Submit your post

Follow Us

अटल बिहारी के घर जाने से क्यों डरते थे उनके दोस्त?

अटल बिहारी और उनके पिता कृष्ण बिहारी वाजपेयी कानपुर में एक ही कॉलेज में थे. डीएवी कॉलेज में. लॉ की पढ़ाई कर रहे थे. एक ही क्लास और एक ही हॉस्टल में रहे. दोनों साथ ही खाना बनाते और खाते. मगर एक और चीज थी जो अटल के लिए कंपल्सरी थी. रोज रात एक गिलास भर के गरमा-गरम दूध पीना. दूध के लिए बाप-बेटे का ये प्रेम भी कॉलेज के लड़कों में चर्चा का विषय बना हुआ था. और यही दूध का शौक ही अटल के दोस्तों के लिए मुसीबत था.

दीनदयाल उपाध्याय पहुंचे थे ग्वालियर स्थित अटल के घर.
दीनदयाल उपाध्याय पहुंचे थे ग्वालियर स्थित अटल के घर.

अटल खुद एक किस्सा बताते थे कि जब जनसंध के नेता दीनदयाल उपाध्याय एक बार उनके ग्वालियर स्थित घर पहुंचे. उस वक्त अटल घर पर नहीं थे तो उनके पिता ने दीनदयाल का स्वागत किया. रात में भी दीनदयाल को उन्हीं के घर पर रुकना था. सो जब सोने का वक्त आया तो उनके पिता आदतानुसार गरम दूध से भरा गिलास लेकर दीनदयाल के पास पहुंचे. अब दीनदयाल गए फंस. पीते तो नहीं थे मगर सम्मान देने के चक्कर में गिलास ले लिए. दूध पीना पड़ा. उन्होंने लौटकर ये किस्सा सबको सुनाया. इसका असर ये हुआ कि अटल के जिन दोस्तों को दूध से परहेज था वो उनके घर जाने से डरते थे.


ये भी पढ़ें –

कानपुर के डीएवी कॉलेज में क्यों बच्चा-बच्चा अटल और उनके पिता का नाम जप रहा था?

नेहरू ने कभी नहीं कहा कि अटल प्रधानमंत्री बनेंगे

जब चुनाव हारने के बाद अटल जी ने आडवाणी से कहा, ‘चलो फिल्म देखते हैं’

सोनिया ने ऐसा क्या लिखा कि अटल ने कहा- डिक्शनरी से देखकर लिखा है क्या?

जब अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा था कि मेरा किसलय मुझे लौटा दो

अटल बिहारी वाजपेयी की कविता: मैंने जन्म नहीं मांगा था

लल्लनटॉप वीडियो देखें –

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्रिकेट के किस्से

नमाज़ के कारण मिस्बाह उल हक़ को टीम में नहीं आने देना चाहते थे इंज़माम

क्या है मिस्बाह उल हक़ का अताउल्लाह खान कनेक्शन?

क्या आप जानते हैं शरलॉक होम्स के 'पापा' सर आर्थर कॉनन डॉयल का क्रिकेट कनेक्शन?

कॉनन डॉयल ने झटका था क्रिकेट के भीष्म पितामह का विकेट.

जब कैंसर से जूझ रही मैक्ग्रा की पत्नी के बारे में सरवन ने भद्दी बात कही, वो बोले: गला चीर दूंगा

बीच मैदान में बवाल हो गया.

जब पस्त वेस्ट-इंडीज़ ने शक्तिशाली ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट का सबसे बड़ा कारनामा कर डाला

1644 टेस्ट मैचों के बाद हुआ था यह कमाल, जब एंटीगा में ज़िंदा हो गई 'मुर्दा रबर'.

जब नंबर 10 और 11 के बल्लेबाजों ने सेंचुरी ठोकी और पूरी टीम से ज़्यादा रन बना डाले

भारतीय थे. न उनसे पहले, न उनके बाद ये कारनामा कोई और कर पाया है.

ड्रग्स और गैंगवॉर वाली जगह से निकलकर दुनिया का सबसे बड़ा T20 क्रिकेटर बनने की कहानी!

आईपीएल जैसी लीग में खेलने के लिए अपने बोर्ड से लड़ गया था ये खिलाड़ी.

किस्सा ख़तरनाक थ्रिलर मैच का, जब टीम जीतते-जीतते रह गई और बल्लेबाज़ फूट-फूटकर रोने लगा

रणजी के इतिहास का ये बेस्ट फाइनल मैच था.

जब एक अंग्रेज़ ने चेन्नई में मनाया पोंगल और गावस्कर की टीम को रौंद डाला

रिचर्ड्स और मियांदाद को ज़ीरो पर आउट करने वाला इकलौता बोलर.

विवियन रिचर्ड्स की फैन, वो महिला क्रिकेटर, जो पुरुषों से तेज रन बनाती हैं

कई गोल्ड मेडल जीतने वाली एथलीट, जिन्हें क्रिकेट पसंद नहीं था.

जिस विकेट पर दो दिन में 20 विकेट गिरे, उस पर 226 रन बनाने वाले बल्लेबाज़ की कहानी

जिस बल्लेबाज़ ने अंग्रेज़ों के खिलाफ 'ब्लैकवॉश' करवा दिया.