Submit your post

Follow Us

ऑटो ड्राइवर ने कृपाण निकाली तो पुलिस ने बुरी तरह पीट दिया

21.72 K
शेयर्स

दिल्ली में पुलिस और ऑटो ड्राइवर की झड़प ने माहौल तनावपूर्ण बना दिया है. मामला दिल्ली के मुखर्जी नगर इलाके का है. पुलिस ने फीडर ऑटो(ग्रामीण सेवा) के ड्राइवर सरबजीत और उनके नाबालिग बेटे के साथ मारपीट की. इसके बाद लोकल लोगों का गुस्सा भड़क गया. खासतौर पर सिख समुदाय मारपीट के बाद मौके पर पहुंचा और मुखर्जी नगर थाने का घेराव किया. देर शाम तक कार्रवाई न होने पर लोगों का गुस्सा और बढ़ता गया. भीड़ महात्मा गांधी रोड और मुखर्जी नगर रेड लाइट पर जमा हो गई. इसके बाद गुस्साई भीड़ ने बसों पर पथराव किया. पूरे मामले में पुलिस की ओर से तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है.

पूरा मामला क्या है?
मुखर्जी नगर इलाके में किसी बात को लेकर ऑटो ड्राइवर सरबजीत की पुलिसकर्मी से बहस हो गई. पुलिस के मुताबिक सरबजीत ख़तरनाक ढंग से ऑटो चला रहा था. उसके ऑटो से पुलिसकर्मी की टांग में चोट लगी थी. इसके बाद बहस हुई जिसे झड़प में बदलने में देर ना लगी.

वायरल वीडियो में सरबजीत पुलिस कर्मी से बहस करता दिख रहे हैं. सरबजीत के साथ खड़ा उनका बेटा उन्हें पीछे हटा रहा है. वीडियो में सरबजीत और पुलिस वाले की बॉडी लैंग्वेज देखकर लग रहा है कि वो एक दूसरे को देख लेने की धमकी दे रहे हैं. सरबजीत के हाथ में कृपाण थी. बहस के बाद पुलिसकर्मी पास ही मौजूद थाने में गया और साथी पुलिसकर्मियों को ले आया. इसी बीच सरबजीत का बेटा उन्हें खींचकर ले जाता दिख रहा है. लेकिन सरबजीत नहीं रुके और दूसरी तरफ से आ रहे पुलिसवालों से कृपाण लेकर उलझ पड़े.

Posted by Vijay Patel on Sunday, 16 June 2019

इसके बाद जो हुआ वो सभी ने देखा. पुलिसवालों की दरिंदगी के सबूत कई वीडियोज़ मौजूद हैं. पुलिस ने जहां बस चला वहां लात-घूंसे बरसाए. सरबजीत की पीठ पर डंडे के निशान इस बेरहमी के दिखाते हैं.

Posted by Vijay Patel on Sunday, 16 June 2019

इस घटना के बाद लोगों ने पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. बड़ी तादाद में सिख सड़कों पर आ गए. थाने का घेराव किया गया. हालात पर काबू पाने के लिए भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया. मौके पर आलाधिकारी भी पहुंचे. पुलिस ने कार्रवाई की और मारापीट करने वाले 3 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है. लोग सुबह लगभग 4 बजे तक थाने के बाहर लोग जमा रहे. भारतीय जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी के नेता भी मौके पर पहुंच गए. नेताओं का कहना है कि ये मामला मानवाधिकार उल्लंघन के साथ-साथ धार्मिक भावनाओं को आहत करने का भी है. पुलिस ने सरबजीत की पगड़ी उतारकर बेअदबी की है.

राजौरी गार्डन से विधायक मनजिंदर सिरसा भी देर रात तक पीड़ितों के साथ बने रहे.

पीड़ित सरबजीत और उनके घायल बेटे को बाबू जगजीवन राम अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया. जब सरबजीत के परिवार से संपर्क किया गया तो उनके पिता ने पूरे मामले में किसी पर भी कार्रवाई करवाने से इनकार कर दिया. वो आगे झगड़ा नहीं चाहते. इस पूरी घटना के बाद आज दिल्ली के इस इलाके में ऑटो ड्राइवर हड़ताल पर चले गए हैं.

इस पूरे मामले में लोग पुलिस की गलती निकाल रहे हैं. लेकिन पहली नज़र में सरबजीत की हरकत भी सही नज़र नहीं आ रही है. आपसी बहस में हथियार निकालकर सामने वाले को डराना सही नहीं है. इस घटना को जस्टिफाई करने के लिए तमाम दलीलें हो सकती हैं, लेकिन आत्मरक्षा उस स्थिति में होती है जब सामने वाला हमलावर हो. यहां इस केस में ऐसा नहीं दिखता. बाद में पुलिस ने जो किया वो तो खैर दरिंदगी थी.


वीडियो: मूर्ति तोड़े जाने को लेकर चर्चा में आए ईश्वरचंद्र विद्यासागर के 5 किस्से

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

नेटफ्लिक्स पर आने वाली शाहरुख़ की 'बार्ड ऑफ़ ब्लड' में कश्मीर क्यूं खचेर रहा है पाकिस्तान?

पाकिस्तानी आर्मी के प्रवक्ता के बयान पर सोशल मीडिया कहने लगा 'पीछे तो देखो'.

केरल बाढ़ के हीरो आईएएस कन्नन गोपीनाथन ने कश्मीर मसले पर नौकरी छोड़ते हुए ये बातें कही हैं

नौकरी छोड़ दी. अब न कोई सेविंग्स है, न ही रहने को अपना ख़ुद का घर.

धरती पर क्राइम तो रोज़ होते हैं, लेकिन पहली बार अंतरिक्ष में हुए क्राइम की खबर आई है

अंतरिक्ष में रहते क्राइम करने की बात चौंकाती है.

अरुण जेटली नहीं रहे, यूएई से पीएम मोदी ने कुछ यूं किया याद

गौतम गंभीर ने जेटली को पिता तुल्य बताया.

रफाल के अलावा फ्रांस से और क्या-क्या लाने वाले हैं पीएम मोदी?

इस बड़े मुद्दे पर भारत की तगड़ी मदद करने वाला है फ्रांस.

चंद्रमा पर पहुंचने वाला है चंद्रयान-2, कैसे करेगा काम?

चंद्रयान के एक-एक दिन का हिसाब दे दिया है

विंग कमांडर अभिनंदन को पकड़ने वाला पाकिस्तानी सैनिक मारा गया!

पाकिस्तानी आर्मी की तस्वीर में अभिनंदन को पकड़े हुए दिखा था अहमद खान.

नकली दूध बेचा, पुलिस ने आतंकियों वाला NSA लगा दिया

सरकार ने तो पहले ही कह दिया था.

कांग्रेस और सपा छोड़कर भाजपा में आए नेताओं ने मोदी के बारे में क्या कहा?

वो भी कल लखनऊ में...

कश्मीर में बैन के बाद भी किसकी मेहरबानी से गिलानी इस्तेमाल कर रहे थे फोन-इंटरनेट?

बैन के चार दिन बाद तक गिलानी के पास इंटरनेट और फोन था. प्रशासन को इसकी भनक भी नहीं थी.