Submit your post

Follow Us

वीडियो

निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में कहा- कांग्रेस किसानों को गुमराह कर रही है!

लोकसभा में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2021 पर जवाब देना शुरू किया. इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर  निशाना भी साधा. कृषि कानूनों का जिक्र करते हुए उन्होंने राहुल गांधी और कांग्रेस को जवाब दिया. कहा कि कांग्रेस किसानों को गुमराह कर रही है. कृषि कानूनों में कांग्रेस कोई भी ख़ामी नहीं निकाल सकी है. उन्होंने पूछा कि कांग्रेस क्यों पहले कृषि कानूनों का समर्थन करती थी और अब बदल गई? देखिए वीडियो.

निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में कहा- कांग्रेस किसानों को गुमराह कर रही है!

लोकसभा में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2021 पर जवाब देना शुरू किया. इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर  निशाना भी साधा. कृषि कानूनों का जिक्र करते हुए उन्होंने राहुल गांधी और कांग्रेस को जवाब दिया. कहा कि कांग्रेस किसानों को गुमराह कर रही है. कृषि कानूनों में कांग्रेस कोई भी ख़ामी नहीं निकाल सकी है. उन्होंने पूछा कि कांग्रेस क्यों पहले कृषि कानूनों का समर्थन करती थी और अब बदल गई? देखिए वीडियो.

वीडियो

अर्थात: क्या सरकार अपने घाटे की भरपाई के लिए बैंक में जमा आपकी सेविंग्स का इस्तेमाल कर रही?

अर्थात. दी लल्लनटॉप की स्पेशल वीकली सीरीज. जिसमें हम बात करते हैं देश की अर्थव्यवस्था के बारे में. हमारे साथ होते हैं इंडिया टुडे हिंदी के एडिटर अंशुमान तिवारी. इस हफ्ते के अर्थात में हम बात करेंगे- – मंदी खत्म होने के बाद भी बेकारी दूर नहीं होगी! – बजट 2021 में निर्मला सीतारमण ने मंदी को लेकर क्यों कुछ ऐलान नहीं किया? – 2020-21 में सरकार छोटे बचत फंड के तहत 5 लाख करोड़ की उधारी करने जा रही! पिछले हफ्ते का अर्थात देखने के लिए यहां क्लिक करें.      

अर्थात: क्या सरकार अपने घाटे की भरपाई के लिए बैंक में जमा आपकी सेविंग्स का इस्तेमाल कर रही?

अर्थात. दी लल्लनटॉप की स्पेशल वीकली सीरीज. जिसमें हम बात करते हैं देश की अर्थव्यवस्था के बारे में. हमारे साथ होते हैं इंडिया टुडे हिंदी के एडिटर अंशुमान तिवारी. इस हफ्ते के अर्थात में हम बात करेंगे- – मंदी खत्म होने के बाद भी बेकारी दूर नहीं होगी! – बजट 2021 में निर्मला सीतारमण ने मंदी को लेकर क्यों कुछ ऐलान नहीं किया? – 2020-21 में सरकार छोटे बचत फंड के तहत 5 लाख करोड़ की उधारी करने जा रही! पिछले हफ्ते का अर्थात देखने के लिए यहां क्लिक करें.      
वीडियो

बजट 2021 को लेकर आम महिलाओंकी क्या चिंताएं और शिकायतें हैं, जानिए

1 फरवरी. साल 2021 का बजट पेश हुआ. देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया क्या होंगे बही-खाते के खर्चे और उसमें जनता के चर्चे. अब इस बजट में कई बातें हुईं, लेकिन हमने सोचा बात की जाए महिलाओं से. कमासुत औरतें, कॉलेज जाने वाली स्टूडेंट्स, घर पर काम और बच्चे दोनों संभालतीं मम्मियां, हम और आप जैसी महिलाएं. इस बजट से क्या थीं उनकी उम्मीदें, और क्या बदलाव वो चाहती हैं, इन सब पर हमने बातचीत की. आप तक हम उनका नज़रिया पहुंचा रहे हैं. देखिए वीडियो.

 

बजट 2021 को लेकर आम महिलाओंकी क्या चिंताएं और शिकायतें हैं, जानिए

1 फरवरी. साल 2021 का बजट पेश हुआ. देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया क्या होंगे बही-खाते के खर्चे और उसमें जनता के चर्चे. अब इस बजट में कई बातें हुईं, लेकिन हमने सोचा बात की जाए महिलाओं से. कमासुत औरतें, कॉलेज जाने वाली स्टूडेंट्स, घर पर काम और बच्चे दोनों संभालतीं मम्मियां, हम और आप जैसी महिलाएं. इस बजट से क्या थीं उनकी उम्मीदें, और क्या बदलाव वो चाहती हैं, इन सब पर हमने बातचीत की. आप तक हम उनका नज़रिया पहुंचा रहे हैं. देखिए वीडियो.

 
वीडियो

बजट 2021: वित्त मंत्री ने EPF के ब्याज पर टैक्स लगाने को लेकर क्या कहा?

वित्त वर्ष 2021-22 का बजट पेश करते हुए निर्मला सीतारमण ने 1 फ़रवरी, 2021 को कहा था कि जो खाताधारक साल में ढाई लाख रुपये से ज्यादा PF जमा करते हैं, उनके PF पर मिलने वाला ब्याज टैक्सेबल होगा. यानी अगर एक साल में आपके PF अकाउंट में 2 लाख 49 हज़ार रुपये जमा हो रहे हैं तो उस पर मिल रहा ब्याज टैक्स से मुक्त होगा. लेकिन जैसे ही PF योगदान 2 लाख 51 हज़ार रुपये हो जाता है तो उस पर बनने वाले ब्याज पर टैक्स देना होगा.अब पूरे मामले पर सफ़ाई दी है. देखिए वीडियो.      

बजट 2021: वित्त मंत्री ने EPF के ब्याज पर टैक्स लगाने को लेकर क्या कहा?

वित्त वर्ष 2021-22 का बजट पेश करते हुए निर्मला सीतारमण ने 1 फ़रवरी, 2021 को कहा था कि जो खाताधारक साल में ढाई लाख रुपये से ज्यादा PF जमा करते हैं, उनके PF पर मिलने वाला ब्याज टैक्सेबल होगा. यानी अगर एक साल में आपके PF अकाउंट में 2 लाख 49 हज़ार रुपये जमा हो रहे हैं तो उस पर मिल रहा ब्याज टैक्स से मुक्त होगा. लेकिन जैसे ही PF योगदान 2 लाख 51 हज़ार रुपये हो जाता है तो उस पर बनने वाले ब्याज पर टैक्स देना होगा.अब पूरे मामले पर सफ़ाई दी है. देखिए वीडियो.      
भैरंट

इंवेस्टर्स की दुआओं से लगेंगे हर बरस मेले, स्टार्ट-अप करने वालों का यही आख़िर रिज़ॉर्ट होगा

अंतिम भाग: स्टार्टअप से जुड़ी वो बातें जो वित्त वर्ष 2021-22 में बदल जाएंगी

इंवेस्टर्स की दुआओं से लगेंगे हर बरस मेले, स्टार्ट-अप करने वालों का यही आख़िर रिज़ॉर्ट होगा

पहले एपिसोड में हमने स्टार्टअप के बेसिक्स के बारे में समझा. हमने समझा कि स्टार्ट-अप क्या होता है, हम अपने किरदार लल्लन बिष्ट से मिले, जो स्टार्टअप खोलने की चाह रखता है. हमने स्टार्टअप से जुड़े कुछ ज़रूरी टर्म्स समझे. जैसे: ‘प्रोटोटाइप’, ‘इनक्यूबेटर फर्म’, ‘बूटस्ट्रैपिंग और सीड फ़ंडिंग’. यदि आपने वो पहला पार्ट नहीं पढ़ा … और पढ़ें इंवेस्टर्स की दुआओं से लगेंगे हर बरस मेले, स्टार्ट-अप करने वालों का यही आख़िर रिज़ॉर्ट होगा

भैरंट

बजट 2021-22 के बाद, नैनीताल वाले बिष्ट जी ऐसे खोल सकते हैं अपना स्टार्टअप

भाग 1: स्टार्टअप से जुड़ी कुछ बेसिक बातें, जो चीख-चीख कर कहेंगी, 'तू बियर है!'

बजट 2021-22 के बाद, नैनीताल वाले बिष्ट जी ऐसे खोल सकते हैं अपना स्टार्टअप

बजट 2021-22 के अपने भाषण में वित्त मंत्री ने स्टार्ट-अप को लेकर कहा कि सरकार ‘वन पर्सन कंपनियां’ (OPC) स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित करेगी जो स्टार्ट-अप और इनोवेटर्स को सीधे लाभ पहुंचाएगी. साथ ही स्टार्ट-अप से जुड़ी एक और घोषणा करते हुए निर्मला सीतारमण ने कहा कि देश में स्टार्ट-अप्स को प्रोत्साहित करने के … और पढ़ें बजट 2021-22 के बाद, नैनीताल वाले बिष्ट जी ऐसे खोल सकते हैं अपना स्टार्टअप

न्यूज़

ये कौन से लोग हैं जिनके पीएफ अकाउंट में सैकड़ों करोड़ रुपए हैं?

इनके चक्कर में आपको भी PF के ब्याज पर टैक्स देना पड़ सकता है.

ये कौन से लोग हैं जिनके पीएफ अकाउंट में सैकड़ों करोड़ रुपए हैं?

सरकार ने अपने बजट में तय किया था कि आने वाले वित्त वर्ष से उन प्रॉविडेंट फंड (PF) खाताधारकों के पीएफ पर मिलने वाला ब्याज टैक्सेबल होगा, जो साल में ढाई लाख रुपये से ज्यादा का PF जमा करते हैं. इसे लेकर कई जगह से आई विरोध की आवाजों के बाद अब वित्त मंत्रालय ने पूरे मामले पर सफ़ाई … और पढ़ें ये कौन से लोग हैं जिनके पीएफ अकाउंट में सैकड़ों करोड़ रुपए हैं?

वीडियो

खर्चा-पानी: LIC का IPO निकालने के फ़ैसले के साथ सरकार अपनी स्कीम्स क्यों बंद करना चाह रही?

खर्चा-पानी. लल्लनटॉप का डेली इकोनॉमिक शो जिसमें हम बात करते हैं रोज़ की आर्थिक सुर्ख़ियों के बारे में. वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने जब से LIC के IPO की घोषणा की है तभी से इसके कस्टमर्स चिंतित हैं. लेकिन इसके साथ ही सरकार कुछ केंद्र सरकार द्वारा फंडेड स्कीम्स को बंद करने का भी सोच रही है. क्या हैं वो स्कीम्स और इससे LIC के कस्टमर्स और आम लोगों पर क्या असर पड़ेगा, जानेंगे तसल्ली से खर्चा-पानी के इस एपिसोड में. देखिए वीडियो.

खर्चा-पानी: LIC का IPO निकालने के फ़ैसले के साथ सरकार अपनी स्कीम्स क्यों बंद करना चाह रही?

खर्चा-पानी. लल्लनटॉप का डेली इकोनॉमिक शो जिसमें हम बात करते हैं रोज़ की आर्थिक सुर्ख़ियों के बारे में. वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने जब से LIC के IPO की घोषणा की है तभी से इसके कस्टमर्स चिंतित हैं. लेकिन इसके साथ ही सरकार कुछ केंद्र सरकार द्वारा फंडेड स्कीम्स को बंद करने का भी सोच रही है. क्या हैं वो स्कीम्स और इससे LIC के कस्टमर्स और आम लोगों पर क्या असर पड़ेगा, जानेंगे तसल्ली से खर्चा-पानी के इस एपिसोड में. देखिए वीडियो.

वीडियो

बजट 2021: बीमा सेक्टर में FDI बढ़ाने से क्या हासिल होगा?

अपने बजट भाषण में केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने घोषणा की कि इंश्योरेंस सेक्टर के FDI की सीमा बढाकर 74 प्रतिशत की जा सकती है. साथ ही उन्होंने LIC के IPO का भी ऐलान कर दिया था. इस रिपोर्ट में हम आपको बताएँगे कि LIC में विदेशी कंपनियों के आने से आपको क्या नफ़ा-नुकसान होगा. देखिए वीडियो.

बजट 2021: बीमा सेक्टर में FDI बढ़ाने से क्या हासिल होगा?

अपने बजट भाषण में केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने घोषणा की कि इंश्योरेंस सेक्टर के FDI की सीमा बढाकर 74 प्रतिशत की जा सकती है. साथ ही उन्होंने LIC के IPO का भी ऐलान कर दिया था. इस रिपोर्ट में हम आपको बताएँगे कि LIC में विदेशी कंपनियों के आने से आपको क्या नफ़ा-नुकसान होगा. देखिए वीडियो.

वीडियो

बजट 2021: सस्ते और किफायती घर खरीदना चाहते हैं, तो ये बातें जान लें

एक फरवरी को निर्मला सीतारमण ने बजट पेश किया. सड़क, बिजली, पानी, स्वास्थ्, कृषि, शिक्षा जैसे तमाम सेक्टर्स को सौगात दी. इस बीच घर खरीदने को लेकर भी काफी कुछ ऐलान किया. साल 2019 के बजट में सरकार ने 1.5 लाख की अतिरिक्त छूट का फैसला किया था. अब इस 1.5 लाख की छूट को 31 मार्च 2022 तक के  लिए गए लोन पर बरकरार रखा है. यानी इस तारीख तक अगर आप किफायती घर खरीदने के लिए लोन लेते हैं, तो आपको 1.5 लाख की अतिरिक्त छूट का लाभ मिलेगा. लोगों के मन में सवाल भी उठे क्या उनको सस्ता घर मिल पाएगा या नहीं? इस बारे में जानकारी के लिए हमने कई जानकारों से बात की. उनकी राय जानी. उन लोगों ने क्या बताया, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.

 

बजट 2021: सस्ते और किफायती घर खरीदना चाहते हैं, तो ये बातें जान लें

एक फरवरी को निर्मला सीतारमण ने बजट पेश किया. सड़क, बिजली, पानी, स्वास्थ्, कृषि, शिक्षा जैसे तमाम सेक्टर्स को सौगात दी. इस बीच घर खरीदने को लेकर भी काफी कुछ ऐलान किया. साल 2019 के बजट में सरकार ने 1.5 लाख की अतिरिक्त छूट का फैसला किया था. अब इस 1.5 लाख की छूट को 31 मार्च 2022 तक के  लिए गए लोन पर बरकरार रखा है. यानी इस तारीख तक अगर आप किफायती घर खरीदने के लिए लोन लेते हैं, तो आपको 1.5 लाख की अतिरिक्त छूट का लाभ मिलेगा. लोगों के मन में सवाल भी उठे क्या उनको सस्ता घर मिल पाएगा या नहीं? इस बारे में जानकारी के लिए हमने कई जानकारों से बात की. उनकी राय जानी. उन लोगों ने क्या बताया, जानने के लिए देखिए ये वीडियो.