद्ध डिस्टिलरी प्राइवेट लिमिटेड’ से जुडे़ ठिकानों पर मारे हैं. ये कंपनी कांग्रेस के राज्यसभा सांसद धीरज साहू के परिवार की है. इंडिया टुडे के मुताबिक धीरज साहू का परिवार शराब व्यवसाय से जुड़ा है. उनकी ओडिशा में शराब बनाने की कई फैक्ट्रियां हैं.

कहां-कहां पड़े हैं छापे?

आयकर विभाग की टीम ने ये छापे झारखंड में धीरज साहू के पैतृक आवास पर मारे हैं. इसके अलावा विभाग की कुछ टीमें राज्य के रांची और लोहरदगा में भी कंपनी से जुड़े प्रतिष्ठानों में कार्रवाई कर रही हैं. ओडिशा के संबलपुर, बोलांगीर, टिटिलागढ़, बौध, सुंदरगढ़, राउरकेला और भुवनेश्वर में भी रेड की कार्रवाई चल रही है. इसके अलावा पश्चिम बंगाल के कोलकाता में एक ठिकाने पर छापा पड़ा है.

इंडिया टुडे के मुताबिक ओडिशा के बोलांगीर में रुपयों की गिनती में 30 से अधिक बैंक कर्मी लगे हुए हैं. नोट गिनने के लिए आठ से अधिक मशीनों का इस्तेमाल हो रहा है. नोटों से भरे करीब 150 बैग बोलांगीर में भारतीय स्टेट बैंक की मुख्य शाखा में ले जाए जा चुके हैं.

कांग्रेस के राज्यसभा सांसद धीरज साहू | फाइल फोटो 

आयकर महानिदेशक संजय बहादुर, जो भुवनेश्वर में चल रही छापेमारी की निगरानी कर रहे थे, उनका कहना है कि अधिकारी ये पता कर रहे हैं कि जब्त किए गए पैसों से किन लोगों का संबंध है. उनके मुताबिक राजनीतिक लिंक से भी इंकार नहीं किया जा सकता.

कुल मिलाकर इस रेड में अब तक 210 करोड़ की नकदी मिली है. नकदी मिलने की तस्वीरें भी सामने आई हैं, इसमें देखा जा सकता है कि अलमारियों में बड़ी संख्या में नोटों की गड्डियां रखी हुई हैं.

ये भी पढ़ें:- क्या है जल जीवन मिशन में 'घोटाले' का मामला, ED बार-बार राजस्थान क्यों जा रही?

PM मोदी ने शेयर की रेड की फोटो

रेड के फोटो सामने आने के बाद इस मुद्दे पर सियासत भी तेज हो गई है. BJP ने कांग्रेस को घेरना शुरू कर दिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस रेड की तस्वीर और खबर को ट्वीट किया है. उन्होंने इस ट्वीट में लिखा,

"देशवासी इन नोटों के ढेर को देखें और फिर इनके नेताओं के ईमानदारी के 'भाषणों' को सुनें... जनता से जो लूटा है, उसकी पाई-पाई लौटानी पड़ेगी, ये मोदी की गारंटी है."

झारखंड BJP के प्रदेश अध्यक्ष बाबू लाल मरांडी ने भी इस मसले पर ट्वीट किया है. उन्होंने राज्य की हेमंत सोरेन सरकार और कांग्रेस पार्टी पर बड़े आरोप लगाते हुए कहा,

“मैंने संकल्प यात्रा के दौरान कई बार ये बात दोहराई थी कि हेमंत सोरेन सरकार और उसके सहयोगी कांग्रेस पार्टी के नेता झारखंड के संसाधनों को हड़पकर सिर्फ अपने और अपने परिजनों की तिजोरियां भरने में लगे हुए हैं."

बाबू लाल मरांडी ने आगे लिखा कि आयकर विभाग ने कांग्रेस सांसद धीरज साहु के ठिकानों से अरबों रुपए का कैश जब्त किया. ये काली कमाई इतनी बड़ी है कि नोट गिनने वाली मशीन भी हिसाब लगाने में हांफ जाए. उन्होंने दावा किया कि गरीबों की शुभचिंतक बनने का दंभ भरने वाले कांग्रेसी जमात की कड़वी हकीकत हर रोज उजागर हो रही है.

वीडियो: दी लल्लनटॉप शो: दिल्ली पुलिस ने न्यूजक्लिक के पत्रकारों के घर छापा क्यों मारा?