The Lallantop
Logo
लल्लनटॉप का चैनलJOINकरें

रेप के आरोपों से लेकर, No ball तक... साल 2022 में क्रिकेट से जुड़े इन विवादों ने खूब चर्चा बटोरी!

दो क्रिकेटर्स को तो जेल तक जाना पड़ा.

post-main-image
विवादों से भरा रहा साल 2022 (Twitter)

साल 2022 के खत्म होने में महज कुछ ही दिन बचे हुए हैं. हर साल की तरह 2022 भी क्रिकेट फ़ैन्स के लिए काफी रोमांचक रहा. इस साल IPL के अलावा एशिया और T20 वर्ल्ड कप जैसे बड़े इवेंट्स का आयोजन हुआ. जिसमें कई बड़े रिकॉर्ड्स बने और टूटे. लेकिन इस दौरान 'जेंटलमैन गेम' कहे जाने वाले क्रिकेट के मैदान के अंदर और बाहर कई बड़ी कॉन्ट्रोवर्सी भी देखने को मिली.

चाहे वो विराट कोहली पर लगा फेक फील्डिंग का आरोप हो, या कोविड पॉजिटिव होने के बाद भी तालिया मैक्ग्रा का मैदान पर उतरना. वहीं मैदान के बाहर नेपाल के क्रिकेटर संदीप लामिछाने और श्रीलंंका के गुणातिलका पर लगे रेप के संगीन आरोपों ने क्रिकेट को शर्मसार भी किया.

# Virat Kohli पर लगा फेक फील्डिंग का आरोप

सबसे पहले बात विराट कोहली पर लगे फेक फील्डिंग के आरोप की करते हैं. T20 विश्व कप में भारत और बांग्लादेश (India vs Bangladesh) के बीच मुकाबला खेला गया. इस रोमांचक मुकाबले में टीम इंडिया ने पांच रन से जीत हासिल की. मैच के बाद बांग्लादेश के विकेटकीपर नुरुल हसन ने विराट कोहली पर फेक फील्डिंग का आरोप लगाया.

दरअसल ये वाकया बांग्लादेश की पारी के सातवें ओवर का है. जब बांग्लादेशी ओपनर लिटन दास ने अक्षर पटेल की गेंद पर ऑफ साइड की तरफ शॉट खेला. गेंद पॉइंट पर फील्डिंग कर रहे विराट कोहली के पास से गुजरी, जिसे डीप में फील्डिंग कर रहे अर्शदीप सिंह ने कलेक्ट किया और थ्रो किया. लेकिन इसी दौरान पॉइंट पर खड़े कोहली ने भी गेंद को विकेट पर थ्रो करने का नाटक किया. हालांकि उस समय इस बात को अंपायर और बैटर किसी ने नोटिस नहीं किया. इस वजह से मैदानी अंपायर मरी इरास्मस और क्रिस ब्राउन ने इस पर कोई एक्शन नहीं लिया.

# INDvsPAK मैच के आखिरी ओवर में हुआ विवाद

अब बात भारत और पाकिस्तान के बीच हुए विश्व कप के बेहद रोमांचक मुकाबले की करते हैं. मैच की आखिरी छह गेंद में भारत को 16 रन की जरूरत थी. मोहम्मद नवाज़ की पहली गेंद पर हार्दिक आउट होकर लौट गए. दूसरी गेंद पर कार्तिक ने सिंगल लिया और तीसरी गेंद पर विराट सिर्फ दो रन ले पाए. आखिरी तीन गेंदों पर 13 रन चाहिए थे. ऐसे में नवाज़ ने अगली गेंद डाली जिसपर विराट ने छक्का मार दिया. इस गेंद की ऊंचाई ज्यादा थी इसलिए अंपायर ने उसे नो बॉल करार दिया.

जिसके बाद भारत को तीन गेंद में छह रन की ज़रूरत थी. नवाज़ ने अगली गेंद वाइड डाल दी. अब भारत को तीन गेंद में पांच रन की जरूरत थी. नवाज़ फिर से फ्री हिट वाली गेंद करने दौड़े और विराट को बोल्ड कर दिया. लेकिन गेंद स्टंप बिखेरने के बाद थर्ड मैन की दिशा में निकली. और इस बीच विराट-DK ने दौड़कर तीन रन ले लिए. अंपायर्स ने यह रन बाई के खाते में डाले. जिसको लेकर पाकिस्तानी टीम ने विरोध जताया. लेकिन अंपायर ने अपना फैसला बरकरार रखा.

# कोविड पॉजिटिव खिलाड़ी मैदान पर उतरीं

अब बात भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए कॉमनवेल्थ गेम्स के फाइनल मैच की करते हैं. इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने तालिया मैक्ग्रा को कोविड-19 पॉजिटिव होते हुए भी प्लेइंग इलेवन में चुन लिया. फाइनल मुकाबले से ठीक पहले वाली सुबह वो कोविड-19 पॉजिटिव पाई गई थी. लेकिन इसके बावजूद उन्हें मैच खेलने के लिए फिट घोषित कर दिया गया. उनकी वजह से ही मैच के लिए टॉस में भी देरी हुई.

मैक्ग्रा में कोविड-19 के हल्के लक्षण थे. जिसके बाद हेल्थ एक्सपर्ट्स, टीम और मैच अधिकारियों ने इस खिलाड़ी को मुकाबले में खेलने की परमिशन दे दी. मैक्ग्रा डगआउट में मास्क लगाकर बाकी खिलाड़ियों से दूर बैठी थीं. लेकिन जब मैदान पर उतरीं तो बिना मास्क के. इस दौरान उन्होंने जिस गेंद से बोलिंग की, उसका इस्तेमाल बाकी खिलाड़ियों ने भी किया. उन्होंने मैच के दौरान बैटिंग और बोलिंग दोनों की. फाइनल मुकाबले में भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा.

# DC vs RR No ball विवाद

अब आपको IPL 2022 में राजस्थान और दिल्ली के बीच हुए मुकाबले से जुड़े विवाद के बारे में बताते हैं. 22 अप्रैल, 2022 को DC और RR के बीच मैच आखिरी ओवर तक गया. दिल्ली की टीम 223 रन का टारगेट चेज कर रही थी. और उन्हें आखिरी ओवर में 36 रन चाहिए थे. ओबेद मैकॉय के इस ओवर की पहली तीन गेंद पर रोवमैन पॉवेल ने लगातार तीन छक्के जड़ दिए. हालांकि इस दौरान तीसरी गेंद को लेकर विवाद खड़ा हो गया. दिल्ली की टीम इस गेंद को नो बॉल बताने लगी. लेकिन अंपायर ने इसे लीगल डिलिवरी माना.

जिसके बाद काफी देर तक मैच रुका रहा. नौबत यहां तक की आ गई कि दिल्ली के कप्तान ऋषभ पंत खिलाड़ियों को मैदान से बाहर बुलाने लगे. जिसमें उनका साथ दिया शार्दुल ठाकुर ने. वहीं टीम के असिस्टेंट कोच प्रवीण आमरे अंपायर से बहस करने मैदान पर पहुंच गए. काफी देर तक ऐसे ही गर्मा गर्मी चलने के बाद मैच फिर से शुरू हुआ और राजस्थान ने इस मैच में जीत हासिल की. इस हरकत के लिए IPL ने प्रवीण आमरे और ऋषभ पंत पर 100 परसेंट मैच फीस का जुर्माना लगाया.

# ऑस्ट्रेलिया में अरेस्ट हुए Gunathilaka

ये बात तो बात मैदान के अंदर हुए विवादों की हुई. अब आपको मैदान के बाहर की कॉन्ट्रोवर्सी के बारे में बताते हैं. श्रीलंका के क्रिकेटर दनुष्का गुणातिलका के ऊपर 29 साल की युवती का यौन शोषण करने का आरोप लगा. गुणातिलका उनसे एक डेटिंग एप के जरिए मिले थे. आरोप लगने के बाद बाद वापस श्रीलंका लौटने से ठीक पहले 6 नवंबर को उन्हें सिडनी में टीम होटल से हिरासत में लिया गया. इसके बाद से वो 11 दिन तक सलाखों के पीछे रहे. 17 नवंबर को सिडनी की लोकल कोर्ट की तरफ से उन्हें सशर्त जमानत दे दी गई.

उन्हें पुलिस को डेली रिपोर्ट करने, शिकायतकर्ता से संपर्क नहीं करने और डेटिंग एप्लिकेशन यूज करने पर प्रतिबंध लगाते हुए कई शर्तों पर जमानत दी गई. गुणातिलका T20 World Cup 2022 के फर्स्ट राउंड में ही हैमस्ट्रिंग इंजरी के चलते बाहर हो गए थे. लेकिन टीम मैनेजेमेंट की तरफ से उन्हें ऑस्ट्रेलिया में ही रुकने को कहा गया था. आरोप सामने आने के बाद श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने उन्हें सस्पेंड कर दिया.

# Sandeep lamichhane रेप के आरोप में गिरफ्तार

गुणातिलका की तरह ही नेपाल क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान संदीप लामिछाने (Sandeep Lamichhane) भी रेप के आरोप लगा. जिसके बाद 6 अक्टूबर को लामिछाने को नेपाल पुलिस ने काठमांडू एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया. नेपाल के इस खिलाड़ी पर 17 साल की एक लड़की ने रेप का आरोप लगाया था. नेपाल में नागरिक के बालिग होने की उम्र 18 साल है, इसलिए संदीप लामिछाने पर नाबालिग के साथ बलात्कार का केस दर्ज हुआ.

लामिछाने के खिलाफ 8 सितंबर को नेपाल पुलिस ने अरेस्ट वॉरेंट जारी किया था. लेकिन इससे पहले ही लामिछाने अपना देश छोड़कर फरार हो गए थे. जिसके बाद नेपाल पुलिस ने उनको अरेस्ट करने के लिए इंटरपोल की मदद मांगी थी. हालांकि 6 अक्टूबर को फेसबुक पोस्ट के जरिए लामिछाने ने खुद ऐलान किया कि वो देश वापस लौट रहे हैं. लामिछाने इंडियन प्रीमियर लीग में जगह बनाने वाले नेपाल के पहले क्रिकेट खिलाड़ी भी बने थे. लामिछाने पर आरोप लगने के बाद नेपाल क्रिकेट बोर्ड ने उन्हें सस्पेंड कर दिया था.

वीडियो: कपिल देव, शेन वार्न... सबको पीछे छोड़ गए रवि अश्विन!