Submit your post

Follow Us

NEET-JEE के बाद बैंकिंग के इस बड़े एग्जाम को लेकर परेशान हो रहे हैं स्टूडेंट, जानिए क्या है मामला

कोरोना काल, एक और नौकरी का एग्जाम, एग्जाम देने वाले फिर परेशान. इस बार मामला बैंकिंग के महत्वपूर्ण एग्जाम IBPS PO का है. देशभर से लोग ट्विटर पर पीएम मोदी से लेकर रेल मंत्री पीयूष गोयल से मदद की गुहार लगा रहे हैं. इस उम्मीद में कि शायद कोई उनकी परेशानी सुन ले. आइए बताते हैं, क्या है इस नए एग्जाम की गुत्थीः

क्या है ये IBPS PO का एग्जाम?

देशभर में बैंक से जुड़े कर्मचारियों के लिए एग्जाम कराने की जिम्मेदारी IBPS यानी Institute of Banking Personnel Selection की है. अलग-अलग सर्विसेज के लिए ये इंस्टिट्यूट कैंडिडेट चुनने का एग्जाम कराता है. हर साल इनके एग्जाम में लाखों लोग हिस्सा लेते हैं. इन्हीं में से एक एग्जाम बैंक पीओ या प्रॉबेशनरी ऑफिसर का होता है. बैंकिग सर्विस में डायरेक्ट सलेक्शन से होने वाला यह सबसे बड़ा पद होता है. इसके ऊपर के बैंक अधिकारी या तो प्रमोट होकर या रैंकर एग्जाम के जरिए ऊंचे पदों पर जाते हैं. आईबीपीएस हर राज्य के बैंकों के लिए अलग-अलग वैकेंसी निकालता है. मिसाल के तौर पर अगर एमपी में पीओ की 2000 वैकेंसी हैं तो इसका अलग से फॉर्म निकलता है और राजस्थान के लिए अलग से. यह एग्जाम पूरे देश में कोई भी प्रतिभागी दे सकता है. ऐसे में हर साल अन्य राज्यों के स्टूडेंट्स भी भारी संख्या में दूसरे राज्यों में एग्जाम देने जाते हैं.

इस बार मामला कहां फंसा है?

यूपी में आयोजित होने वाली आईबीपीएस के प्री एग्जाम पर पेच फंस रहा है. पीओ के लिए प्री, मेंस और इंटरव्यू मिलाकर तीन चरणों में एग्जाम होते हैं. इस एग्जाम के जरिए देशभर में पीओ और दूसरे पदों पर 6000 से ज्यादा भर्तियां होनी हैं. इनमें से सबसे ज्यादा 700 वैकेंसी यूपी में हैं. ज्यादा से ज्यादा स्टूडेंट्स ने यूपी में एग्जाम देने में रुचि दिखाई है. एक अनुमान के मुताबिक, सिर्फ यूपी में ही तकरीबन 2 लाख और देशभर में 5 लाख स्टूडेंट्स ये एग्जाम दे रहे हैं. एग्जाम 12, 13, 19 और 26 सितंबर को होना तय हुआ है. अक्सर ज्यादा कैंडिडेट्स होने की वजह से दो वीकेंड पर एग्जाम रखे जाते हैं.

झारखंड के स्टूडेंट अभिषेक सिंह ने लल्लनटॉप को बताया-

हम पिछले एक महीने से आईबीपीएस ऑफिस में फोन मिलाकर एग्जाम का स्टेटस जानने की कोशिश कर रहे थे लेकिन वह सिर्फ वेबसाइट से सूचना लेने की बात कह रहे थे. 7 सितंबर को आईबीपीएस ने नोटिस निकालकर सूचना दी कि 12-13 सितंबर का एग्जाम फिलहाल नहीं हो रहा है. कई लोगों ने अपने ट्रेन टिकट भी कैंसल कर दिए. 8 सितंबर की शाम आईबीपीएस की तरफ से फिर एक नोटिस जारी किया गया. इसमें कहा गया कि स्टूडेंट अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर लें और 12-13 सितंबर को एग्जाम देने पहुंचें. हर बार अमूमन एडमिट कार्ड डाउनलोड करने और एग्जाम के बीच 8-10 दिन का वक्त मिलता था. अब हमें समझ नहीं आ रहा, हम क्या करें.

 

Sale(125)
7 और 8 सितंबर के वो 2 नोटिस, जो स्टूडेंट्स की परेशानी का सबब बने हुए हैं.

अभिषेक की तरह कई स्टूडेंट्स हैं, जो एग्जाम देने दूसरे राज्यों में जाते हैं. हर राज्य में कोरोनो को लेकर अलग-अलग तरह की पाबंदियां हैं. ऐसे में स्टूडेंट एग्जाम आगे बढ़ाने की मांग भी कर रहे हैं. कुछ स्टूडेंट्स ट्विटर पर रेलमंत्री और पीएम मोदी से दखल देने की गुहार लगा रहे हैं. उनका कहना है कि वो एग्जाम देने को तैयार हैं लेकिन पब्लिक ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था को दुरुस्त किया जाए, जिससे वो एग्जाम देने वक्त पर पहुंच सकें.

ऐसा ही कुछ वेस्ट बंगाल की ट्विटर यूजर @DeShramana का कहना है –

मुझे सिर्फ 3 दिन का वक्त दे कर 300 किलोमीटर दूर के सेंटर पर एग्जाम देने को कहा गया है. यहां पर न कोई कैब है, न कोई ट्रेन. ऐसे में मैं कैसे एग्जाम देने पहुंच पाऊंगी. एग्जाम को आगे बढ़ाया जाए.

फिलहाल ट्विटर पर स्टूडेंट #IBPSRRB, #ibpsrrbpostpone जैसे ट्रेंड चला रहे हैं. इस भरोसे में कि एग्जाम को आगे बढ़ा दिया जाए  ताकि वो कोई इंतजाम करके सेंटर पर पहुंच सकें और उनका एक साल बर्बाद होने से बच जाए.

रंगरूट. दी लल्लनटॉप की एक नई पहल. जहां पर बात होगी नौजवानों की. उनकी पढ़ाई-लिखाई और कॉलेज-यूनिवर्सिटी कैंपस से जुड़े मुद्दों की. हम बात करेंगे नौकरियों, प्लेसमेंट और करियर की. अगर आपके पास भी ऐसा कोई मुद्दा है तो उसे भेजिए हमारे पास. हमारा पता है  YUVA.LALLANTOP@GMAIL.COM

 

वीडियो –  NEET पर अड़ी मोदी सरकार भर्ती परीक्षाओं को क्यों नहीं पूरा कराना चाहती?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

विधायक विजय मिश्रा, जिन्हें यूपी पुलिस लाने लगी तो बेटियां बोलीं- गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए

विधायक विजय मिश्रा, जिन्हें यूपी पुलिस लाने लगी तो बेटियां बोलीं- गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए

चलिए, विधायक जी की कन्नी-काटी जानते हैं.

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

कभी सोचा नहीं होगा कि लल्लन साड़ियों पर भी क्विज बना सकता है. खेलो औऱ स्कोर करो.

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़. अपना ज्ञान यहां चेक कल्लो!

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 33 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.