Submit your post

Follow Us

फिल्म इंडस्ट्री में 30 साल पूरे करने वाले अक्षय के ये 30 जाबड़ मीम्स देखें क्या?

अक्षय कुमार. बॉलीवुड के खिलाड़ी कुमार. आज के दिन उन्हें फिल्म इंडस्ट्री में 30 साल पूरे हो गए हैं. 25 जनवरी, 1991 के दिन ही उनकी फिल्म ‘सौगंध’ रिलीज़ हुई थी. पर इस मौके पर हम उनकी अच्छी या बुरी फिल्मों की चर्चा नहीं करेंगे. उनकी रिच फिल्मोग्राफी से तो आप भली-भांति वाकिफ़ हैं. उनके तीस साल पूरे होने पर बातें होंगी मीम्स की. अक्षय पर बने 30 कमाल के मीम्स. आपकी हर सिचुएशन के लिए एक मीम. जब जरूरत हो, बस उठा के लगा दीजिएगा. और हां, इनके साथ लिखे ग़ज़ब के कैप्शन पढ़ना ना भूलिएगा. जिन्हें लिखा है हमारे साथी आशीष ने.


#1. महीने की एक तारीख को जब आपकी सैलरी आ जाए, और अब तक घर का किराया, ईएमआई, बिजली-पानी, दूध-प्रेस के हिसाब में पैसे न उड़े हों.

01 (1)


#2. जब प्लान ये हो कि फ्राइडे नाइट दो बंदे कार से ऋषिकेश जाएंगे, सोमवार को बीमारी का बहाना बनाकर छुट्टी लेंगे और रात तक लौटकर मंगलवार से ऑफिस शुरू करेंगे. लेकिन दूसरा बन्दा प्लान में और लोगों को जोड़ने लग जाए.

02 (1)


#3. जब आपके भाई-बहन दुनिया की किसी भी चीज में इन्ट्रेस्ट लें.

03


#4. 90’s की हर फोटो में आपके चाचाजी.

04


#5. जब मम्मी बाथरूम से एक बाल्टी पानी भरकर लाने को कह दें.

05


#6. बचपन में दो महीने के अखबार और आधा किलो लोहा कबाड़ी से तुलवाते हम भाई-बहन.

06


#7. बिल्डिंग की लिफ्ट में जब कोई बिना मास्क लगाए छींक दे

07


#8.  जब न्यूज़ एंकर अचानक से सरकार से सवाल करने लग जाएं.

08


#9. जब न्यूज़ एंकर सरकार से सवाल करने के अलावा फैक्ट्स भी रखने लगें.

09


#10. ट्विटर के ट्वीट का स्क्रीनशॉट इन्स्टाग्राम स्टोरी पर लगाकर इन्फ्लुएंसर बनने वाले

10


#11. जब कोई आपके फेसबुक पोस्ट्स में टाइपोज खोज निकाले.

11


#12. हर ट्विटर ट्रोल का सबसे बड़ा हथियार

12


#13. किसी भी तेल भंडार वाले देश की अंदरूनी उथल-पुथल देखने के बाद अमेरिका

13


#14. जब हेडफोन में सेफ लेवल से ज़्यादा वॉल्यूम बढ़ाओ, लेकिन वो चेतावनी देने लगे कि देर तक आवाज़ सुनने से श्रवण क्षमता पर असर पड़ेगा.

14


#15. हर स्क्रिप्टेड प्रैंक के आख़िरी 30 सेकेंड.

15


#16. क्वारंटीन के बाद पहनी गई शर्ट का पेट के पास वाला बटन

16


#17. ओडिन से लोकी की शिकायत करता थॉर

17


#18. जब एचआर कहे कि पैनडेमिक के कारण इस साल कंपनी घाटे में रही इस कारण अप्रेजल नहीं हो सकेगा.

18


#19. अप्रेजल में सैलरी न बढ़ाने के बाद, जब एचआर को दूसरी कंपनी का ऑफर लेटर देख उतनी ही सैलरी देकर आपको रोकने लग जाए.

19


#20. जब आपका खाना बनाने का मन न हो, भूख जबर लगी हो लेकिन रूममेट इस बात पर भिड़ जाएं कि पिज़्ज़ा मैक्सिकन ग्रीन वेव मंगाना है या डीलक्स वेजी

20


#21. शादी में गेटक्रैश करने के बाद आप, दुल्हन के पिता से

21


#22. जब लेग डे के बाद आपके ट्रेनर को ट्रेडमिल पर एक्स्ट्रा दौड़ाने की खुंदक चढ़े

22


#23. ट्विटर पर भद्दे ट्वीट करने के बाद जब सेलिब्रिटी कहे कि उसका अकाउंट हैक हो गया था

23


#24. जब आप मोबाइल चार्जिंग पर लगा के गए हों, लेकिन लौट कर देखें चार्जर निकला हुआ है

24


#25. अमेरिका में मामा के घर में डेढ़ हफ्ते रुकने के बाद जब आपका दोस्त लौटे और एक्सेंट में बात करने लगे.

25


#26. जब आप एक बार में 120 का 65% दिमाग में मैथ्स लगाकर सही-सही निकाल लें.

26

#27.  कॉलरट्यून के नाम पर 45 रुपये कटने के बाद कस्टमर केयर से झगड़ते आप

27


#28. ऑफिस के सिस्टम में मूवी फ़ाइल देखने के बाद आईटी वाले.

28


#29. आपके मोबाइल में VPN ऐप देखने के बाद घरवाले

29


#30. चाय पीने वालों के बीच जब कोई वर्जिन मोइतो मंगवा ले

30

पसंद आए? तो आग की तरह फैला दो.


वीडियो: ‘तांडव’ पर जो हंगामा बरपा, क्या वही ‘ओ माय गॉड’ के सीक्वल पर होगा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

मूवी रिव्यू: दी व्हाइट टाइगर

मूवी रिव्यू: दी व्हाइट टाइगर

कई पीढ़ियों में एक बार पैदा होता है व्हाइट टाइगर, इसलिए खास है. पर क्या फिल्म के बारे में भी ये कहा जा सकता है?

फिल्म रिव्यू- मैडम चीफ मिनिस्टर

फिल्म रिव्यू- मैडम चीफ मिनिस्टर

मैडम चीफ मिनिस्टर जिस ताबड़तोड़ तरीके से शुरू होती है, वो खत्म होते-होते वापस उतनी ही दिलचस्प और मज़ेदार हो जाती है. मगर दिक्कत का सबब है वो सब, जो शुरुआत और अंत के बीच घटता है.

वेब सीरीज़ रिव्यू- तांडव

वेब सीरीज़ रिव्यू- तांडव

'तांडव' बड़े प्रोडक्शन लेवल पर बनी एक छिछली पॉलिटिकल थ्रिलर है, जिसे लगता है कि वो बहुत डीप है.

मूवी रिव्यू: त्रिभंग

मूवी रिव्यू: त्रिभंग

कैसा रहा काजोल का डिजिटल डेब्यू?

फिल्म रिव्यू - मास्टर

फिल्म रिव्यू - मास्टर

साल की पहली मेजर फिल्म कैसी है, जहां दो सुपरस्टार आमने-सामने हैं?

रिव्यू: गुल्लक सीज़न 2

रिव्यू: गुल्लक सीज़न 2

मिडल क्लास फैमिली की शानदार कहानी.

मूवी रिव्यू: कागज़

मूवी रिव्यू: कागज़

पंकज त्रिपाठी की लोकप्रियता भुनाने का प्रयास कितना सफल?

काजोल के डिजिटल डेब्यू 'त्रिभंग' की ख़ास बातें, जिसे रेणुका शहाणे ने डायरेक्ट किया है

काजोल के डिजिटल डेब्यू 'त्रिभंग' की ख़ास बातें, जिसे रेणुका शहाणे ने डायरेक्ट किया है

'त्रिभंग' का ट्रेलर रिलीज़ हुआ है, जो कमाल लग रहा है.

मूवी रिव्यू: AK vs AK

मूवी रिव्यू: AK vs AK

'AK vs Ak' की सबसे बड़ी ताकत इसका कॉन्सेप्ट ही है, जो काफी हद तक एंगेजिंग है.

फिल्म रिव्यू: कुली नंबर 1

फिल्म रिव्यू: कुली नंबर 1

ये रीमेक न होकर कोई ओरिजिनल फ़िल्म होती, तब भी इतना ही निराश करती.