Submit your post

Follow Us

बीजेपी-कांग्रेस की नेताओं पर सेक्स रैकेट चलाने का आरोप

बीजेपी-कांग्रेस नेताओं पर लगे सेक्स रैकेट चलाने के आरोप

उत्तर प्रदेश में हुई नाबालिग लड़की की हत्या

सिर मुंडाने वाली मिस इंडिया

इन सबके बारे में जानेंगे ऑडनारी के स्पेशल न्यूज बुलेटिन WIN, यानी विमेन इन न्यूज में. जहां हम बात करते हैं महिलाओं की, उनसे जुड़ी खबरों की, और ख़बरों में महिलाओं की. बढ़ते हैं पहली खबर की ओर.

# बीजेपी-कांग्रेस की नेताओं पर सेक्स रैकेट चलाने के आरोप

राजस्थान का सवाई माधोपुर जिला. यहां BJP-कांग्रेस की पूर्व पदाधिकारियों पर गंभीर आरोप सामने आए हैं. ‘आज तक’ से जुड़े सुनील जोशी के मुताबिक़ बीजेपी की सवाई माधोपुर से पूर्व जिला अध्यक्ष सुनीता वर्मा उर्फ संपत्ति बाई और कांग्रेस सेवादल महिला प्रकोष्ठ की पूर्व जिला अध्यक्ष पूजा और पूनम चौधरी पर ये आरोप लगे हैं. कि वो सेक्स रैकेट चला रही थीं. जिसमें नाबालिग बच्चियों को जबरन धकेला जा रहा था. एक नाबालिग बच्ची के बयान के अनुसार ये सेक्स रैकेट दूसरे जिलों में भी फैला हुआ था. वहां भी बच्चियां भेजी जा रही थीं.

पूरे मामले पर राजस्थान पुलिस सवाई माधोपुर महिला थाना के पुलिस उपाधीक्षक ओम प्रकाश सोलंकी ने बताया कि भाजपा महिला मोर्चा की पूर्व जिलाध्यक्ष सुनीता वर्मा व उसके साथ एफसीआई कार्मिक हीरालाल को गिरफ्तार कर लिया गया है.  मगर कांग्रेस की पूजा फरार हो गई. पुलिस ने भाजपा की सुनीता व उसके साथ हीरालाल से पूछताछ कीऔर तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. इनमें एक जिला उद्योग का लिपिक संदिश शर्मा ,जिला कलेक्टर कार्यालय का चपरासी श्योराम मीना व इलेक्ट्रिशियन राजू रैगर है. मामला सामने आने पर पार्टियों ने आरोपियों को उनके पद से हटा दिया है.

Untitled Design 2020 10 02t203933.082
बाईं तरफ पूनम चौधरी, दाईं तरफ सुनीता वर्मा. (तस्वीर: सुनील जोशी- आज तक)

# उत्तर प्रदेश में 11 साल की बच्ची की हत्या

भदोही. उत्तर प्रदेश का एक ज़िला है. यहां 1 अक्टूबर, गुरूवार की दोपहर 11 साल की बच्ची शौच के लिए घर से बाहर गई. काफी देर तक नहीं लौटी, तो घरवालों ने उसे खोजना शुरू किया. तीन बजे के करीब उस लड़की की लाश मिली. उसका सिर ईंट से कुचल दिया गया था. लड़की दलित समुदाय की थी. मामले में एक नाबालिग, उसके पिता, और एक संबंधी का नाम सामने आने पर पुलिस ने नाबालिग लड़के को डीटेन किया, और उसके पिता और संबंधी को गिरफ्तार कर लिया है. परिजनों ने रेप की आशंका जताई थी. लेकिन पुलिस ने इससे इनकार किया है. भदोही के पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि पोस्टमॉर्टेम रिपोर्ट में रेप की पुष्टि नहीं हुई है.

# उपन्यास से लाइनें पढ़कर लड़कियों को ठगता था

सोचिए आप किसी व्यक्ति से चैट कर रहे हों. आपको लगे, भई बंदा तो बड़ा जेनुइन है. कितनी अच्छी बातें करता है . आप उस पर भरोसा कर लें. बाद में पता चले कि वो बंदा तो किताब पढ़कर बेवकूफ बना गया आपको. ऐसा ही कुछ हुआ नॉएडा में. यहां पर रवि सिंह नाम का व्यक्ति लड़कियों–महिलाओं से चैट करता था. उन्हें भरोसे में लेता था. जब वो उस पर यकीन कर लेती थीं, तब उनके साथ सेक्स चैट करने पर उतर आता था.

इंडिया टुडे के वरिष्ठ पत्रकार तनसीम हैदर के मुताबिक़ रवि सिंह कम से कम 50 लड़कियों को इसी तरह बेवकूफ बना चुका है. अक्सर नॉएडा के सिटीपार्क में जाकर बैठ जाता था. वीडियो चैट पर बात करने के लिए वेबकैम , डायरी, और कई फोन लेकर जाता था. रवि मूल रूप से एटा निवासी है. एक लड़की की शिकायत पर उसके ब्लैकमेल करने का मुकदमा दर्ज किया गया था. ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ में छपी रिपोर्ट के अनुसार रवि लड़कियों को फांसने के लिए उपन्यास का सहारा लेता था. दुरजॉय दत्ता नाम के लेखक की एक किताब है – वर्ल्ड्स बेस्ट बॉयफ्रेंड. उसमें से लाइनें पढ़कर रवि लड़कियों पर इम्प्रेशन जमाता था.

एडीसीपी विशाल पांडे ने बताया कि आरोपी रवि लड़कियों का नंबर ऑनलाइन डाटा या फिर अन्य जगहों से चोरी कर लेता था. इसके बाद उनके मोबाइल पर अश्लील चैट भेजता था.  जो लड़की उससे बात करने लगती,  उसकी फोटो को एडिट कर अश्लील बनाकर रवि ब्लैकमेल करता था. फिर उनसे मोटी रकम वसूलता था. उसने लड़कियों से बात करने के लिए अलग-अलग सिम और अलग-अलग मोबाइल रखे हुए थे. इन्हीं में से एक लड़की थाने पहुंची थी. शिकायत दर्ज कराने वाली लड़की को रवि चैट और फोटो वायरल करने की धमकी दे रहा था. पैसों की डिमांड कर रहा था. उसके पास से पांच फोन, 25 सिम कार्ड, सात नकली आधार कार्ड निकले.

Ravi Singh Noida
रवि अपने टारगेट्स की जानकारी एक डायरी में लिखकर रखता था. (तस्वीर: तनसीम हैदर)

# कम्बोडिया में भारत की राजदूत बनेंगी ये महिला

डॉक्टर देवयानी उत्तम खोबरागड़े. विदेश मंत्रालय में जॉइंट सेक्रेटरी के पद पर हैं. अब कम्बोडिया में भारत की राजदूत बनकर जाएंगी. डॉक्टर देवयानी 1999 बैच की IFS ऑफिसर हैं. 2012 में इन्हें न्यूयॉर्क में मौजूद भारतीय कांसुलेट में डिप्टी कॉन्सुल जनरल के पद पर भेजा गया था. वहां पर इनका नाम विवादों में आया था.

साल 2013 में अमेरिकी अधिकारियों ने उन पर वीजा फ्रॉड का केस लगाया था. आरोप था कि उन्होंने अपनी डोमेस्टिक हेल्प के लिए लगाये गए वीजा में गलत जानकारी दी थी. यही नहीं, उसे न्यूनतम सैलरी से कम पैसे दिए, ये भी आरोप लगा. इस आरोप के आधार पर उन्हें अमेरिका में अरेस्ट किया गया था. डॉक्टर देवयानी ने आरोप लगाए कि जब वो हिरासत में थीं, तब उन्हें आम अपराधियों और ड्रग एडिक्ट्स के साथ रखा गया था. ये भी कि अरेस्ट किए जाने के बाद उनके कपड़े उतार कर जांच की गई. इस पर भारत में काफी बवाल हुआ  था.

Devyani Twitter
देवयानी मामले की वजह से भारत और अमेरिका के डिप्लोमैटिक रिश्तों में तनाव आने की बात कही गई थी. (तस्वीर: ट्विटर)

# समय है बर्थडे स्पेशल का. आज बात करेंगे पर्सिस खम्बाटा की.

हॉलीवुड में पहले इक्का-दुक्का सीन्स में या बेहद छोटे रोल में भारतीय एक्टर दिखाई दे जाते थे. और उसी की हवा ऐसी बंधती थी कि अखबारों में हफ़्तों तक वो छाए रहते थे. जैसे ‘द ग्रेट गैट्स्बी’ में अमिताभ बच्चन, ‘मिशन इम्पॉसिबल’ में अनिल कपूर. उनसे भी बहुत पहले 1979 में पर्सिस खम्बाटा ने ‘स्टार ट्रेक: द मोशन पिक्चर’ में लेफ्टिनेंट इलिया का रोल किया था. इसके लिए उन्होंने अपने बाल भी छिलवा दिए थे.

पर्सिस 2 अक्टूबर 1948 को एक पारसी परिवार में जन्मीं. स्कूल के दिनों में ही मॉडलिंग का ऑफर मिला गया था. सिर्फ 14 साल की उम्र में. 17 साल की उम्र में फेमिना मिस इंडिया बन गईं. मॉडलिंग के लिए लंदन गईं. वहां कुछ फिल्मों में काम किया. मिस यूनिवर्स कॉन्टेस्ट में भी पार्टिसिपेट किया. कांटेस्ट तो नहीं जीतीं लेकिन अमेरिकन मीडिया उनका दीवाना हो गया था. अमेरिका के अखबारों ने पर्सिस के लिए लिखा था, ‘ये है सबसे खूबसूरत हिंदुस्तानी लड़की’. 1985 में पर्सिस मुंबई वापस आ गईं. मॉडलिंग की. कुछ बॉलीवुड फ़िल्में कीं. टीवी सीरियल किए. फिर पर्सिस बिजी हो गईं अपनी किताब लिखने में. 1997 में उनकी किताब आई ‘प्राइड ऑफ इंडिया’. ये थी उन हिंदुस्तानी लड़कियों के बारे में, जो मिस इंडिया, मिस वर्ल्ड और मिस यूनिवर्स बनीं. इसके अगले ही साल, 1998 में हार्ट अटैक से पर्सिस की मौत हो गई.

Persis 2
पर्सिस बहुत पहले ही इंटरनेशनल स्टार बन गई थीं.

# आज की ऑडनारी

जिसमें हम आपको मिलवाते हैं एक ऐसी आम महिला या लड़की से, जो कोई सिलेब्रिटी नहीं होती. लेकिन उससे देश की सभी महिलाएं प्रेरणा ले सकती हैं.

आज की ऑडनारी हैं इसरा इरशाद. श्रीनगर से हैं. फ़ूड टेक्नोलॉजी में बीटेक किया है. अपनी पढ़ाई खत्म करने के बाद उन्होंने एक इंश्योरेंस कंपनी के साथ काम करना शुरू किया. लेकिन COVID-19 के दौरान उनकी नौकरी चली गई. इसके बाद इन्होंने अपना ऑनलाइन बिजनेस शुरू किया है. जिसका नाम रखा है ‘रैप अ रैप’. ये गिफ्ट रैपिंग सर्विस है. इसका आईडिया कैसे आया, इसरा ने बताया.

“एक दिन मैंने कजिन की शादी में कुछ सामान रैप किया, और सबको बहुत पसंद आया. इसके बाद मैंने सोचा कि मुझे ये प्रोफेशनली भी करना चाहिए. मैंने बीटेक किया था और नौकरियां थीं नहीं, तो सोचा अपने लिए ही कुछ कर लूं. मुझे पूरे देश से बहुत अच्छा रिस्पांस मिला था. अब लोग आ नहीं सकते तो ऑनलाइन ऑर्डर कर रहे हैं.”

इसरा के घर में उनका पैकिंग बिजनेस चलता है. इसमें वो गिफ्ट्स, शादी से जुड़ा सामान, बास्केट इत्यादि पैक करती हैं. अब वो पूरे भारत में ऑर्डर ले रही हैं.

Isra Shuja
इसरा का ये काम सोशल मीडिया पर भी बेहद पॉपुलर हो रहा हा. (तस्वीर: शुजा उल हक- इंडिया टुडे)

तो ये थीं आज की ख़बरें. कल फिर मिलेंगे विमेन इन न्यूज़ में. अगर आप भी जानते हैं ऐसी महिलाओं को, जो दूसरों के लिए मिसाल हैं, तो हमें उनके बारे में बताइए. मेल करिए lallantopwomeninnews@gmail.com पर.


वीडियो:ट्रंप और उनकी पत्नी कोरोना पॉजिटिव, कोविड को लेकर सिर चकराने वाले उनके बयान सुन लीजिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

लखनऊ: दलित युवती से गैंगरेप का आरोप, पुलिस ने केस दर्ज करने में एक महीने लगा दिए!

हाथरस मामले के तूल पकड़ने के बाद जागी पुलिस.

राजस्थान: नाबालिग बहनों का आरोप- तीन दिन तक गैंगरेप हुआ, पुलिस ने कहा कि बयान तो ऐसा नहीं दिया था

राजस्थान की तीन घटनाएं, जो झकझोर देंगी.

बलरामपुर: गैंगरेप के बाद लड़की की हत्या का आरोप, आधी रात को हुआ अंतिम संस्कार

परिवार का कहना है कि ऑफिस से लौट रही लड़की को किडनैप कर दो लोगों ने उसका रेप किया.

हाथरस केस: जिस परिवार ने बेटी खोई, पुलिस उसे अंतिम संस्कार पर ज्ञान दे रही थी

परिवार चाहता था कि अंतिम विदाई से पहले बेटी एक बार घर आ जाए. पुलिस नहीं मानी.

हाथरस केस: परिवार का आरोप, 'जबरन जला दिया बेटी का शरीर, हमें आखिरी बार देखने भी न दिया'

अंतिम संस्कार के वक्त परिवार वाले मौजूद नहीं थे.

हाथरस: कथित गैंगरेप के बाद लड़की को इतना पीटा कि रीढ़ टूट गई, 15 दिन तड़पने के बाद मौत

गर्दन, स्पाइनल कॉर्ड, सब जगह गहरी चोट लगी थी.

वेब सीरीज में काम दिलाने के बहाने तस्वीरें मंगवाता, फिर ब्लैकमेल करता था

आरोपी ने सोशल मीडिया पर कई फेक प्रोफाइल्स बना रखी थीं.

आरोप-लड़का है या लड़की, पता करने के लिए आठ महीने की गर्भवती का पेट चीर दिया

आरोपी की पांच बेटियां हैं.

जिस किशोरी की हत्या के आरोप में छह लोगों को जेल हुई, वो 12 साल बाद जिंदा मिली है!

उस समय मां ने ही शव की पहचान की थी.

कैब ड्राइवर कर रहा था गंदे इशारे, सांसद-एक्ट्रेस ने ऐसे सिखाया सबक

पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.