Submit your post

Follow Us

UN की इस बड़ी अधिकारी ने क्यों कहा, मौत की सज़ा देने से रेप के मामले नहीं रुकते?

असल गुंजन सक्सेना ने कहा- कभी पंजा नहीं लड़वाया गया

हेमा मालिनी कैसे पहुंचीं बुलंदी के मुकाम पर?

रकुलप्रीत की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने क्या आदेश दिया है?

इन सबके बारे में जानेंगे ऑडनारी के स्पेशल न्यूज बुलेटिन WIN, यानी विमन इन न्यूज में. जहां हम बात करते हैं महिलाओं की, उनसे जुड़ी खबरों की और ख़बरों में महिलाओं की. बढ़ते हैं पहली खबर की ओर.

# चैनल्स के खिलाफ एक्ट्रेस की शिकायत पर दो हफ्ते में फैसला!

एक्ट्रेस रकुल प्रीत सिंह ने कुछ न्यूज़ चैनल्स के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी. आरोप लगाया था कि इन चैनलों ने बॉलिवुड ड्रग्स केस में उनके बारे में ‘फेक न्यूज़’ चलाई. इस पर दिल्ली हाई कोर्ट ने 15 अक्टूबर को सुनवाई की. ‘इंडियन एक्सप्रेस’ की रिपोर्ट के मुताबिक, कोर्ट ने NBSA यानी न्यूज़ ब्रॉडकास्ट स्टैंडर्ड्स अथॉरिटी को दो हफ्ते में इस पर फैसला लेने को कहा है.

Rakul Preet
रकुल प्रीत ने कई चैनल्स के खिलाफ केस दर्ज करवाया है. (फोटो- रकुल का इंस्टाग्राम अकाउंट)

NBSA का काम चैनलों पर प्रसारित होने वाली खबरों को लेकर आने वाली शिकायतों पर विचार करना और फैसला लेना है. रकुल की जो शिकायत है, वो न्यूज़ चैनल्स के खिलाफ है तो ज़ाहिर तौर पर NBSA के पास इसे जाना था. कोर्ट में गुरुवार की सुनवाई के दौरान NBSA के वकील ने कहा कि उन्होंने 3 अक्टूबर और 12 अक्टूबर को इस मुद्दे पर सुनवाई की थी, लेकिन फैसला नहीं हो पाया. वकील ने फैसला लेने के लिए वक्त मांगा तो दो हफ्ते का समय दिया गया. कोर्ट ने अगली सुनवाई के लिए 11 दिसंबर की तारीख तय की है.

# असल गुंजन सक्सेना ने कहा- कभी पंजा नहीं लड़वाया गया

‘गुंजन सक्सेना: दी कारगिल गर्ल’. फिर से खबरों में है. क्योंकि दिल्ली हाई कोर्ट में चल रहे मामले में असली गुंजन सक्सेना ने अपना पक्ष रखा है. दरअसल, फिल्म के कुछ सीन्स में इंडियन एयरफोर्स (IAF) के कुछ अधिकारियों को ‘स्त्री विरोधी’ सोच रखते दिखाया गया था. एक सीन में गुंजन के किरदार को पुरुष अधिकारी से पंजा लड़ाने के लिए मजबूर किया गया. ऐसे कई सीन पर एयरफोर्स ने विरोध जताया था. केंद्र सरकार ने भी फिल्म वालों के खिलाफ मुकदमा कर दिया.

Gunjan Saxena Real And Film
असली गुंजन सक्सेना का किरदार फिल्मी पर्दे पर जाह्नवी कपूर ने निभाया है.

इसी मुकदमे पर 15 अक्टूबर यानी गुरुवार को दिल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई हुई. केंद्र सरकार और फिल्म बनाने वाली कंपनी धर्मा प्रॉडक्शन के वकील के बीच बहस हुई. केंद्र का पक्ष अडिशनल सॉलिसिटर जनरल संजय जैन ने रखा. उन्होंने असल जिंदगी की गुंजन सक्सेना के हलफनामे का जिक्र किया, जिसमें उन्होंने कहा है कि उनके साथ कभी भी पंजा लड़ाने वाली घटना नहीं घटी. ये भी कहा कि उन्हें कभी फिल्म के प्लॉट के बारे में आपत्ति दर्ज कराने का मौका नहीं दिया गया था.

# सुप्रीम कोर्ट ने घरेलू हिंसा का शिकार महिलाओं को लेकर अहम फैसला सुनाया

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि घरेलू हिंसा की शिकार महिला के लिए घर का मतलब पति के मालिकाना हक वाले घर से ही नहीं ही. उसे पति के रिश्तेदारों के ऐसे घरों से भी नहीं निकाला जा सकता, जहां दोनों साथ रहे हों. जस्टिस अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली 3 जजों की बेंच ने घरेलू हिंसा अधिनियम, 2005 के तहत ये फैसला सुनाया है.

Supreme Court
घरेलू हिंसा को लेकर सुप्रीम कोर्ट का नया फैसला बहुत सी महिलाओं को राहत देने वाला है..

बेंच ने कहा कि घरेलू हिंसा अधिनियम की धारा-2(S) में पति के साझाघर यानी शेयर्ड हाउसहोल्ड की परिभाषा दी गई है. इसके अनुसार हिंसा के बाद घर से निकाली गई महिला को साझाघर यानी ससुरालवालों के घर में भी रहने का अधिकार है. इस कानून के तहत महिला, पति के ऐसे रिश्तेदारों के घर में रहने की मांग भी कर सकती है, जहां वह घरेलू संबंधों की वजह से पहले रह चुकी हो, भले ही उस घर में उसके पति का हिस्सा न हो. सुप्रीम कोर्ट का ये फैसला साल 2007 के एसआर बत्रा बनाम तरुणा बत्रा मामले के उलट है. उस केस में कहा गया था कि साझा घर में इनलॉज यानी सुसरालवालों और रिश्तेवालों के घर शामिल नहीं होंगे.

# पहली फिल्म हाथ से जाने के बाद हेमा मालिनी कैसे पहुंचीं बुलंदी के मुकाम पर?

हेमा मालिनी. फेमस एक्ट्रेस हैं. बीजेपी की नेता हैं और इस वक्त मथुरा से सांसद हैं. आज यानी 16 अक्टूबर को उनका 72वां जन्मदिन है. सोशल मीडिया पर उन्हें कई लोगों ने बर्थडे विश किया है. #DreamGirl भी ट्रेंड हो रहा है.

बर्थडे के बहाने बताते हैं कि हेमा फिल्मों में कैसे आईं. उनकी बायोग्राफी है Beyond The Dream Girl. इसमें उन्होंने बताया कि वो डांसर बनना चाहती थीं. एक्टर नहीं. जब छोटी थीं, तब साउथ के एक बड़े प्रोड्यूसर सीवी श्रीधर ने हेमा को परफॉर्म करते देखा. फिल्म ऑफर की. हेमा ने मना कर दिया, लेकिन मां के कहने पर हां करनी पड़ी. फिल्म की शूटिंग शुरू होने ही वाली थी, कि तभी श्रीधर ने हेमा को निकाल दिया. ये कहकर कि उनमें स्टार बनने की काबिलियत नहीं है. ये सुनकर हेमा ने ठान लिया कि अब एक्ट्रेस बनकर दिखाएंगी.

Hema Malini
हेमा मालिनी की पहली फिल्म ‘सपनों के सौदागर’ थी. (फोटो- इंस्टाग्राम/वीडियो स्क्रीनशॉट)

 राज कपूर उसी समय अपनी एक फिल्म में नई साउथ इंडियन लड़की को लेना चाहते थे. उन्हें हेमा के बारे में पता चला. ऑडिशन के लिए बुलाया गया. नर्वसाई-सी हेमा ने जैसे-तैसे ऑडिशन दिया. राज कपूर ने तभी कह दिया कि ये लड़की इंडियन सिनेमा की अगली सुपरस्टार बनेगी. और इस तरह हेमा ने पहली फिल्म की ‘सपनों का सौदागर’. 1968 में.

# UN की इस बड़ी अधिकारी ने कहा मौत की सज़ा से रेप नहीं रुक सकता

मिशेल बेचलेट. संयुक्त राष्ट्र (UN) में ह्यूमन राइट्स की हाई कमिश्नर हैं. हाल ही में इन्होंने एक बयान दिया. कहा कि रेप एक भयानक अपराध है, लेकिन इसका समाधान मौत की सज़ा नहीं है. मिशेल ने एक वीडियो मैसेज में कहा-

कुछ हफ्तों से भारत, बांग्लादेश, पाकिस्तान समेत कई देशों से रेप की डराने वाली खबरें आ रही हैं. लोग गुस्से में हैं. इंसाफ मांग रहे हैं. समाधान चाह रहे हैं. मैं भी सर्वाइवर्स और इंसाफ मांगने वालों के साथ हूं. लेकिन मैं इस बात से चिंतित हूं कि कई जगहों पर अपराधियों के लिए क्रूर, अमानवीय और मौत की सज़ा मांगी जा रही है. कई जगहों पर तो कानून बन भी गए हैं. मौत की सज़ा से रेप की घटनाएं कम नहीं होंगी. कोई सबूत नहीं है इसका. सबूत ये दिखाते हैं कि सज़ा की गंभीरता के बजाए इसकी निश्चितता अपराध को रोकती है.

Michelle Bachelet
संयुक्त राष्ट्र (UN) में ह्यूमन राइट्स की हाई कमिश्नर मिशेल बेचलेट. (फोटो- वीडियो स्क्रीनशॉट)

# इस देश की राष्ट्रपति को चाय पीकर आती है भारत की याद

साई इंग वेन. ताइवान की राष्ट्रपति हैं. ये ईस्ट एशिया में स्थित एक देश है. साई खबरों में हैं क्योंकि उन्होंने भारतीय खाने को लेकर अपना प्यार जाहिर किया है. साई ने भारतीय खाने की थाली की तस्वीर पोस्ट की और कहा-

ताइवान भाग्यशाली है कि वहां कई भारतीय रेस्तरां हैं. ताइवान के लोग इन्हें पसंद भी करते हैं. मुझे हमेशा से चना मसाला और नान अच्छे लगते हैं. चाय मुझे भारत यात्रा की याद दिलाती है. एक जीवंत, विविध और रंगीन देश की याद आती है. आपका फेवरेट भारतीय पकवान क्या है?

साई ने ताजमहल की अपनी तस्वीर शेयर करते हुए भारत में बिताए दिन भी याद किए.

# आज की ऑडनारी

अब हमारा आखिरी सेक्शन आज की ऑडनारी. इसमें हम आपको मिलवाते हैं एक ऐसी आम महिला या लड़की से, जो कोई सिलेब्रिटी नहीं होती. लेकिन उससे देश की सभी महिलाएं प्रेरणा ले सकती हैं.

आज की ऑडनारी हैं दुर्गावती उरांव. आदिवासी समुदाय से हैं. झारखंड के रांची में रहती हैं. अपने समुदाय के गरीब बच्चों के लिए कुछ करना चाहती थीं, इसलिए उन्होंने अपने घर को ही स्कूल बना दिया. स्कूल का नाम है- सनराइज़ पब्लिक स्कूल.

Durgawati Oraon
दुर्गावती उरांव स्कूल में बच्चों के साथ.

इस स्कूल में नर्सरी से पांचवीं तक की पढ़ाई होती है. इंग्लिश मीडियम में. करीब 200 बच्चे इस स्कूल में पढ़ रहे हैं. फीस की बात करें तो न के बराबर फीस है. दुर्गावती कहती हैं कि थोड़ी फीस भी इसलिए ले रही हूं ताकि बच्चे और उनके पैरेंट्स पढ़ाई और स्कूल को गंभीरता से लें. इन 200 बच्चों में से करीब 10 बच्चे तो दुर्गावती के घर पर ही रहते हैं. ये बेहद गरीब परिवार से हैं. दुर्गावती ही इनका पूरा खर्च उठाती हैं. कुल पांच टीचर हैं अभी स्कूल में. दुर्गावती खुद भी पढ़ाती हैं. उनके पति भी साथ देते हैं. वो कहती हैं कि इन बच्चों को खाना देने से ज्यादा ज़रूरी शिक्षित बनाना है, इससे ही वो अपने अधिकार जान पाएंगे.

तो ये थीं आज की ख़बरें. अगर आप भी जानते हैं ऐसी महिलाओं को, लड़कियों को, जो दूसरों के लिए मिसाल हैं, तो हमें उनके बारे में बताइए. मेल करिए lallantopwomeninnews@gmail.com पर.


वीडियो देखें: यौन शोषण के आरोपी को मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने जो आदेश दिया, उस पर भड़के लोग सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

PUBG खेलने के दौरान जिन लड़कों से दोस्ती हुई, उन्होंने ब्लैकमेल करके बार-बार रेप किया

PUBG खेलने के दौरान जिन लड़कों से दोस्ती हुई, उन्होंने ब्लैकमेल करके बार-बार रेप किया

तीन लड़कों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

कोविड केयर सेंटर में काम कर रही नर्स ने शादी से इनकार किया, तो स्टॉकर ने ज़िंदा जलाया

कोविड केयर सेंटर में काम कर रही नर्स ने शादी से इनकार किया, तो स्टॉकर ने ज़िंदा जलाया

नर्स ने लड़के को भागने से रोका लिया. नतीजा दोनों के लिए बुरा रहा.

यूपी के गोंडा में तीन नाबालिग दलित बहनों पर एसिड अटैक, हालत गंभीर

यूपी के गोंडा में तीन नाबालिग दलित बहनों पर एसिड अटैक, हालत गंभीर

घर पर सो रही थीं बहनें, तब हुआ हमला.

हाथरस केस: हाई कोर्ट ने पुलिस के बड़े अफसर से पूछा- अपनी बेटी का अंतिम संस्कार ऐसे होने देंगे?

हाथरस केस: हाई कोर्ट ने पुलिस के बड़े अफसर से पूछा- अपनी बेटी का अंतिम संस्कार ऐसे होने देंगे?

कोर्ट ने यूपी पुलिस की कार्रवाई पर नाराज़गी जताई है.

बक्सर: 7 लोगों पर आरोप- महिला को अगवा कर गैंगरेप किया, मासूम बेटे समेत नदी में फेंक दिया

बक्सर: 7 लोगों पर आरोप- महिला को अगवा कर गैंगरेप किया, मासूम बेटे समेत नदी में फेंक दिया

डूबने से बच्चे की मौत हो गई है.

राजस्थान: लापरवाही से प्रेग्नेंट महिला की मौत का आरोप लगा 4 दिन से धरने पर गांववाले

राजस्थान: लापरवाही से प्रेग्नेंट महिला की मौत का आरोप लगा 4 दिन से धरने पर गांववाले

विपक्षी दल गहलोत सरकार को घेरने में जुटे हैं

नाबालिग ने कथित रेप के बाद खुद पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा ली

नाबालिग ने कथित रेप के बाद खुद पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा ली

मध्य प्रदेश के रीवा की घटना, आरोपी भी नाबालिग है.

गैंगरेप विक्टिम ने सुसाइड किया, फिर पिता ने जान देने की कोशिश की तब जाकर केस दर्ज हुआ

गैंगरेप विक्टिम ने सुसाइड किया, फिर पिता ने जान देने की कोशिश की तब जाकर केस दर्ज हुआ

दफन हो चुके शव को निकालकर जांच के लिए भेजा गया.

जोक ऑफ द डे: खुद 44 अपराधों में आरोपी  बीजेपी नेता ने हाथरस विक्टिम को ही दोषी बता दिया

जोक ऑफ द डे: खुद 44 अपराधों में आरोपी बीजेपी नेता ने हाथरस विक्टिम को ही दोषी बता दिया

इस नेता ने चारों आरोपियों के लिए मुआवजे की मांग भी की है.

बलरामपुर केस: पीड़िता की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में क्या निकला?

बलरामपुर केस: पीड़िता की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में क्या निकला?

दो लड़कों पर 22 साल की दलित लड़की से गैंगरेप का आरोप है.