The Lallantop
Logo
लल्लनटॉप का चैनलJOINकरें

Flying Beast गौरव तनेजा को मिली चार साल की बेटी की हत्या की धमकी

इस महीने की शुरुआत में गौरव खबरों में आए थे, उन्होंने अपने फैन्स को मेट्रो में बर्थडे मनाने के लिए बुलाया था.

post-main-image
हाल ही में पुलिस ने गौरव तनेजा को गिरफ़्तार कर लिया था.

जाने-माने यूट्यूबर गौरव तनेजा (Gaurav Taneja) की 4 साल की बेटी को जान से मारने की धमकी मिली है. इस मामले में गौरव ने पुलिस में FIR दर्ज कराई है और उसका स्क्रीनशॉट अपने ट्विटर पर शेयर किया.

गौरव तनेजा एक पॉपुलर यूट्यूबर हैं. Flying Beast, Fit Muscle TV और Rasbhari Ke Papa नाम से यूट्यूब चैनल चलाते हैं. फिटनेस और डेली लाइफ़ से जुड़े वीडियो-ब्लॉग्स बनाते हैं. पुलिस के पास दायर FIR के मुताबिक़, हाल ही में उनके पास एक फ़ोन आया, जिसमें उनकी बेटी को जान से मारने की धमकी दी गई. गौरव ने दिल्ली पुलिस को सूचित किया. PCR पर धमकी की शिकायत दर्ज कराई.

गौरव ने शिकायत की कॉपी अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर की. दिल्ली पुलिस और होम मिनिस्ट्री को टैग भी किया है. ट्वीट के साथ लिखा है,

"हमारी 4 साल की बेटी को लेकर धमकी भरा कॉल आया है. इसकी शिकायत पुलिस में दर्ज करा दी गई है."

दिल्ली पुलिस के मुताबिक़, शिकायत मिलने के बाद इस मामले में कार्रवाई की जा रही है. साइबर सेल और ज़िला पुलिस की टीम इस मामले पर नज़र रखे हुए है.

कुछ दिन पहले धर लिए गए थे 'बीस्ट'

हाल ही में गौरव तनेजा एक दूसरे मुद्दे को लेकर चर्चा में थे. पुलिस ने उन्हें गिरफ़्तार कर लिया था. दरअसल, बीती 9 जुलाई को गौरव का बड्डे था और उन्होंने अपना बड्डे मनाने का एक अतरंगी तरीक़ा निकाला. अपने 200 फ़ैन्स के साथ मेट्रो के अंदर सेलिब्रेशन करने का ऐलान किया. चार डिब्बों में 50-50 फ़ैन्स.

फ़ैन्स को नोएडा सेक्टर-51 मेट्रो स्टेशन पर इकट्ठा होना था, लेकिन 200 से ज़्यादा लोग आ गए. तो प्लान में करना पड़ा चेंज. गौरव ने तत्काल प्लान ये बनाया कि मेट्रो स्टेशन के सामने ही जश्न होगा. वहीं केक काटेंगे. भीड़ बढ़ती जा रही थी. मेट्रो के सामने की सड़क ब्लॉक हो गई. फिर हंगामा हो गया. भगदड़ जैसी स्थिति बन गई. इसके बाद पुलिस आई और भगदड़ जैसी स्थिति बनाने के आरोप में गौरव को डिटेन कर लिया.

इस कथित सेलिब्रेशन का वीडियो बहुत वायरल हुआ था. तमाम तरह के मीम्स बने थे. अगले दिन, 10 जुलाई को पुलिस ने गौरव को छोड़ दिया. हालांकि, गौरव ने साफ़ किया कि उनके पास नोएडा मेट्रो कॉर्पोरेशन से परमिशन थी. ये  भी कहा कि नोएडा मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (NMRC) ने जन्मदिन और बाक़ी सेरिमनियों के लिए मेट्रो कोच बुक करने की स्कीम का ख़ूब प्रचार करती है और इसीलिए उन्होंने ऐसे सेलिब्रेशन का फ़ैसला किया था. कहा कि मेट्रो स्टेशन पर जमा हुए प्रशंसक न तो हिंसक थे और न ही उन्होंने कोई आपत्तिजनक नारेबाजी की. और, न ही किसी पब्लिक प्रॉपर्टी को नुक़सान पहुंचाया.

सोशल लिस्ट: राहुल गांधी के ट्विटर के चक्कर में भाजपा-कांग्रेस लड़ गए, खेल किसने किया?