Submit your post

Follow Us

किस्मत में था, किसी और के प्यार की वजह से बन गईं एलिजाबेथ ब्रिटेन की महारानी

1947 का साल था. दुनिया बदल गई थी. ब्रिटिश राज का सूरज अस्त हुआ था. क्राउन ज्वेल हिंदुस्तान अब अपने पैरों पर खड़ा हो रहा था. अमेरिका तय कर रहा था कि कौन सा देश किससे बात करेगा. एक शर्माये हुए छोटे भाई की तरह ब्रिटेन हर बात में हां कह देता था. हिज मजेस्टी इस चीज को झेलने के लिए ज्यादा दिन तक धरती पर नहीं रुके. 4-5 साल के अंदर उन्होंने दुनिया छोड़ दी.

25 साल की लड़की को नेटफ्लिक्स ने नोटिस किया जब वो 90 की हो गई!

25 साल की लड़की एलिजाबेथ बनी महारानी. ब्रिटेन ही नहीं, पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा समेत सारे कॉमनवेल्थ मुल्कों की. भारत ने तो पहले ही मना कर दिया था ब्रिटेन के राज को मानने से. महारानी को भी कोई अफसोस नहीं था. क्योंकि खुद महारानी की जिंदगी बदल गई थी. अब वो एक बेखौफ लड़की नहीं रही थीं, जो कहीं चली जाती, घूम लेती. किसी को भर नजर देख सकती. अब उन पर दबाव आ गया था. एक खास तरीके से रहने का. बोलने का. उठने-बैठने का.

queen1

धीरे-धीरे दुनिया आपस में मशगूल होती गई. राजे-महाराजाओं की तस्वीर धुंधली पड़ती गई. किताबों का हिस्सा बन गए. यदा-कदा लोग इतिहास में झांक लेते जब लोकतंत्र के चर्चों से उब जाते. पर महारानी बनी रहीं. और दुनिया को अहसास कराती रहीं कि एक परंपरा अभी बाकी है. सम्मान की परंपरा. अब पता नहीं कि सही है या गलत. पर वो एक ऐसे युग का प्रतिनिधित्व कर रही थीं जो लोगों की नजरों से बाहर हो गया था.

महारानी को लोगों ने देखा. हर जगह उनकी उपस्थिति महसूस की गई. पर नहीं देखा तो उनका मन, उनका जीवन. कि कैसे एक 25 साल की लड़की महारानी में तब्दील हो गई. कैसे एक परंपरा को ढोना पड़ा. लोग भूल गए कि उस लड़की के मन में भी स्ट्रगल हुआ होगा. अपने आप को लेकर. लोगों को लेकर. षड़यंत्रों को लेकर. अपने भविष्य को लेकर. धीरे-धीरे महारानी को याद किया जाता रहा उनके जन्मदिन पर. अचानक 80 की हो गईं, 90 की हो गईं. बीच में लोग बस राजकुमार-राजकुमारियों के बारे में ही पता करते रहते.

queen


पर नेटफ्लिक्स ने अब जा के इस चीज को महसूस किया है. नई सीरीज लांच की है- The Crown. इसमें वो महारानी के जीवन के शुरूआती दौर को दिखाएंगे. पहला एपिसोड आ भी चुका है. 64 साल से महारानी हैं, इतना तो बनता ही है. 100 मिलियन डॉलर खर्च हुआ है. कपड़े, गहने, घोड़े, पेंटिंग सब उस दौर की बनाई गई हैं. एक ही डर है कि राजघराना कभी अपने बारे में सही खबरें नहीं बताता. तो कितना बताएंगे पता नहीं.


किसी के प्यार की खातिर गद्दी मिली एलिजा को, किस्मत प्रचंड थी

1952 में हिज मैजेस्टी जॉर्ज VI की मौत हो गई थी. तो उनके बाद एलिजाबेथ को गद्दी दी गई. उसके 5 साल पहले प्रिंस फिलिप से शादी हुई थी. एलिजा की. लंबे रोमांस के बाद. 1953 में सार्वजनिक रूप से एलिजा को क्राउन मिला. पर इसके बाद शुरू हुआ मुश्किलों का दौर.

खुद तो एलिजा ने अपनी मर्जी से शादी की थी. क्योंकि उस वक्त वो स्वतंत्र थीं. पर महारानी बनने के बाद अपनी छोटी बहन प्रिंसेस मार्गरेट को 1955 में अपनी मर्जी से शादी करने से रोक दिया था. क्योंकि वो एक डिवोर्स्ड आदमी से शादी कर रही थीं. ये सही था या गलत. नहीं जानते. क्योंकि ये चीज वक्त के हिसाब से तय होती हैं. बाद में प्रिंस चार्ल्स ने अपनी मर्जी से डायना से शादी की ही. एक बार मार्गरेट की ही सेक्स की तस्वीरों को लेकर स्कैंडल भी हुआ था. तो मुद्दे बहुत जटिल होते हैं. सारी बातें सबको पता नहीं चल पातीं.

queen margaret
एलिजा और मार्गरेट

1926 में जब जॉर्ज V के दूसरे बेटे की तीसरी बेटी हुई तो यही माना गया कि उत्तराधिकार संभालने में तो ये बहुत नीचे रहेगी. मतलब कोई संयोग ही नहीं बनता था. पर संयोग बना और यही एलिजा महारानी बनीं. 1930 में छोटी बहन का जन्म हुआ था.

एलिजा की जिंदगी महारानियों वाली नहीं थी. सुख थे सारे. पर पालन-पोषण साधारण था. किसी के भी बच्चों के साथ खेलना. कोई प्रतिबंध नहीं था. अपने दादा महाराज को ग्रैंडपा इंग्लैंड कह के बुलाती थीं. पर एलिजा एक चीज अलग करती थीं. सीखने की बहुत चाह थी उनमें. राजघराने के लोगों में ये चीज नहीं थी उस वक्त. वो जो था, उसी में मशगूल रहते थे. हिस्ट्री, लिटरेचर सब पढ़ा एलिजा ने पर पढ़ाई ढ़ंग से नहीं हुई.

queen-elizabeth-ii-02a
एलिजा

तभी एक वाकया हुआ. एलिजा के अंकल ने राजगद्दी छोड़ दी. किंग एडवर्ड VII ने अपने प्यार एक अमेरिकी लड़की वालिस सिंपसन के लिए गद्दी छोड़ दी. वालिस शादी-शुदा थी. और महाराज से प्यार करने के लिए तलाक दे दिया अपने पति को. तो तलाकशुदा लड़की से शादी करने के लिए महाराज को राजघराने ने मना कर दिया. महाराज ने राजघराने को मना कर दिया.


तो अब एलिजा के पिता को गद्दी मिल गई. उस वक्त वो दस साल की थीं. उनको एक सैनिक ने बताया कि तुम्हारे पप्पा अब राजा बन गये हैं. एलिजा को समझ में नहीं आया. पर इनकी मम्मी को समझ में आ गया था. उन्होंने एलिजा के लिए ट्यूशन रख दिया. घर पर ही सब चीजों की पढ़ाई होने लगी. भविष्य के लिए तैयारी होने लगी. पढ़ाई इसलिए भी नहीं हो पाई क्योंकि दूसरा विश्व-युद्ध शुरू हो गया. महारानी अपनी बेटिय़ों को सुरक्षित रखना चाहती थीं.

queen2
एलिजा

बेटियों को ब्रिटिश गवर्नमेंट ने प्रोपेगैंडा का हथियार बना लिया. हर जगह कहा जाने लगा कि लड़ाई के चलते इन लड़कियों को बंकर में सोना पड़ रहा है. दिक्कतें हो रही हैं. तो इससे जनता के मन में और भावनाएं बढ़तीं. आखिर अब इनको उत्तराधिकारी नजर आ रहा था इन लड़कियों में.

उसी वक्त एलिजा मिलीं प्रिंस फिलिप से. पर एलिजा के डैड को फिलिप पसंद नहीं थे. क्योंकि उनकी नजर में फिलिप के पास कोई मैनर ही नहीं था. इसकी एक और वजह थी. फिलिप किसी तरह से जर्मनी से जुड़े थे. तो ये चीज उस वक्त पाप-कर्म मानी जाती थी. पर वो वक्त भी आया कि एलिजा और फिलिप की शादी हुई. फिर एलिजा महारानी भी बनीं. और अब उनके जीवन पर वेब सीरीज आ रही है. तो देखा जाएगा कि ये लोग कितना सच दिखा पाते हैं. क्योंकि अगर सच नहीं दिखाया तो महारानी का रोजाना का पब्लिक जीवन तो बोरिंग ही है.


राजकुमारी डायना को किसने मारा: 8 दिमागफाड़ थ्योरीज

गिनीज बुक में दर्ज था भारत की सबसे मॉडर्न महारानी का नाम

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गंदी बात

बहू-ससुर, भाभी-देवर, पड़ोसन: सिंगल स्क्रीन से फोन की स्क्रीन तक कैसे पहुंचीं एडल्ट फ़िल्में

जिन फिल्मों को परिवार के साथ नहीं देख सकते, वो हमारे बारे में क्या बताती हैं?

चरमसुख, चरमोत्कर्ष, ऑर्गैज़म: तेजस्वी सूर्या की बात पर हंगामा है क्यों बरपा?

या इलाही ये माजरा क्या है?

राष्ट्रपति का चुनाव लड़ रहे शख्स से बच्चे ने पूछा- मैं सबको कैसे बताऊं कि मैं गे हूं?

जवाब दिल जीत लेगा.

'इस्मत आपा वाला हफ्ता' शुरू हो गया, पहली कहानी पढ़िए लिहाफ

उस अंधेरे में बेगम जान का लिहाफ ऐसे हिलता था, जैसे उसमें हाथी बंद हो.

PubG वाले हैं क्या?

जबसे वीडियो गेम्स आए हैं, तबसे ही वे पॉपुलर कल्चर का हिस्सा रहे हैं. ये सोचते हुए डर लगता है कि जो पीढ़ी आज बड़ी हो रही है, उसके नास्टैल्जिया का हिस्सा पबजी होगा.

बायां हाथ 'उल्टा' ही क्यों हैं, 'सीधा' क्यों नहीं?

मां-बाप और टीचर बच्चों को पीट-पीट दाहिने हाथ से काम लेने के लिए मजबूर करते हैं. क्यों?

फेसबुक पर हनीमून की तस्वीरें लगाने वाली लड़की और घर के नाम से पुकारने वाली आंटियां

और बिना बैकग्राउंड देखे सेल्फी खींचकर लगाने वाली अन्य औरतें.

'अगर लड़की शराब पी सकती है, तो किसी भी लड़के के साथ सो सकती है'

पढ़िए फिल्म 'पिंक' से दर्जन भर धांसू डायलॉग.

मुनासिर ने प्रीति को छह बार चाकू भोंककर क्यों मारा?

ऐसा क्या हुआ, कि सरे राह दौड़ा-दौड़ाकर उसकी हत्या की?

हिमा दास, आदि

खचाखच भरे स्टेडियम में भागने वाली लड़कियां जो जीवित हैं और जो मर गईं.

सौरभ से सवाल

दिव्या भारती की मौत कैसे हुई?

खिड़की पर बैठी दिव्या ने लिविंग रूम की तरफ मुड़कर देखा. और अपना एक हाथ खिड़की की चौखट को मजबूती से पकड़ने के लिए बढ़ाया.

कहां है 'सिर्फ तुम' की हीरोइन प्रिया गिल, जिसने स्वेटर पर दीपक बनाकर संजय कपूर को भेजा था?

'सिर्फ तुम' के बाद क्या-क्या किया उन्होंने?

बॉलीवुड में सबसे बड़ा खान कौन है?

सबसे बड़े खान का नाम सुनकर आपका फिल्मी ज्ञान जमीन पर लोटने लगेगा. और जो झटका लगेगा तो हमेशा के लिए बुद्धि खुल जाएगी आपकी.

'कसौटी ज़िंदगी की' वाली प्रेरणा, जो अनुराग और मिस्टर बजाज से बार-बार शादी करती रही

कहां है टेलीविज़न का वो आइकॉनिक किरदार निभाने वाली ऐक्ट्रेस श्वेता तिवारी?

एक्ट्रेस मंदाकिनी आज की डेट में कहां हैं?

मंदाकिनी जिन्हें 99 फीसदी भारतीय सिर्फ दो वजहों से याद करते हैं

सर, मेरा सवाल है कि एक्ट्रेस मीनाक्षी शेषाद्री आजकल कहां हैं. काफी सालों से उनका कोई पता नहीं.

‘दामिनी’ के जरिए नई ऊंचाई तक पहुंचा मीनाक्षी का करियर . फिर घातक के बाद 1996 में उन्होंने मुंबई फिल्म इंडस्ट्री को बाय बोल दिया.

ये KRK कौन है. हमेशा सुर्खियों में क्यों रहता है?

केआरके इंटरनेट एज का ऐसा प्रॉडक्ट हैं, जो हर दिन कुछ ऐसा नया गंधाता करना रचना चाहता है.

एक्ट्रेस किमी काटकर अब कहां हैं?

एडवेंचर ऑफ टॉर्जन की हिरोइन किमी काटकर अब ऑस्ट्रेलिया में हैं. सीधी सादी लाइफ बिना किसी एडवेंचर के

चाय बनाने को 'जैसे पापात्माओं को नर्क में उबाला जा रहा हो' कौन सी कहानी में कहा है?

बहुत समय पहले से बहुत समय बाद की बात है. इलाहाबाद में थे. जेब में थे रुपये 20. खरीदी हंस...

सर आजकल मुझे अजीब सा फील होता है क्या करूं?

खुड्डी पर बैठा था. ऊपर से हेलिकॉप्टर निकला. मुझे लगा. बाबा ने बांस गहरे बोए होते तो ऊंचे उगते.