Submit your post

Follow Us

रेखा शर्मा को 'गोबर खाकर पैदा हुई' कहा था, अब इतनी FIR हुईं कि अक्ल ठिकाने आ जाएगी

धर्म विशेष के खिलाफ भड़काऊ और धमकी भरी बयानबाजी करने वाले यति नरसिंहानंद नई मुश्किल में फंसते नजर आ रहे हैं. राजनीति में मौजूद महिलाओं और राष्ट्रीय महिला आयोग की प्रमुख रेखा शर्मा के खिलाफ आपत्तिजनक बातें कहने के आरोप में नरसिंहानंद के खिलाफ गाजियाबाद पुलिस ने तीन FIR दर्ज कर ली हैं. राष्ट्रीय महिला आयोग की शिकायतों के आधार पर यह कार्रवाई हुई है.

गाजियाबाद ग्रामीण के SP डॉक्टर इरज राज ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया,

“महिलाओं के खिलाफ की गई बयानबाजी को लेकर यति नरसिंहानंद के खिलाफ FIR दर्ज की गई हैं. सोशल मीडिया के जरिए अलग-अलग मामले हमारे संज्ञान में आए. राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी इन मामलों पर आपत्ति जताई थी. जिसके बाद FIR दर्ज कर ली गईं. आगे की कार्रवाई बाकी है.”

इस कार्रवाई के संबंध में राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने भी ट्वीट किया. उन्होंने यति नरसिंहानंद को ढोंगी संन्यासी बताया.

पुलिस ने नरसिंहानंद के खिलाफ IPC की धाराओं 505 (1) (c) (आपराधिक उद्देश्य), 509 (महिला की गरिमा का अपमान), 504 (जानबूझकर किया गया अपमान) और 506 (धमकी) के तहत मामला दर्ज किया है. साथ ही साथ IT एक्ट की धारा 67 भी लगाई गई है. तीनों FIR मसूरी पुलिस स्टेशन में दर्ज हुई हैं.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, एक FIR में आरोप लगाया गया है कि यति नरसिंहानंद ने दूसरे धर्म के लोगों के साथ संबंध रखने वालीं हिंदू महिलाओं के खिलाफ एक वीडियो में अपमानजनक और धमकी भरी बयानबाजी की. दूसरी FIR में कहा गया कि है यति नरसिंहानंद ने राजनीति में मौजूद महिलाओं और महिला नेताओं के खिलाफ आपत्तिजनक बातें कहीं, जिससे महिलाओं की भावनाएं आहत हुई हैं. इससे पहले राष्ट्रीय महिला आयोग ने 7 अगस्त को भी यति नरसिंहानंद के खिलाफ एक शिकायत की थी. यह शिकायत यति के उस वीडियो के आधार पर हुई थी, जिसमें उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री की महिलाओं के खिलाफ आपत्तिजनक बयानबाजी की थी.

नरसिंहानंद की सफाई

राजनीति में मौजूद महिलाओं के खिलाफ आपत्तिजनक बयानबाजी पर यति की सफाई भी आ चुकी है. यति ने एक वीडियो में कहा था कि उनके बयान को एडिट किया गया है और इसे संदर्भ से अलग हटाकर पेश किया जा रहा है. इंडिया टुडे से जुड़े तनसीम हैदर और कुमार अभिषेक की रिपोर्ट के मुताबिक नरसिंहानंद ने यह भी कहा है कि वे अपने वीडियो को लेकर आहत और शर्मिंदा हैं और जिसे भी उनकी बातों से ठेस पहुंची है, उनसे माफी मांगते हैं. सीओ को लिखे पत्र में नरसिंहानंद ने उन्हें आश्वस्त किया है कि जीवन में फिर ऐसा भी नहीं होगा. वहीं इससे पहले सफाई देते हुए हुए उन्होंने राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष के खिलाफ आपत्तिजनक बातें कही थीं. यति ने कहा था,

“मुझे ये बात समझ नहीं आई कि ये रेखा शर्मा या महिला कार्यकर्ता हैं, ये क्या गोबर खाकर पैदा हुई हैं? इनमें बुद्धि है या नहीं है. ये बीजेपी की महिला है, राष्ट्रवादी है. ये छाती पर हाथ रखकर बता दे कि मैंने झूठ बोला हो. पूरा वीडियो देख ले, एक शब्द बता दे कि मैंने झूठ बोला हो. मेरे खिलाफ रिपोर्ट लिखावाकर इसे क्या मिलेगा, चल मुझे फांसी पर चढ़ा दे. लेकिन मेरी बहन मैंने बात सच बोली थी या झूठ बोली थी.

रेखा शर्मा को पूरा वीडियो सुनना चाहिए था कि मैंने वो बात कोई परिपेक्ष्य में बोली है. मेरी वीडियो को एडिट कर मुझे महिला विरोधी घोषित कर दिया. महिला आयोग की चैयरमैन को सोचना चाहिए कि मैं महिला के सम्मान के लिए लड़ रहा हूं या उनका अपमान कर रहा हूं. महिला सम्मान की लड़ाई मुझसे ज्यादा किसी ने लड़ी हो तो दिखा देना.”

ये वीडियो सामने आने के बाद से ही बीजेपी के कई नेता यति नरसिंहानंद के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे थे. इन नेताओं में बीजेपी के कपिल मिश्रा भी शामिल हैं. कपिल मिश्रा पहले यति नरसिंहानंद के लिए 25 लाख रुपये इकट्ठा करने का अभियान चला चुके हैं.

इससे पहले इसी साल अप्रैल में यति नरसिंहानंद के खिलाफ एक और शिकायत दर्ज हुई थी. उनके खिलाफ दिल्ली स्तिथ प्रेस क्लब में एक कार्यक्रम के दौरान पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ आपत्तिजनक बातें कहने का आरोप लगा था. यति नरसिंहानंद गाजियाबाद के डासना स्थित शिव शक्ति धाम के पुजारी हैं. यह मंदिर सबसे पहले तब चर्चा में आया था, जब इसी साल की शुरुआत में मंदिर परिसर के भीतर एक 14 साल के बच्चे को बेरहमी से पीटा गया था. इस मामले में शृंगी यादव नाम के शख्स को गिरफ्तार किया गया था. यति नरसिंहानंद ने आरोपी का समर्थन किया था.


 

वीडियो- यति नरसिंहानंद ने हिंदू-मुस्लिम के नाम पर फैलाई गंदगी, FIR की नौबत

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

समीरा रेड्डी के रील्स देखकर समझ आता है, खुद से प्यार करना क्यों जरूरी है!

आप भी देखिए, समझ जाएंगे.

इंडिया में कभी कोई महिला चीफ जस्टिस क्यों नहीं बनी?

क्या 2027 में ये सूखा खत्म हो पाएगा?

कोविड से अपने पति खो चुकी महिलाओं के लिए ये खबर थोड़ी राहत लेकर आएगी

महाराष्ट्र सरकार इस तरह करेगी आर्थिक मदद.

'परंपरा' के नाम पर राह चलती लड़की को किडनैप करते हैं, रेप कर जबरन शादी रचाते हैं

किर्गिस्तान में हर साल हजारों लड़कियों के साथ ऐसा हो रहा है.

'कामसूत्र' कोई आम 'सेक्स बुक' नहीं, दिमाग खोलने वाली किताब है, समझिए इसे पढ़ने वालों से

हिंदू विरोधी बताकर इसकी प्रतियां जलाने वाले ज़रूर पढ़ें.

यति नरसिंहानंद ने अब महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा के लिए बेहद भद्दी बात कही है!

रेखा शर्मा ने UP के DGP को चिट्ठी लिखकर यति पर कार्रवाई की मांग की थी.

भारत को पैरालंपिक मेडल दिलाने वाली तीन औरतें और उनके संघर्ष की कहानी

इस साल अब तक अवनि लेखरा ने गोल्ड और भाविना बेन पटेल ने सिल्वर मेडल जीता है.

जिस एंकर को इंटरव्यू देकर तालिबान ताली बटोर रहा था, उसने अफगानिस्तान छोड़ दिया है

मलाला के इंटरव्यू के बाद से ही तालिबान उन पर दबाव बना रहा था.

नुसरत जहां अगर बच्चे के पिता का नाम बता देंगी, तो क्या आप रातोंरात करोड़पति बन जाएंगे?

26 अगस्त को नुसरत ने एक बेटे को जन्म दिया है.

'बच्चा बच्चा राम का, चाचियों के काम का' नारे में बुराई नहीं देखने वाले, ये पढ़ें

धर्म रक्षक किसी भी धर्म के हों, शिकार हमेशा औरत होती है.