Submit your post

Follow Us

1857 में चली थी गोली, देखिए उस वक्त की तस्वीरें

89.06 K
शेयर्स

29 मार्च 1857 वो तारीख है, जिसने दुनिया के इतिहास को एक नया मोड़ दिया. इसी दिन बंगाल की बैरकपुर छावनी में एक गोली चली थी. मंगल पांडे ने अपनी एनफील्ड रायफल से सार्जेंट-मेजर ह्यूसन और लेफ्टिनेंट बाग़ की हत्या कर दी थी. 8 अप्रैल को मंगल पांडे फांसी पर चढ़ा दिए गए. लंबे समय तक ब्रिटिश सेना में बागी सिपाहियों को पांडे कह कर बुलाया जाने लगा था. भारत में फोटोग्राफी 1840 में शुरू हो गई थी. 1857 के हिंदुस्तान में कुछ फोटोग्राफर थे. इनमें से ज़्यादातर राजाओं और नवाबों की तस्वीरें खींचने के लिए रखे गए थे. क्रांति हुई तो इन लोगों ने भी कई तस्वीरें खींचीं. आइए देखते हैं उस दौर की कुछ घटनाएं और उनसे जुड़ी कुछ दुर्लभ तस्वीरें.

1853 में ब्रिटिश सेना ने पैटर्न एनफील्ड P-53 राइफल का इस्तेमाल शुरू किया. इनमें गोली नहीं, कार्टेज यानी कारतूस भरा जाता था. एक पैकेट में बारूद और छर्रे होते थे. दांत से इस पैकेट को खोलकर बारूद नली में भरकर, ऊपर से छर्रे डाल दिए जाते थे.

enfield rifal of 1857

उस दौर की गुरखा बटालियन

फोटो सोर्स- गन हिस्ट्री ऑफ इंडिया
फोटो सोर्स- गन हिस्ट्री ऑफ इंडिया

# 1885 में अवध के नवाब वाजिद अली शाह अपनी एक बेगम और बेटी के साथ. एक आम धारणा है कि अवध के नवाब और सेनाएं बहादुर नहीं थे. जबकि अवध अंग्रेज़ों के कब्ज़े में सबसे बाद में आ सका था. लखनऊ के नाचने-गाने वालों ने बेगमों के साथ मिलकर 18 महीने तक अंग्रेज़ों को शहर में घुसने नहीं दिया था.

फोटो विलियम वोल बायोग्राफिकल स्केच
फोटो- विलियम वोल बायोग्राफिकल स्केच

#  2000 विद्रोहियों की हत्या करने के बाद खंडहर हुए अवध के ही सिकंदर बाग की तस्वीर. ज़मीन पर पड़ी खोपड़ियों और कंकालों को देखिए.

फोटो- विकी
फोटो- विकी

# 1857 के गदर में दिल्ली में डेरा डाले हुए 34th सिख पायनियर के जवान. सिखों की ये रेजीमेंट अंग्रेज़ों की सबसे खास टुकड़ियों में से एक थी.

1857 real photo
सोर्स- डिफेंस फोरम इंडिया

# 1880 में पेशावर की ऐलीफेंट बैट्री. आज पेशावर शहर का नाम बड़ा पराया सा लगता है.

सोर्स- डिफेंस फोरम इंडिया
सोर्स- डिफेंस फोरम इंडिया

# 1858 में कलकत्ता में HMS शैनन पोत.

H.M.S. Shannon at Calcutta (Kolkata) - Mid 19th Century (between 1858 - 1861)
सोर्स- डिफेंस फोरम इंडिया

# जोधपुर के फैशनेबल महाराजा. राजपरिवार ने पोलो खेलने के लिए शेरवानी को मॉडिफाई करके बंद गले का कोट बनवाया. बंद गले को जोधपुरी भी कहा जाता है.

फोटोग्राफर- दीनदयाल
फोटोग्राफर- दीनदयाल

# अवध की मशहूर गाने वाली गौहर जान.

फोटो- तस्वीर जर्नल
फोटो- तस्वीर जर्नल

# 1900 से पहले के राजपूत योद्धा.

सोर्स- डिफेंस फोरम इंडिया
सोर्स- डिफेंस फोरम इंडिया

# 1857 में गदर के बाद दिल्ली का एक बाज़ार.

Group-of-Damaged-Buildings-in-Subzi-Mandi,-Delhi-during-Indian-Mutiny---1858

# जर्मन फोटोग्राफर की खींंची इस तस्वीर को इतिहासकार महारानी लक्ष्मीबाई की असली तस्वीर मानते हैं. उसे नहीं, जो आपने सोशल मीडिया पर देखी होगी.

सोर्स- ललित.इन
सोर्स- ललित.इन

# 1858 में तबाह हो गई लखनऊ रेज़ीडेंसी.

सोर्स- कोलंबिया एज्यूकेशन
सोर्स- कोलंबिया एजुकेशन

# आखिरी दिनों में मुगल बादशाह बहादुर शाह ज़फर अपने बेटों के साथ.

bahadur shah

# ब्रिटिश सेना के कब्ज़े में आने के बाद ये 1858 का कानपुर है.

सोर्स- नेश्नल आर्मी म्यूज़ियम, यूके
सोर्स- नेशनल आर्मी म्यूज़ियम, यूके

# सबसे आखिर में पकड़े गए विद्रोही तात्या टोपे की कैद में फोटो. हालांकि कुछ लोगों का मानना है कि तात्या के नाम पर किसी और को पकड़ लिया था.

Tantia_Tope

ये स्टोरी अन‍िमेष ने की है.

 

ये भी पढ़ें :

दिल्ली के इतिहास की सबसे खास तस्वीरें, जब कनॉट प्लेस माधौगंज हुआ करता था

दुनिया को हिला देने वाली तस्वीरों की लिस्ट जारी हुई है

देखिए मां बनने की ताकतवर और खूबसूरत तस्वीरें

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Rare photos related to 1857 mutiny

गंदी बात

साइकल, पौरुष और स्त्रीत्व

एक तस्वीर बड़े दिनों से वायरल है. जिसमें साइकल दिख रही है. इस साइकल का इतिहास और भूगोल क्या है?

महिलाओं का सम्मान न करने वाली पार्टियों में आखिर हम किसको चुनें?

बीजेपी हो या कांग्रेस, कैंडिडेट लिस्ट में 15 फीसद महिलाएं भी नहीं दिख रहीं.

लोकसभा चुनाव 2019: पॉलिटिक्स बाद में, पहले महिला नेताओं की 'इज्जत' का तमाशा बनाते हैं!

चुनाव एक युद्ध है. जिसकी कैजुअल्टी औरतें हैं.

सर्फ एक्सेल के ऐड में रंग फेंक रहे बच्चे हमारे हैं, इन्हें बचा लीजिए

इन्हें दूसरों की कद्र न करने वाले हिंसक लोगों में तब्दील न होने दीजिए.

अपने गांव की बोली बोलने में शर्म क्यों आती है आपको?

ये पोस्ट दूर-दराज गांव से आए स्टूडेंट्स जो डीयू या दूसरी यूनिवर्सिटी में पढ़ रहे हैं, उनके लिए है.

बच्चे के ट्रांसजेंडर होने का पता चलने पर मां ने खुशी क्यों मनाई?

आप में से तमाम लोग सोच सकते हैं कि इसमें खुश होने की क्या बात है.

'मैं तुम्हारे भद्दे मैसेज लीक कर रही हूं, तुम्हें रेपिस्ट बनने से बचा रही हूं'

तुमने सोच कैसे लिया तुम पकड़े नहीं जाओगे?

औरत अपनी उम्र बताए तो शर्म से समाज झेंपता है वो औरत नहीं

किसी औरत से उसकी उम्र पूछना उसका अपमान नहीं होता है.

आपको भी डर लगता है कि कोई लड़की फर्जी आरोप में आपको #MeToo में न लपेट ले?

तो ये पढ़िए, काम आएगा.

#MeToo मूवमेंट इतिहास की सबसे बढ़िया चीज है, मगर इसके कानूनी मायने क्या हैं?

अपने साथ हुए यौन शोषण के बारे में समाज की आंखों में आंखें डालकर कहा जा रहा है, ये देखना सुखद है.

सौरभ से सवाल

दिव्या भारती की मौत कैसे हुई?

खिड़की पर बैठी दिव्या ने लिविंग रूम की तरफ मुड़कर देखा. और अपना एक हाथ खिड़की की चौखट को मजबूती से पकड़ने के लिए बढ़ाया.

कहां है 'सिर्फ तुम' की हीरोइन प्रिया गिल, जिसने स्वेटर पर दीपक बनाकर संजय कपूर को भेजा था?

'सिर्फ तुम' के बाद क्या-क्या किया उन्होंने?

बॉलीवुड में सबसे बड़ा खान कौन है?

सबसे बड़े खान का नाम सुनकर आपका फिल्मी ज्ञान जमीन पर लोटने लगेगा. और जो झटका लगेगा तो हमेशा के लिए बुद्धि खुल जाएगी आपकी.

'कसौटी ज़िंदगी की' वाली प्रेरणा, जो अनुराग और मिस्टर बजाज से बार-बार शादी करती रही

कहां है टेलीविज़न का वो आइकॉनिक किरदार निभाने वाली ऐक्ट्रेस श्वेता तिवारी?

एक्ट्रेस मंदाकिनी आज की डेट में कहां हैं?

मंदाकिनी जिन्हें 99 फीसदी भारतीय सिर्फ दो वजहों से याद करते हैं

सर, मेरा सवाल है कि एक्ट्रेस मीनाक्षी शेषाद्री आजकल कहां हैं. काफी सालों से उनका कोई पता नहीं.

‘दामिनी’ के जरिए नई ऊंचाई तक पहुंचा मीनाक्षी का करियर . फिर घातक के बाद 1996 में उन्होंने मुंबई फिल्म इंडस्ट्री को बाय बोल दिया.

ये KRK कौन है. हमेशा सुर्खियों में क्यों रहता है?

केआरके इंटरनेट एज का ऐसा प्रॉडक्ट हैं, जो हर दिन कुछ ऐसा नया गंधाता करना रचना चाहता है.

एक्ट्रेस किमी काटकर अब कहां हैं?

एडवेंचर ऑफ टॉर्जन की हिरोइन किमी काटकर अब ऑस्ट्रेलिया में हैं. सीधी सादी लाइफ बिना किसी एडवेंचर के

चाय बनाने को 'जैसे पापात्माओं को नर्क में उबाला जा रहा हो' कौन सी कहानी में कहा है?

बहुत समय पहले से बहुत समय बाद की बात है. इलाहाबाद में थे. जेब में थे रुपये 20. खरीदी हंस...

सर आजकल मुझे अजीब सा फील होता है क्या करूं?

खुड्डी पर बैठा था. ऊपर से हेलिकॉप्टर निकला. मुझे लगा. बाबा ने बांस गहरे बोए होते तो ऊंचे उगते.