Submit your post

Follow Us

लड़की ने सोशल मीडिया पर मांगी ऑक्सीजन, तो लोगों ने भेज दी प्राइवेट पार्ट की फोटो

आपने मदर इंडिया फिल्म तो जरूर देखी होगी. वही जिसमें नरगिस, राजकुमार और सुनील दत्त हैं. हां, तो इस फिल्म की कहानी ऐसी है कि राधा और शामू की शादी होती है. इस शादी के लिए सुखी लाला से कर्ज लिया जाता है. कर्ज चुकाने के लिए राधा और शामू अपने खेत में जी तोड़ मेहनत करते हैं. एक दुर्घटना की वजह से शामू विकलांग हो जाता है. शामू घर छोड़कर चला जाता है. अब कर्ज चुकाने की सारी जिम्मेदारी राधा के कंधों पर आ जाती है. उसे अपने तीन बच्चों को भी पालना होता है. इस बीच सुखी लाला राधा पर कर्ज चुकाने का दबाव बढ़ाता जाता है. एक दिन सुखी लाला राधा से कहता है कि अगर वो उसके साथ सो जाए तो सारा कर्ज माफ कर देगा और उसे रानी बनाकर रखेगा. राधा उसे झिड़क देती है.

मदर इंडिया फिल्म की ये छोटी सी कहानी आपको इसलिए सुनाई क्योंकि ऐसा ही कुछ इस समय लड़कियों के साथ हो रहा है. कोरोना संकट के समय सोशल मीडिया पर अपना पर्सनल नंबर देकर मदद मांग रही औरतों और लड़कियों को अश्लील मेसेज और फोटो भेजे जा रहे हैं. ऑक्सीजन सिलेंडर और जरूरी दवाओं के बदले उनसे डेट पर चलने की मांग की जा रही है. आखिर ये घिनौने किस्म के लोग कौन हैं और पीड़ित लड़कियों को इनकी वजह से क्या-क्या सहना पड़ा है, विस्तार से बात करते हैं.

लोग बढ़ चढ़कर कर रहे मदद

आप सभी को पता है कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से देश इस समय किस संकट से गुजर रहा है. इस संकट में लोग एक दूसरे की बहुत मदद कर रहे हैं. जैसे भी हो पा रही है. सोशल मीडिया के जरिए, इंटरनेट पर पड़े अलग-अलग नंबरों को वैरिफाई करके या फिर पर्सनल लेवल पर. ऑक्सीजन से लेकर प्लाज्मा और दवाइयों से लेकर हॉस्पिटल बेड तक, जो हो पा रहा है लोग उपलब्ध करा रहे हैं. उन्होंने पूरी जान लगा रखी है.

इंसानियत और इंसानों की फिक्र करने वाले इन लोगों में कुछ महामारी के एकदम शुरुआत से सक्रिय रहे. चाहे इंडियन यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास हों या आम आदमी पार्टी के विधायक दिलीप पांडे या फिर बीजेपी विधायक हर्ष बाजपेयी. इन तीनों लोगों ने अपनी क्षमता से कहीं आगे जाकर हजारों लोगों को मदद पहुंचाई है. इनके अलावा सोशल मीडिया के ब्लू टिक वाले पत्रकार और राजनीतिक कार्यकर्ता भी अपनी क्षमता के अनुसार लगे हुए हैं. हमारे और आपके जैसे साधारण लोग भी लगे हुए हैं.

इंडियन यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बीवाई. (फोटो उनके ट्विटर से)
इंडियन यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बीवाई. Covid 19 संकट के दौरान उनकी मदद की खूब सराहना हुई है. (फोटो उनके ट्विटर से)

और बात सिर्फ सोशल मीडिया तक ही सीमित नहीं है. पर्सनल लेवल पर कुछ लोग ग्राउंड पर भी मदद के हाथ आगे बढ़ा रहे हैं. बीते दिनों मध्य प्रदेश के बालाघाट से एक खबर आई थी.  यहां की डॉक्टर प्रज्ञा छुट्टी लेकर घर आई थीं. नागपुर में एक अस्पताल में काम करती हैं डॉक्टर प्रज्ञा. छुट्टी लेकर आई ही थीं कि बढ़ते कोरोना मामलों के चलते अस्पताल ने उन्हें वापस बुलाने का संदेशा भेजा. लॉकडाउन लगा था. आने-जाने के साधन बंद थे. ऐसे में डॉक्टर प्रज्ञा ने अपनी स्कूटी उठाई और 180 किलोमीटर का सफर तय करके अपने अस्पताल पहुंच गईं. सिर्फ इसलिए ताकि मरीजों की जान बचा सकें.

ऐसी और भी कहानियां हैं. जहां किसी बीड़ी बनाने वाले ने सीएम राहत कोष में दो लाख रुपये दान दे दिए. या किसी युवा लड़की ने कोरोना संक्रमण का खतरा उठाते हुए मृतकों का पूरी मानवीय गरिमा के साथ अंतिम संस्कार कराया. या फिर संतरे बेचकर करोड़पति बने प्यारे खान ने 85 लाख रुपये की ऑक्सीजन अलग-अलग अस्पतालों को पहुंचाई और इसे मानवता के प्रति अपना कर्तव्य बताया. लब्लोलुआब यही कि लोग आगे आए और एक दूसरे की मदद की.

मदद के बहाने यौन शोषण

लेकिन इस बीच कुछ लोगों ने अपने व्यक्तित्व का ऐसा पक्ष सामने रखा, जिसे सिर्फ और सिर्फ घिनौना ही कहा जा सकता है. जरूरी सेवाओं की कालाबाजारी करने वाले लोग तो इस दुनिया के सबसे क्रूर लोग हैं हीं, लेकिन मदद मांग रही लड़कियों को अश्लील मेसेज और फोटो भेजने वाले लोग सिर्फ और सिर्फ घिनौने हैं.

बीते दिनों मुंबई में रहने वाली एक लड़की ने सोशल मीडिया पर मदद मांगी. उसे अपने घर के किसी सदस्य के लिए प्लाज्मा की जरूरत थी. लड़की ने सोशल मीडिया पर अपना फोन नंबर भी डाल दिया ताकि मदद करने वाले सीधे उससे संपर्क कर लें. लेकिन फोन नंबर डालना उसके लिए ट्रॉमा बन गया. कई लोगों ने लड़की के मेसेज को आगे बढ़ाया. इसके साथ ही उसका नंबर भी अलग-अलग लोगों के पास पहुंच गया. इनमें से कुछ लोगों ने उसे अश्लील मेसेज करने शुरू कर दिए. लड़की ने बताया कि मेसेज में लोग उसकी फोटो मांगने लगे. एक ने कहा कि वो मदद तभी करेगा, जब लड़की उसके साथ डेट पर चलेगी. ये सिलसिला यहीं नहीं रुका. लड़की ने बताया-

“एक साथ कई लड़के वीडियो कॉल करने लगे. व्हाट्सएप पर अपने प्राइवेट पार्ट की तस्वीरें भेजने लगे. एक लड़की, जिसके घर के सदस्य को मेडिकल हेल्प की जरूरत थी, उस समय भी ये लोग बस अपने प्राइवेट पार्ट्स के बारे में ही सोच पा रहे थे.”

इस भयावह अनुभव के बाद पीड़िता लड़की ने पुलिस में शिकायत की. सोशल मीडिया पर जिन लोगों ने उसका मेसेज शेयर किया था, उनसे कहा कि मेसेज हटा दें. और फिर दूसरी लड़कियों से अपील करते हुए कहा कि वे अपना पर्सनल फोन नंबर कभी भी सोशल मीडिया पर शेयर ना करें.

देश भर में इस वक्त ऑक्सीजन की भारी किल्लत है. फोटो- PTI
देश भर में इस वक्त ऑक्सीजन की भारी किल्लत है. फोटो- PTI

हमने दिल्ली-एनसीआर में रहने वाली एक और पीड़िता से बात की. हमने जब उन्हें फोन मिलाया, तो वो काफी डरी हुई थीं. हमारी बात उनकी दोस्त से हुई. उन्होंने बताया कि उनकी दोस्त के साथ जो हुआ है, वो उसे पूरी तरह से भुला देना चाहती है. कुछ दिन पहले उनकी दोस्त ने भी सोशल मीडिया पर मदद मांगी. अपना नंबर डाल दिया. इसके बाद उसके पास सैंकड़ो कॉल्स और मेसेजेस आए. ये मेसेज अश्लीलता से भरे थे. इस पूरे घटनाक्रम के बात पीड़िता काफी डरी हुई है. पुलिस से भी संपर्क किया. फिलहाल, लोगों से बात करने में कतरा रही हैं.

आखिर में यही कि इस तरह के घटनाक्रमों को बयान करने के लिए आपके पास ज्यादा कुछ शब्द नहीं होते. इससे घटिया कुछ हो नहीं सकता. कोई लड़की, जो ऑलरेडी परेशान है, सोशल मीडिया पर किसी अपने को बचाने के लिए मदद मांग रहा है. उसे इस तरह के मेसेज भेजना ना केवल घटियापन की इंतेहा है बल्कि आपराधिक भी है. इन घटनाक्रमों को देखकर तो यही लगता है कि कुछ लोग अपने जननांगों से आगे सोच ही नहीं पाते और दुनिया की हर लड़की या महिला को अपनी उत्तेजना और हवस को शांत करने के साधन के तौर पर देखते हैं. ये शर्मनाक है!

वीडियो- ऑक्सीजन मांगने पर सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने दिल्ली सरकार को नखरे वाली गर्लफ्रेंड क्यों कहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

कपड़ा फैक्ट्री में 19 महिलाओं से जबरन काम कराया जा रहा था, पुलिस ने बचा लिया

तीन महीने की ट्रेनिंग के लिए बुलाया, फिर बंधक बना लिया.

ग्वालियर: COVID सेंटर में वॉर्ड बॉय पर मरीज से रेप की कोशिश का आरोप, गिरफ्तार

आरोपी को नौकरी से निकाला.

बाप पर आरोपः दो साल तक बेटी का रेप किया, दांतों से चबाकर उसकी नाक काट ली

पैसे देकर दूसरे लड़के से रेप करवाने का भी आरोप है.

सुसाइड कर रहे पति को रोकने की जगह पत्नी उसका वीडियो क्यों बना रही थी?

पति की मौत हो गई है.

लड़कियों को बेरहमी से घसीट रही पुलिस के वायरल वीडियो का पूरा सच क्या है

क्या कार्रवाई के लिए पुलिस फसल पकने का इंतज़ार कर रही थी?

रेप के आरोपी NCP नेता को बचाने की कोशिश कर रहा था ACP, कोर्ट ने दिन में तारे दिखा दिए

ये सुनकर कोई भी पुलिस वाला शर्मिंदा हो जाए.

POCSO कोर्ट ने आंख मारने और फ्लाइंग किस को यौन उत्पीड़न माना, एक साल की सजा सुनाई

कोर्ट ने 15 हजार का जुर्माना भी लगाया.

'वर्जिनिटी टेस्ट' में फेल हुई तो जात पंचायत ने तलाक कराने का आदेश दे दिया

मामला कोल्हापुर का है. दो बहनों की एक ही परिवार में शादी हुई थी.

CRPF जवानों पर ऐसा क्या लिखा कि महिला को रेप की धमकी मिलने लगी

असमिया लेखिका शिखा शर्मा पर राजद्रोह का आरोप लगा है.

औरत का सिर मूंडने वाली, उस पर कालिख पोतने वाली भीड़ ने उसके बराबर जिम्मेदार पुरुष को छुआ तक नहीं

औरतों पर ऐसा अत्याचार करने वाली भीड़ को सज़ा कितनी मिलती है?