Submit your post

Follow Us

गुजरात में कुतियाणा से लेडी डॉन संतोखबेन के बेटे थे कैंडीडेट

गुजरात के पोरबंदर की कुतियाणा सीट से विधायक बनने वाले कांधल जडेजा गिरफ्तार हो गए हैं. NCP के टिकट पर चुनाव जीते कांधल को विधायक बने 100 घंटे भी नहीं हुए थे और वो रानावाव पुलिस थाने पहुंच गए गर्मी दिखाने. 20 दिसंबर यानी बुधवार की सुबह इन्होंने थाने में तोड़फोड़ की, फिर देर रात पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार कर लिया. कांधल का विधायक होने से भी बड़ा परिचय ये है कि ये संतोखबेन के बेटे हैं. संतोखबेन कुख्यात डॉन थीं, जिन्हें ‘गॉडमदर’ कहा जाता था. कांधल जडेजा अपने दो भाइयों करन जडेजा और काना जडेजा के अलावा करीब एक दर्जन लोगों के साथ बुधवार सुबह करीब पांच बजे रानावाव पुलिस थाने में घुसे. ये सभी कांधल के राजनीतिक प्रतिद्वंदी समत गोगन को पीटना चाहते थे, जो कांधल के डर से थाने में छिपे थे. पुलिस के मुताबिक समत ने कांधल की इच्छा के खिलाफ निर्दलीय चुनाव लड़ने की कोशिश की थी. हालांकि, बाद में समत ने अपना नामांकन वापस ले लिया था, लेकिन बात वहां खत्म नहीं हुई. आगे क्या-क्या हुआ जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

इलेक्शन कवरेज

महाराष्ट्र की लातूर रूरल और कादेगांव विधानसभा सीट पर नोटा दूसरे नंबर पर रहा

हारने वाले के लिए तो ये और भी बेइज्ज़ती की बात हो गई है.

ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलिमीन AIMIM के लिए ये चुनाव कैसा रहा?

महाराष्ट्र के अलावा बिहार से भी खुशखबरी आई है ओवैसी के लिए.

BJP इन 5 लोगों को टिकट दे देती तो हरियाणा चुनाव नतीजे में इतनी छीछालेदर ना होती

धनतेरस तो असली यही लोग मना रहे होंगे. 5 तो बीजेपी के ही नेता थे.

बीजेपी के महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल का क्या हुआ?

इन्हें ही फडणवीस की जगह सीएम पद का चेहरा कहा जा रहा था.

पृथ्वीराज चव्हाण ने बीजेपी के अतुल सुरेश भोसले को 9,130 वोटों से हरा दिया

अपने गढ में भी बहुत मुश्किल से जीते पृथ्वीराज चव्हाण.

रितेश देशमुख के दो भाई अमित और धीरज देशमुख का क्या नतीजा रहा?

लातूर ज़िले से कांग्रेस के लिए अच्छी खबर आई है.

गुजरात उप चुनाव: राधनपुर सीट पर बीजेपी के अल्पेश ठाकोर को कांग्रेस ने हराया

पहले कांग्रेस के चुनाव से जीते थे, बीजेपी में आकर हार गए.

हरियाणा के पूर्व सीएम बंसी लाल के बेटे रणबीर महेंद्रा और बहू किरण चौधरी का क्या हुआ?

दो राज घराने मैदान में थे, रिज़ल्ट के बारे में जान लीजिए.

दी लल्लनटॉप शो

महाराष्ट्र: अजित पवार अगर यशवंतराव चव्हाण की कहानी सुनते तो शरद पवार से बग़ावत न करते

उद्धव ठाकरे, अजित पवार या सुप्रिया सुले: महाराष्ट्र के खेल में असली विजेता कौन?

महाराष्ट्र: देवेंद्र फडणवीस का इस्तीफा, सुप्रीम कोर्ट या अजित पवार किसने बढ़ाई मुश्किल?

पाकिस्तान आर्मी चीफ क़मर जावेद बाजवा के एक्सटेंशन पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक.

शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी का 162 विधायकों का दावा, फडणवीस कैसे सिद्ध करेंगे बहुमत?

ज्योतिरादित्य का ट्विटर बायो बदलने पर सरकार बदलने की बात क्यों चल पड़ी?

दी लल्लनटॉप शो: देवेंद्र फडणवीस के मु्ख्यमंत्री की शपथ लेने से पहले कांग्रेस-NCP में क्या बात चल रही थी? एपिसोड 351

देश से भागकर कहां गया स्वामी नित्यानंद?

इलेक्टोरल बॉन्ड को लेकर सरकार पर क्यों हमलावर है कांग्रेस? ।दी लल्लनटॉप शो। एपिसोड 350

सरकार ने इलेक्टोरल बॉन्ड पर आरबीआई और चुनाव आयोग की बात क्यों नहीं सुनी?

अमित शाह ने राज्यसभा में किए जम्मू-कश्मीर, NRC और नागरिकता संशोधन बिल पर बड़े दावे

क्या बीएचयू में मुस्लिम टीचर के पढ़ाने से संस्कृत ख़तरे में आ जाएगी?

फीस बढ़ोतरी का विरोध कर रहे JNU के छात्रों का दिल्ली पुलिस पर जबरन पिटाई करने का आरोप

जवानों की जान को खतरा है तो सियाचिन में फौज की तैनाती क्यों?

संसद मार्च निकालते JNU के छात्रों को दिल्ली पुलिस ने क्यों पीटा?|दी लल्लनटॉप शो

जेएनयू के प्रदर्शनकारी छात्रों की मांगें कितनी सही हैं?

पॉलिटिकल किस्से

बाबरी गिरने के बाद बीजेपी नेता कल्याण सिंह के तिहाड़ जेल का किस्सा, सीबीआई उनसे पूछताछ करना चाहती है

कल्याण सिंह ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री थे.

अमित शाह के खास स्वतंत्र देव सिंह की RSS से होते हुए यूपी बीजेपी चीफ बनने की कहानी

जानिए एक पत्रकार रहे कांग्रेस सिंह कैसे बने यूपी बीजेपी चीफ स्वतंत्र देव सिंह.

अटल के मंत्री जसवंत सिंह को परवेज मुशर्रफ ने कैसे धोखा दिया?

भारत के इस विदेश मंत्री पर अमेरिका का पिट्ठू होने का आरोप क्यों लगा?

नरेंद्र मोदी ने भारत रत्न से पहले प्रणब मुखर्जी से क्या अफसोस जताया?

भारत रत्न के ऐलान से पहले प्रणब मुखर्जी और नरेंद्र मोदी में ये बात हुई.

नरेंद्र मोदी के सरकारी बंगले की सुरंग कहां जाती है?

आखिरी में सुरंग का दूसरा दरवाजा भी खुल जाएगा.

राजीव और सोनिया के करीबी बूटा सिंह, जिनके कृपाण से चीफ मिनिस्टर्स डरते थे

वो नेता जो देश का राष्ट्रपति बनते-बनते रह गए.

कहानी MQM के अल्ताफ हुसैन की, जिसे सपोर्ट करने का आरोप भारत पर लगता था

पाकिस्तान की हुकुमत का एक ऐसा दुश्मन, जिससे पड़ोसी मुल्क के हुक्मरान सख्त नफरत करते हैं.

इंदिरा गांधी का वो मंत्री जिसने संजय गांधी को कहा- मैं तुम्हारी मां का मंत्री हूं

जिसे टॉर्चर किया गया, जिसके फेफड़े गल गए और जो ज़्यादा दिन ज़िंदा न रह सकी.