The Lallantop
Advertisement

आंखें पीली और भूख कम, कहीं बिलीरुबिन तो नहीं बढ़ गया आपका!

बिलीरुबिन पित्त में पाया जाता है. यह रेड ब्लड सेल्स के टूटने से बनता है. अगर लिवर स्वस्थ है तो सारा बिलीरुबिन शरीर से बाहर आ जाता है. वहीं अगर कोई दिक्कत है तो यह शरीर में इकट्ठा होता रहता है.

Advertisement
Why is an increase in bilirubin in the liver dangerous
अगर बिलीरुबिन बढ़ रहा है तो पीलिया हो सकता है. (सांकेतिक फोटो)
29 मार्च 2024
Updated: 29 मार्च 2024 16:26 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

आपने बिलीरुबिन का नाम ज़रूर सुना होगा. बिलीरुबिन एक पीले रंग की चीज़ है जो लीवर में मौजूद बाइल में पाया जाती है. बाइल यानी पित्त. यह पुराने रेड ब्लड सेल्स, यानी RBC के टूटने पर बनता है. अब पित्त का काम होता है खाना पचाने में मदद करना. अगर आपका लिवर हेल्दी है तो वो लगभग सारा बिलीरुबिन स्टूल या पेशाब के ज़रिए आपके शरीर से बाहर निकाल देगा. वहीं अगर शरीर में कुछ गड़बड़ है तो बिलीरुबिन की मात्रा शरीर में बढ़ जाती है. आज डॉक्टर से जानिए शरीर में बिलीरुबिन क्यों बढ़ता है? बिलीरुबिन बढ़ने के लक्षण क्या हैं? अगर शरीर में बिलीरुबिन बढ़ गया तो क्या होगा और इसको बढ़ने से कैसे रोका जाए?

बिलीरुबिन क्यों बढ़ता है?

ये हमें बताया डॉ. मनोज गुप्ता ने. 

डॉ. मनोज गुप्ता, हेड, लिवर ट्रांसप्लांट, पीएसआरआई हॉस्पिटल, नई दिल्ली

अधिकतर मामलों में बिलीरुबिन वायरल हेपेटाइटिस के कारण बढ़ता है. खासकर हेपेटाइटिस ए और ई की वजह से. इसकी शुरुआत अमूमन बुखार आने से होती है. भूख नहीं लगती, आंखों या पेशाब में पीलापन रहता है. बिलीरुबिन अन्य इन्फेक्शन की वजह से भी बढ़ता है. जैसे हेपेटाइटिस बी और सी, ये खून के ज़रिए फैलता है या फिर एक से अधिक सेक्स पार्टनर होने के कारण भी ऐसा हो सकता है. शराब पीने से भी लिवर को नुकसान पहुंचता है. वहीं डॉक्टर की राय के बिना दवाई खाना ठीक नहीं है. इनमें हर्बल और एलोपैथिक दवाइयां भी शामिल हैं. आनुवांशिक बीमारियों, मेटाबॉलिक और ऑटोइम्यून डिसऑर्डर से भी यह बढ़ जाता है. कुछ तरह के कैंसर भी हैं, जिनसे भी बिलीरुबिन बढ़ता है. 

बिलीरुबिन बढ़ने के लक्षण क्या हैं?

-आंखों में पीलापन होने लगता है, भूख अचानक कम हो जाती है

-वज़न घटने लगता है और पैरों में सूजन रहती है

-उल्टी या मल में खून आता है या मल काले रंग का हो जाता है

-बेहोशी छाने लगती है, अगर ये लक्षण हैं तो लिवर में दिक्कत हो सकती है

-अपने ब्लड टेस्ट कराएं, कुछ अल्ट्रासाउंड भी किए जाते हैं

-इनसे पता लगता है कि लिवर में आखिर कितनी दिक्कत है

बिलीरुबिन बढ़ना लिवर में दिक्कत होने का संकेत है
बिलीरुबिन बढ़ने के नुकसान क्या हैं?

बिलीरुबिन का बढ़ना पीलिया होने का एक संकेत है. यह दर्शाता है कि लिवर में कोई दिक्कत है. इसे लिवर के सही से काम न करने का एक लक्षण मान सकते हैं. अगर बिलीरुबिन बढ़ रहा है तो यह वाकई चिंता की बात है.

बिलीरुबिन को बढ़ने से कैसे रोकें?

वायरल हेपेटाइटिस से राहत पाई जा सकती है. हेपेटाइटिस ए और ई गंदे खाने या दूषित पानी से होता है इसलिए अपने आसपास साफ-सफाई रखें. हेपेटाइटिस बी की वैक्सीन मौजूद है, टीका लगवाएं. हेपेटाइटिस ए की भी वैक्सीन है. इसके लिए डॉक्टर से संपर्क करें. 

(यहां बताई गई बातें, इलाज के तरीके और खुराक की जो सलाह दी जाती है, वो विशेषज्ञों के अनुभव पर आधारित है. किसी भी सलाह को अमल में लाने से पहले अपने डॉक्टर से ज़रूर पूछें. दी लल्लनटॉप आपको अपने आप दवाइयां लेने की सलाह नहीं देता.)

वीडियो: सेहत: खाने में रंग मिलाना कितना खतरनाक है? डॉक्टर्स से जान लीजिए

thumbnail

Advertisement