Submit your post

Follow Us

प्रिया रमानी के खिलाफ मानहानि का केस सुनने से कोर्ट ने मना क्यों कर दिया?

चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाने वाली छात्रा बयान से मुकरी

महबूबा मुफ्ती बोलीं- दिल्ली ने जो छीना, उसे वापस लेंगे

लॉकडाउन के खाली वक्त में शौक पूरा करते-करते बिजनेसवुमन बन गईं 

इन सबके बारे में जानेंगे ऑडनारी के स्पेशल न्यूज बुलेटिन WIN, यानी विमन इन न्यूज में. जहां हम बात करते हैं महिलाओं की, उनसे जुड़ी खबरों की और ख़बरों में महिलाओं की. बढ़ते हैं पहली खबर की ओर.

# प्रिया रमानी पर मानहानि का केस सुनने का अधिकार नहीं

जर्नलिस्ट प्रिया रमानी खबरों में हैं. क्योंकि उनके ऊपर चल रहा मानहानि का केस दूसरी अदालत में शिफ्ट करने की बात चल रही है. दरअसल, 2018 के MeToo मूवमेंट के दौरान प्रिया ने तत्कालीन विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर के ऊपर यौन शोषण के आरोप लगाए थे. उसके बाद अकबर ने प्रिया के खिलाफ आपराधिक मानहानि का केस कर दिया था.

‘इंडियन एक्सप्रेस’ की रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली में MP/MLA के मामले सुनने के लिए बनी अदालत में दो साल से इस केस की सुनवाई चल रही थी. अब 13 अक्टूबर यानी मंगलवार को कोर्ट ने कहा कि वो इस मामले की सुनवाई नहीं कर सकते, क्योंकि ये मामला इस अदालत के अधिकार-क्षेत्र में नहीं आता. एडिशनल चीफ मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट विशाल पाहुजा ने कहा,

सुप्रीम कोर्ट से निर्देश मिले हैं कि इस केस को जिला व सत्र न्यायाधीश के समक्ष रखा जाना चाहिए. हमारी कोर्ट उन मामलों को देखती है, जो सांसद या विधायकों के खिलाफ दायर किए गए हैं. लेकिन इस मामले में सांसद ने किसी दूसरे शख्स के खिलाफ केस दायर किया है.

Priya Ramani Mj Akbar
प्रिया रमानी ने तब के केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पर गंभीर आरोप लगाए थे. (फोटो- विडियो स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

मानहानि का ये मामला सुनवाई के आखिरी दौर में है. प्रिया रमानी की वकील रेबेका जॉन ने फाइनल ऑर्गुमेंट 19 सितंबर को दे दिया था. 13 अक्टूबर को अकबर की वकील गीता लूथरा फाइनल ऑर्गुमेंट दे रही थीं. रेबेका जॉन ने केस ट्रांसफर होने पर कहा,

हमें दोबारा से फाइनल ऑर्गुमेंट देने होंगे. मैं जिस सिस्टम का हिस्सा हूं, वहां इस तरह के ट्रांसफर होते रहते हैं. केवल इसलिए कि आपने अपने तर्क दे दिए हैं, इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि वही अदालत फैसला सुनाएगी.

बुधवार को यह मामला राउज़ एवेन्यू में जिला जज सुजाता कोहली की कोर्ट में आया. उन्होंने कहा कि वह 22 अक्टूबर को फैसला देंगी कि इसे दूसरी अदालत में शिफ्ट करना है या नहीं.   

# चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाने वाली छात्रा बयान से मुकरी

पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर कानून की एक छात्रा ने रेप के आरोप लगाए थे. इलाहाबाद हाई कोर्ट के निर्देशों पर लखनऊ में विशेष MP-MLA कोर्ट में इस मामले की सुनवाई हो रही थी. 13 अक्टूबर को सुनवाई के दौरान आरोप लगाने वाली छात्रा अपने बयान से मुकर गई. PTI की रिपोर्ट के मुताबिक, लड़की ने इस बात से इनकार कर दिया कि उसने पूर्व केंद्रीय मंत्री पर किसी तरह के कोई आरोप लगाए हैं.

छात्रा के बयान से हैरान अभियोजन पक्ष ने तुरंत एक आवेदन दिया और छात्रा के खिलाफ बयान बदलने को लेकर कार्रवाई की मांग की. जज पीके राय ने अपने ऑफिस को आवेदन रजिस्टर करने का आदेश दिया है.

Chinmayanand
चिन्मयानंद को पुलिस ने सितंबर 2019 में गिरफ्तार किया था. (फोटो- PTI)

बता दें, चिन्मयानंद का शाहजहांपुर में एक कॉलेज है. पीड़ित लड़की उसी कॉलेज में कानून की पढ़ाई कर रही थी. पिछले साल लड़की ने चिन्मयानंद के ऊपर रेप के आरोप लगाए थे. उसके बाद सितंबर 2019 में चिन्मयानंद की गिरफ्तारी भी हुई थी. इस साल फरवरी में इलाहाबाद हाई कोर्ट ने उन्हें ज़मानत दे दी थी. तब कोर्ट ने कहा था कि ये ‘quid pro quo’ का मामला है. यानी फेवर के बदले फेवर का मामला है.

# रिलीज़ होने पर महबूबा मुफ्ती बोलीं- दिल्ली ने जो छीना, उसे वापस लेंगे

महबूबा मुफ्ती. जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री रही हैं. पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDA) की प्रमुख हैं. 14 अक्टूबर यानी मंगलवार को 14 महीनों के बाद नजरबंदी से रिहा हुई हैं. रिहाई के बाद उन्होंने ट्विटर पर एक ऑडियो मैसेज जारी किया, और कहा कि दिल्ली ने जो कुछ भी छीना है, उसे वापस लिया जाएगा. महबूबा ने कहा,

मैं एक साल से भी ज्यादा अरसे के बाद रिहा हुई हूं. इस दौरान 5 अगस्त 2019 के काले दिन का काला फैसला, हर पल मेरे दिल और रूह पर वार करता रहा. मुझे अहसास है कि यही कैफियत जम्मू-कश्मीर के तमाम लोगों की रही होगी. हममें से कोई भी शख्स, उस दिन की बेइज्जती को कभी नहीं भूल सकता.

बता दें, 5 अगस्त 2019 के दिन जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को खत्म कर दिया गया था. उसी के बाद से महबूबा पब्लिक सेफ्टी एक्ट (PSA) के तहत हिरासत में थीं. अब बाहर आईं महबूबा ने कहा कि अब हमें इस बात का इरादा करना होगा कि दिल्ली दरबार ने 5 अगस्त को गैर-कानूनी तरीके से जो हमसे छीना था, उसे वापस लेना होगा. कश्मीर मसले को हल करने की जद्दोजहद भी जारी रखनी होगी, जिसकी वजह से यहां हज़ारों लोगों ने अपनी जान न्योछावर की. उन्होंने कहा कि-

मैं मानती हूं ये राह आसान नहीं होगी, लेकिन हम सबका हौसला ये रास्ता तय करने में मदद करेगा. मैं चाहती हूं कि जम्मू-कश्मीर के जितने भी लोग जेलों में बंद हैं, उन्हें रिहा किया जाए.

# फेमस सीरीज़ ‘टू एंड अ हाफ मैन’ की ‘बर्टा’ नहीं रहीं

कॉन्चेटा फेरल (Conchata Ferrell). अमेरिकन एक्ट्रेस थीं. ‘थीं’ इसलिए क्योंकि अब इनका निधन हो चुका है. कॉन्चेटा ने 12 अक्टूबर को आखिरी सांस ली. 77 बरस की थीं. दिल का दौरा पड़ने की वजह से उनका निधन हो गया.

कॉन्चेटा 40 से भी ज्यादा साल तक शोबिज़ की दुनिया में एक्टिव रहीं. कई फिल्म और टीवी सीरीज़ में काम किया. लेकिन सबसे ज्यादा पॉपुलैरिटी मिली अमेरिकन टीवी सीरीज़ ‘टू एंड अ हाफ मैन’ से. इसमें कॉन्चेटा ने ‘बर्टा’ नाम की हाउसकीपर का रोल निभाया था. इस सीरीज़ के फैन न केवल अमेरिका में हैं, बल्कि इंडिया में भी हैं.

Conchata Ferrell
कॉन्चेटा फेरल की 77 बरस की उम्र में मौत हुई. (फोटो- AP)

कॉन्चेटा की मौत पर उनके को-स्टार्स उन्हें याद करते हुए लगातार ट्वीट कर रहे हैं. चार्ली शीन ने ‘टू एंड अ हाफ मैन’ सीरीज़ की एक तस्वीर शेयर करते हुए लिखा,

एक बहुत प्यारी, एक बहुत सच्ची दोस्त, एक हैरान करने वाला और दर्दभरा नुकसान. बर्टा, तुम्हारी हाउसकीपिंग सस्पेक्टेड थी, लेकिन ‘पीपल’ कीपिंग ज़बरदस्त थी.

# ‘बाबा का ढाबा’ के बाद अब इस बुज़ुर्ग महिला को मदद की ज़रूरत

हम सबने देखा कि किस तरह सोशल मीडिया ने दिल्ली के ‘बाबा का ढाबा’ की शक्ल बदल दी. वीडियो वायरल हुआ, तो रोते हुए बुजुर्ग की खैरियत लेने तमाम दिल्लीवाले उनके ढाबे पहुंच गए. अब इसी तरह का एक और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. ये वीडियो है 85 बरस की गिरिबाला दास का, जो असम के धुबरी में सड़क के किनारे पकौड़े बेचने का काम करती हैं. पिछले 30 साल से ये काम कर रही हैं. ‘द बेटर इंडिया’ ने अपने ट्विटर अकाउंट पर गिरिबाला का वीडियो पोस्ट करते हुए बताया कि विवेक जैन नाम के व्यक्ति ने इसे शेयर किया है. इस अपील के साथ कि ‘बाबा का ढाबा’ की तरह इसे भी लोगों तक पहुंचाया जाए. वीडियो के बैकग्राउंड से एक आदमी की आवाज़ आ रही है, जो कह रहा है,

मैं चाहता हूं कि आप इस वीडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर करिए. अगर आप लोग कुछ हेल्प करना चाहते हैं, तो धुबरी के गुरुद्वारे के पास संतोषी मां का मंदिर है. उसके पास ही ये बैठती हैं. रोज़ाना. पकौड़े बनाती हैं. ये हर रोज़ बिकेंगे या नहीं, इसकी कोई गारंटी नहीं होती. इन तक मदद पहुंच सके, मैं ये चाहता हूं.

इस वीडियो को IAS सोनल गोयल ने भी शेयर किया है. लोगों से अपील की है कि इनकी मदद की जाए, क्योंकि इस उम्र में भी किसी पर निर्भर रहने या भीख मांगने की बजाए, इन्होंने काम करना चुना है.

# आज की ऑडनारी

अब हमारा आखिरी सेक्शन आज की ऑडनारी. इसमें हम आपको मिलवाते हैं एक ऐसी आम महिला या लड़की से, जो कोई सिलेब्रिटी नहीं होती. लेकिन उससे देश की सभी महिलाएं प्रेरणा ले सकती हैं.

आज की ऑडनारी हैं जेनिफर. तमिलनाडु के मदुरई से हैं. कॉलेज के सेकेंड ईयर में हैं. यानी स्टूडेंट हैं, लेकिन इसके साथ ही अब आंत्रप्रेन्योर भी बन चुकी हैं. हैंडीक्राफ्ट की दुनिया में. खराब हो चुके सामानों से सुंदर-सुंदर आइटम्स बना रही हैं.

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, कोरोना की वजह से स्कूल कॉलेज वगैरह बंद हैं, ऐसे में जेनिफर के पास काफी खाली वक्त था. इसका उन्होंने सही से इस्तेमाल किया. उन्हें हैंडीक्राफ्ट वगैरह बनाना हमेशा से अच्छा लगता था, लेकिन पढ़ाई और क्लास की वजह से वक्त नहीं मिल पाता था. कोरोना क्राइसिस के दौरान वक्त मिला तो जेनिफर ने पुरानी बॉटल्स, रस्सियों से संदर-सुंदर सजावटी सामान बनाए. फिर अपने सोशल मीडिया पेज पर भी डाले. लोगों को ये सामान बड़े पसंद आए. लोगों ने जेनिफर से डिमांग की कि उनके लिए भी वो ये सारे सामान बनाए. अब जेनिफर कस्टमर्स की डिमांड पर सजावटी सामान डिज़ाइन कर रही हैं. वो कहती हैं,

मैं खाली समय में घर पर बोर हो रही थी. मुझे रद्दी सामानों से क्राफ्टवर्क करने का आइडिया आया. मैंने बॉटल्स कलेक्ट किए. उन्हें सजाया. वो भी रद्दी सामान जैसे टिशू पेपर या पिस्ता के शेल से. मैं 2020 को अपनी क्रिएटिविटी के लिए याद रखना चाहती हूं.

तो ये थीं आज की ख़बरें. कल फिर मिलेंगे विमन इन न्यूज़ में. अगर आप भी जानते हैं ऐसी महिलाओं को, लड़कियों को, जो दूसरों के लिए मिसाल हैं, तो हमें उनके बारे में बताइए. मेल करिए lallantopwomeninnews@gmail.com पर.


वीडियो देखें: बिहार चुनाव में ये ट्रांसजेंडर बड़ी जिम्मेदारी निभाने वाली हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

कोविड केयर सेंटर में काम कर रही नर्स ने शादी से इनकार किया, तो स्टॉकर ने ज़िंदा जलाया

नर्स ने लड़के को भागने से रोका लिया. नतीजा दोनों के लिए बुरा रहा.

यूपी के गोंडा में तीन नाबालिग दलित बहनों पर एसिड अटैक, हालत गंभीर

घर पर सो रही थीं बहनें, तब हुआ हमला.

हाथरस केस: हाई कोर्ट ने पुलिस के बड़े अफसर से पूछा- अपनी बेटी का अंतिम संस्कार ऐसे होने देंगे?

कोर्ट ने यूपी पुलिस की कार्रवाई पर नाराज़गी जताई है.

बक्सर: 7 लोगों पर आरोप- महिला को अगवा कर गैंगरेप किया, मासूम बेटे समेत नदी में फेंक दिया

डूबने से बच्चे की मौत हो गई है.

राजस्थान: लापरवाही से प्रेग्नेंट महिला की मौत का आरोप लगा 4 दिन से धरने पर गांववाले

विपक्षी दल गहलोत सरकार को घेरने में जुटे हैं

नाबालिग ने कथित रेप के बाद खुद पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा ली

मध्य प्रदेश के रीवा की घटना, आरोपी भी नाबालिग है.

गैंगरेप विक्टिम ने सुसाइड किया, फिर पिता ने जान देने की कोशिश की तब जाकर केस दर्ज हुआ

दफन हो चुके शव को निकालकर जांच के लिए भेजा गया.

जोक ऑफ द डे: खुद 44 अपराधों में आरोपी बीजेपी नेता ने हाथरस विक्टिम को ही दोषी बता दिया

इस नेता ने चारों आरोपियों के लिए मुआवजे की मांग भी की है.

बलरामपुर केस: पीड़िता की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में क्या निकला?

दो लड़कों पर 22 साल की दलित लड़की से गैंगरेप का आरोप है.

लखनऊ: दलित युवती से गैंगरेप का आरोप, पुलिस ने केस दर्ज करने में एक महीने लगा दिए!

हाथरस मामले के तूल पकड़ने के बाद जागी पुलिस.